ताज़ा खबर

कैसे खोजें खोए हुए फोन की लोकेशन | How to Find lost phone location by google, number In Hindi

How to Find (detect) lost phone location by google, number In Hindi हमारा मोबाइल डिवाइस हमारी जिंदगी का अहम हिस्सा है. यह हमारे कॉन्टेक्ट, ढेरों नोट्स और डाक्यूमेंट्स को एक साथ रखने का माध्यम है. साथ ही आॅनलाइन मनी ट्राजेंक्शन के दौर में यह हमारा पर्स तक बन गया है जिसमें हमारे गोपनीय साख(credentials) तक सेव रहते हैं. इसके बिना एक दिन गुजारने की कल्पना तक नहीं की जा सकती है. ऐसे में यह सोच कर ही डर लगता है कि कहीं अगर हमारा फोन खो जाए तो हमें कितना नुकसान हो सकता है. हमारे बैंक डिटेल्स किसी दूसरे व्यक्ति के हाथ लग सकती है. हमारे बहुमूल्य फोटोग्राफ्स जो हमने अपने प्रियजनों के साथ क्लिक किए हैं. उस नुकसान की भरपाई तो की ही नहीं जा सकती है. इसलिए अपने फोन को महज एक डिवाइस समझने की भूल न करें और उसमें पहले से ही ऐसी व्यवस्था रखें कि अगर वह खो भी जाए तो उसे दोबारा खोजा जा सके. स्मार्ट फोन डिवाइस के लिए ऐसे ढेरों एप्प आते हैं जो आपके डिवाइस की लोकेशन बताते हैं लेकिन उस पर बात करने से पहले यह जान ले कि अपने स्मार्ट फोन को सुरक्षित कैसे इस्तेमाल किया जाता है?

कैसे करे अपने फोन के डेटा को सुरक्षित? (How to protect our phone data?)

  • अपने फोन को इस्तेमाल करने से पहले आप सेटिंग्स में जाकर सिक्योरिटी फीचर पर क्लिक करें और पासवर्ड सेट करें. यह पासवर्ड पैटर्न आधारित हो तो अच्छा है लेकिन पैटर्न सेट करने से पहले यह ध्यान रखें की वह आसान न हो और आसानी से डिकोड न किया जा सके.
  • अपने फोन में कोई भी अच्छा क्लाउड बैकअप एप डाउनलोड करके अपने क्रिडेंशियल बैकअप और कॉन्टेक्ट का बैकअप नियमित अंतराल पर लेते रहे ताकि फोन खो जाने की स्थिति में आपके फोन का डेटा आसानी से वापस उपलब्ध हो जाए.
  • हमारी सलाह है कि गूगल ड्राइव या ड्रापबॉक्स जैसे प्रतिष्ठित क्लाउड सेवाओं का ही इस्तेमाल करें. एक तो यह हैकिंंग से सु​रक्षित है और दूसरे इनके साथ गूगल और याहू की प्रतिष्ठा जुड़ी हुई है जो इन्हें ज्यादा विश्वसनीय बनाती है.
  • अपने फोटोज के बैकअप के लिए गूगल फोटोज या पिकासा एप का उपयोग किया जा सकता है जिससे आपके डिवाइस का स्पेस भी बचेगा और फोन खो जाने की स्थिति में आपके फोटोज और मेमोरिज भी सेफ रहेगी.
  • इन उपायों को करने के बाद आप काफी हद तक अपना फोन खो जाने के बाद भी सुरक्षित स्थिति में रहेंगे. अब आगे बात करेंगे कि अपने खोए हुए फोन की लोकेशन को कैसे पता किया जा सकता है ताकि आप आसानी से उसे वापस हासिल कर सकें.

find lost phone

कैसे पता करें अपने खोये हुए फोन की लोकेशन? (How to find the location of lost phone by google with number)

  • अगर आपका एंड्राइड फोन खो गया है और आप उसकी लास्ट लोकेशन देखना चाहते हैं तो गूगल का एंड्राइड डिवाइस मैनेजर इसमें आपकी सहायता कर सकता है लेकिन इसके लिए कुछ बातों का होना जरूरी है.
  • इसके लिए सबसे पहली शर्त है कि आपने अपने डिवाइस को अपने गूगल अकाउंट से लॉगिन कर रखा हो. साथ ही आपका डिवाइस इंटरनेट से कनेक्टेड हो और वह एंड्राइड डिवाइस मैनेजर को आपके डिवाइस को खोजने के लिए इनेबल किया हुआ हो.
  • वैसे एंड्राइड फोन्स में बाय डिफाल्ट यह फीचर आॅन होता है और इसे आॅफ करने पर ही यह काम करना बंद करता है. साथ ही एंड्राइड डिवाइस मैनेजर में डेटा इरेज करने का भी आॅप्शन होता है ताकि कोई उस फोन के डेटा का गलत इस्तेमाल न कर सकें.
  • यह फीचर बाय डिफाल्ट आॅन होता है और इसे फोन सेटिंग्स में जाकर आॅफ करना होता है. गूगल डिवाइस मैनेजर को खुद गूगल ने डिजाइन किया और यह फोन के आॅपरेटिंग सिस्टम का हिस्सा होता है इसलिए इसे एक एप की तरह अलग से डाउनलोड भी नहीं करना होता है.
  • हाल ही में गूगल ने इस मैनेजर के साथ एक और फीचर जोड़ दिया है कि आप अपने लैपटॉप में अकांउट लॉगिन के बाद सर्च पेज पर जाकर वेयर इज फाइ फोन कीवर्ड टाइप करके अपने फोन की लोकेशन जान सकते हैं और कहीं यह लोकेशन आपके आस—पास की हुई तो फोन के पास पहुंच कर आप रिंग आॅप्शन पर क्लिक करके अपने फोन पर कॉल करके उसकी सही लोकेशन खोज सकते हैं.
  • यह तो बात हुई जब आपका फोन खो गया है और आपके पास लैपटॉप उपलब्ध है लेकिन यह हमेशा जरूरी नहीं है. गूगल डिवाइस मैनेजर ने इसके लिए भी उपाय निकाल रखा है.
  • आप दूसरे व्यक्ति के मोबाइल में भी लॉगिन करके अपने फोन की लोकेशन जान सकते हैं, दूसरे के डिवाइस में आप एंड्राइड डिवाइस मैनेजर का एप डाउनलोड करके उसमें लॉगिन करके अपने फोन की लोकेशन जान सकते हैं.

अगर न काम करे लास्ट फोन लोकेशन (Find lost phone by android app)

  • अगर आपके डिवाइस को किसी स्मार्ट चोर ने चुराया है तो वह आपके लॉगिन से बाहर निकल जाएगा और इस तरह गूगल का एंड्राइड डिवाइस मैनेजर किसी काम का नहीं रहेगा, तो आप सोच रहे है कि किस तरह से लास्ट लोकेशन का पता लगाया जाए.
  • इसका एक इनडायरेक्ट तरीका है, ड्रापबॉक्स का कैमरा अपलोड फीचर. इसके लिए जरूरी है कि आपके फोन में ड्रापबॉक्स एप डाउनलोड किया हुआ हो.
  • इसके साथ फायदा है कि यह गूगल के लॉगिन की जगह याहू का लॉगिन मांगता है और गूगल के अकाउंट के लॉगआउट होने के बाद भी आपका ड्रापबॉक्स आपके फोन के स्टोरेज से सिंक में रहता है.
  • ड्रापबॉक्स का कैमरा अपलोड फीचर, मोबाइल डिवाइस से खींची जाने वाली फोटों को ड्रापबॉक्स में अपलोड कर देता है, ऐसे में चोर जब भी अपनी तस्वीर मोबाइल से लेगा, वह आपके ड्रापबॉक्स में आ जाएगी और आपकी लास्ट लोकेशन के साथ ही चोर का चेहरा भी दिखाई दे जाएगा. जिसकी मदद से आप आसानी से अपने मोबाइल तक पहुंच जाएंगे.

आईएमईआई नम्बर से कैसे खोजे अपना खोया हुआ मोबाइल (Find lost phone by IMEI Number)

  • अगर आपका मोबाइल खो गया है और उसे आप खोजना चाहते हैं तो आपके फोन का आईएमईआई नम्बर इसमें आपकी सहायता कर सकता है.
  • मोबाइल खो जाने के बाद उसका आईएमईआई नम्बर खोजने का सबसे आसान तरीका है कि आप अपने मोबाइल के पैकेजिंग बॉक्स को संभाल कर रखें क्योंकि उस पर आपके मोबाइल के आईएमईआई नम्बर का उल्लेख है और ड्यूल सिम मोबाइल में इसके लिए दो आईएमईआई नम्बर दिए गए होते हैं.
  • दरअसल मोबाइल आॅपरेटर्स, फोन के इसी आईएमईआई नम्बर का उपयोग टावर और मोबाइल के ​बीच कनेक्शन के दौरान इस्तेमाल करते हैं.
  • ऐसे में वे मोबाइल की स्थिति को 100 मीटर से 1 किलोमीटर की दूरी तक में जान सकते हैं. इस प्रक्रिया को सेल टावर ट्राएंगुलेशन कहते हैं.
  • लेकिन आईएमईआई से फोन लोकेशन को तलाशने का अधिकार सिर्फ भारतीय सुरक्षा एजेन्सियों को ही है आपकी फोन सेवा प्रदाता कंपनी आपके लिए यह सेवा नहीं दे सकती. ऐसे में फोन खो जाने की स्थिति में आपको पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवानी होगी और पुलिस की सहायता से ही आपको अपने फोन की लोकेशन पता चलेगी.
  • वैसे भी आजकल आने वाले स्मार्टफोन्स में आईएमईआई नंबर बदला जा सकता है इसलिए यह फोन तलाशने का 100 प्रतिशत कारगर तरीका नहीं है.

आपका फोन कोई आम डिवाइस नहीं है, यह अपने सुविधाजनक फीचर्स की वजह से आपके जिंदगी में कई महत्वपूर्ण रोल निभाता है, ऐसे में जरूरी हो जाता है कि आप इस डिवाइस को सावधानी पूर्वक इस्तेमाल करें और इसकी सुरक्षा के सभी आवश्यक फीचर्स का इस्तेमाल करें और समय—समय पर उन्हें अपडेट करते रहें और पासवर्ड चेंज करते रहें. यह न सिर्फ आपके जीवन को आसान बनाएगा बल्कि अक्सर सुनाई देने वाले आनलाइन फ्रॉड्स से भी आपकी रक्षा करेगा.

अन्य पढ़े:

Ankita

Ankita

अंकिता दीपावली की डिजाईन, डेवलपमेंट और आर्टिकल के सर्च इंजन की विशेषग्य है| ये इस साईट की एडमिन है| इनको वेबसाइट ऑप्टिमाइज़ और कभी कभी आर्टिकल लिखना पसंद है|
Ankita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *