ताज़ा खबर

दृश्यम फिल्म समीक्षा रिव्यु

अगर आप आज अजय देवगन की फिल्म देखने जाने की इच्छा रखते हैं तो दृश्यम फिल्म समीक्षा रिव्यु (Drishyam Movie Review in Hindi) जरुर पढ़े |

दृश्यम फिल्म समीक्षा रिव्यु

दृश्यम अजय देवगन, तब्बू की फिल्म में है| दृश्यम तमिल, तेलगु, कन्नड़ और मलयालम में पहले ही आ चुकी है| तमिल में यह कुछ समय पहले पापनासम नाम से आई जिसमें कमल हसन ने मुख्य भूमिका निभाई थी| दृश्यम सभी संस्करण में सुपर हिट साबित हुई| यह एक पारिवारिक एक्शन फिल्म है, जिसे पूरा परिवार साथ बैठ कर देख सकता है और एन्जॉय कर सकता है| अजय बहुत समय बाद एक आम आदमी के रूप में भावपूर्ण एक्टिंग करते नजर आये है| सिंघम series करने के बाद उनकी यही image बन गई थी, जिसमें उन्हें एक कड़क ईमानदार पुलिस के रूप में देखा जा सकता था| इस image से बाहर निकलने के लिए उन्होंने कॉमेडी फिल्मों का सहारा भी लिया,  जिसमें वे बहुत फिट नहीं बैठे|  अब बहुत समय बाद अजय एक ऐसे रूप में आये है जैसे उन्होंने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत की थी| अजय एक्टिंग के धनी है, वे बिना कुछ बोले अपनी आँख से ही सब कुछ बोल देते है और दर्शकों के दिल में जगह बना लेते है|

Drishyam movie review in hindi

Drishyam movie review in hindi

फिल्म – दृश्यम

कलाकार – अजय देवगन , तब्बू , श्रेया सरीन , इशिता दत्ता , कमलेश सावंत , रजत कपूर

डायरेक्टर – निशिकांत कामत

लेखक – जीतू जोसेफ

deepawali रेटिंग – 3 स्टार

दृश्यम एक संस्कृत शब्द है जिसका अर्थ होता है दृश| निर्देशक ने इसे ऐसे ही उपयोग किया है ताकि यह लोगों को आकर्षित करें| दृश्यम की कहानी एक्शन रोमांच और सस्पेंस से भरी हुई है| हमने आखरी अच्छी सस्पेंस फिल्म “कहानी” देखी थी जिसमें विद्या बालन ने अपनी अदाकारी से और फिल्म की कहानी ने दर्शको का दिल जीत लिया था| इसके बहुत समय बाद अब दृश्यम आई है जो आपको पूरी फिल्म के दौरान बांधे रखेगी| किसी भी फिल्म को सुपर हिट करने में सबसे पहले उसकी कहानी का हाथ होता है, फिर उसके बाद कलाकारों की एक्टिंग| इस फिल्म में आपको दोनों ही चीज मिलेगी| तब्बू अजय जैसे उम्दा कलाकार ने अपनी एक्टिंग से इस फिल्म को सजाया है| दोनों ही कलाकार की जोड़ी बहुत पुरानी और पसंद की जाने वाली है, हालाकि इस फिल्म में ये एक दुसरे के साथ कपल के रूप में नहीं बल्कि एक दुसरे के विरुद्ध दिखाई देंगे| तब्बू ने इस फिल्म के द्वारा भी सबको बता दिया की उम्र किसी व्यक्ति की उसके काम के आढे नहीं आती है| इसके पहले उन्होंने अपनी फिल्म हैदर में सबके मुंह बंद कर दिए थे, उन्हें इसके लिए बहुत से अवार्ड भी मिले थे| दृश्यम में वे एक पुलिस और माँ की भूमिका में नजर आई है| दोनों ही बहुत अलग किरदार है लेकिन तब्बू ने अपनी अदाकारी से सबको सम्मोहित किया है| जहाँ एक ओर पुलिस अधिकारी के रूप में वे बहुत कठोर, क्रूर, जिद्दी नजर आई है वहीँ माँ के रूप में उनमें मार्मिक रूप भी नजर आया है| कहानी और दृश्यों के अनुसार उन्होंने अपने आपको बहुत अच्छे से ढाला है| 

फिल्म में अजय का नाम विजय सल्गओंकर है जो स्कूल की पढाई बीच में ही छोड़ कर काम में लग जाता है| वह गोवा के एक छोटे से गाँव में अपनी पत्नी नंदिनी (श्रेया सरीन) और 2 बेटी अंजू (इशिता) और अनु(मृणाल) के साथ रहता है| वह जीवनयापन के लिए वहां केबल विडियो का व्यापार करता है| वह खुशहाली भरा जीवन व्यतीत करता रहता है कि तभी उसके साथ एक अजीब घटना हो जाती है| विजय अपने परिवार की सुरक्षा करता है, वह उन्हें पुलिस और सजा से बचाने की कोशिश करता है| तभी उसका सामना एक जिद्दी कठोर पुलिस मीरा देशमुख (तब्बू) से होता है| जो उस घटना की सच्चाई जानने के लिए जी जान लगा देती है, क्यूंकि उसमें उसका बेटा भी जुड़ा रहता है| फिल्म में कठोर पुलिस और आम आदमी के बीच अजीबो गरीब लड़ाई दिखाई गई है|

फिल्म में पुराने गोवा को बड़ी खूबसूरती से दिखाया गया है| सिनेमेटोग्राफी अविनाश अरुण ने की है जिनकी तारीफ करना तो बनता है| अजय अपनी एक्टिंग में बॉडी लैंग्वेज का भी इस्तेमाल करते है| इसमें वे एक प्रोक्टिव पिता और पति बने है जो अपने परिवार को सुरक्षित रखने के लिए किसी भी हद तक जा सकता है| फिल्म का पहला आधा भाग थोड़ा लम्बा लग सकता है, जिसमें जबरजस्ती कुछ plot जोड़े गए है| जीतू जोसेफ ने मलयालम और तमिल में ऐसा नहीं किया था, डायरेक्टर कामथ को इस विषयं पर ध्यान देना चाइये था| लेकिन इसका दूसरा भाग पूरी तरह से एक्शन ड्रामा सस्पेंस से भरा है, जिससे आप पूरी तरह से जुड़े रहेंगे| तब्बू की entry के बाद फिल्म अलग मोड़ लेती है और अपनी प्यारी नाजुक हेरोइन को पहली बार कठोर पुलिस के रूप में देखेंगे| सच में यह किरदार निभाना तब्बू के लिए आसान नहीं रहा होगा| फिल्म का म्यूजिक कुछ खास नहीं है, फिल्म की कहानी के चलते इस पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया गया है|

फिल्म में तब्बू के आलावा एक और पुलिस अधिकारी है गाय्तोड़े (कमलेश) यह तब्बू की तरह क्रूर तो है लेकिन उसकी तरह मार्मिक नहीं| इस निगेटिव किरदार पर कई जगह आपको बहुत गुस्सा भी आएगा| फिल्म में अजय की बेटी का किरदार इशिता और मृणाल से निभाया है जिसे इन्होंने बखूभी निभाया है, डर, मासूमियत दोनों ही इनके चेहरे पर साफ दिखाई पढ़ती है| फिल्म में परिवार की क्या वैल्यू होती है और एक पिता किस तरह तमाम मुसीबतों के बाद भी अपने परिवार की रक्षा करता है और उनका साथ नहीं छोड़ता यह सब बहुत अच्छे से दिखाया गया है| आम आदमी कैसे मुसीबतों में एक जुट होकर परिवार के साथ खड़े होकर सबसे लड़ने लगता है यह देखना बहुत मनोरंजक है|

आजकल अजय ऐसी फ़िल्में ही कर रहे थे जिसमें वे दर्जनों गुंडों से एक साथ अकेले लड़ाई करते थे, कही ढेर सारी गाड़ी पलटाते नजर आते थे, लेकिन इस फिल्म में यह देखना दिलचस्प है की कैसे हमारा सिंघम इतना बेबस और लाचार हो गया| आजकल महिला केन्द्रित फिल्म बहुत बन रही है जिसमें महिलाएं लाचार नहीं बल्कि अपने हक़ के लिए लड़ते नजर आती है| तब्बू के बारे में हम कभी सोच भी नहीं सकते थे कि वो कभी ऐसे पुलिस अधिकारी के रूप में नजर आएँगी| लेकिन उन्होंने अपने किरदार के साथ पूरी तरह इंसाफ किया है|

2013 में जब दृश्यम मलयालम में रिलीज़ हुई थी तो कुछ जगह इसका बहुत विरोध भी हुआ था| लोगों का कहना था की ऐसी फिल्म अपराध को बढ़ावा देती है, और अपराधिक प्रवत्ति वालों के मन में गलत असर डालती है| फिल्म में गलत होने के बावजूद कैसे परिवार का मुखिया अपने परिवार के लिए खड़े रहता है और पुलिस को धोखा देता है यह सब फिल्म पर एक सवाल खड़ा करता है| पारिवारिक फिल्म होने की वजह से यह अच्छी तो है लेकिन पारिवारिकता के नाम पर पैसे बटोरना गलत है| हमारे देश का कानून  निरपेक्ष है जो सही गलत अच्छे से समझता है|  कानून हमारी रक्षा के लिए है ना की हमें परेशान करने के लिए| ऐसे में कानून पर ऐसी फ़िल्में हमें कानून का गलत रूप दिखाती है|

वैसे तब्बू और अजय ने जबरदस्त एक्टिंग की है जिसे देखने आपको 1 बार जरुर सिनेमाघर तक जाना चाहिए| दृश्यम दर्शनीय फिल्म है|

आपको Drishyam movie review in hindi  कैसा लगा जरुर बताएं| आपको यह फिल्म कैसी लगी आप अपने विचार हमारे साथ कमेंट बॉक्स में शेयर करें|   

अन्य पढ़े :

 

Vibhuti
Follow me

Vibhuti

विभूति दीपावली वेबसाइट की एक अच्छी लेखिका है| जिनकी विशेष रूचि मनोरंजन, सेहत और सुन्दरता के बारे मे लिखने मे है| परन्तु साईट के लिए वे सभी विषयों मे लिखती है|
Vibhuti
Follow me

यह भी देखे

bagum jaan

बेग़म जान फिल्म रिव्यु और उसके प्रसिद्ध डायलोग | Begum Jaan movie Review and famous dialogues in hindi

Begum Jaan movie review and famous dialogues in hindi इन दिनों इस फिल्म के डायलॉग कई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *