ताज़ा खबर

कठुआ बलात्कार मामला और मुख्य आरोपी | Kathua Rape And Murder Case Hindi

जानिए क्या है कठुआ बलात्कार मामला और कौन हैं मुख्य आरोपी |Kathua Rape And Murder Case Details Hindi]

जम्मू कश्मीर राज्य से हाल ही में सामने आए कथुआ रेप केस ने एक बार फिर से हमारे देश की पुलिस और प्रशासन पर सवाल खड़े कर दिए हैं. इस मामले में जिस तरह से पुलिस की ओर से लापरवाही देखने को मिली है, वो काफी हैरान करने वाली है. 8 साल की मासूम के साथ हुए इस रेप केस ने इंसानियत और मानवता पर कई सवाल खड़े कर दिए हैं.

Kathua Rape And Murder Case Details Hindi

क्या है पूरा मामला (Kathua Rape And Murder Case)

इस साल जनवरी के महीने में रसाना गांव की नाबालिग लड़की का अपहरण कर लिया गया था और इस बच्ची का नाम आसिफा था. बताया जा रहा है कि आसिफा हर रोज अपने पशुओं को चराने के लिए जंगलो में जाया करती थी. लेकिन 10 जनवरी के दिन, वो पशुओं को चराने के बाद घर वापस नहीं लौटी. जिसके बाद आसिफा के परिवार वालों ने पुलिस को इस बात की जानकारी दी. लेकिन पुलिस ने इस मामले पर कुछ नहीं किया. लेकिन परिवार वालों ने अपनी आठ साल की बच्ची की खोज जारी रखी और ठीक एक हफ्ते बाद आसिफा के परिवार वालों को उसकी लाश जंगल से मिली.

वहीं जब आसिफा की लाश की जांच की गई तो पाया गया कि इस मासूम के साथ कई बार गैंगरेप किया गया और उसके बाद इसकी हत्या कर दी गई. मेडिकल रिपोर्ट के मुताबिक पत्थरों से मारकर आसिफा की हत्या की गई हैं.

राज्य के लोगों ने किया प्रदर्शन

इस मामले की जानकारी जैसे ही इस जिले के लोगों को मिली तो लोगों ने पुलिस और प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन करना शुरू कर दिया. जिसके बाद पुलिस ने लोगों को शांत करवाने के लिए उन पर बल का प्रयोग किया. वहीं धीरे-धीरे इस मामलों को लेकर जम्मू कश्मीर के हर इलाके में हंगामा शुरू हो गया और कई संख्या में लोग सड़क पर प्रदर्शन करने लगे और आसिफा के लिए इंसाफ मांगने लें.

जम्मू कश्मीर विधानसभा में भी उठाया गया ये मुद्दा

इस राज्य की विधानसभा में भी इस मामले पर चर्चा की गई और विपक्ष ने राज्य की सरकार से इस मामले की जांच करने की मांग की. वहीं सरकार ने इस मामले के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस द्वारा इस मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया हैं जो कि एक नाबालिग है, जिसकी आयु केवल पंद्रह साल की है. वहीं पुलिस की लापरवाही पर कार्यवाही करते हुए सरकार द्वारा इस इलाके के  SHO को भी सस्पेंड कर दिया गया है.

पुलिस के अधिकारी हुए गिरफ्तार (Policemen Arrested For Destroying Evidence)

  • इस रेप केस की और जांच की गई तो पुलिस ने पाया कि इस मामले के आरोपियों की मदद कुछ पुलिस वालों ने की है. जिसके बाद आनंद दत्ता जो कि पुलिस अफसर हैं और हेड कॉन्स्टेबल तिलक राज को गिरफ्तार कर लिया गया. इन दोनों पर आरोप है कि इन्होंने पैसे लेकर इस मामले के सबूतों को नष्ट करने की कोशिशि की थी.
  • दत्ता की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने रेप और हत्या के आरोप में दीपक खजुरिया और सुरिंदर कुमार नाम के दो व्यक्तियों को भी हिरासत में लिया. और ये दोनों एक स्पेशल पुलिस ऑफिसर हैं. जिन पर आरोप है कि इन्होंने मिलकर बच्ची के साथ रेप और उसकी हत्या की.
  • इस मामले के मुख्य आरोपी का नाम सांजी राम है, जो कि 60 साल का हैं और बतौर एक राजस्व अधिकारी के रूप में कार्य कर चुका हैं. राम के बेटे जिसका नाम विशाल है उसे भी पुलिस ने गिफ्तार किया है.
  • पुलिस की ओर से इस मामले में दायर की गई FIR के मुताबिक सांजी राम ने इस पूरे घटनाक्रम को अंजाम दिया था और बच्ची का अपहरण किया था. बच्ची का अपहरण कर उसे एक मंदिर में रखा गया था और मंदिर में ही उसके साथ गैंगरेप किया गया.
  • वहीं जब बच्ची के लापता होने पर पुलिस ने अपनी जांच शुरू की, तो इन आरोपियों ने पकड़े जाने के डर से बच्ची का गला दबा दिया और बाद में पत्थर की मदद से उसकी हत्या कर दी.
  • सभी अभियुक्तों पर कुल छह धाराएं लगाई गई हैं जिनमें रेप, हत्या, अपहरण की धाराएं शामिल हैं. वहीं इस केस की सुनवाई शुरू हो गई है और जल्द ही इन आरोपियों को सजा भी मिल जाएगी.

अन्य

  1. श्रेयसी सिंह जीवन परिचय 
  2. गूगल होम, होम मिनी स्मार्ट स्पीकर क्या हैं एवं इनका मूल्य कितना हैं ?
  3. हिना सिद्धू (सिधु) जीवन परिचय 
  4. क्या है इच्छा मृत्यु, भारत में इच्छा मृत्यु पर कानून व अरुणा शानबाग केस 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *