ताज़ा खबर

EPF बैलेंस कैसे चेक करे | How to check EPF account balance in hindi

How to check EPF account balance in hindi एम्प्लोयी प्रोविड़ेंड फण्ड (कर्मचारी भविष्य निधि) एक बहुत अच्छी योजना है. इसको EPF बोला जाता है, ईपीएफ खासतौर पर सरकारी कर्मचारियों, एवम पब्लिक व प्राइवेट सेक्टर के लिए भविष्य में बचत का सबसे अच्छा तरीका है . सरकार ने इस निधि से संबंधित एक संगठन भी बनाया है जिसे employee provident fund organisation (EPFO) (कर्मचारी भविष्य निधि संगठन) कहा जाता है .

वेतनभोगी लोगों के लिए अपने पैसों का प्रबंधन करना हमेशा से ही टेढ़ी खीर रहा है, क्योंकि उनके पास पैसों के प्रबंधन के लिए कोई चार्टर्ड अकाउंटेट नहीं होता है. एक नौकरीपेशा आदमी के जीवन की सबसे बड़ी चिंता होती है कि रिटायरमेंट के बाद उसे कितनी जमा रकम मिलेगी, जिससे उसकी बाकि की जिंदगी आराम से कट सके. इसके लिए वह विभिन्न जगहों पर निवेश करता है और सबसे महत्वपूर्ण निवेश उसका ईपीएफ अकाउंट होता ​है, जिसमें वह अपनी साठ साल की उम्र तक थोड़ा—थोड़ा पैसा बचाकर अपने बुढ़ापे का सहारा बनाता है. लेकिन ईपीएफ अकाउंट का बैलेंस चेक करना पहले टेढ़ी खीर हुआ करती थी, जिसे अब तकनीक ने आसान बना दिया है. अब ईपीएफ अकाउंट रखने वाले लोग तीन तरीकों यूएएन, एसएमएस और मोबाइल एप के माध्यम से अपने ईपीएफ खाते का बैलेंस चेक कर सकते हैं. लेकिन इससे पहले यह समझते हैं कि ईपीएफ खाता होता क्या है? और काम कैसे करता है?

क्या होता है ईपीएफ खाता? (What is EPF account)

ईपीएफ का मतलब होता है एम्पलॉई प्रोविडेंट फंड या कर्मचारी भविष्य निधि. जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है कि इसे कर्मचारी की तनख्वाह से अनिवार्य रूप से काटा जाता है और एक खाते पर ब्याज देते हुए जमा किया जाता है, ताकि समय आने पर वह उसका इस्तेमाल कर सके लेकिन उसे इस खाते से रकम ऋण या उधार के तौर पर ही दी जाता है. इस खाते में जितनी रकम कर्मचारी जमा करवाता है उतनी ही रकम नियोक्ता भी जमा करवाता है. इसलिए कर्मचारियों के लिए यह बचत फायदे का सौदा है. इस खाते के साथ अच्छी बात यह है कि नौकरी बदल लेने पर भी कर्मचारी को खाता नहीं बदलना पड़ता है, और वह अपने पुराने खाते का नम्बर ही अपने नये नियोक्ता को दे सकता है.

कैसे करें अपने ईपीएफ खाते के बैलेंस की जांच? (How to check EPF account balance in hindi)

हमारी सभी कर्मचारियों की सलाह है कि वे अपने ईपीएफ खाते की बराबर जांच करते रहें. दरअसल ईपीएफ देश भर के करोड़ों कर्मचारियों के खातों की देखभाल करता है, ऐसे में मानवीय भूल या काम की दबाव से खाते में जमा होने वाली राशि में गलती हो जाने की संभावना पैदा हो जाती है. इस संभावना को कम करने के लिए संस्था ने खाताधारकों को अपने खाते का बैलेंस चेक करने की सुविधा दी है. इसके लिए खाताधारक तीन तरह से अपने खाते का बैलेंस चेक कर सकता है. वे इस प्रकार हैं –

EPF बैलेंस को अब हम ऑनलाइन और एसएमएस दोनों ही तरीके से जान सकते है . EPF balance SMS के द्वारा चेक करने के लिए आपको सबसे पहले अपना यूनिवर्सल एकाउंट नंबर (UAN NO) पता करना होगा जो की आपको अपने ऑफिस से मिलता है ,जहा ईपीएफ कटा है . यह नंबर  हर एक  ईपीएफ निवेषक को मिलता है , जो की किसी भी समय अपने द्वारा किये गए निवेष की जानकारी देता है . यह एक यूनिक नंबर होता है और सभी के लिए अलग – अलग होता है .

कोई भी कर्मचारी अपने सभी एकाउंट UAN NO के साथ लिंक कर ले . जिससे जब कभी भी वह अपनी जॉब चेंज करता या विभाग द्वारा  ट्रान्सफर होता है, तो उसे अपना ईपीएफ निवेष ट्रान्सफर करने में बड़ी आसानी रहती है .

एसएमएस के​ माध्यम से जाने अपने पीएफ खाते का बैलेंस (EPF balance enquiry through sms)

अगर आपके पास कम्प्यूटर नहीं है और आपके पास ईपीएफ का एप डाउनलोड करने के लिए स्मार्ट फोन भी नहीं है, तो भी आपको घबराने की जरूरत नहीं है. आप एक सामान्य से एसएमएस के जरिए भी अपने खाते का बैलेंस जान सकते हैं.

  • सबसे पहले वेबसाइट पर जाकर अपना मोबाइल नंबर रजिस्टर करे .
  • इसके लिए बस आपको एक तय फॉर्मेट में एसएमएस मोबाइल नंबर 7738 299 899 पर भेजना होता है.
  • इस नंबर पर EPFOHO UAN ENG  लिख कर अपने मोबाइल से संदेश भेजे. जैसे ही सेवा एक्टिवेट होगी आपके मोबाइल पर आपके खाते के बैलेंस संबंधी मैसेज प्राप्त होने लगेंगे.

यूएएन के माध्यम से खाते की जांच (EPF balance enquiry through UAN)

यूएएन का पूरा नाम यूनिवर्सल अकाउंट नंबर है, जो कर्मचारी भविष्य निधि संगठन द्वारा उस हरेक व्यक्ति को जारी किया जाता है, जिसने भी भविष्य निधि खाता खुलवाया है. यूनिवर्सल अकाउंट नंबर के साथ अच्छी बात यह है कि, किसी वजह से कर्मचारी अपने खाते को बंद करवा देता है या फिर नया खाता खुलवाता है तो भी यह नंबर नहीं बदलता है. एक कर्मचारी द्वारा खोला गया हरेक पीएफ खाता इस यूनिवर्सल नंबर से जुड़ा हुआ रहता है. संगठन का प्रयास है कि वह आगे चलकर इस नंबर को ही आधार बनाते हुए कर्मचारियों का आॅनलाइन ट्राजेंक्शन करने तक की छूट दे दे, ताकि कर्मचारी पर नगद निकासी का दबाव न बनें. पीएफ में यूनिवर्सल अकाउंट नंबर और इसके फायदे जानने के लिए पढ़े.

  • यूएएन से आपको अपने खाते से पासबुक डाउनलोड करने की सुविधा मिलती है, इसमें आप अपने सभी ट्राजेंक्शन चेक कर सकते हैं.
  • अपना यूएएन नंबर जानने के लिए कर्मचारी को अपनी सेलरी स्लिप देखनी चाहिए, जिस पर वह नंबर अंकित होता है.
  • अगर सेलरी स्लिप पर यूएएन नंबर अंकित नहीं है, तो इसे वेब पोर्टल से भी प्राप्त किया जा सकता है.
  • वेब पोर्टल पर जाने से पहले आपके पास अपना पीएफ खाता संख्या, जो आपके सेलरी स्लिप पर अंकित होती है, अपनी जन्म तारीख, नाम और मोबाइल नंबर की जरूरत पड़ेगी.
  • इन जानकारियों को जुटाने के बाद आपको वेबसाइट https://unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface पर जाना होगा.
  • वेबसाइट खुल जाने के बाद ‘नो योर यूएएन स्टेट्स’ पर क्लिक करना होगा, जो आपको एक दूसरे विंडों पर ले जाएगी.
  • इस विंडो में आप मांगी गई सारी जानकारियां देने के बाद सबमिट कर दें. सभी जानकारियां सही होने पर आपको अपना यूएएन नंबर प्राप्त हो जाएगा.
  • इस यूएएन नंबर को इस्तेमाल करने के लिए आपको http://uanmembers.epfoservices.in पर जाना होगा. 
  • जहां आप अपने यूएएन को लॉगिन आईडी की तरह इस्तेमाल करते हुए अपने खाते के बैलेंस की जांच कर पाएंगे.

मोबाइल एप के माध्यम से खाते के बैलेंस की जांच (EPF balance enquiry through mobile)

  • अगर आपके पास कम्प्यूटर नहीं है, तो भी आपको घबराने की जरूरत नहीं है. भविष्य निधि संगठन ने खाते की आॅनलाइन जांच के लिए मोबाइल एप भी लांच किया है.
  • इस एप की मदद से भी आप अपने खाते में बैलेन्स की जांच कर सकते हैं. और तो और अगर आपने अपना यूएएन एक्टिवेट नहीं कर रखा है, तो आप यह काम भी इस एप के माध्यम से कर सकते हैं.
  • यह एप उन लोगों के लिए भी उपयो​गी है जो नौकरी छोड़ चुके हैं, और अपने पेंशन का लाभ उठा रहे हैं क्योंकि यह आपके पेंशन की जानकारी भी देता है.
  • इस एप को भविष्य निधि संगठन की वेबसाइट और गूगल के प्ले स्टोर से आसानी से डाउनलोड किया जा सकता है.
  • एप को डाउनलोड करने के बाद उसे ओपन करें और मेम्बर आॅप्शन पर क्लिक करें.
  • इस पर क्लिक करते ही एक नई विंडों आपके सामने आ जाएगी, जिस पर एक्टिवेट यूएएन और बैलेन्स/पासबुक, ये दो आप्शन नजर आएंगे.
  • अगर आपने अपना यूएएन एक्टिवेट कर रखा है तो आप बैलेन्स/पासबुक पर क्लिक करें, और अपना यूएएन नंबर तथा मोबाइल नंबर डालकर स​बमिट कर दें.
  • इसे सबमिट करते ही आपके खाते की बैलेन्स डिटेल्स आपके सामने आ जाएंगी.
  • अगर आपने यूएएन एक्टिवेट नहीं कर रखा है तो एक्टिवेट यूएएन पर क्लिक करें और वांछित जानकारियां देकर अपना यूएएन एक्टिवेट कर पहले बताई गई प्रक्रिया से अपने बैलेंस की जांच करें.

यूएएन के बिना खाते की जांच (Check EPF balance Online without UAN)

बिल्कुल इसी तरह आप EPF balance बिना UAN number के भी ऑनलाइन पता किया जा सकता है. इसके लिए कुछ आसन स्टेपस है जो कि इस प्रकार है:

  1. हमारा EPF एकाउंट नंबर जो की एक यूनिक नंबर होता है और हमारी सैलरी स्लिप में मेंशन होता है. इसको आप save कर ले
  2. अब आप  ईपीएफओ की वेबसाइट http://epfoservices.in/epfo/member_balance/member_balance_office_select.php.  पर जाये.
  3. इस वेबसाइट को ओपन करने के बाद सबसे पहले अपना स्टेट सिलेक्ट करे जहा भी आप जॉब करते है या जहा से भी आपका ईपीएफ कटा है. अगर आपके पास यह details नहीं है तो अपने ऑफिस HR से संपर्क करके पूछ ले.
  4. ईपीएफओ से संबंधित ऑफिस सिलेक्ट करे फिर स्लिप में दिया हुआ अल्फा-नुमेरिक नंबर एवम शुरू के दो लैटर उस डिपार्टमेंट के जहा से ईपीएफ कटा है, वह डाले
  5. इसी तरह पहले बॉक्स में कर्मचारी अपना नाम, मोबाइल नंबर, और ईपीएफ नंबर डाले .
  6. दुसरे बॉक्स में दिया गया नंबर डाले .
  7. तीसरे व अंतिम बॉक्स में अपना एकाउंट नंबर डाल कर सबमिट करे .
  8. नीचे हमने आपको स्क्रीनशॉट दिया है जहाँ पर आपको ये सारी details डालनी है.

EPF balance kaise check kare

इस प्रकिया के पुरे होते ही दिए गए मोबाइल नंबर पर, एक एसएमएस आएगा जो की इस बात को सन्तुष्ट करेगा की जो प्रोसेस आपके द्वारा की गयी है व सही और पुरी हो चुकी है .

ईपीएफ में कैसे बचत करे ?

कर्मचारी अपनी नौकरी के दौरान अपने वेतन का एक अंश अपनी भविष्य निधि के रूप में जमा करते है जिसका उपयोग वह अपने सेवानिवृत्त के बाद कर सकते है . Normally आपकी basic सैलरी का 12% EPF मैं जाता है पर आप इसको 100% तक कर सकते हैं. इसके साथ कंपनी भी 8.33% जमा करती है. Example के तौर पर अगर आपकी basic सैलरी 10,000 रुपए है तो 1200 रुपए आपकी सैलरी से EPF मैं जमा हो जायेगा. जो 8.33% है वो कंपनी देती है और 10,000 मैं से नहीं कटेगी.  और आपको इस 1200 पर करीब 8.7 % का इंटरेस्ट भी मिलेगा.

क्या योजना सरकार बना रही है ?

सरकार दवारा इसके सम्बन्ध में कई योजनायें बनाई गई है ,जो की अलग- अलग विभाग व अलग- अलग शहरों में काम कर रहे कर्मचारियों के लिये भिन्न-भिन्न दरो पर उपलब्ध है . एवम कुछ योजनायें भविष्य के लिए कारगर रहेगी जैसे –

  1. कम दरो पर घर खरीदने में ईपीएफओ करेगा मदद
  2. ईपीएफओ की मदद से शेयर बाज़ार में निवेश कर सकते है

इसी तरह ईपीएफओ की वेबसाइट्स पर  बहुत सारी सुविधाये बहुत भिन्न – भिन्न भाषाओं में दि गयी है . तथा इस में निवेष के साथ सरकार ने भविष्य के लिए बहुत सारी योजनायें व संभवत ब्याज की दरो में परिवर्तन करने का निर्णय लिया है .

अन्य पढ़े:

Priyanka
Follow me

Priyanka

प्रियंका दीपावली वेबसाइट की लेखिका है| जिनकी रूचि बैंकिंग व फाइनेंस के विषयों मे विशेष है| यह दीपावली साईट के लिए कई विषयों मे आर्टिकल लिखती है|
Priyanka
Follow me

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *