ताज़ा खबर

Child Harassment

247311-stock-photo-human-being-child-beautiful-girl-face-eyes

मासूम की मासूमियत से भी खेल रही है दुनिया,
जंगली जानवर की तरह झंझोड़ रही है दुनिया |
इंसानियत पर कोई विश्वास नहीं रह गया,
आज आदीमानव से ज्यादा विचारहीन मानव हो गया |
किसे सिखाएं इस पढ़ी लिखी दुनियां में,
जब अपना ही लगा गया दाग मासूम के दामन में |
कोई किसी का नहीं रह गया यह कलयुग का दौर है,
संत महापुरुष में भी छिपा यहाँ चौर है ||
By: कर्णिका पाठक

Child Harassment एक बहुत ही घिनोना अपराध है जिसके लिए जागना बहुत जरुरी है क्यूंकि बच्चे इसे समझ नहीं पाते या डर जाते है | हम सोचते है बच्चे हमारे सामने है तो safe है पर generally बच्चे घर के member या बहुत ही close relative का ही शिकार बनते है | जब star plus पर प्रसारित हुए serial सत्यमेव जयते में इस issue को उठाया गया उस वक्त episode में भी यही बताया गया था कि generally बच्चों को बहुत close relative से ज्यादा खतरा होता है, जिन्हें हम घर का सदस्य मानते है| इस episode को देखने के बाद जब इस मामले को लेकर लोग थोड़ा open feel कर पाए, तब कईयों ने अपने experience share किये ,जिससे पता चलता है कि 90% लोग अपने childhood में इस तरह कि घटनाओ और ऐसे लोगो का शिकार हो चुके है| कई बार यह बहुत serious नहीं होता पर एक मासूम पर इसका बहुत बुरा असर होता है| जरुरी है इस तरह की वारदातों के बारे में खुल कर बात करे क्यूंकि इसी से जो ऐसे अपराध करता है या कर सकता है ,वह इसे अंजाम देने में थोड़ा झिझक महसूस करेगा, कुछ हद तक यह कम हो सकता है |
ऐसी बातों को खुलकर करने से बच्चे भी आपके सामने बोलने की हिम्मत जुटा पाते है, जो कि बहुत जरुरी है | बच्चो को किसी तरह से इन बातो को समझाना parents की responsibility है |अगर parents यह नहीं कर पा रहे है तो वो medical child counselor से मिलकर help ले सकते है | parents का मानन होता है कि वह हमेशा अपने बच्चों का ध्यान रखते है और उनके साथ ही होते है पर बच्चे school, coaching, classes और भी कई जगह जाते है ,आप हर समय उनके साथ नहीं जा सकते, इसलिए उन्हें यह सब पता होना चाहिए |

बच्चों को डरकर घर में बैठा देना भी बहुत गलत है| चंद लोगो के कारण उनकी आजादी और उनका बचपन खत्म कर देना सही नहीं है | जरुरी है बच्चो को समझना और समझाना | उनकी बातो को कभी नजरअंदाज ना करे, उन्हें time दे,उनके साथ इतने friendly रहे कि वो आपसे सारी बाते खुलकर share कर सके |कई बार parents बच्चो को वक्त नहीं दे पाते, उस तरह के बच्चे अपनी बाते share करना नहीं जानते, इसलिए उन्हें एक proper time देना parents की responsibility है| उनके साथ खेल-खेल में आप उनसे बात कर सकते है | ऐसे बहुत से counselor होते है जो आपको बच्चो से कैसे behave रखे, उस बारे में बता सकते है |


आजकल कई तरह के courses होते है जिनमे बच्चो से related हर बात parents को सिखाई जाती है जो बच्चो को पालने में help करती है | शायद ऐसी classes जाने में mothers शर्म महसूस करती है पर आज के वक्त में हर तरह से यह जरुरी है अगर आप अपने बच्चे को एक सही दिशा में बड़ा करना चाहते है तो किसी के बारे में सोचने की जरुरत नहीं है |


आज के समय में किसी पर भी आँख बन्द करके विश्वास करना गलत है पर हर किसी को शक की निगाह से देखना भी सही नहीं, इसलिए सतर्कता ही सबसे उचित तरीका है | साथ ही हमें अपने आस पास के लोगो से भी इस तरह की बाते खुल कर करना चाहिए| जिससे सभी इस बात को समझ पाए |


हर किसी बात को लेकर government और police को दोष देना सही नहीं है | नागरिकों को भी अपने कर्तव्यों को समझना जरुरी है | crime बहुत तेजी से बढ़ रहा है जिसके खिलाफ़ कानून तो है पर नागरिको को जागना भी उतना ही जरुरी है | अपने हक़ को तो हम सभी बहुत अच्छे से जानते है पर social responsibility भी बहुत जरुरी है |

Child Harassment Act 2012 government द्वारा लागु कर दिया गया है |

childprotection31072012

Karnika

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

यह भी देखे

Indian Folk Dance

भारतीय लोक नृत्य की सूची | List Of Indian Folk Dance In Hindi

Folk Dance Of India In Hindi भारत का नाम आते ही सामने आ जाता है …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *