ताज़ा खबर

दिवाली 2016 कब है | Diwali 2016 Date In Hindi

Diwali 2016 Date In Hindi दिवाली 2016 में कब है? की जानकारी के लिए यह आर्टिकल पढ़े . दीपावली की छुटियाँ अपनों के साथ मनाने के लिए जल्द ही करें, टिकट का इंतजाम ताकि आपको ना हो कोई दिक्कत .

दीपावली देश के बड़े त्यौहारों में से एक हैं . यह पाँच दिन का पर्व है, जो बहुत हर्षोल्लास से मनाया जाता हैं . प्रति वर्ष मनाया जाने वाला यह दीपावली का त्यौहार इस वर्ष 2016 में 27 अक्टूबर से 31 अक्टूबर के बीच मनाया जायेगा. दीपावली एक ऐसा त्यौहार है, जिसमें हर कोई अपने घर, अपनों के बीच जाना चाहता है. यह एक बड़ा ऐसा त्यौहार है, जिसमें लोग दूर दूर से अपने घर जाते है, और अपने घरवालों, रिश्तेदारों के साथ बड़े हर्षोल्लास से त्यौहार मनाते है. दीपावली भारतियों के लिए बहुत बड़ा अवसर होता है, जिसमें वे लम्बे समय बाद अपने लोगों से मिलते है, घर में आराम से छुट्टियाँ बिताते है. 5 दिन के इस त्यौहार में उन्हें एक लम्बा समय मिल जाता है अपने परिवार वालों के साथ. दीपावली में घर जाने के लिए लोग तीन महीने पहले रिजर्वेशन खुलते ही, टिकट बुक करा लेते है, ताकि बाद में कोई दिक्कत न हो. दीपावली के समय ट्रेन, प्लेन, बस सभी एक दम फुल चलती है. इस त्यौहार के आसपास आने जाने के लिए टिकट बहुत ही मुश्किल से मिलती है. आप इन मुसीबत से बचने के लिए दीवापली की तारीख के अनुसार अपनी छुट्टी प्लान कर लें.

दिवाली 2016 कब है ?

Diwali 2016 Date In Hindi

दीपावली 2016 त्यौहार तारीख (Diwali/ Deepawali Festival 2016 Dates)

क्र. दिनांक वार दीपावली के दिन विवरण
1 27 अक्टूबर 2016 गुरुवार धन तेरस कुबेर देवता की पूजा की जाती हैं . घर में नयी वस्तु खरीदी जाती हैं . इस दिन बर्तन, सोने चांदी की खरीद का बहुत महत्व होता है. एक झाड़ू खरीदने का भी प्रावधान है, कहते है इससे लक्ष्मी घर में आती है.
2 29 अक्टूबर 2016 शनिवार नरका चौदस सूर्योदय से पूर्व उठकर स्नान का महत्व हैं . तिल से स्नान का महत्व हैं . कहते है सूर्योदय से पहले चिकसा, तिल लगाकर नहाते है तो स्वर्ग की प्राप्ति होती है.
3 30 अक्टूबर 2016 रविवार दीपावली लक्ष्मी जी की पूजा की जाती हैं, दीप दान किया जाता हैं. व्यपारियों के लिए यह नव वर्ष होता हैं . नए बहीखाते इस दिन से शुरू किये जाते है.
4 31अक्टूबर 2016 सोमवार गोवर्धन पूजा गोबर्धन की पूजा की जाती हैं . 56 भोग बनाकर अन्नकूट किया जाता हैं .
5 1 नवंबर 2016 मंगलवार भाई दूज भाई बहन का त्यौहार होता हैं बहन भाई को तिलक करती हैं एवम भोजन के लिए घर पर आमंत्रित करती हैं .

यह पाँच दिन का त्यौहार बड़े जोर शोर से देश में मनाया जाता हैं . इसके लिए सभी अपने घर में इक्कट्ठे होते हैं . पढाई एवम नौकरी के लिए बाहर गये घर के बच्चे दीपावली के लिए अपने घर आते हैं . घर के बच्चे महीने पहले से ही तैयारियाँ शुरू कर देते हैं . नये वस्त्र ख़रीदे जाते हैं . घरो का रोंगन कराया जाता हैं . अपनों के लिए गिफ्ट्स लिए जाते हैं .

साल की शुरुवात से ही दीपावली की तारीख देख उसके अनुसार नौकरी पेशा लोग लीव के लिए अप्लाई करते हैं . उसके अनुसार ट्रेन एवम फ्लाइट के टिकट बूक करवाते हैं . अतः आपके लिए  दिवाली 2016 में कब है, यह जानकारी लिखी गई हैं ताकि आप आसानी से सुविधानुसार टिकट बूक करवा सके .

यह जानकारी जानने के बाद देरी न करे अपने प्लान्स बनाये . दीपावली त्यौहार ही ऐसा हैं जो कई यादें बनाता हैं . इसे हर वर्ष खुशियों के साथ मनाये . खुशियों के साथ जीवन जीने से ही भगवान प्रसन्न होते हैं वे अपने भक्तो में प्रेम और खुशियाँ ही देखना चाहते हैं . त्यौहार का मतलब सिर्फ पूजा पाठ नहीं होता है, यह भगवान के द्वारा दिया गया अवसर है, जिसमें मनुष्य अपनी व्यस्तम लाइफ से समय निकालकर, अपनों के साथ समय बीता सके. दिवाली में लोग एकजुट होकर साथ मिलकर मनाते है, चाहे वो घर में हो या घर से बाहर. वैसे कहते है जहाँ अपने सभी इक्कठे हो जाएँ वही दिवाली है.

दीपावली के बारे में विस्तार से जानने के लिए यह आर्टिकल पढ़े         

Diwali Mahatv 

धनतेरस हिंदी कविता पढने के लिए क्लिक करे

Dhanteras Hindi Kavita

नरक चौदस हिंदी कविता पढने के लिए क्लिक करे

Narak Chaudas Hindi Kavita

दीपावली हिंदी कविता पढने के लिए क्लिक करे

Diwali Hindi Kavita

गोवर्धन हिंदी कविता पढने के लिए क्लिक करे

Goverdhan Hindi Kavita

भाई दूज हिंदी कविता पढने के लिए क्लिक करे

Bhai Dooj Hindi Kavita

Karnika

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

यह भी देखे

labh-pancham

लाभ पंचमी महत्व | Labh pancham Mahatv In Hindi

Labh pancham Mahatv In Hindi लाभ पंचमी को सौभाग्य लाभ पंचम भी कहते है, जो …

One comment

  1. thank you for reminding me…ill reserve my tickets..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *