ताज़ा खबर

बादाम के गुण व फायदे | Soaked and Green Almonds Health benefits in hindi

Soaked and Green Almonds Health benefits in hindi अक्सर हमने बड़े बुजुर्गो से सुना है कि मेवे खाया करो| लेकिन हम ये सोचते है कि मेवे खाने से हमारा वजन बढ़ेगा और इसे हम नहीं खाते| ये बिल्कुल गलत सोच है मेवे बहुत पोष्टिक होते है और मेवों में सबसे ज्यादा फायदेमंद बादाम होता है| जब भी मैं घर से बाहर पूरा दिन के लिए काम से जाती हूँ, तो मेरी माँ मेरे बैग में मुट्ठी भर बादाम रख देती है और कहती है जब भी भूख लगे इसे खा लेना, क्युकी इसमें आपकी भूख को control करने की क्षमता होती है और ये ताकत भी देता है|

कई बार हम ऐसी जगह जाते है जहाँ कुछ खाने को नहीं मिलता या अच्छा नहीं होता ऐसे में ये बादाम बहुत काम आता है| बादाम में मग्निशियम, प्रोटीन व आयरन होता है| एक शोध के अनुसार पाया गया है, जो लोग रोज बादाम खाते है उनकी आयु ना खाने वालो की अपेक्षा 20% ज्यादा होती है, यानि उनके आयु अधिक होती है|

1 मुट्ठी बादाम में इतनी मात्रा में पोषक तत्व होते है –

फाइबर 3.5 gm
प्रोटीन 6 gm
फैट 14 gm
विटामिन E 37%
मैगनीज 32%
मैग्नीशियम 20%

इसके अलावा इसमें कॉपर, विटामिन B2 व फास्फोरस भी होता है, मतलब एक मुट्ठी में इतने सारे फायदे आपको मिलेंगे| इसमें 161 कैलोरी, 2.5 कार्बोहाइड्रेट होता है|

Badam almond ke gun fayde labh

बादाम के गुण व फायदे व लाभ

Badam almond ke gun fayde labh in hindi

  1. दिल का दौरा आने का खतरा कम करे – एक रिसर्च के अनुसार जो कोई व्यक्ति हफ्ते में 5 दिन बादाम खाता है, उसे दिल का दौरा आने का खतरा 50% तक कम हो जाता है|
  2. कोलेस्ट्रोल कम करे – खून में मौजूद कोलेस्ट्रोल लेवल को बादाम खाके control किया जा सकता है|
  3. दिल से जुडी बीमारी कम करे – बादाम खाने से दिल से जुड़ी बीमारी होने का खतरा बहुत कम हो जाता है|
  4. हड्डी व दन्त मजबूत करे – बादाम में मौजूद फोस्फोरस हड्डी व दांतों को मजबूती देता है|
  5. वजन कम करे – एक शोध के अनुसार जो लोग बादाम खाते है, उनका वजन जो नहीं खाते है उनके मुकाबले कम होता है| आपको बादाम अपनी डाइट में शामिल करना ही चाइये जिससे शरीर में fat नहीं जमता|
  6. डायबटीज control करे – बादाम रोजाना लेने से डायबटीज control होती है व इन्सुलिन की जरूरत नहीं होती|
  7. दिमाग तेज करे – रोज सुबह भीगोये हुए बादाम खाने से दिमाग तेज होता है और याददाश्त भी तेज होती है| दिमाग वाला काम करने वालों को बादाम रोज जरुर खाना चाहिए स्पेसिअली बच्चों के लिए ये बहुत जरुरी है|
  8. ब्लड प्रेशर कंट्रोल करे – बादाम में मौजूद मैग्नीशियम ब्लड प्रेशर को कम करने में सहायक होता है| अगर आपको ब्लडप्रेशर की परेशानी है तो आपको आज ही से बादाम खाना शुरू कर देना चाहिए|
  9. प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये – रोजमर्रा की छोटी मोटी बीमारी जैसे सर्दी जुखाम, खांसी, viral फीवर से बचने के लिए आपको बादाम खाना शुरू करना चाइये| बादाम खाने से हमारे शरीर में प्रतिरोधक क्षमता बढती है जिससे ये छोटी छोटी बीमारी जल्दी हमारे शरीर पर अपना असर नहीं दिखा पाती| अगर आपको कफ हो गया है तो गर्म दूध में कुछ बूँदें बादाम के तेल की डालें और इसे पीयें, कफ़ की समस्या दूर हो जाएगी|
  10. पाचन तंत्र सही रखे – अगर आपका पेट हमेशा आपको परेशानी देता है तो रोजाना 2-3 बादाम खाना शुरू करिए, पाचन चुस्त तंदरुस्त रहेगा|
  11. गर्भवती महिला के लिए फायदेमंद – गर्भिवती महिला को रोजाना इसका इस्तेमाल करना चाइये इससे जच्चा बच्चा दोनों स्वास्थ रहते है|
  12. भूख कम करे – बादाम में मौजूद फाइबर भूख कंट्रोल करता है|
  13. स्किन के लिए फायदेमंद – बादाम हमारी स्किन के लिए भी बहुत अच्छा है, इसके कुछ तरीके में आपको बताती हूँ –
  • डार्क सर्कल कम करने के लिए रोज रात को सोने से पहले बादाम का तेल आँखों के चारों ओर लगायें, कुछ ही हफ्ते में ये गायब हो जायेंगे|
  • अगर आप अपनी रंगत निखारना चाहते है तो बादाम खाना शुरू करिए| धुप में हुई टैनिंग से हाथ पैर चेहरा काला पड़ जाता है| आप बादाम खाना शुरू करिए रंगत में फर्क खुद समझ आएगा|
  • ठण्ड में स्किन रुखी सुखी होने लगती है इसके लिए आप रोजाना बादाम का तेल सोने से पहले लगायें, आपकी स्किन चमकदार, मुलायम सुंदर हो जाएगी|
  • बालों को सॉफ्ट मजबूत घना बनाने के लिए बादाम का तेल इस्तेमाल करें| नहाने के 1 घंटे पहले मालिश करें इससे आपके बालों की जड़ें भी मजबूत होंगी और सिरदर्द भी दूर होगा| बल झड़ने की समस्या भी दूर होती है|

भीगे हुए बादाम के फ़ायदे (Soaked Almonds benefits)

भीगे हुए बादाम के स्वास्थ्य लाभ लगभग असीमित है. इसमें कोई आश्चर्य नहीं है कि यह एक सुपरफ़ूड का हिस्सा नहीं है. यहाँ इसके कुछ फ़ायदे दिए जा रहे हैं-

स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद (Soaking almonds for health benefits)

  • पाचन शक्ति को बढ़ाना भीगा हुआ बादाम आपकी पाचन प्रक्रिया को सुविधाजनक बनाकर आपकी पाचन शक्ति को बढ़ाता है.
  • गर्भावस्था में यह वरदान की तरह है यदि आप गर्भावस्था में है तो आपको अपने आहार में भीगे हुए बादाम जोड़ना चाहिए.यह आपके और आपके बच्चे के स्वास्थ्य दोनों के लिए बहुत लाभकारी है.
  • दिमागी शक्ति को बढ़ाता है विज्ञानिकों ने यह शोध किया है कि रोज़ाना 4 से 6 भीगे हुए बादाम की अपने आहार में जोड़ना आपके दिमाग के लिए एक टॉनिक की तरह है और साथ ही यह केन्द्रीय तंत्रिका तंत्र (CNS) को काफी हद तक बढ़ाता है.
  • कोलेस्ट्रोल को कम करता है भीगे हुए बादाम आपके कोलेस्ट्रोल लेवल को काफी हद तक कम कर सकता है. मूल रूप से इनमें मोनोअंसेचुरेटेड फैटी एसिड से भरे होते हैं, जो आपके खून के प्रवाह से खराब कोलेस्ट्रोल को कम करता है.
  • हृदय स्वास्थ्य के लिए लाभकारी यदि आपका कोलेस्ट्रोल लेवल नियंत्रित रहेगा तो आपका हृदय भी स्वस्थ रहेगा. यह प्रोटीन, पोटैशियम और मैग्नीशियम का बहुत अच्छा माध्यम है, जो आपके कार्डियोवैस्कुलर सिस्टम को स्वास्थ्य रखता है.
  • ब्लडप्रेशर के लेवल को नियंत्रित रखता है उच्च रक्तचाप वाले लोगों के लिए यह फायदेमंद है. तीव्र उच्च रक्तचाप का भी भीगे हुए बादाम द्वारा इलाज किया जा सकता है. इसमें सोडियम की मात्रा कम वा पोटैशियम की मात्रा अधिक होती है, जोकि ब्लडप्रेशर के लिए अच्छा है.
  • मधुमेह के रोगियों के लिये फायदेमंद भीगे हुए बादाम मधुमेह के रोगियों के लिए बहुत अच्छा है. यह शुगर लेवल को नियंत्रित रखता है और साथ ही अन्य बिमारियों से बचाता है.
  • वजन घटाता है भीगे हुए बादाम को रोज़ाना सुबह खाली पेट खाने से यह वजन घटने में मदद करता है. यहाँ तक कि इसमें बहु कम मात्रा में रासायनिक व् कार्बनिक यौगिक होते हैं जोकि वजन घटाने में कारीगर है.
  • कब्ज का ईलाज यह कब्ज की बीमारी के लिए भी फायदेमंद है.

त्वचा के लिए फायदेमंद (Soaked almonds benefits for skin)

  • भीगे हुए बादाम को पीस कर अपनी त्वचा पर लगाने से यह प्राकृतिक मॉइस्चराइजर की तरह उपयोग किया जा सकता है. यदि आपकी त्वचा सूखी है तो आप इसमे क्रीम को मिलकर भी उपयोग कर सकते हैं, जिससे यह आपकी त्वचा हाईड्रेड हो जाती है.
  • यदि आप अपनी सोई हुई त्वचा या खोये हुए निखार को वापस लाना चाहते हैं, तो भीगी हुई बादाम आपके लिए बहुत फायदेमंद है. यह बेजान त्वचा में भी जान भर देता है.
  • एजिंग को इसकी सहायता से आसानी से रोका जा सकता है. इसमें पाए जाने विटामिन ई और अन्य एंटीओक्सिडेंट आपके शारीर से हानिकारक कणों को समाप्त कर सकते हैं.
  • भीगी हुई बादाम को प्राकृतिक स्क्रब की तरह भी इस्तेमाल किया जा सकता है यहाँ तक की यह पूरे शरीर के लिए फायदेमंद है. इसमें निम्बू, शहद और ढूध मिलकर अलग – अलग पेस्ट बनाकर भी लगाया जा सकता है.
  • भीगी हुई बादाम सूजन के लिए कारीगर है. यह त्वचा में होने वाली खुजली या जलन से भी राहत देती है.

बालों के लिए फायदेमंद (Soaked almonds benefits for hair)

  • बादाम को रात भर भिगो कर रखें, फिर सुबह इसे पीस कर इसमें थोड़ा सा जैतून का तेल दाल कर पेस्ट बना लेन और इसे अपने बालों पर लगाये. इसे अपनी बालों की जड़ों में लगायें यह आपके बालों को स्वस्थ व् कोमल कर देगा.
  • जैसा कि ज्ञात है बादाम बहुत पौष्टिक होती है, और यदि भीगी हुई बादाम का सेवन करेंगे तो यह आपके बालों को मजबूत बनाएगा. साथ ही बेजान बालों को भी नारिश करेंगा.
  • यह बालों को चमकदार और घने बनाने के लिए कारीगर है. क्योकि यह सीधे आपके बालों की जड़ों में पहुंचकर बालों को मजबूत बनाता है.

हरे बादाम या कच्चे बादाम के फ़ायदे (Green almonds benefits)

हरे बादाम को कच्चे बादाम भी कहा जाता है, इसमें बहुत से पोषक तत्व पाए जाते हैं. शोधकर्ताओं का कहना है कि यह स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होने के साथ साथ त्वचा और बालों के लिए लाभकारी हैं. इसके बहुत से फ़ायदे हैं, जोकि इसप्रकार हैं –

स्वास्थ्य के लिए

  • हरे बादाम हमारे हृदय के लिए बहुत अच्छा होता है. इसमें (विशेष रूप से नट्स की त्वचा) में बहुत से फ्लावोनोइड या बायोफ़्लेवोनोइड होता है जोकि एक प्रकार का चयापचयों, और हमारे शरीर में एंटीओक्सिडेंट की शक्ति को बढाता है. शोधकर्ताओं की खोज से यह पता चलता है कि इससे कार्डियोवैस्कुलर सिस्टम ठीक से काम करता है जिससे हार्ट अटैक आने का खतरा नहीं होता है.
  • बहुत कम खाद्य पदार्थों में कम घनत्व वाले लिपोप्रोटीन या खराब कोलेस्ट्रोल के खिलाफ लड़ने के गुण होते है जैसे हरे बादाम में, यदि आप इसका नियमित रूप से सेवन करते हैं तो यह आपके कोलेस्ट्रोल लेवल को नियंत्रित रखता है.
  • हरे बादाम में पाया जाने वाला फॉस्फोरस हमारे दांतों और हड्डियों के लिए बहुत लाभकारी है. इससे हमारे दांत और हड्डियां मजबूत बनती है, इसी समय यह हमारी कंकाल प्रणाली की दक्षता भी उल्लेखनीय रूप से बढ़ती हैं.
  • खाना खाने के बाद हमारे शरीर में शुगर लेवल बढ़ जाता है जोकि हमारे शरीर के लिए अच्छा नहीं है, इसलिए हरे बादाम इससे बचने के लिए मदद करता है. यह हमारे शरीर में बढ़ी हुई शुगर की मात्रा को कंट्रोल करता है.
  • हरे बादाम में एंटीओक्सिडेंट बहुत अधिक होता है. यह हमारे शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकलता है और हमारी प्रतिरक्षा क्षमता को बढ़ाता है. इसलिए इससे की बिमारियों और संक्रमण में रोक लगाई जा सकती है.
  • यह हमारे शरीर में पीएच लेवल को बैलेंस करता है और साथ ही इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्व हमारे शरीर के तंत्रिका तंत्र को सुरक्षित रखते हैं.
  • इसमें फाइबर भी अधिक होता है जो हमारी पाचन क्रिया को आसान बनाता है.

त्वचा के लिए

  • इसमें बहुत से एंटीओक्सिडेंट और विटामिन ई होने की वजह से यह हमारी त्वचा में प्रदूष्ण से जमा होने वाले कणिक या विषैले कणों को दूर करता है.
  • यह अच्छा डेटोक्साइड होने के नाते, यह हमारी आंतरिक प्रणाली को साफ़ रखता है, जिससे मुहाँसे, दाना, ब्लैकहेड्स, वाइटहेड्स आदि जैसे कई त्वचा की समस्याओं का इलाज किया जा सकता है.
  • इसका सेवन कर या इसे फेसमास्क की तरह लगाकर एजिंग की समस्याओं जैसे झुर्रियां, काले धब्बे, फाइन लाइन्स आदि से निजत पाया जा सकता है.
  • इसे फेसमास्क की तरह इस्तेमाल करने से सांवली त्वचा की परेशानी से भी बचा जा सकता है.

बालों के लिए

  • इसमें बहुत से विटामिन, मिनरल्स और पोषक तत्व होते है जोकि गिरते हुए बालों की समस्या से बचने के लिए लाभकारी है. क्योकि यह बालों को टूटने से बचाता है और बालों को मजबूत करता है.
  • यह न केवल बालों को टूटने से बचाता है बल्कि यह बालों की ग्रोथ को बढाता भी है. इसमें प्रोटीन, विटामिन ई, लोहा, जस्ता आदि शामिल होते है, जो बालों को लम्बा करने में आवश्यक होते हैं.
  • यह बालों को चमकदार भी बनाता है. इससे जड़ों में रक्त का स्त्राव बहुत सुचारू रूप से चलता है जिससे यह हमारे बालों की रक्षा करता है.

बादाम से कुछ नुकसान (Almond side effects in hindi)

बादाम न सिर्फ फायदेमंद होता है बल्कि इससे कुछ नुकसान भी होते हैं, जोकि इस प्रकार हैं –

  • गेस्ट्रोइन्तेंस्तिनल समस्यायें बहुत अधिक मात्रा में बादाम का सेवन करने से कब्ज की बीमारी हो सकती है. क्योकि इससे फाइबर बहुत अधिक मात्रा में आपके शरीर में प्रवेश करता है. जिससे आपकी पाचनशक्ति गडबडा जाती है. यह हमारे पेट के लिए भी हानिकारक होता है.
  • दवा से इंटरेक्शन यदि आप मैंगनीज के समृद्ध आहार पर है और आप बादाम का भी सेवन कर रहे है, तो यह दवा से इंटरैक्ट कर सकता है. इसका कारण यह है कि इसमें भी मैंगनीज पाया जाता है. और शरीर में मैंगनीज की अधिक मात्रा से जुलाब हो सकता है. यह दवाओं से इंटरैक्ट करता है.
  • अधिकमात्रा में विटामिन ई हमे हर रोज 15 मिलीग्राम विटामिन ई की आवश्यकता होती है. बादाम की बड़ी मात्रा में उपभोग करके आवश्यक मात्रा से अधिक यानि 1000 मिलीग्राम से ऊपर तक यह पहुंच जाता है. इससे नुकसान यह है कि इससे दस्त, पेट फूलना, धुंधला दिखना, सिरदर्द, चक्कर आना और सुस्ती जैसे समस्या हो सकती है.
  • वजन बढ़ना बादाम का सबसे बड़ा नुक्सान है कि इसकी अधिक मात्रा से वजन बढ़ जाता है. शरीर के लिए जरूरी होता है कि कैलोरी बहुत अधिक मात्रा में न हो. और बादाम से बहुत जल्दी कैलोरी बढ़ जाती है जिससे वजन बढ़ने की समस्या हो सकती है.
  • शरीर में विषैले स्तर की वृद्धी यह भी एक बड़ी समस्या में से एक है. कड़वे बादाम हाइड्रोसायनिक एसिड को शामिल करने के लिए जाने जाते है जोकि निम्न लक्षणों को दर्शाता है जैसे तंत्रिका तंत्र का धीमा होना, श्वास लेने की समस्या आदि ये घटक भी हो सकते हैं.
  • एलर्जी यह बहुत दुर्लभ नुक्सान है. लेकिन कुछ लोगों में बादाम से एलर्जी की प्रक्रिया भी देखी गई है. जिसके लक्षण जैसे रशेस व् साँस लेने में कठिनाई आदि हो सकते है.
  • बैक्टीरिया की उपस्थिति यह दुष्प्रभाव बादाम के लिए विशिष्ट नहीं है. लेकिन नट परिवार का हिस्सा होने के कारण बादाम जीवाणु वृद्धी के लिए प्रवण है. इससे बैक्टीरिया की उपस्थिति भी हो सकती है.

तो, बादाम को अधिक मात्रा में नही खाना चाहिए, लेकिन इससे फ़ायदे भी बहुत होते है तो इसे नियमित मात्रा में खाना चाहिए, जिससे कि यह आपके शरीर के लिए नुकसानदायक न होकर फायदेमंद हो सके.

ये आर्टिकल पढ़कर आप जरुर समझ गए होंगे कि बादाम के कितने सारे फायदे है और ये हमारे शरीर में बहुत सारे पोषक तत्व देता है| अब आप इसे वजन बढ़ने का स्त्रोत नहीं मानेगें, बल्कि कम करने का स्त्रोत मानेगें| 

अन्य पढ़े:

Vibhuti
Follow me

Vibhuti

विभूति दीपावली वेबसाइट की एक अच्छी लेखिका है| जिनकी विशेष रूचि मनोरंजन, सेहत और सुन्दरता के बारे मे लिखने मे है| परन्तु साईट के लिए वे सभी विषयों मे लिखती है|
Vibhuti
Follow me

यह भी देखे

BlackShilajit

शिलाजीत आयुर्वेदिक औषधि के फ़ायदे | Benefits of Ayurvedic Medicine Shilajit in hindi

Benefits of Ayurvedic Medicine Shilajit in hindi संस्कृत के ‘शिलाजतु’ शब्द से बने शब्द “शिलाजित” …

One comment

  1. Aap ka sughav kafee accha hay

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *