ताज़ा खबर

आखिर क्यूँ की प्रत्युषा बेनर्जी ने आत्महत्या / सुसाईड

आखिर क्यूँ की प्रत्युषा बेनर्जी ने आत्महत्या सुसाईड
Balika Vadhu Anandi Pratyusha Banerjee Suicide why

आज का दिन एक दुखद खबर लेकर आया हैं, प्रत्युषा बेनर्जी एक ऐसा जाना माना चेहरा, जिसे दर्शक आनंदी (बालिकावधु कलर)के नाम से जानते हैं, आज वे अपने निवास स्थान मुंबई कांदिवली में मृत पाई गई . सूत्रों के मुताबिक प्रत्युषा ने ख़ुदकुशी की हैं.उन्होंने पंखे से लटकर अपनी जान दे दी,उनकी मृत्यु की पुष्टि कोकिला बेन हॉस्पिटल में की गई .

balika vadhu anandi pratyusha banerjee Suicide why

 

जमशेदपुर की रहने वाली प्रत्युषा ने महज 24 वर्ष की आयु ने दर्जन भर सीरियल में अभिनय किया जिसमे उन्हें बहुत सराहा भी गया . खासतौर पर कलर पर प्रसारित हो रहे बालिकावधु में आनंदी के किरदार ने प्रत्युषा को कामयाबी के बहुत अच्छे दौर में लाकर खड़ा कर दिया था, जहाँ से उन्हें घर- घर में पहचान मिली . इसके बाद भी यह सिलसिला नहीं थमा . बालिकावधू के बाद सलमान के शो बिग बॉस 7 में प्रत्युषा को देखा गया जहाँ से उनकी निजी जिंदगी से दर्शक रूबरू हो सके . ऐसे ही कई सीरियलों का हिस्सा प्रत्युषा रही .

प्रत्युषा की मौत की खबर ने इंडस्ट्री के साथ- साथ दर्शको को भी चौका दिया हैं . इतनी कम उम्र में कामयाब होने वाली लड़की कैसे आत्महत्या जैसा संगीन कदम उठा सकती हैं? यह एक सोचने का विषय हैं .

फिलहाल प्रत्युषा के सभी कलाकार दोस्त उनके निवास स्थान पर उनके साथ हैं . जहाँ डॉली बिंद्रा और एज़ाज़ खान दोनों ने रिपोर्ट से हुई बातचीत में साफ़ शब्दों में कहा कि प्रत्युषा एक कमजोर लड़की नहीं थी, उसमे बहुत हिम्मत थी, वो इस तरह से खुदकुशी नहीं कर सकती . उनके मुताबिक यह एक मर्डर हो सकता हैं .

सूत्रों के मुताबिक प्रत्युषा काफी दिनों ने निजी परेशानियों के चलते चिंता में थी . बताया जा रहा हैं कि उनका, उनके बॉय फ्रेंड राहुल के साथ झगड़ा हुआ था जिस कारण वे कई दिनों से तनाव में थी. इस बात की पुष्टि उनके कलाकार दोस्तों ने की . इसलिए यह अनुमान लगाया जा रहा हैं कि इस सबका कारण प्रत्युषा और उनके बॉयफ्रेंड के बीच की लड़ाई हो सकता हैं .

मुंबई पुलिस इस बात की तहत तक जाएगी जिसके बाद ही कुछ कहा जा सकेगा . फ़िलहाल इस दुखद खबर ने प्रत्युषा के घर परिवार के साथ, सह कलाकार और दर्शको को गहरा आघात किया हैं . इतनी कम उम्र में जहाँ सफलता उनके साथ थी, इसके बावजूद उन्होंने मरने का फैसला किया ,यह बात सभी के दिलो को झंझोड़ रही हैं . दोस्तों और परिवार वालो के मन में एक ही शब्द हैं कि काश! ऐसे वक्त में हम प्रत्युषा के साथ होते और उसे ऐसा कदम उठाने से रोक पाते . लेकिन अन्हौनी घट चुकी हैं जहाँ किसी काश की कोई जगह नहीं रही . हम सभी प्रत्युषा की शांति के लिए दुआ ही कर सकते हैं .

Karnika

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

यह भी देखे

5001000-ban

प्रधानमंत्री मोदी ने बंद किये 500 और 1000 रूपए के नोट | 500 And 1000 Notes Banned In Hindi

500 and 1000 notes banned in hindi 10 दिन पहले दिवाली के पटाखों की गूँज …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *