ताज़ा खबर

एक अच्छी पत्नी कैसे बने

How to become a good wife in hindi के माध्यम से हम आपको बाटेंगे कि एक अच्छी पत्नी कैसे बना जाए| यह बहुत ही महत्वपूर्ण सवाल है । हो सकता है कि आपका लाइफ पार्टनर एक बहुत अच्छा या एक  परफेक्ट पति हो, फिर भी आपका एक अच्छी पत्नी होना उतना ही मायने रखता जितना किसी अन्य परिस्थिति मे होता है । क्योकि  एक अच्छे रिश्ते के लिए दोनों ही ओर  से सामनजस्य होना बहुत ही जरूरी है । अगर आपका रिश्ता केवल आपके पति के perfection पर टीका है, तो यकीन मानिए वह कुछ ही दिनो मे बोरिंग हो जाएगा या उसे आगे चलना मुश्किल हो जाएगा।

खासकर भारत जैसे देश मे जहा हर कोई यही चाहता है कि उनकी जोड़ी गौरी शंकर जी के जैसी हो| एक पत्नी का अच्छा या समझदार होना बहुत ही मायने रखता है । क्योकि एक अच्छी नीव पर ही एक सुद्रढ भवन खड़ा किया जा सकता है और एक पत्नी ही उसके परिवार की नीव होती है । बिना किसी अच्छी पत्नी के उसके परिवार की कल्पना भी नहीं की जा सकती। यहा हम अपने आर्टिकल मे एक पत्नी के अच्छे या समझदार होने की बात पर ज़ोर दे रहे है| इसका मतलब यह नहीं है कि पति का समझदार होना जरूरी नहीं है एक खुशी परिवार की नीव पति तथा पत्नी दोनों पर ही निर्भर करती है । पति तथा पत्नी एक गाड़ी के दो पहिये की तरह होते है अगर एक भी पहिया खराब हो तो गाड़ी आगे नहीं बढेगी ।

how to become a good wife in hindi

अपने पति के साथ एक अच्छा रिश्ता बनाने के लिए यह आवश्यक है की आप अपने आप को एक अच्छी पत्नी साबित करे । इसके लिए यह आवश्यक होगा की आप अपनी हर छोटी से छोटी बात अपने पति के साथ शेयर कर पाये । आप अपनी हर बात सही तरीके से तथा सही समय पर अपने पति से शेयर कर पाये । यहा अपने आप को एक अच्छी पत्नी साबित करने के लिए यह आवश्यक होगा कि आप अपने आपको अपने पति की एक अच्छी दोस्त साबित करे । 

एक अच्छी पत्नी कैसे बने 

how to become a good wife in hindi

  • अपनी भावनाओ तथा अपनी जरूरतों को प्रभावशाली तरीके से सामने रखे (Express your feeling and needs effectively) :

हमेशा यह बात ध्यान रखिए कि आपके पति के पास ऐसा कोई पावर नही है जिससे की वह आपकी मन की बातो को अपने आप जान ले| अगर आप चाहती है कि आपकी बात आपके पति तक पहुचे, तो उसे स्पष्ट रूप से कहने की आदत डाले । अगर आपको ऐसा लगता है जो हो रहा है गलत है तो ऐसी बातो को भी मन मे रखकर बैर रखने की बजाये, अगर आप शेयर करेंगी तो अपनी फीलिंग्स को अच्छी तरह से समझा पायेगी। पर अपनी बात कहते वक़्त हमेशा ध्यान रखे की आप अपनी बात हमेशा पॉज़िटिव तरीके से कहे तथा अपने हमेशा अपनी बात कहने की बजाये अपने पति की भी सुने। हमेशा अपनी बात को एक judgment की तरह सुनाने की अपेक्छा अपनी बात को एक solution की तरह अपने पति या फैमिली के सामने रखेंगी, तो आपकी बात तथा आपको अच्छी तरह से सुना व समझा जाएगा ।

  • Pick your battles:

यकीन मानिए आप जितनी बातो को लेकर अपने पति से झगड़ा करती है, उनमे से कई बातो का तो कोई मतलब ही नहीं होता या कहा जा सकता है कि उन बातो पर झगड़ा करके कोई फायदा ही नहीं है। और याद रखिए कि यदि आप हर समय हर छोटी बात को लेकर अपने पति से झगड़ा करती रहेंगी तो कुछ समय बाद आपकी बातो का आपके पति पर कोई असर नहीं पड़ेगा । अगर आप हर छोटी बात पर अपने पति (husband) को गलत मानकर उनसे झगड़ा करेंगे, तो आपके रिश्ते की मिठास धीरे धीरे खत्म होने लगेगी। अगर आप चाहती है कि आपका पति (husband) आपकी हर बात सुने तो आपको उन्हे हर बात पर टोकने की बजाये उन्हे कुछ बातों पर appreciate करने की आदत डाले इससे आपके रिश्ते मे प्यार बना रहेगा ।

  • अपने पति (husband) की बातों को संमझने की कोशिश करिए (Be understanding):

जब भी आप किसी important टॉपिक पर discussion कर रहे हो तो अपने गुस्से पर काबू रखना चाहिए क्योकि गुस्से मे कई बार आप जो कह देते है उस पर आपको बाद मे पछताना पड़ता है। इसके विपरीत यदि आप किसी की बात ठंडे दिमाग से सुनेंगी, तो आप किसी की बात समझने मे तथा किसी को अपनी बात समझाने मे ज्यादा सफल रहेंगे ।

मेरे खयाल मे शायद ही ऐसे कोई पति पत्नी होंगे जो एक दूसरे से हर बात मे सहमत हो| परंतु हर बात पर झगड़ने की बजाये, आप एक दूसरे को संमझने की कोशिश करेंगे तो अच्छा होगा । और औरतों को हमेशा  कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए जिससे वे एक अच्छी पत्नी साबित हो सकती है ।

  1. जब भी आप कुछ बात कहना चाहे तो मौका देखकर ठंडे दिमाग से कहे, जैसे कभी भी बच्चो के सामने अपना झगड़ा स्टार्ट नही करना चाहिए ।
  2. अपनी गलिटियों को स्वीकारना चाहिए। अक्सर औरतों की आदत होती है कि अपनी गलती होने पर भी वह उसे स्वीकार नहीं करती, परंतु आप ऐसा करेंगी तो आप एक अच्छी पत्नी साबित होगी तथा आपके रिश्ते मे हमेशा प्यार बना रहेगा ।
  3. कभी भी अपने आपको dominate करने की कोशिश ना करे ।
  • अपने पति तथा उससे संबन्धित समस्या को बाहर डिस्कस ना करे:

यह बात एक लड़की को हमेशा ध्यान रखनी चाहिए की उसकी पहली प्राथमिकता उसका पति होता है ना कि  उसका परिवार। यदि आपको अपने पति से कोई शिकायत है तो उसे बाहर कहने की अपेक्षा यदि आप अपने पति से कहेंगी, तो आप अपनी प्रोब्लेम को जल्दी सॉल्व कर पाएँगी । और यदि आप अपनी प्रोब्लेम को बाहर जाकर अपने परिवार या दोस्तो मे कहती है, तो इससे हो सकता है कि आपके रिश्ते मे miss-understanding  बढती जाये| हो सकता है कि आपके दोस्त आपको अच्छी तरह से समझते हो तथा आपके लिए बेहतर सोचते हो| परंतु आपके और आपके पति के बीच के रिश्ते को आपसे बेहतर कोई नहीं जान सकता।

अपनी इच्छाओ को उतना ही रखे जहा तक उसे पूरा किया जा सकता है(have a realistic expectation):

अपने आप को एक अच्छी पत्नी साबित करना चाहती है, तो एक बात ध्यान रखे की अपने पैर उतने ही पसारे जीतने की एक चादर मे समाने के लिए संभव हो । हर इंसान की इच्छाए असार होती है परंतु हर इच्छा को पूरा कर पाना संभव नहीं है| अगर आप की इच्छाए बढती गयी तो यह आपके सुखी जीवन को खराब कर सकती है । इसलिए ध्यान रहे वही इच्छा को रखे जिसे किसी के द्वारा पूरा किया जा सके । जैसे की आप चाहे कि आपका पति उसका पूरा 100% टाइम आपके साथ बिताए तो यह संभव नहीं है। इसी तरह यदि आप अपने किसी दोस्त को देखकर उसकी तरह जीवन जीने की इच्छा रखती है, तो यह भी सही नहीं होगा क्यूकी हो सकता है कि आपके दोस्त के परिवार का माहोल अलग हो| हो सकता है उसका financial स्टेटस आपसे अलग है ।

  • अपने पति को बदलने कोशिश न करे (Don’t try to change your husband):

याद रखिए जो व्यक्ति जैसा है उसे वैसा ही स्वीकार करने की आदत डाले| अगर आप चाहेंगी कि आप जैसी है वैसे अपने पति को भी उसी रूप मे ढालने की कोशिश करें तो यह संभव नहीं हो पाएगा। ऐसा करने पर हो सकता है कि आपके रिश्ते मे दूरिया या परेशानिया बढ जायेगी । अगर आप किसी को वो जैसा है वैसा ही स्वीकार करने की कोशिश करेंगी, तो वह भी आपके हिसाब से परिवर्तित होने की ज्यादा कोशिश करेगा और आपको संमझने की कोशिश भी करेगा ।

हमेशा ध्यान रखिए की आपका पति आपसे अलग एक व्यक्ति है, उसकी अपनी एक अलग पहचान है, उसका रहने का एक अलग स्टाइल है अगर आप चाहे की वह उसकी हर आदत आपके हिसाब से तुरंत बदल दे, तो यह संभव नहीं है ।

कई बार यह देखा गया है की घर के कामो मे हाथ बटाने के उद्देश्य से आप कई बार अपने पति पर हावी हो जाती है परंतु ध्यान रखिए अगर आप सिर्फ हाउस वाइफ़ है तो आपका पति पर 2 तरफ ऑफिस और घर दोनों की ज़िम्मेदारी होती है| हो सकता है कि घर की सारी ज़िम्मेदारी आपको उठानी पड़े| इसे परेशानी न बताते हुये सहज ही स्वीकार करे। और अगर आप एक वर्किंग वुमेन है, तब भी आप अपना एक रूटीन बनाए तथा अपने घर मे उससे सभी को अवगत कराये ताकि आप सबको तथा सब आपको समझ सके और आपका वर्क घर मे कलह का कारण ना बने ।इससे आप अपने पति को समझ पाएंगी |

  • परिवर्तन को सहज ही स्वीकार करे (Roll with the change):

जब आप एक पति पत्नी होते है तो आप अपने जीवन के कई crises जैसे परिवार से संबन्धित समस्याए या financial crises एक साथ देखते है| तो ऐसी परिस्थियों मे अलग अलग इंसान ना होकर, एक साथ समस्त अवस्थाओ को स्वीकार करने की कोशिश करे ।

अगर आप किसी भी समस्या को एक साथ होकर सॉल्व करते है तो यकीन मानिए वो एक समस्या की तरह नहीं लगेगी बल्कि बहुत ही जल्दी से खत्म भी हो जाएगी |

  • बच्चो के आने के बाद परिवार मे परिवर्तन होते है इसे स्वीकार करे (Accept that having children changes a relationship):

जब भी आपके परिवार मे एक नया सदस्य आ जाता है, तो आपके रूटीन मे चेंजेस होना प्रकृतिक है| और अगर वो नया सदस्य आपका बच्चा हो, तो आपका ध्यान उसकी ओर ज्यादा जाना एक स्वाभाविक बात है । बच्चा आने के बाद परिवर्तन होते है, परंतु इसका यह मतलब कतई नहीं है कि यह परिवर्तन नकारात्मक ही होंगे। जो भी परिवर्तन होते है उसमे महत्वपूर्ण बात यह है कि आप दोनों का पूरा ध्यान या आकर्षण एक दूसरे से ज्यादा अपने बच्चे की ओर होता है| और इसमे बैलेन्स बनाने के लिए आपको कुछ ऐसे चेंजेस करने चाहिए, जिससे आप सब पूरा परिवार एक साथ टाइम बिता सके| हो सके तो अपने परिवार के लिए ग्रुप एक्टिविटी प्लान करे। अपने बच्चे को दोनों मिलकर संभाले दोनों मिलकर उसे टाइम दे।

  • Accept your mutual mistake:    

अगर आप एक अच्छी पत्नी बनना चाहती है तो अपने पति की गल्तियो को स्वीकार करे| तथा अगर आपका पति अपनी गलती को स्वीकार करता है तो उसे माफ करने की आदत भी डाले| इसके विपरीत यदि आप किसी बात को मन मे लेकर बैठ जाती है और अपने पति की किसी गलती को भूलने के लिए तैयार नहीं है तो यह केवल आपका रिश्ता खराब करता है । इन सभी के साथ साथ अपनी गल्तियो को भी स्वीकार करे अपने आप को एक पर्फेक्ट वाइफ़ बताने की होड मे अगर आप अपनी गलतियों को स्वीकार नहीं करती तो एक अच्छी पत्नी बनने के प्रयास मे नाकामयाब हो जाएँगी और यह रिश्तो मे दूरिया बढ़ाएगा|

  • Meet your husband need without compromising your own :

आपके पति की हर आवश्यकता को पूरा करने की कोशिश करे, परंतु ध्यान रहे अपने पति पर ध्यान देने के चक्कर मे आप अपनी स्वयं की पहचान ना खोये। कई बार ऐसा भी होता है कि आपका पति अपने फ्रेंड के साथ या अपने ऑफिस मे टाइम स्पेंड करना चाहता है, तो उसे ऐसा करने से ना रोके और आप भी अपने फ्रेंड के साथ कुछ अलग प्लान करे| ऐसा करने से आप अपने रूटीन से बोर नहीं होंगे तथा आपमे अपने रिश्ते के लिए एक समझदारी  बनी रहेगी ।

  • अपने पति की दोस्त बनने की कोशिश करे (Be your husband’s best friend):  

जब आप अपने पति के साथ एक दोस्त वाला रिश्ता बनती है तो आपके रिश्ते मे समझदारी और खुलापन और भी अधिक बढ जाता है। अगर आप अपने पति की बेस्ट फ्रेंड बनना चाहती है तो उसकी हर बात सुने, उससे अपनी हर बात शेयर करे| उससे अपने कई पुराने किस्से शेयर करे। और हा ध्यान रहे जब वह आपसे दोस्त की तरह कोई बात शेयर करता है तो उसे दोस्त की तरह समझने की कोश्श करे ना कि उसे पारिवारिक विवाद का टोपिक बनाले ।

  • अपने सपनों को शेयर करे (Create share dream):                    

आप क्या चाहती है अपने पति से शेयर करने की आदत डाले । जब आप अपनी लाइफ के अहम् अपने पति से शेयर करती है, तो वह भी आपको अच्छी तरह से संमझने लगता है तथा आपको अपने सपनों को पूरा करने मे मदद करता है ।

  • Work together to manage stress:

जब आप एक परिवार की तरह होते है, तो एक दूसरे के कामो मे हाथ बटाने की आदत डाले। जब आपका पति ऑफिस मे ज्यादा थका हुआ हो, तो उसे एक्सट्रा केयर दे नाकी आपको टाइम ना दे पाने के कारण कलह करे ।

अगर आप सभी चीजो को फॉलो करते है तो आपकी लाइफ और भी आसान हो जाएगी तथा आप एक अच्छी पत्नी बन पाएँगी । आपको हमारा आर्टिकल एक अच्छी पत्नी कैसे बने  (how to become a good wife in hindi) कैसा लगा अपने विचार हमसे जरूर शेयर करे|                          

Sneha

Sneha

स्नेहा दीपावली वेबसाइट की लेखिका है| जिनकी रूचि हिंदी भाषा मे है| यह दीपावली के लिए कई विषयों मे लिखती है|
Sneha

यह भी देखे

YouTube money maker

यूट्यूब और उससे पैसे कमाने का तरीका | How to Earn Money From Youtube in hindi

How to Earn Money From Youtube in hindi इक्कीसवीं शताब्दी ऑडियो- विसुअल दौर है. इन्टरनेट …

One comment

  1. Superb article.. thank you so much for sharing this article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *