ताज़ा खबर

थप्पड़ कांड :- आप विधायकों द्वारा दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश पर थप्पड़ मारने का विवाद

आप विधायकों द्वारा दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश पर थप्पड़ मारने का विवाद | AAP MLA slapped Delhi chief secretary Anshu prakash in Hindi

कुछ आम आदमी पार्टी के नेताओं का सचिव अंशु प्रकाश से दुर्व्यवहार करने का मसला या मामला उजागर हुआ है. जिसमें सूत्रों के अनुसार पता चला है, ये पूरी वारदात दिल्ली के मुख्य मंत्री के घर पर हुई है. वहीं केजरीवाल ने इस पूरे मामले को बीजेपी की साजिश बताया है. इतना ही नहीं आप सरकार के लोगों ने कहा है कि उनको बदनाम करने के लिए बीजेपी ने पूरी साजिश की है और अंशु ने पूरी नौटंकी एक सचिव की तरह नहीं बल्कि बीजेपी का एजेंट बनकर की है. अंशु प्रकाश ने इस समय एक एफआईआर दर्ज की जिसमें उन्होंने कहा है कि उनको रात 12 बजे बुलाकर उनके साथ बदसलूकी एवं मारपीट की है. अमानतुल्लाह खान जो कि रोहणी नगर से आप के विधायक है, सूत्रों के मुताबिक उनको पुलिस ने अपनी गिरफ्त में लिया गया है.

थप्पड़ कांड

क्या है पूरा मामला (MLA’s assault Delhi chief secretary full information)

  1. मुख्य सचिव अंशु की एफआईआर रिपोर्ट के अनुसार

एफआईआर रिपोर्ट के अनुसार 19 फरवरी 2018 को दिल्ली के मुख्य सचिव को 8 बजे के आस-पास कॉल करके टीवी पर आने वाले प्रचार के बारे में वार्तालाप करने के लिए बुलाया. अंशु के अनुसार जब उनको 9 बजे बुलाया गया,  तो अंशु ने में कहा  कि “मैंने अगले दिन सुबह मीटिंग रखने के लिए बोला था, फिर मेरी बात नहीं सुनी गई और उसके बाद मुख्य मंत्री के सलाहकार का फिर से फोन आया और उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी ने 12 बजे (रात) का समय तय किया है. फिर मैं 12 बजे रात को केजरीवाल जी के यहां पहुंचा.” 

केजरीवाल जी के दफ्तर में लगभग 11 विधायक नेता बैठे हुए थे, केजरीवाल के साथ मनीष सिसौदिया जी भी वहां मौजूद थे. जहां वी. के जैन ने इनको मीटिंग रूम तक पहुंचाया जहां मुख्य सचिव से पूछताछ की जाने लगी कि दिल्ली की सरकार के टीवी प्रमोशन को लेकर सवाल उठने लगे.

इसके बाद मुख्य सचिव ने समझाया कि वो सुप्रीम कोर्ट के द्वारा तय किये गए नियमों के हिसाब से ही काम कर रहे हैं. लेकिन इस मामले पर सभी विधायकों ने दबाव बनाना शुरू कर दिया, दिल्ली मुख्य सचिव का कहना है कि उनको गाली दी जाने लगी, और कुछ विधायकों ने धक्का देना शुरू कर दिया. और अंशु को वहां से बाहर निकाल दिया, इसके बाद अंशु लौट आये.

  1. आप का बयान (AAP’s statement)

जबकि आप के नेताओं का कहना है, कि उनको राशन एवं खाद्य सम्बन्धी सामग्री का दिल्ली में वितरण करने को लेकर चर्चा हो रही थी, क्योंकि गरीबों तक सरकार की सुविधा पहुंचने में देर हो रही है. मुख्यमंत्री के अनुसार दिल्ली में ऐसा नहीं होने दिए जायेगा. आप के प्रवक्ता ने बताया कि हम उनसे इसके बारे में ही सवाल पूंछ रहे थे. उनके पास जबाब ना होने के कारण वो उठकर चले गए. अब इस तरह से हमारी छवि को खराब करने में बीजेपी ही ऐसे कांड करवाने में साजिश कर रही है.

मुख्य बातें (latest news about Delhi slapped case)

  1. सचिव प्रकाश ने एफआईआर दर्ज की जिसके चलते आप के दो विधायकों को गिरफ्तार कर लिया गया, जिनके नाम पर धारा 186 (कर्तव्यों का पालन करने से सरकारी कर्मचारी को रोकना), 353 (सरकारी नौकर पर हमला करना), 323 (चोट पहुंचाना), 342, 504, 506 (2) और 120 बी लगाई गईं हैं. इतना ही नहीं अमानतुल्लाह खान और जारवाल को पुलिस के द्वारा 14 दिनों तक पूछतांछ के लिए गिरफ्त में रखा गया है. हालांकि दोनों आप नेताओं ने खुद से ही आत्मसमर्पण किया है.
  2. बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने इस मामले में केजरीवाल के खिलाफ मोर्चा खोल लिया है. बीजेपी का कहना है कि अगर केजरीवाल से सरकार नहीं संभल रही है तो उनको इस्तीफा दे देना चाहिए. जबकी कांग्रेस का कहना है कि इस तरह के बुरे व्यवहार के लिए केजरीवाल को क्षमा मांगनी चाहिए.
  3. प्रकाश जारवाल और अजय दत्त ने बयान देते हुए कहा था कि सचिव झूठ बोल रहे हैं, और बीजेपी इसमें आग लगाने का काम कर रही है. इतना ही नहीं आप ने आज मीडिया के सामने आकर कहा कि इसके सबूत के रूप में सीसीटीवी द्वारा ली गई तस्वीरें भी मौजूद है. इसलिए सच का पता सबके सामने जल्दी ही लग जायेगा.
  4. मंगलवार से ही दिल्ली के अधिकारियों ने दिल्ली सरकार के खिलाफ केंडल मार्च निकालना शुरू किया था, उनका कहना कि ऐसी हरकतें बर्दास्त नहीं की जाएंगी एवं वो अपना विरोध शांति पूर्वक करेंगे.
  5. दूसरी तरफ दिल्ली में आप पार्टी के इमरान हुसैन और हिमांशु पर केंद्रीय सचिवालय के सामने भीड़ द्वारा मारपीट करने का मामला सामने आया है. इसका एक वीडियो भी वायरल हो रहा है जिसमें लोग मारो मारो कह रहे हैं.
  6. इससे सरकारी संघ ने केजरीवाल की ओर से चिल्लाने और हाथापाई करने के जुर्म में विधायकों के इस्तीफे की मांग की है, जिन्होंने मुख्य सचिव पर के साथ बुरा सलूक किया था.

Other Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *