नरेन्द्र मोदी का जीवन परिचय | Narendra Modi Biography in hindi

Narendra Modi biography in hindi Indian Election 2014 का रिजल्ट कुछ इस तरह रहा, जिसने जनता (public) की पॉवर को सबके सामने ला खड़ा किया. बच्चा – बच्चा नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री के तौर पर देखने को आतुर था. जिस कारण से भारी बहुमत के साथ नरेन्द्र मोदी ने जीत हासिल की और 30 सालों के रिकॉर्ड को तोडा . परिवार वाद को ख़त्म करने का पहला पायदान रखा . 16 मई 2014 एक ऐतिहासिक दिन बन गया, इस दिन भारतीय एकता को हर दुश्मन ने करीब से देखा .

श्री नरेन्द्र मोदी  गुजरात की सफल राजनीति के प्रतीक हैं इनका यह अनुभव ही सभी भारतियों के लिए एक नवीन युग का आधार हैं . प्रशासनिक प्रतिभा व् द्रण संकल्प के साथ एक मजबूत हस्ती के रूप में सामने आये श्री नरेंद्र मोदी का नाम पहले गुजरात की राजनीती व् अब सम्पूर्ण भारत की राजनीती में सुनहरे अक्षर में लिखा है. एक चाय का स्टाल चलाने वाले साधारण से इन्सान का प्रधानमंत्री बनने का सफ़र काफी उतार चढ़ाव से भरा रहा. 10 सालों तक लगातार गुजरात में राज्य करने के बाद भारत देश के प्रधानमंत्री बने मोदी जी स्वाभाव से बहुत साधारण व् मजबूत इरादे वाले इन्सान है. अभी देश के कालेधन की रोके के लिए प्रधानमोदी जी ने  बंद किये 500 और 1000 रूपए के नोट.

नरेन्द्र मोदी का जीवन परिचय

Narendra Modi biography in hindi

नरेंद्र मोदी जन्म व् परिवार –

क्रमांक जीवन परिचय बिंदु नरेंद्र मोदी जीवन परिचय
1.        पूरा नाम नरेंद्र दामोदरदास मोदी
2.        धर्म हिन्दू (गुजराती)
3.        जन्म 17 सितम्बर 1950
4.        जन्म स्थान वादनगर, गुजरात
5.        माता-पिता हीराबेन मोदी, दामोदरदास मूलचंद
6.        विवाह जशोदाबेन मोदी (1968)
7.        राजनैतिक पार्टी भारतीय जनता पार्टी

नरेन्द्र मोदी  का जन्म 17 September 1950 में वदनगर मेहसाणा डिस्ट्रिक्ट में हुआ . नरेन्द्र मोदी के पिता का नाम दामोदर दास मूलचंद एवम माता का नाम हीरा बेन हैं . नरेन्द्र मोदी  के पिता बहुत साधारण तेलीय जाति के व्यक्ति थे, जिनके 6 संताने थी जिनमें से एक नरेन्द्र मोदी  था . नरेन्द्र मोदी अपने पिता के साथ  रेलवे स्टेशन पर चाय का स्टाल लगाते थे . इनकी पढाई में बहुत रूचि नहीं थी, पर इनके शिक्षक के अनुसार वे कुशल वक्ता थे .वाद-विवाद में नरेंद्र मोदी को कोई पकड़ नहीं सकता था. मोदी जी ने वडनगर से स्कूल की पढाई पूरी की, व् राजनीती विज्ञान में ग्रेजुएशन किया. बचपन से ही मोदी जी को देश के प्रति प्रेम था, उन्होंने 8 साल की उम्र में ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) में अपना पंजीकरण करा लिया था, ये एक शक्तिशाली हिन्दू राष्ट्रवादी समूह है, जो भारत के संविधान की बातों के खिलाफ धर्मनिरपेक्षता नहीं चाहता था, वो समस्त देश को हिन्दू राष्ट्र बनाना चाहता था. हिंदुत्व की ये बात बीजेपी की जड़ है.

1967 में 13 साल की उम्र में ही नरेन्द्र मोदी का जसोबेन नामक कन्या से विवाह करा दिया गया. 18 की उम्र  में जसोबेन का गौना कर उन्हें घर लाया गया, लेकिन छोटे नरेन्द्र मोदी  को विवाह में कभी रूचि नहीं थी, इस कारण उन्होंने घर छोड़ दिया . नरेन्द्र मोदी  हिमालय पर जा कर रहे और वहां से उन्होंने नयी जिन्दगी की तरफ रुख किया . घर छोड़ने के बाद नरेन्द्र मोदी  कभी पीछे नहीं मुड़े, इसलिए उन्होंने जसोबेन के उनके विवाह का सच कभी सामने नहीं रखा, क्यूंकि स्वाभाविक तौर पर उनका अपनी पत्नी से कोई नाता नहीं था . लेकिन हडकम जब मचा जब 2014 के नामांकन पत्र के दौरान नरेन्द्र मोदी ने खुद को विवाहित बताया .  जिसे विपक्ष ने काफी हवा देने कि कोशिश की लेकिन नरेन्द्र मोदी  जैसे देशभक्त को जनता  ने पहचान लिया था .

नरेन्द्र मोदी जी का राजनैतिक सफ़र –

खैर, घर छोड़ने के बाद नरेन्द्र मोदी  ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् (ABVP) किया, यहाँ वे पुरे समय आयोजक के रूप में कार्य करने लगे. देश की विकट परिस्तिथि में मोदी जी ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. जैसे 1974 में भ्रष्टाचार विरोधी व् 1975-77 में जब इंदिरा गाँधी की सरकार ने आपातकाल की घोषणा की थी . 1970-75 के बीच कई दिग्गज नेताओ ने वर्तमान सरकार का विरोध किया . जिनमे से एक थे जय प्रकाश नारायण . जिनके सानिध्य में नरेन्द्र मोदी  ने भी इस विरोध का साथ दिया . यहीं से श्री नरेन्द्र मोदी  के राजनैतिक जीवन की शुरुवात हुई, व् उनके जीवन का आधार बना .

1985 में नरेन्द्र मोदी  को RSS द्वारा BJP में दाखिल कराया गया . 1988 में नरेन्द्र मोदी  गुजरात के आयोजन सचिव बनाये गये . नरेन्द्र मोदी  जी के योगदान से 1995 में BJP को गुजरात चुनाव में काफी सहयोग मिला . जिस कारण 1995 में नरेन्द्र मोदी  को राष्ट्रीय सचिव बनाया गया और यहाँ से श्री नरेन्द्र मोदी ने नई दिल्ली की तरफ रुख  किया, युवा नेता को इतनी बड़ी ज़िम्मेदारी मिलना आसान बात नहीं थी .जहाँ से नरेन्द्र मोदी  देश के पांच प्रदेशों का कार्य सम्भाला . 1998-2001 तक नरेन्द्र मोदी  जी महासचिव रहे . 1998 के election में नरेन्द्र मोदी  के भरपूर सहयोग के कारण केशुभाई पटेल ने गुजरात की सत्ता सम्भाली .

2001 में केशुभाई की हालत में गिरावट के कारण सरकार में काफी गलत बाते सामने आई, जिस कारण सत्ता हाथ से निकल गई . अब एक नए उम्मीदवार कि आशा में निगाहे घूम रही थी चारो तरफ से नरेन्द्र मोदी ही थे, पर वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवानी को नरेन्द्र मोदी  में इतने बड़ी ज़िम्मेदारी निभाने की समझ में शंकाए थी .इस कारण नरेन्द्र मोदी को उपमुख्यमंत्री के पद के लिए चुना गया, लेकिन नरेन्द्र मोदी  ने साफ़ इंकार कर इस्तीफे का फैसला किया . आख़िरकार नरेन्द्र मोदी  को मुख्य मंत्री पद  के लिए बीजेपी का दावेदार चुना गया और 2002 में नरेन्द्र मोदी  ने  अपनी जीत के साथ गुजरात की सरकार  को नेत्रत्व प्रदान किया . एक सफल मुख्य मंत्री  की अपनी छवि को नरेन्द्र मोदी  ने 12 सालों के मुख्यमंत्री पद तक बनाये रखा . नरेन्द्र मोदी जी गुजरात के सभी लोगों के चहिते नेता था, जिन्हें मुख्यमंत्री के रूप में सभी से भरपूर प्यार मिला. 2014 में हुए आम चुनाव् में नरेन्द्र मोदी जी बीजेपी की तरफ से खड़े हुए, और अत्याधिक वोटों के साथ विजयी रहे. 26 मई 2014 को उन्होंने शपथ ली और अपना कैबिनेट मंत्रीमंडल बनाया.

नरेन्द्र मोदी के विरुद्ध विवाद (Charge Against Narendra Modi) –

2002 “गोदरा कांड” जिसने देश में हडकम मचा दिया .हजारों से भरी ट्रैन में आग लग गई, जिस कारण पुरे गुजरात में दंगा फ़ैल गया चारो तरफ हिन्दू – मुस्लिम अशान्ति थी . इस सांप्रदायिक दंगो की पुरे देश में निंदा हुई और नरेन्द्र मोदी  को उचित निर्णय ना लेने का जिम्मेदार बनाया गया . उस वक्त बड़े नगरों में  कर्फ्यू लगया गया, आर्मी को बुलाया गया ताकि स्थिति पर नियंत्रण पाया जा सके .

नरेन्द्र मोदी  और मुस्लिम लीग के बीच सम्बन्ध हमेशा ही गरम रहे . लेकिन सभी को मानने की जरुरत हैं मुस्लिम भी देश का अभिन्न अंग हैं और मुस्लिम लीग को भी भारतीय होने का अपना कर्तव्य निर्वाह करने की आवश्यक्ता हैं .

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी व् उनका व्यक्तित्व –

2014 में नरेन्द्र मोदी  ने देश में एक क्रांति की तरह जीत को हासिल किया, जिसका श्रेय उनके कठिन परिश्रम  और अनुभव को जाता हैं  . नरेन्द्र मोदी   technology से काफी प्रभावित हैं नरेन्द्र मोदी  के सभी काम सोचे समझे, और पहले से प्लान किये हुए होते हैं . ये इस सदी के महानायक हैं . एक target fix करके काम करना ही नरेन्द्र मोदी  का सबसे बड़ा गुण हैं. जिससे सभी को सीखने की जरुरत हैं .

एक प्रबल वक्ता होने के कारण नरेन्द्र मोदी शब्द ही गरीब किसानो के लिए मलहम और आर्मी के ऑफिसर्स, जवानो के लिए जोश की एक खुराख हैं. एक लीडर में इस कला का होना आवश्यक हैं, अगर लीडर की आवाज में जोश और विश्वास झलकता हैं, तब ही टीम में काम होता हैं .

नरेन्द्र मोदी  देश के लिए एक नयी उम्मीद का चेहरा हैं, जिस पर देश ने एक तरफ़ यकीन दिखाया, जों कि 30 years बाद देखा गया और आज का नागरिक भावनाओ में नहीं बहता, दिमाग से काम लेकर उचित decision लेता हैं .

अवार्ड्स –

  • देश का सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री अवार्ड (2006)
  • FDI पर्सनालिटी ऑफ़ दी इयर (2009)

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने भारत देश को एक नए मुकाम में ला दिया, आज भारत देश का नाम दुनिया भर में पुरे सम्मान के साथ लिया जाता है. मोदी जी के 2 साल के कार्यकाल में देश ने अत्याधिक विकास किया है. इन्होने बहुत सी ऐसी योजनायें शुरू की जिसकी पहले कोई कल्पना भी नहीं कर सकता था. नरेन्द्र मोदी का भारत देश के विकास के प्रति अग्रिम योगदान है. हम उनके स्वास्थ्य व् सफल भविष्य की कामना करते है.

अन्य पढ़े:

Karnika

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

यह भी देखे

Krunal Pandya

क्रुनाल पंडया आईपीएल का नया सितारा का जीवन परिचय | Krunal Himanshu Pandya Biography in Hindi

Krunal Pandya Biography in Hindi भारत में क्रिकेट को धर्म की तरह माना जाता है …

3 comments

  1. I think hamare desh ko aise hi p.m ki aawsakta hai…I fill proud… to be Indian and I salute modi ji…and all my Indian force….

  2. Thanks a lot for giving a lot of information about my prime minister. So a lot of thanks. Log purush. Desh kep liye kuch Ker gujrne ka jajaba hai. I sulute it

  3. P K SINGH RATHOR

    Very exhaustive information about mODI jee.He is the most powerful leader of the world as of today.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *