ताज़ा खबर
Home / इनफार्मेशनल / Basics Of “Mutual Funds” Investments

Basics Of “Mutual Funds” Investments

Mutual Funds:
Mutual Fund एक investment हैं जो कि investor की money को different-different security जैसे stock, bonds, money market आदि इसी तरह के areas में लगाया जाता हैं | यह Investment Debt security, Money market security या इनके ही combination में किया जाता हैं | Mutual Funds investor के behalf पर money Manager द्वारा manage किया जाता हैं | जब भी security को sail किया जाता हैं तब उसमे होने वाले profit पर investor का हक़ होता हैं लेकिन होने वाले loss में investor की money को कोई नुकसान नहीं होता |सबसे important बात यह हैं कि investor पूरी तरह से जांचने के बाद ही कि कौन सी scheme best हैं और अदा की जाने वाली shareholder fee कितनी हैं | यह सभी information को समझने तथा जानने के बाद ही invest करे |

Mutual_Funds

Types Of Mutual Funds:

  1. Open Ended
  2. Close Ended

1)       Open Ended Funds:

Open Ended में fund का कोई fix maturity time नहीं होता हैं इसे year के किसी भी time में ख़रीदा या बेचा जा सकता हैं | यह पुरे year available होते हैं | और generally market में open ended funds ही होते हैं | इस flexibility के कारण ही यह open ended कहे जाते हैं |

 Open ended fund further divided into following

  • Debt
  • Money market
  • Equity
  • Balanced

2)       Close Ended Funds:

Close Ended का एक fixed maturity time होता हैं और investor इसके launch होने initial time (प्रारंभिक समय) में ही इसमें invest कर सकता हैं | इस period को “New Fund Offer ” कहा जाता हैं ऐसे funds limited time के लिए ही operate किये जाते हैं generally 3 से 15 years तक |

Close ended fund further divided into following:

  • Capital protection
  • Fixed maturity plan

Advantages of mutual funds:

  • Professional management
  • Risk reduction
  • Convenience
  • Liquidity
  • Minimum initial investment
  • Transparency

 

  • Professional management:Mutual funds professional company के द्वारा manage किया जाता हैं किसी भी fund को बेचने या खरीदने का decision, Manager (Mutual Funds Manager) के द्वारा लिया जाता हैं और यह decision Market condition के उतार चढाव को देखकर लिया जाता हैं |
  • Risk Reduction: Mutual Fund investment एक secure investment है | यह minimum investment में available होता हैं | जब कोई investor single fund में invest करता हैं इसका मतलब वह बहुत secure investment कर रहा हैं | अर्थात Mutual funds investment में बहुत कम risk होता हैं |
  • Convenience:सभी important information जैसे shares खरीदना और बेचना, changing distribution option etc सभी phone call, mail या online available होती हैं |यह आवश्यक हैं कि investor money invest करने से पहले ही सभी rules and terms and condition ठीक से जान ले उसके बाद ही invest करे |
  • Liquidity:Mutual funds scheme में investor कभी भी अपनी money वापस ले सकता हैं |पर value net assets mutual fund के अनुसार तय की जाएगी |और funds से fee एवम commission काट लिया जाता हैं |
  • Minimum initial investment: mutual funds में investment राशि कम होती हैं | कोई भी व्यक्ति इसमें easily invest कर सकता हैं |
  • Transparency:mutual fund investment में investor कभी भी इसकी सभी जानकारी प्राप्त कर सकता हैं जो कि उसे phone call, email और online sites के द्वारा मिल सकती हैं |

Disadvantages of mutual fund:

  • No guarantees
  • Tax inefficiency
  • Poor trade execution
  • Management abuses
  • High expense ratios and sales charges
Karnika

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

यह भी देखे

data-scientist-salary-in-india

डेटा वैज्ञानिक का भारत में कमाई| Data Scientist Salary In India In Hindi

Data Scientist Salary In India In Hindi डेटा वैज्ञानिक की मांग आज के समय में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *