ताज़ा खबर
Home / राजनीती / 2014 Indian Election

2014 Indian Election

वह दिन आने वाला हैं जिसकी चर्चा हर घर में हैं | 2014 के election में vote डाले जा चुके हैं लेकिन result आना बाकि हैं जो कि 16 May को declare किये जायेंगे पर public के उत्साह ने Modi Ji को PM बनना लगभग तय माना हैं | एक उम्मीद की ख़ुशी सभी के चेहरे पर हैं बस एक डर यही हैं कि party बहुमत से आ पाती हैं या नहीं | PM पद का चुनाव तो किया जा चूका हैं |

democracy

पूर्वानुमान कुछ इस तरह हैं :

Survey NDA UPA Others
Times Now/ORG survey 249 148 146
News 24-Chanakya survey 340 70 133
ABP/AC Nielson survey 236 92 170-185
India Today/CICERO survey 263 115 150-162
CNN-IBN/CSDS survey 272-282 92-102 145-155
India TV-C voter 289 101 154

अब UPA को सोचने कि जरुरत हैं कि विगत 10 years में उन्होंने किस कदर देश को सम्भाला की public उन्हें एक पल देखना नहीं चाहती | शायद हर 5 years के बाद present government का यही हाल होता हैं | और इस बार तो 10 years हो गए हैं इसलिए इस तरह का reaction तो आम बात हैं |

पुरानी government का सफाया तो निश्चित हैं पर आने वाली Modi सरकार क्या देश के सभी मुद्दों को पूरा कर पाएगी ? क्या जनता कि आशाए पूरी होंगी ? जो सपने दिखाए गए हैं कितने फीसदी उनका होना तय हैं ?

ऐसे कई सवाल हैं | Modi Ji कि काबिलीयत पर शक करना तो ना मुमकिन हैं उन्होंने 15 years Gujrat कि सत्ता बहुत ही शान से सम्भाली हैं और एक सफल CM का नाम कमाया हैं | उनके कार्य शैली में experience का अपार समावेश हैं | उनमे एक successful leader की सारी qualities हैं पर team पर भी depend करता हैं | और प्राकृतिक व्यवस्थाओं पर तो सब कुछ depend करता हैं |

इसलिए कौन कितना बेहतर हैं यह तय करना केवल किसी एक को देखकर सम्भव नहीं हैं |
जनता (democracy) को जागने की जरुरत हैं हमें डरने की जरुरत नहीं , यह मान लेने कि जरुरत हैं कि हमारा देश कोई party नहीं अपितु हम खुद चलाएँगे | हमें गलत के विरुध्द आवाज उठानी होगी | हमें हर अहम् मुद्दों में question करना होगा उनका answer हमारा हक़ हैं यह मान कर ही आगे बढ़ना होगा |

विगत 10 years में देश कि हालत बहुत ख़राब हुई हैं पर किसी एक के कारण जनता public में आवाज उठाने कि ताकत भी आई हैं | जनता में एक जुट होने कि समझ आई हैं और media के सक्रिय योगदान से public ने कई बड़ी परेशानी के उचित judgement के लिए government को बाध्य किया हैं और उनकी ईंट से ईंट बजाई हैं | अब हमें यही याद रखना हैं कि हम खुद ही हमारा देश चलाएंगे जिस तरह हम अपने घर और office में servant से काम करवाते हैं उसी तरह हमें सत्ता में आई government से काम करवाना हैं |

Karnika

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

यह भी देखे

Nuclear suppliers group NSG

न्यूक्लियर सप्लायर्स ग्रुप के भारत को फायदे | Nuclear suppliers group (NSG) benefits India in hindi

Nuclear suppliers group (NSG) benefits India in hindi प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी अपने 5 दिवसीय …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *