ताज़ा खबर

बीरबल की खिचड़ी

Birbal Ki Khichdi Story in Hindi हिंदी में पढ़े बीरबल के किस्से |अकबर  बीरबल के किस्से जीवन की सीख बन जाते हैं और रोचक कथाओ से भरे हुए होते हैं ऐसे ही कुछ किस्से लिखे गये हैं |

Birbal Ki Khichdi Story in Hindi

 

हिंदी कहानी :बीरबल की खिचड़ी Birbal Ki Khichdi

एक दिन अकबर ने सभा में ऐलान  किया कि नगर के पास के जलाशय जिसमे पानी बर्फ बन जाता हैं उसमें अगर कोई आदमी रात भर रहेगा तो उसे मन चाहा तौहफा  दिया जायेगा |

एक बुजुर्ग आदमी  यह करने को तैयार हो गया अकबर ने एक सिपाही को उस आदमी की निगरानी के लिए भेजा | वह आदमी उस जलाशय में गया और उसने लगभग 1 km दूर प्रज्वलित दीपक की तरफ मुड़कर खड़े रहना स्वीकार किया यह बात सिपाही को अजीब लगी |

वह आदमी रात भर कड़कड़ाती ठंड में जलाशय में खड़ा रहा और सुबह राज्य सभा में आकर उसने राजा से पारितोषिक का आग्रह किया | तब अकबर ने सिपाही से पूछा कि क्या इस आदमी ने सच में रात भर जलाशय में वक्त बिताया ? सिपाही ने कहा- हाँ! पर यह आदमी दूर लगभग 1 km दूर जल रहे दीपक से ताप ले रहा था |

यह सुनकर अकबर को गुस्सा आ गया और उसने किसी की ना सुनी और उस बूढ़े को सज़ा-ए-मौत दे दी| वह बुजुर्ग  सर झूका कर खड़ा रहा और उसे जेल में बंद कर दिया गया |

सभा में यह सब बीरबल भी देख रहा था | सभा के बाद बीरबल ने अकबर से आग्रह किया कि वो उसके घर भोजन पर आये | अकबर ने निमंत्रण स्वीकार कर लिया |

Akbar, Birbal के घर पहूंचा | अकबर ने बहुत देर इन्तजार किया उसे भूख भी लगने लगी थी पर खाना अब तक तैयार नहीं था | अकबर ने बीरबल से पूछा क्या हुआ कब भोजन मिलेगा ? बीरबल ने कहा मैंने तो कई घंटों पहले ही खिचड़ी बनने रखी पर पता नहीं क्यूँ नहीं बनी ? अकबर ने बोला बताओं कहाँ बन रही हैं | बीरबल ने दिखाया उसने नीचे चूल्हा जलाया था और छत पर बर्तन में खिचड़ी पकने रखी थी |

यह देखकर अकबर ने गुस्से में कहा बीरबल तुम पागल हो इस तरह तो पानी भी गरम नहीं होगा | तब बीरबल ने कहा जब जलाशय में खड़ा आदमी 1 KM दूर जल रहे छोटे से दीपक से ताप ले सकता हैं तब खिचड़ी भी पक ही जाएगी |

अब अकबर को पूरी बात समझ आई और उसने उस बुजुर्ग को रिहा करवा कर मुँह माँगा इनाम दिया | ऐसी थी  बीरबल  की प्रसिद्ध खिचड़ी |  

Birbal Ki Khichdi Story in Hindi बीरबल की खीचड़ी आपको कैसे लगी कमेंट करे |

अन्य हिंदी कहानियाँ एवम प्रेरणादायक प्रसंग के लिए चेक करे हमारा मास्टर पेज

Hindi Kahani

Karnika

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

यह भी देखे

rishi-durvasa

ऋषि दुर्वासा जीवन परिचय कहानियां | Rishi Durvasa Story In Hindi

Rishi Durvasa biography story in hindi हिन्दू पुराणों के अनुसार ऋषि दुर्वासा, जिन्हें दुर्वासस भी …

3 comments

  1. Very interesting. … and a education from the topic.

  2. I LIKE AKBAR BIRBAL STORIES VERY MUCH BUT THIS STORY IS TOO GOOD FOR ME READ IT FOUR TO FIVE TIMES

    LOVED IT

  3. This story is very funny

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *