ताज़ा खबर

घर की साफ़ सफाई करने के टिप्स | Ghar Ki Saaf Safai Tips essay in hindi

Ghar ki safai ke tips essay in hindi मोदी जी का स्वच्छता अभियान के चर्चे आजकल चारों ओर है. हमारे चारों ओर का वातावरण स्वच्छ होना बहुत जरुरी होता है, स्वच्छता घर के अंदर व बाहर दोनों जगह होनी चाहिए. नरेंद्र मोदी जी आजकल सबको स्वच्छ भारत अभियान में हिस्सा लेने के लिए जागरूक कर रहे है, वे चाहते है हमारा देश भी हमारे घर जैसे साफ सुथरा सुंदर रहे. जो लोग अपने घर की सफाई के प्रति सचेत रहते है, वे लोग अपने घर के बाहर वातावरण की सफाई को भी बखूबी जरुरी समझते है. अपने बच्चे को स्वच्छता का ज्ञान देना चाहते है, तो उसकी शुरुवात घर की साफ सफाई से करें, उन्हें घर में साफ़ सफाई पर ध्यान रखने और चीजों को व्यवस्थित रखने के लिए बचपन से सीख दें.

वैसे घर में साफ़ सफाई की ज़िम्मेदारी मुख्यता घर की औरतों पर होती है. उन्हें ही घर को सजाने, उसे साफ रखने के लिए ज़िम्मेदार माना जाता है. गृहणी के लिए घर के काम साफ सफाई, कामकाजी महिलाओं के अपेक्षा आसान होते है. गृहणी का पूरा ध्यान अपने घर परिवार पर होता है, जिससे वे समय पर आसानी से काम कर लेती है. लेकिन कई बार औरतें दुसरे कामों में फंसकर जरुरी काम जैसे सफाई को बाजु कर देती है, और फिर समय नहीं है का रोना रोती है. आजकल स्मार्ट वुमेन वही है, जो अपने घर बाहर के कामों को बखूबी संभाले. चाहे घर की शॉपिंग हो, खाना बनाना, बच्चों को पढ़ाना या घर की सफाई सभी चीज समय पर और परफेक्ट होनी चाहिए, तभी आप स्मार्ट वुमेन की केटेगरी में आएँगी. तो चलिए आज आपको कुछ स्मार्ट तरीके बताते है, जिससे आप घर की सफाई जैसे काम को आसानी से कम समय में कर लेंगें, जिससे बचे हुए समय में आप अपना मनपसन्द काम कर सकते है.

घर की साफ़ सफाई करने के टिप्स  पर निबंध

Ghar Ki Saaf Safai Tips essay in hindi

भारतीय परिवार में ज्यादातर घरों में रोज की सफाई झाड़ू, कटका लगाकर ही होती है. और दिवाली के दिवाली ही पुरे घर के कोने कोने की सफाई होती है. दीवाली के लिए साफ सफाई को छोड़ना बेवकूफी है, इससे काम अत्याधिक बढ़ जाता है, और गन्दगी बैठती चली जाती है. दिवाली के समय त्यौहार को एन्जॉय करने के बजाय हम साफ़ सफाई के काम में ही लगे रहते है.

घर की साफ सफाई की ज़िम्मेदारी सिर्फ घर की औरतों की नहीं होती है, घर में रहने वाले हर एक सदस्य की इसमें पूर्ण सहभागिता होती है. घर की औरतों को सफाई की ज़िम्मेदारी सभी सदस्यों के बीच बाँट देनी चाहिए, जैसे

  • बच्चों को सिखाएं की खिलौने खेलने के बाद उसे, जहाँ से उठाया वही व्यवस्थित जमायें.
  • बच्चों को उनका रूम सेट करना बताएं, उन्हें कपड़े तह कर रखने, बुक को एक सा जमाना, बेड ठीक करना सिखाएं. ये सब उनकी आदत में शामिल करें, जिससे वे धीरे धीरे बिना आपके बोले ये काम करें.
  • बच्चों को सफाई के लिए प्रेरित करने के लिए उन्हें शाबाशी दें या कुछ उपहार दें, जैसे शाम को टीवी देखने के लिए 15 min एक्स्ट्रा, खेल के लिए एक्स्ट्रा समय, उनका पसंदीदा खाना बनाकर खिलाएं, आइसक्रीम, चोकलेट आदि.
  • घर के जेंट्स को सफाई अभियान में शामिल करना मुश्किल होता है, लेकिन उन्हें किसी तरह मनाएं. छुट्टी वाले दिन उन्हें पहले से बता दें कि उन्हें सफाई के लिए थोडा समय देना होगा. आप मिलकर काम करेंगें तो काम भी जल्दी होगा, और आप साथ में एक्स्ट्रा समय भी व्यतीत कर सकेंगें.
  • जेंट्स से आप, बेडशीट, कुशन कवर, परदे चेंज करा सकते है, डस्टिंग के लिए बोलें. उनसे उन्ही की अलमारी, कागजों को ज़माने को बोलें.

घर की साफ सफाई को 3 भागों की बांटा गया है –

1. रोजाना (daily)
2. हफ्ते में 1 बार (weekly)
3. महीने में एक बार (monthly)

हमारे परिवारों में काम वाली बाईयां तो होती है, लेकिन हम उनसे सही ढंग से काम नहीं करवा पाते है. वे रोज आकर एक ही जगह सामने सामने झाड़ू, पोंचा करके चली जाती है, फिर भी हमें सफाई नहीं दिखती है, और उनके जाने के बाद भी हम सफाई ही करते रहते है.

  1. रोजाना की सफाई – रोजाना की सफाई उन हिस्सों में करें, जहाँ घर वालों का ज्यादातर उठना बैठना होता है, इसमें लीविंग रूम, किचन व डायनिंग रूम आता है. रोजाना की सफाई में बाई के आते ही, आप भी उसके साथ जुट जाएँ. इन मुख्य रूम की डस्टिंग रोज जरुरी होती है, क्यूंकि यहाँ धुल भी अधिक बैठती है. डायनिंग टेबल, सेंटर टेबल, किचन प्लेटफार्म को रोज अच्छे से साफ़ करें. इससे गंदगी इक्कठी नहीं होगी, जिससे स्वास्थ्य में भी लाभ होगा.
  • रोज के कपड़े रोज धोने की आदत डालें, बड़े कपड़ों को इक्कठा कर के हफ्ते में एक बार धो सकते है.
  • किचन के कपड़ों को रोज धोएं.
  • बाथरूम में रोज अच्छे से पानी डालें, जिससे ये गन्दी न हो पाए.
  • बर्तन धुलने वाले स्थान, सिंक की रोज सफाई करें. इससे चिकनाहट इक्कठी नहीं होती.
  1. हफ्ते में एक बार सफाई – चादर, कुशन, सोफे कवर, टॉवल को हफ्ते में एक बार जरुर धोएं. बाई से बात करके हफ्ते का एक दिन डीसाइड करें, जिस दिन वो आपको अलग से समय देगी, जिससे आप घर की एक्स्ट्रा सफाई कर सकेंगें.
  • हफ्ते में एक बार किचन की अलमारियां साफ़ करें.
  • ड्राइंग रूम की सफाई करे, पुरे घर के जाले निकालें.
  • शोकेस, शोपीस की साफ़ सफाई करें.
  • बेडरूम, बच्चों के रूम में ड्रा, अलमारी साफ करें.
  • घर में सबसे ज्यादा गंदगी बाथरूम में बैठती है, यही से कीटाणु हमारे घर में प्रवेश करते है. हफ्ते में एक बार पूरी बाथरूम की अच्छे से सफाई करें, इसमें उसके टाइल्स, फर्श, शीट सभी शामिल है.

Ghar Ki Saaf Safai Tips essay

आप हफ्ते में अलग अलग दिन अलग अलग रूम डीसाइड करके साफ कर सकते है. आप चाहें तो एक दिन सिर्फ सारे पंखें, परदे, साफ करें या एक दिन सारे ड्रावर, अलमारी साफ करें.

हफ्ते में एक दिन घर के स्टोर रूम की भी सफाई करें, ये बहुत मुख्य हिस्सा होता है, यहाँ घर का राशन होता है, जो बिना देखरेख के ख़राब हो सकता है. हफ्ते 2 हफ्ते में सब चीचे खोलकर देखते रहें, और जिस चीज को जरूरत हो उसे धुप में सुखाएं. ऐसा करने से आपकी चीजें खराब भी नहीं होंगी और रूम साफ़ भी रहेगा.

  1. महीने में एक बार सफाई – किचन के अंदरूनी भागों की सफाई जहाँ हम रोजाना नहीं पहुँच पाते है, महीने में एक बार करें.
  • सोफे के पीछे, टेबल के नीचे महीने में एक बार सफाई करवाएं.
  • लाइट, पंखा, एसी को एक दिन साफ करें.
  • बेडरूम, गेस्ट रूम, बच्चों का रूम के बेड के नीचे, ड्रेसिंग टेबल को साफ़ करें.
  • महीने में एक बार घर के सभी खिड़की दरवाजे, रोशनदान की सफाई करें.
  • महीने में एक बार अपने छत/टेरिस की भी सफाई करें.

साफ सफाई का सही समय रोज की साफ़ सफाई तो सुबह ही की जाती है, लेकिन अगर किसी दिन अगर दुसरे कमरे, अलमारी, किचन, या कोई अन्य जगह साफ़ करनी है, तो उसके लिए दिन का समय निकालें. जल्दी जल्दी खाना बना कर सारे काम निपटा लें, बच्चे को स्कूल भेजकर व पति के ऑफिस जाने के बाद बहुत समय फ्री रहता है, उस समय घर के किसी कोने को दें. रोज रोज ऐसा नहीं करें, नहीं तो आपको थकान होगी, साथ आप उब जायेंगें. हफ्ते में 1-2 दिन ऐसा करें.

घर की साफ सफाई की टिप्स (Ghar Ki Saaf Safai Tips)–

  • सोफे, मोटे गद्दों पर बेकिंग सोडा डालकर, थोड़ी देर छोड़ दें, फिर इस पर वैक्यूम क्लीनर कर दें.
  • फर्श साफ़ करने के लिए, पानी में नींबू व सिरका मिलाएं. फिर इससे पोंछा लगायें.
  • चींटी दूर करने के लिए पोंछा लगते समय पानी में नमक डाल दें.

बाथरूम क्लीनिंग के लिए कुछ टिप्स (Bathroom cleaning tips )

  • बाथरूम के फर्श व टाइल्स को साफ करने के लिए, ब्लीचिंग पाउडर का इस्तेमाल करें. इसे फर्श पर डालकर, कुछ देर छोड़ दें, फिर ब्रश की सहायता से इसे कुछ घिसें, इससे जिद्दी, दाग धब्बे निकल जायेंगें.
  • बाथरूम में टॉयलेट सीट को साफ रखना बहुत जरुरी होता है, इसके लिए आप घर में मौजूद बेकिंग सोडा व सिरका का इस्तेमाल करें. बेकिंग सोडा पाउडर व सिरके को टॉयलेट सीट पर डालें, व 30 min रहने दें. फिर ब्रश की सहायता से इसे धो लें. सीट चमक जाएगी, व बदबू भी दूर होगी.
  • बेकिंग सोडा से बाथटब को भी साफ किया जा सकता है. बाथटब में नीम्बू घिस कर भी उसके दाग धब्बे निकाले जा सकते है.
  • बाथरूम से गन्दी बदबू को गायब करने के लिए, खुशबूदार नेचुरल आयल की कुछ बूँदें बाथरूम में छिडकें.
  • जिसके घर में खारा पानी आता है, उसके यहाँ नलों में सफेदी चढ़ जाती है, उसे मिटने के लिए टूथपेस्ट का इस्तेमाल करें. टूथपेस्ट को नलों में घिस कर कुछ देर छोड़ दें, फिर धो लें. इसके अलावा आप नमक का भी इस्तेमाल नल साफ करने में कर सकते है.

किचन क्लीनिंग टिप्स (Kitchen cleaning tips)

  • डस्टबिन की सफाई भी बहुत जरुरी होती है, इसे नीम्बू के छिल्कों से साफ करें.
  • किचन के प्लेटफार्म को सिरका व सर्फ़ मिलाकर साफ करें.
  • किचन के सिंक आये दिन जाम हो जाता है, इसके लिए आप सिंक में ½ कप सिरका व बेकिंग पाउडर मिलाकर डालें. फिर इस पर 1-2 मग गर्म पानी तेज बहाव के साथ डालें. सिंक की गन्दगी निकल जाएगी.
  • किचन के फर्श को ब्लीचिंग पाउडर व सिरके से साफ करें.
  • किचन से बदबू दूर करने के लिए, सिरका को पानी के साथ उबालें.
  • फ्रिज साफ करने के लिए, गुनगुने पानी में थोडा सा नमक, सिरका व बेकिंग पाउडर डालें. इससे सफाई के साथ बदबू भी चली जाती है.
  • फ्रिज की गंध भगाने के लिए, नींबू या संतरा काट कर रखें, इसके अलावा चुना से भी दुर्गन्ध दूर की जा सकती है.
  • चांदी के बर्तन, क्रोकरी को नमक मिले पानी से साफ करें.

आप सफाई को अपनी आदत में शामिल कर लेंगें तो आपके काम का बोझ कम हो जायेगा, एवं किसी त्यौहार, या मेहमान के आने पर आपको एक्स्ट्रा समय सफाई को नहीं देगा पड़ेगा.

Vibhuti
Follow me

Vibhuti

विभूति दीपावली वेबसाइट की एक अच्छी लेखिका है| जिनकी विशेष रूचि मनोरंजन, सेहत और सुन्दरता के बारे मे लिखने मे है| परन्तु साईट के लिए वे सभी विषयों मे लिखती है|
Vibhuti
Follow me

यह भी देखे

Ideal Student

आदर्श विद्यार्थी पर निबंध | Ideal Student Essay In Hindi

Aadarsh Vidyarthi (Ideal Student) Essay in Hindi भारत देश का भविष्य उसकी युवा शक्ति पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *