ताज़ा खबर

कैटालोनिया, स्पेन से अलग क्यों होना चाहता है | Why Does Catalonia Want to Leave Spain in hindi

कैटालोनिया, स्पेन से अलग क्यों होना चाहता है | Why Does Catalonia Want to Leave Spain in hindi

कैटालोनिया की क्षेत्रीय सरकार ने स्पेन से आजादी पर सवाल के जवाब के लिए 1 अक्टूबर को जनमत संग्रह कराया, जिसमे ज्यादा लोगों ने हाँ में जवाब दिए. इस विवादित जनमत संग्रह में स्पेनिश पुलिस की करवाई से लगभग 800 से ज्यादा लोग घायल हो गए. इन सब के बावजूद 5.3 मिलियन पंजीकृत मतदाताओं की संख्या में से 90% मतदाता ने हाँ पक्ष में अपना मत डाला, 8% मतदाता ने आजादी को ख़ारिज कर दिया. हाँ में बहुमत पड़ी, जिसके साथ ही स्थानीय सरकार ने केटोलोनिया को स्पेन से स्वतंत्र घोषित कर दिया. लेकिन स्पेन की सरकार ने कहा है कि यह घोषणा एक तरफा है. जिस वजह से कैटालोनिया और स्पेन का विवाद चर्चा में बना हुआ है. 

कैटालोनिया और स्पेन का इतिहास (Catalonia Spain History)

कैटालोनिया, स्पेन का एक स्वायत अर्थात अपनी सरकार बनाने का अधिकार रखने वाले समुदायों का क्षेत्र है, जो इबेरियन प्रायद्वीप के पूर्वी छोर पर स्थित है. कैटालोनिया में चार प्रान्त है बार्सिलोना, गिरोना, ल्लेइदा और तर्रगोना. बार्सिलोना, जनसँख्या की दृष्टि से स्पेन में दूसरी सबसे बड़ी नगरपालिका है और यूरोपीय संघ में सातवें सबसे अधिक आबादी वाला शहरी क्षेत्र है. कैटालोनिया स्पेन के सबसे धनी और सबसे अधिक उत्पादक क्षेत्रों में से एक है. कैटालोनिया का पूर्वोत्तर स्पेन में 32,107 वर्ग किलोमीटर का अपना एक अलग क्षेत्र है.

कैटालोनिया का एक विशिष्ट क्षेत्र के रूप में इतिहास 1000 साल का है. इसकी अपनी एक भाषा है. स्पेनिश गृह युद्ध से पहले वह पूरी तरह से स्वतंत्र क्षेत्र था, लेकिन यह स्वायत्तता अर्थात स्थानीय स्वशासन का अधिकार 1939 से 1975 तक जनरल फ्रांसिस्को फ्रेकों की तानाशाही से दब गया था, उसके बाद जब फ्रांसिस्को का निधन हो गया तो कैटालोनिया का अपने क्षेत्र पर स्थनीय स्वशासन का अधिकार फिर से कायम हो गया और अंततः 1978 के संविधान के तहत उत्तर-पूर्वी क्षेत्र को फिर से स्वायत्ता प्रदान करने की मांग उठने लगी.

कैटालोनिया और स्पेन दोनों की ही अपनी एक अलग पार्लियामेंट है, 2006 में दोनों ने मिलकर यह तय किया कि वो एक दुसरे को हर प्रकार से स्वायत्तता अर्थात उन्हें स्थानीय स्वशासन का अधिकार प्रदान करेंगे, लेकिन इस स्वायत्तता को सुप्रीम कोर्ट ने क़ानूनी रूप से ख़ारिज कर दिया गया. सुप्रीम कोर्ट के जज की चयन प्रक्रिया यहाँ पढ़ें.   

catalonia wants to leave spain

कैटालोनिया, स्पेन से अलग क्यों होना चाहता है (Why Does Catalonia Want to Leave Spain in hindi)

कैटालोनिया के राष्ट्रपति कार्ल्स पुइग्देमोंट कैटालोनिया की स्वतंत्रता के लिए दो साल से प्रयास कर रहे है. कैटालोनिया भूमध्य और पायरिन्स की सीमा वाले 7.5 मिलियन लोगों से बसा एक क्षेत्र है जो की स्पेन के क्षेत्र का 6.3% है और स्पेन की जनसंख्या का 16% है. कैटालोनिया राज्य की राजधानी बार्सिलोना है. कैटालोनिया अपने उद्योग, अनुसंधान और पर्यटन के माध्यम से अर्थव्यवस्था के आर्थिक उत्पादन या उसे मजबूत बनाने में महत्वपूर्ण योगदान करता है. इन सबके बावजूद यह स्पेन के ऋणी क्षेत्रों में से एक है.

इस प्रकार से कैटालोनिया द्वारा स्पेन से अलग होने की मांग के निम्नलिखित कारण है जो निम्नवत है –

  • कैटालोनिया पहले से अपने खुद के क्षेत्रीय संसद के साथ शिक्षा, स्वास्थ्य और कल्याणकारी कार्यों जैसे मामलें की देखभाल करता है. क्षेत्रीय सरकार का यह तर्क है कि एक स्वतंत्र कैटालोनिया अपनी भाषा और संस्कृति की रक्षा स्वयं बेहतर तरीके से कर सकता है.       
  • स्पेन के साथ रहने पर आर्थिक संकट और असंतोष के कारण यह क्षेत्र मैड्रिड से मिलने वाले करों में अरबों यूरो का अधिक भुगतान करता है. कैटालोनिया के लोगों का मानना है कि उनसे कर अधिक लिया जाता है और इसके बदले उन्हें ज्यादा कुछ सुविधा प्राप्त नहीं होती है. कैटालोनिया स्पेन के सकल घरेलु उत्पादन में महत्वपूर्ण योगदान करता है. इसका योगदान स्पेन की कुल जीडीपी में 19% तक का है. 

निष्कर्ष (Conclusion)

जनमत को ध्यान में रख कर कैटालोनिया और स्पेन की सरकार को शांतिपूर्ण वार्ता करके इस विवाद का हल निकलना होगा. जनमत को दबाने की कोशिश हिंसा का रूप ग्रहण कर सकती है, इसलिए सुप्रीम कोर्ट की भी इस विवाद को सुलझाने में महत्वपूर्ण भूमिका होगी.

अन्य पढ़ें –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *