Mahabharat 24th January 2014 Episode 94 Update In Hindi

index

first scene
पांडव चिंता में है जब उन्हें कहा जाता है कि भीम को हिडम्बा से विवाह करना होगा | हिडम्बा कहती है अगर वह ऐसा नहीं करेंगे तो हिड्म्ब वन उजड़ जाएगा और सभी को मरना होगा | राक्षस कहते है यह प्रथा है जो भी राजा को मारता है वह राजा की बेटी या बहन से विवाह करता है अगर भीम को यह नहीं करना था तो उसने राजा को क्यूँ मारा | यह सुनकर भीम और पांडव वहां से निकल जाते है |

second scene
हिडम्बा रो रही है कुन्ती उसे समझाने जाती है वो उसे बोलती है कि मानव और राक्षस विवाह नहीं कर सकते | हिडम्बा कहती है वह भीम को पसंद करती है | अगर भीम उसके साथ नहीं रह सकता तो उसे स्वीकार है पर उसे जब तक रुकना होगा जब तक हिडम्बा को पुत्र की प्राप्ति ना हो जाए | कुन्ती कहती है कि अगर राक्षस और मनुष्य का पुत्र होगा तो वह रावण जैसा होगा | हिडम्बा कहती है विभीषण भी तो रावण का भाई था और वह भी उसी कुल में जन्मा था | हिडम्बा कुन्ती से प्रार्थना करती है कि जब तक उसे वारिस नहीं मिलता जब तक ही भीम को रोकेगी | कुन्ती मान जाती है |

Third scene
भीम और हिडम्बा का विवाह होता है कुन्ती भीम को आशीर्वाद देती है कहती है कुरु राजवंश के पहले विवाह की शुभकामनाएं | सहदेव पूछता है क्या राक्षस से विवाह करना धर्म है | कुन्ती कहती है जहाँ प्रेम है वहाँ सब धर्म है | राक्षस वरमाला के वक्त हिडम्बा को उठाते है दूसरी तरफ सभी भाई भीम को उठाते है | छोटे भाई भीम और हिडम्बा से आशीर्वाद लेते है और भीम और हिडम्बा युधिष्ठिर और कुन्ती के चरणस्पर्श करते है | सभी बहुत प्रसन्न है |

हस्तिनापुर में पांचाल का संदेशवाहक एक गरम पात्र और सन्देश लेकर आता है दुह्शासन उस पात्र को हाथ लगा देता है जिससे उसका हाथ जल जाता है | दुर्योधन को क्रोध आता है और वो बोलता है कि यह कुरु राष्ट्र का अपमान है सन्देश पत्र में कुछ नहीं लिखा है | महामंत्री विदुर कहते है कि सन्देश पात्र पर लिखा है | सन्देश में है कि पांचाल की राजकुमारी द्रोपदी का स्वयंबर है जिसमे हस्तिनापुर के युवराज को आमंत्रित किया है | दुर्योधन कहता है इस तरह से संदेश भेजकर अपमान किया है तब सन्देशवाहक कहता है द्रोपदी का जन्म अग्नी से हुआ है इसलिए इस तरह से सन्देश भेजा है |
दुर्योधन शकुनी से कहता है अब वह युवराज है हस्तिनापुर का | शकुनी कहता है पर अब तक उसका युवराजभिशेक नहीं हुआ है |

Karnika

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

यह भी देखे

meri-awaz-suno

मेरी आवाज सुनो ओल्ड दूरदर्शन टीवी रियलिटी शो | Meri Awaz Suno Doordarshan old tv show in hindi

मेरी आवाज़ सुनो, यह दूरदर्शन पर प्रसारित होने वाला सबसे प्रसिद्ध और पहला संगीत का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *