ताज़ा खबर
Home / टिप्स और ट्रिक्स / एक अच्छा इंसान कैसा होना चाहिए | How to become a good person in hindi

एक अच्छा इंसान कैसा होना चाहिए | How to become a good person in hindi

How to become a good person in hindi इसे लेकर कई सवाल मन मे आते है। एक अच्छे इंसान मे क्या क्या खूबिया होनी चाहिए? क्या सिर्फ सबके बारे मे सोचकर खुद को नुकसान पहुचाना ही एक अच्छे इंसान की खूबी है? क्या सिर्फ ज्यादा पैसे खर्चा करके दूसरों की मदद करने वाला ही अच्छा इंसान है? क्या गलती करके उसे पैसो से सुधार देने वाला अच्छा इंसान है? क्या जिसने पहले बहुत कुछ गलत किया हो और बाद मे अच्छाई के रास्ते पर चलने वाला एक अच्छा इंसान है ? आज हमारे दिमाग मे अच्छे इंसान को लेकर कई भ्रांतिया है हो सकता है कि जिसे हम अच्छा इंसान मानते है किसी और की नजर मे वो इंसान की छवि उसी तरह के अच्छे इंसान की नहीं हो ।

आज के समय मे दूसरों के सुख का ध्यान रखना ही एक अच्छे इंसान की खूबी नहीं है क्योकि न तो आप भगवान है न ही कोई महापुरूष, जो अपनी खुशियो का त्याग करके दूसरों को खुशिया दे । एक इंसान जो खुद खुश हो और जिसमे स्करात्मक एनर्जि हो वही दूसरों को भी खुशिया दे सकता है ।

यह बात भी ध्यान रखिए कि अगर आप चाहे की आप एक अच्छे इंसान बनकर कुछ करना चाहेंगे तो आपके रास्ते मे कई बधाए  आएंगी| जो आपको अपने रास्ते से चलने मे रोकेंगी या अपने रास्ते मे चलने नहीं देंगी, परंतु फिर भी अगर आपका निश्चय दृढ़ हो तो आप अपने रास्ते मे चलने मे कामयाब होंगे।

How to become a good person in hindi

एक अच्छा इंसान कैसे बना जाए

अब सवाल यह उठता है की एक अच्छा इंसान कैसे बना जाए? यहा हम कुछ खूबिया बता रहे है जो आपको एक अच्छा इंसान बनने मे सहायक होगी ।

  • पहचानिए आपके लिए एक अच्छे इंसान होना मतलब आपमे क्या खूबिया होनी चाहिए (Identify what being a good person means to you personally):  लोगो की नजरों मे किसी और को नुकसान ना पहुचाना ही एक अच्छा इंसान होता है । परंतु एक अच्छा इंसान होना किसी और को नुकसान ना पहुचाना ही नहीं होता| कभी किसी और को आपकी मदद की जरूरत भी हो सकती है, उदाहरण के लिए अगर आप सड़क पर जा रहे है और आपके सामने एक एक्सिडेंट हो जाता है| हो सकता है यह एक्सिडेंट आपके कारण ना हुआ हो और आप रोड के सारे नियमो का पालन कर रहे हो, परंतु फिर भी उस वक्त उस व्यक्ति को आपकी मदद  की जरूरत है और आप उस वक़्त अगर ऐसा नहीं करते तो यह गलत होगा ।

एक अच्छा इंसान होना दूसरों की सहायता करने के साथ साथ खुद की सहायता करना भी दर्शाता है यह आपको ही तय करना होगा कि आपकी नजर मे एक अच्छे इंसान मे क्या क्या खूबिया होनी चाहिए:

  • आपकी नजरों मे एक अच्छा इंसान कौन है यह तय करे तथा उसमे कौन कौन सी खूबिया है यह भी देखे तथा यह भी तय करे की एक अच्छे इंसान मे क्या क्या खूबिया होनी चाहिए तथा उन सब खूबियो को फॉलो करने की कोशिश करे ।
  • आपका अच्छा होना इस बात पर भी निर्भर करता है कि यदि आप कुछ अच्छा करते है तो क्या आप उसके बदले मे कुछ पाने की अपेक्षा करते है, या क्या आपने कोई काम इसलिए किया है ताकि आप दूसरों की नजरों मे अच्छे दिखे, या आप सही मे किसी की मदद  करना चाहते है ? ध्यान रखे की यदि आप कुछ अच्छा करते है तो उसके बदले कुछ पाने की अपेक्षा छोड़ दे ।
  • Choose a role model( अपना रोल मॉडल चुने):  आप अपना एक रोल मॉडल चुने जो आपको अच्छाई की राह पर चलने मे सहायता करेगा। सबसे पहले यह ध्यान दे कि व्यक्ति जो कि आपका रोल मॉडल है मे क्या खूबिया है जो आपको आकर्षित करती है |तथा सोचिए की यह सब चीजे  आपके व्यक्तित्व को किस प्रकार निखार सकती है  तथा इन सब चीजों को अपनी दिनचर्या मे कैसे शामिल करे|ताकि यह आपके व्यक्तित्व को निखार सके

जब आप अपना रोल मॉडल चुनते है तो इन बातो का ध्यान रखे :

  • आपका रोल मॉडल कौन है और आपने उसे अपना रोल मॉडल क्यू चुना है । इस बात का ध्यान रखे की उस व्यक्ति मे एसी क्या खूबिया है जो उसे समाज मे एक बेहतर इंसान बनाता है तथा आपके लिए भी सहायक होगी ।
  • इस बात का ध्यान रखे की आपके रोल मॉडल की कौनसी खूबिया आपको आकर्षित करती है तथा आप उसे कैसे अपना सकते है ।
  • जिस व्यक्ति को आप फॉलो करते है उससे हमेशा संपर्क मे रहे तथा ध्यान दे कि वह समाज मे कैसे रहता है तथा वह किस समय कैसा व्यवहार करता है तथा वह कठिन परिस्थितियों का कैसे सामना करता है ।
  • Stop comparing yourself with others (अपनी तुलना दूसरों से ना करे):

अगर आप अपने को दुसरो से compare करते हो, जो कि बिलकुल गलत है| हो सकता है कि दुनिया मे कुछ लोग आपसे बेहतर हो पर्ंतु  कई लोग ऐसे भी हो सकते है जो आपसे worse हो| जिनमे वो खूबिया ना हो जो एक अच्छे इंसान मे होना चाहिए और हो सकता है आप अपनी तुलना उनसे करके एक बहुत ही बड़ी गलती कर रहे है। याद रखिए कि आप एक अलग इंसान है आपकी खुद की कुछ खूबिया है जो भगवान के द्वारा आपको उपहार स्वरूप दी गयी है आपको अपनी इन सब खूबियो की कद्र करनी चाहिए तथा याद रखिए यदि आप खुद खुश होंगे तब ही आप अन्य लोगो को भी खुश रख पाएंगे।

  • Love yourself (अपने आपको प्यार करने की आदत डालिए) : परिस्थिति मे अपने आपको प्यार करने की आदत डालिये। किसी को प्यार तथा खुशिया देने का सबसे अच्छा और पहला तरीका यही है कि सबसे पहले आप अपने आप को प्यार करे। आप क्या सोचते है और आप क्या चाहते है अगर आप वैसा ही करते है तो आप अच्छा महसूस करते है तथा ऐसे मे आप दूसरों को भी खुशियाँ दे सकते हैं । अगर आप खुद की परवाह किए बिना दूसरों के हिसाब से चीजे करने की कोशिश करेंगे तो हो सकता है कि आप चिड़चिड़े हो जाए तथा आपमे गुस्से की भावना आ जाए तथा ऐसी परिस्थिति मे आप अपनी ओर से अपना बेस्ट लोगो तक नहीं पहुचा पाएंगे।
  • Be yourself (आप जैसे है वैसे ही व्यवहार करे) : किसी को फॉलो करने की कोशिश करेंगे तो यह सही नहीं होगा| क्योकि आप अपना बेस्ट तभी दे पाएंगे जब आप जैसे है वैसे ही रहकर ही कोई काम करने की कोशिश करेंगे। कई बार किसी और को फॉलो करने के चक्कर मे आप वैसा व्यवहार अपना लेते है जिसके आप आदि नहीं है ऐसे मे आप उन परिस्थियो मे आप अपनी क्षमता से कम काम कर पाते है इसके विपरीत यदि आप अपने अनुरूप कोई काम करते है तो आप अपना बेस्ट दे पाते है।
  • Pray and meditate: आप जिस भी भगवान को मानते है उनमे विश्वास रखिए तथा रोज उनसे रोज प्रार्थना करने की आदत डलिये। इस बात को माने की जो भी होता है उसका कुछ उद्देश्य होता है| यदि आज आपके साथ कुछ गलत हुआ है तो बहुत जल्द कुछ अच्छा भी होगा। कभी भी अपने साथ कुछ गलत होने पर किसी और के साथ उससे भी ज्यादा गलत करने की भावना ना रखे ।

यदि आप रोज मैडिटेशन करते है तो आपको आत्मिक शांति मिलती है और आप अपना बेहतर प्रदर्शन कर पाते है। अगर आपको आत्मिक शांति मिलती है तो आप अच्छी तरह से समझ पाते है की आप क्या चाहते है और उसे कैसे हासिल किया जा सकता है । और यकीन मानिए यदि आप अपने भगवान पर विश्वास करते है तथा रोज उनकी प्रार्थना करते है तथा रोज meditation को अपने रूटीन मे शामिल करते है  तो आपको अपनी नकारात्मक ऊर्जा से मुक्ति मिलती है।

How to become a good person in hindi

Meditation के लिए एक एकांत जगह को चुने वहा एक comfortable अवस्था मे बैठ जाए तथा अपने आपको सभी सभी विचारो से जो भी आपके मन मे चल रहे है अलग रखिए। अब लंबी सास ले अब आपके मन मे जो बाते आ रही है उसके बारे मे सोचे परन्तु कोई रिएक्ट या फील ना करे। अगर आप अपने ध्यान से बाहर आना चाहते है तो 10 तक काउंट करे और जब आप अपने आपको क्लीन महसूस करे तब अपना ध्यान तोड़े ।

  • Make small changes: याद रखिए कोई भी व्यक्ति रात भर मे परिवर्तित नहीं हो सकता। परंतु छोटे छोटे परिवर्तन आपमे सकारात्मक परिवर्तन ला सकते है। अपने लिए छोटे छोटे गोल सेट करे तथा उन्हे पाने के लिए मेहनत करे। यदि आप अपने लिए महीने भर मे एक चीज परिवर्तित करने के लिए सोचे तथा उसे करने के लिए मेहनत करते है तो यह आपके लिए भी संभव हो पाएगा और आसान भी हो जाएगा।
  • Review your goals every day : आपने जो अपने लिए गोल सेट किया है उसके बारे मे रोज विचार करे तथा यह विचार करे की आप उसे हासिल करने के लिए किस तरह कार्यरत है, क्या आपके द्वारा किए गए प्रयास उस दिशा मे ठीक है, क्या आपको और अधिक मेहनत की आवश्यकता है । अपने लिए तय किए गए कामो की एक सूची बनाये तथा रोज यह चेक करे की आप अपनी तय की गयी सूची के हिसाब से ठीक काम कर रहे है या नहीं ।
  • Try to look bright side of things (हर बात तथा चीजों की सकारात्मकता को देखने की कोशिश करे):  हर बात के दो पहलू होते है एक सकारात्मक और एक नकारात्मक। जब भी आप कोई काम करने जाएंगे तो आपके मार्ग मे रुकावटे जरूर आएंगी परंतु आपको केवल अपने लक्ष्य की सकारात्मक्ता को देखते हुये पूरी ईमानदारी के साथ अपना काम करना चाहिए इससे आपको सफलता जल्द ही तथा जरूर मिलेगी।
  • Do not act of charity for someone else (किसी की मदत करने को एक एहसान की तरह ना जताए) : हिन्दी मे एक बहुत अच्छी कहावत है कि जब आप कुछ अच्छा काम करे तो आपके दूसरे हाथ को भी पता नहीं लगना चाहिए । परंतु इसके विपरीत कुछ लोग जब किसी की मदत करते है तो उसका डिंडोरा पीटते नहीं थकते और उस मदद को सामने वाले पर एक एहसान साबित कर देते है। ऐसा करने पर सामने वाले के मन पर एक बोझ बन जाता है तथा वह चाहकर भी खुश नहीं रह पाता।
  • Slow down: हमेशा अपने जीवन मे जल्दबाज़ी ना करे जीवन के हर एक लम्हे को खुश होकर जीने की आदत डाले हर चीज का आनंद ले । जैसे जब आप एक काम करने वाली महिला है तो आप अपने परिवार तथा बच्चो को ज्यादा टाइम नहीं दे पाती तो ऐसे समय मे अपना एक अलग रूटीन बनाये, जैसे ऑफिस जाते वक़्त अपने बच्चो को स्कूल आप खुद ही ड्रॉप करे या अपना रविवार या कोई भी छुट्टी का दिन केवल अपने परिवार के लिए रखे उसमे कुछ स्पेशल प्लान करे।
  • Be honest (सच्चाई का साथ दे) :  ध्यान रहे जब भी आप कोई अच्छा काम करने जाते आपके सामने दो रास्ते होंगे एक सही और एक गलत, हो सकता है कि गलत रास्ता ज्यादा आसान हो परंतु हमेशा सही का साथ दे क्योकि आप पर कई लोगो का विश्वास होता है और यदि किसी का विश्वास एक बार टूट जाता है तो दोबारा जल्दी हासिल नहीं होता और विश्वास एक बहुत अहम चीज है।

विश्वास और सच्चाई बोलने मे बहुत बड़े शब्द लगते है परंतु यह हर छोटी जगह पर भी उतने ही महत्वपूर्ण है| जैसे कि आप कही जा रहे है और उसी वक़्त आपको कोई कुछ काम करने का बोल देता है औए आप उसे टालने के लिए कुछ झूठ बोल देते है परंतु यही छोटी छोटी बाते आपमे झूठ बोलने की आदत बना देती है। इसलिए ध्यान रहे की हमेशा जितना हो सके सच के साथ रहे आप कोई भी बात इस तरह से भी बोल सकते है जिससे किसी और को कोई बात बुरी ना लगे और आपका काम भी हो जाए।

Accept everyone around you (अपने आसपास के सभी लोगो को स्वीकार करने की आदत डाले)  अच्छा व्यक्ति होना केवल सच का साथ देना या किसी की मदत करने से नहीं है बल्कि आपको एक अच्छे व्यक्ति की तरह अपने आसपास तथा समाज के हर व्यक्ति को स्वीकार करना चाहिए। आपको अपने से बड़ो का आदर, छोटो को प्यार देना चाहिए। ध्यान रहे जब भी आप किसी से संपर्क मे आए तो उसे बिना उसके लिंग, जाती, स्टेटस, पढ़ाई को देखे हुये स्वीकार करे क्योकि हर व्यक्ति का अपनी भावनाए तथा फीलिंग होती है तथा आपके गलत व्यवहार से वो हर्ट हो सकती है।
Control your anger (अपने गुस्से पर काबू रखिए)   जब  भी आप किसी के साथ किसी संबंध मे कोई बात करे तो हमेशा अपने गुस्से पर काबू रखे क्योकि गुस्से से बात और अधिक बढती है तथा साथ ही साथ आपकी छवि भी खराब होती है। हमेशा अपनी गलती को स्वीकार करने की आदत डाले। कई बार ऐसा होता है कि आप अपने गुस्से के कारण अपनी भावनाओ को बताने मे सक्षम ना हो परंतु ऐसी स्थिति मे आप लिखकर अपनी बात आसानी से समझा सकते है वैसे भी आजकल तो मोबाइल फोन और anroid का जमाना है आप आसानी से मैसेज करके भी अपनी भावनाओ को बता सकते है।
Celebrate other people’s victories and good qualities (दूसरों की सफलता तथा अच्छी चीजों से खुश रहे)    ईर्ष्या तथा जलन मनुष्य की एक बहुत ही समान्य भावनाए है तथा किसी का अच्छा या जीत देखते ही यह भावनाए सबसे पहले उभरकर सामने आती है परन्तु अपनी इन भावनाओ पर काबू करे तथा दूसरों की खुशी मे खुश होने की आदत डाले। दूसरों की सफलता मे भी उत्सव बनाये।
Respect everyone (सभी का सम्मान करे)   यह हमारा कर्तव्य है कि हमे सभी का आदर करना चाहिए| सभी के साथ शिष्टता से पेश आए किसी से रुड होकर बात ना करे। किसी के भी पीछे उसके बारे मे बात ना करे यदि आपको किसी से कोई परेशानी है तो उससे सामने बात स्पष्ट करे ना कि पीछे बुराई करे। जीवन मे कई बार ऐसी परिस्थिति आती है जब आपको फैसला सुनना होता है उस समय अपने जीवन के उद्देश्यों का पालन करते हुये हमेशा सही का साथ देवे।

जब भी आप किसी बात पर विचार करे तो इन बातो का ध्यान रखे :

  • आप एक अलग व्यक्ति है आपकी अपनी एक पहचान है तथा जब भी आप कोई काम करे आपसे कोई गलती हो सकती है तथा इस गलती से आपको एक सीख लेकर आगे बढ़ना चाहिए।
  • आपका अपने परिवार के लिए भी एक कर्तव्य है । अपने परिवार तथा अपने आपको नुकसान पहुचाकर किसी की मदत करना गलत होगा।
  • यदि आपके पास पैसा नहीं है तब भी आप किसी की मदद कर सकते है याद रखिए भावनात्मक रूप से की गयी मदत पैसो की मदत से कई बड़ी होती है।
  • यदि आपसे कोई गलती हो गयी है तो उसे पैसो से खरीदने की जगह आप उसे स्वीकार करते है तथा पश्चाताप करते है तो ज्यादा अच्छा होगा।
  • आपका अपने परिवार के साथ साथ अपने समाज या देश के लिए भी एक कर्तव्य है।
  • बुराई के रास्ते पर चलकर किया गया सही कार्य भी गलत होता है तथा इंसान बुरा नहीं होता उसके द्वारा किए गए कार्य सही या गलत होते है।
Sneha

Sneha

स्नेहा दीपावली वेबसाइट की लेखिका है| जिनकी रूचि हिंदी भाषा मे है| यह दीपावली के लिए कई विषयों मे लिखती है|
Sneha

यह भी देखे

Handwriting Improvement tips

लिखावट सुधारने के तरीके | Handwriting Improvement tips in hindi

How to improve Handwriting tips in hindi लिखावट किसी भी इंसान का पहला इम्प्रैशन होती …

7 comments

  1. Mujhe ye vichar bahut achchhe lge kha tk mai ise follows jarur karungi

  2. Bahot Khub…
    I Will do like as..thanku g..
    Jai HIND.!!!!

  3. इस वेबपेज पर मैन जितने भी आर्टिकल्‍स पढे वो बहुत अच्‍छे और बहुत सारी बेसिक नाॅलेज देने वाले आर्टिकल्‍स थे। मैं कई पॉइन्‍टस पर कन्‍फयूज था पर आपके इस वेबपेज के साथ जुडने पर बहुत अच्‍छा फील कर रहा हू। और ये आर्टिकल एक अच्‍छा इंसान ******* बहुत अच्‍छा आर्टिकल था। गुड वर्क

  4. Bahut acha
    thnx a lots of

  5. Mohammad hassan ibrahim

    Sir ye subjects bhut accha laga mujhe bhut psand aya aysi hi post kerte rahe

  6. Amrish Kumar Maurya

    इस आर्टिकल को पढ़कर मुझे बहुत अच्छा लगा

  7. हमें बहुत पसंद आया आपका यह आर्टिकल i like you

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *