ताज़ा खबर

आधार कार्ड को एलपीजी सब्सिडी के लिए कैसे जोड़ें | How to link aadhaar card with LPG Subsidy in hindi

How to link aadhaar card with LPG Subsidy (Pahal) in hindi इस समय भारत में एलपीजी इस्तेमाल कर रहे सभी नागरिक को अपना आधार कार्ड एलपीजी के साथ संलग्न करने की आवश्यकता है. आधार से एलपीजी संलग्न कराने से सरकार द्वारा दी गयी सब्सिडी बहुत आसानी से ग्राहक तक पहुँच जाती है. सबसे पहले इस बात पर ध्यान देना आवश्यक है कि ग्राहक का आधार कार्ड उसके बैंक अकाउंट से संलग्न है या नहीं क्योंकि जिस खाते से आधार संलग्न रहेगा सब्सिडी उसी खाते में जायेगी.

एलपीजी सब्सिडी के लिए आधार कार्ड का बैंक अकाउंट से संलग्न (Link aadhaar card to bank account for LPG subsidy)

एलपीजी भारत के नागरिकों के लिए अति आवश्यक सुविधा बन गयी है. इसके बिना रोज़मर्रा की ज़िन्दगी की कल्पना भी नही की जा सकती. जो ग्राहक एलपीजी का इस्तेमाल भारत सरकार द्वारा निर्देशित ‘पहल’ स्कीम को अपना के कर रहे हैं, उनकी एलपीजी सब्सिडी सीधे उनके बैंक के खाते में जाती है. बिना किसी रूकावट के सब्सिडी का लाभ उठाने के लिए ग्राहक को अपने आधार को अपने एलपीजी और बैंक अकाउंट से संलग्न कराना अति अनिवार्य है.

एलपीजी से आधार कार्ड ऑनलाइन या ऑफलाइन की माध्यम से संलग्न किया जा सकता है. ऑफलाइन के लिए ग्राहक को अपने बैंक से फॉर्म लेकर सभी आवश्यक दस्तावेज़ों के साथ जमा करना होता है, वहीँ ऑनलाइन के लिए ग्राहक नेट बैंकिंग की सुविधा का इस्तेमाल कर सकते हैं.

बैंक अकाउंट में एलपीजी सब्सिडी की जांच (How to check LPG subsidy in bank account)

अपने बैंक खाते में आये एलपीजी सब्सिडी राशि की जांच के लिए निम्न बिन्दुओं पर ध्यान दें :

  • सब्सिडी के लिए पंजीकरण करवा लेने पर एक सब्सिडी ग्राहक के खाते में एडवांस के रूप में पहले ही मौजूद हो जाती है. ये एक ‘वन टाइम पेमेंट’ है और भविष्य में ऐसे पेमेंट नहीं किये जायेंगे.
  • किसी ग्राहक को एलपीजी पर मिलने वाली सब्सिडी मूलतः एक निश्चित सिलिंडर तक मिलती है. सब्सिडी वाले सिलिंडर की संख्या पूर्ण हो जाने पर ग्राहक को बाज़ार की क़ीमत पर एलपीजी सिलिंडर लेने होते हैं.
  • सब्सिडी के तहत मिलने वाली राशि ग्राहक को उसके बैंक अकाउंट में ही मिलती है. पहले से दिए गये एडवांस राशि का प्रयोग किसी बकाया राशि को पूर्ण करने में किये जा सकता है.

हालाँकि सब्सिडी पाने के लिए ग्राहक को आधार की आवश्यकता नहीं है किन्तु इसके इस्तेमाल से कई पेचीदगियां ख़त्म हो जाती हैं.

अपने एलपीजी कनेक्शन के लिए आधार कार्ड लिंक करने की प्रक्रिया (How to link Aadhaar with LPG connection in hindi)

इंडेन, भारत या एचपी, किसी भी एलपीजी कंपनी का ग्राहक अपना एलपीजी आधार से संलग्न कर सकता है. इसके लिए नीचे निर्देश दिए जा रहे हैं.

  • वितरक को आवेंदन देकर संलग्न करने की विधि :
  1. इसके लिए दिए गये वेबसाइट से फॉर्म संख्या दो को डाउनलोड करें और प्रिंट कराकर सावधानी से भरें. लिंक : http://www.lpgsubsidy.in/download-lpg-subsidy-forms/
  2. इसके बाद अपने सबसे पास के वितरक के एलपीजी शो रूम में जा कर एक आवेदन और आवश्यक दस्तावेजों के साथ जमा दे दें. कार्यालय में कोई निश्चित बॉक्स बनाया गया हो तो अपना आवेदन वहाँ भी डाल सकते हैं.
  • कॉल सेंटर की सहायता से :

यह कार्य कॉल सेंटर में फ़ोन करके भी पूर्ण किया जा सकता है. इसके लिए 18000-2333-555  पर फ़ोन करके कहे जा रहे निर्देशों का पलान करें.

  • आईवीआरएस की सहायता से :

आईवीआरएस की सहायता से भी बहुत आसानी से अपने एलपीजी को आधार से संलग्न किया जा सकता है. राज्य के अलग अलग जिलों के लिए आईवीआरएस संख्या अलग अलग होती है. कंपनी द्वारा दिय गये क्षेत्रीय आईवीआरएस पर फ़ोन किया जा सकता है. नीचे तीनो गैस कम्पनियों के आईवीआरएस के विषय में दिया जा रहा है:

  1. इंडेन आईवीआरएस : इंडेन गैस के उपभोक्ता http://indane.co.in/sms_ivrs.php पर जाकर अपने क्षेत्र का आईवीआरएस का पता लगा सकते हैं. इसके बाद फ़ोन करके कॉल के दौरान दिए जा रहे निर्देशों का पालन करके अपना आधार अपने एलपीजी से संलग्न कर सकते हैं.
  2. भारत गैस आईवीआरएस : भारत गैस के उपभोक्ता ebharatgas.com/pages/Customer_Care/CC_IVRSInfo.html पर अपने क्षेत्र का आईवीआरएस नंबर पा सकते हैं. अपने क्षेत्र के आईवीआरएस नंबर पर कॉल करके कॉल के दौरान दिए जा रहे निर्देशों का पालन करें.
  3. एचपी गैस आईवीआरएस : एचपी गैस के उपभोक्ता hindustanpetroleum.com/hpanytime पर विजिट करके अपने क्षेत्र का आईवीआरएस नंबर प्राप्त कर सकते हैं. इसके बाद कॉल के दौरान ऑपरेटर द्वारा दिए जा रहे निर्देशों का पालन करें.
  • एसएमएस की सहयता से:

ये भी बहुत आसान प्रक्रिया है. इसमें ग्राहक को अपना मोबाइल नंबर पंजीकरण करवाना होता है. पंजीकृत मोबाइल नंबर से सन्देश भेजकर आधार संलग्न किया जा सकता है.

  • ऑनलाइन के माध्यम से :

ऑनलाइन माध्यम से आधार को एलपीजी कनेक्शन से संलग्न कराना बहुत सुरक्षित और आसान प्रक्रिया है. ग्राहक घर बैठे इन्टरनेट की सहायता से इस काम को अंजाम दे सकता है. इसके लिए नीचे दिए जा रहे निर्देशों का पलान करें :

  1. ऑनलाइन अपना आधार संलग्न कराने के लिए https://rasf.uidai.gov.in/seeding/User/ResidentSelfSeedingpds.aspx पर जा कर वहाँ मांगे जा रहे सभी जानकारियों को विकल्प और रिक्त स्थानों के अनुसार भरें.Link Your Aadhar Card Number to get LPG Subsidy Online
  2. इसके बाद इसके एलपीजी के विकल्प में जाकर अपने स्कीम को चुने. ये स्कीम इंडेन गैस के लिए ‘आईओसीएल’, भारत गैस के लिये ‘बीपीसीएल’ और एचपी गैस के लिए ‘एचपीसीएल’ के नाम से मौजूद रहती है.
  3. इसके बाद अपने एलपीजी उपभोक्ता संख्या के अनुसार अपने एलपीजी वितरकों के विकल्प में से अपना विकल्प चुनें.
  4. अपना मोबाइल नंबर, ईमेल एड्रेस और आधार संख्या भरें. एक बार ये डिटेल पुनः दुबारा मिला लेने के बाद ‘सबमिट’ बटन पर क्लिक करें.
  5. ये प्रक्रिया पूरी हो जाने पर आपके मोबाइल नंबर और ई मेल आईडी पर एक ‘वन टाइम पासवर्ड’ आएगा. अन्त में इस ओटीपी को डाल लकर भेज देने के बाद ये प्रक्रिया पूर्ण हो जायेगी.

एक बार सभी जानकारी जमा हो जाने के बाद सरकारी अधिकारियों द्वारा इन जानकारियों का सत्यापन होता है. सत्यापन के बाद ग्राहक के मोबाइल और ई मेल पर आधार के बैंक अकाउंट के संलग्न की पुष्टिकरण का सन्देश आ जाता है.

अन्य पढ़े:

Karnika

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

यह भी देखे

yogi_adityanath_schemes_yojanas

योगी आदित्यनाथ की योजनाएँ | Yogi Adityanath schemes 2017 in hindi

Yogi Adityanath schemes 2017 in hindi उत्तरप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने पर योगी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *