ताज़ा खबर

नीति आयोग इंटर्नशिप योजना 2018-19 | NITI Aayog Internship Program in Hindi 2018-19

नीति आयोग इंटर्नशिप स्कीम 2018-19 लिस्ट [NITI Aayog Internship Program Scheme in Hindi 2018-19] Application Form, Eligibility Criteria, Benefits, Selection Procedure, Start Last Date of Registration Candidate List

नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ ट्रांस्फोर्मिंग इंडिया या नीति आयोग भारतीय केंद्र सरकार का एक नया विभाग है.  इससे पहले इस डिपार्टमेंट के सभी प्रोग्राम प्लानिंग कमीशन के द्वारा बनाएं और हेंडल किये जाते थे. बाद में केंद्र सरकार ने इसे नीति आयोग से रिप्लेस किया. यह विभाग किसी भी स्कीम के रिसर्च और डेवलपमेंट के लिए जिम्मेदार होगा. हाल ही में नीति आयोग ने देश के स्टूडेंट्स के लिए इस डिपार्टमेंट में रहकर इंटर्नशिप करने का अवसर प्रदान करने का अवसर प्रदान करने का फैसला लिया है.

NITI Aayog Internship Scheme

लांच डिटेल Launch Detail :

नीति आयोग इंटर्नशिप स्कीम की घोषणा केंद्र सरकार द्वारा 23 अक्टूबर 2017 दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान की गई थी.

इस योजना के मुख्य लाभ Main Benefit Of The Scheme :   

इस योजना का मुख्य उद्देश्य भारतीय विद्यार्थियों को नेशनल बिल्डिंग प्रोसेस कि प्रक्रिया को समीप से समझाना है, ताकि वे इसे जानकर भविष्य में अप्लाई कर पाए. इस स्कीम में विद्यार्थी विभिन्न सरकारी विभागों में मौजूद अधिकारियों के अंडर में काम करेंगे और इन विभागों के काम काज की प्रक्रिया और इसके लिए की जाने वाली रिसर्च को समझेंगे .

इंटर्न स्कीम की मुख्य विशेषता और इसके लिए पात्रता Key Features of Intern Scheme and Eligibility Criteria :

  • विभिन्न लेवल के विद्यार्थियों के लिए : इस स्कीम में केवल विद्यार्थी ही अप्लाई कर सकतें है. इस स्कीम में कोई भी स्टूडेंट जो की अंडर ग्रेजुएशन, ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन या किसी भी तरह की रिसर्च फिल्ड में पढाई कर रहें है वे इस योजना के लिए अप्लाई कर सकतें है .
  • इंटर्न के लिए किसी प्रकार कि पेमेंट का प्रावधान नहीं है : इस योजना के तहत सभी सिलेक्टेड इंटर्न जो सरकारी विभागों में काम करके एक्सपीरियंस एकत्रित करेंगे उन्हें किसी भी प्रकार का स्टाइपेंड या कैश ऑफर नहीं किया जायेगा.
  • इंटर्नशिप के लिए उम्र : अब तक बताएं गए नियमों के अनुसार नीति आयोग ने इस इंटर्नशिप के लिए विद्यार्थियों की कोई अधिक्तम या न्यूनतम आयु तय नहीं की है.
  • इंटर्नशिप की कार्यकारिणी अवधी : नीति योग के द्वारा चलाई जाने वाली यह इंटर्नशिप सालभर चलेगी. और इसमें भाग लेने वाले विद्यार्थी इसमें हर महीने अप्लाई कर सकते है. इन्ही विद्यार्थियों में से इंटर्नशिप के लिए विद्यार्थियों का चयन किया जायेगा.
  • इंटर्नशिप के लिए समय अवधी : नीति आयोग ने यह भी स्पष्ट किया है की प्रत्येक इंटर्न विद्यार्थी इसमें केवल 6 हफ्तों कि इंटर्नशिप हासिल कर सकता है.
  • स्कीम के लिए एप्लीकेशन की प्रारंभ और अंतिम दिनांक : इस योजना के तहत इच्छुक विद्यार्थी हर महीने के पहली तारीख से आवेदन कर सकते है. विद्यार्थियों के लिए यह आवेदन कि प्रक्रिया महीने की 10 तारिक तक खुली रहेगी.
  • इंटर्न विद्यार्थियों के लिए प्रमाणपत्र : जब इंटर्न विद्यार्थी अपने संबंधित विभाग में अपनी इंटर्नशिप पूरी कर लेता है तो उसे संबंधित विभाग द्वारा प्रमाण पत्र दिया जाता है. इस इंटर्नशिप के बाद इस बात की कोई श्योरिटी नहीं है विद्यार्थी को संबंधित विभाग में नौकरी मिलेगी परंतु वह इस प्रमाण पत्र का लाभ अन्य नौकरी के समय ले सकता है.
  • नेसेसरी सपोर्ट : इस इंटर्नशिप के लिए प्रत्येक विद्यार्थी को काम के लिए अपना स्वयं का लैपटॉप लेजाना अनिवार्य है. इसके अतिरिक्त यदि उस विभाग के अधिकारी को ऐसा लगता है कि विद्यार्थी को अन्य किसी प्रकार कि स्टेशनरी कि आवश्यकता होगी तो वह विद्यार्थियों को विभाग द्वारा उपलब्ध कराइ जाएगी.

इंटर्नशिप के लिए अप्लाई कैसे करे How to Apply for Internship :

  • इसमें अप्लाई करने के लिए आवेदक को नीति आयोग कि ऑफिसियल साईट पर जाना होगा. नीति आयोग कि ऑफिसियल साईट http://niti.gov.in/ है.
  • इस योजना के लिए रजिस्ट्रेशन पेज हर महीने के प्रथम 10 दिनों तक खुला रहता है.
  • यहाँ प्रत्येक स्टूडेंट के लिए कई सारे डिपार्टमेंट कि लिस्ट उपलब्ध है जिसमे वह अपने लिए उपयुक्त डिपार्टमेंट का चयन कर सकता है. इसमें अप्लाई करते वक़्त प्रत्येक विद्यार्थी को अपने लिए एरिया का चयन करना अनिवार्य है.
  • इस इंटर्नशिप के लिए प्रत्येक विद्यार्थी हर एक फाइनेंसियल इयर में केवल एक बार अप्लाई कर सकता है. और इसमें चयनित विद्यार्थियों को कॉलेज प्रिंसिपल या एचओंडी का लैटर और एनओसी सबमिट करना अनिवार्य है.

इस इंटर्नशिप के लिए कैंडिडेट का चयन कैसे किया जाता है How are the Candidates Selected :

  • जब इस इंटर्नशिप के लिए आवेदन कि प्रक्रिया संपन्न हो जाती है तो इनमें से विद्यार्थियों को शार्टलिस्ट करके इस लिस्ट को विभिन्न विभागों के अधिकारियों तक पहुचाया जाता है. अधिकारियों के किसी भी तरह के निर्णय पर पंहुचने के पहले पूर्ण जाँच की जाती है.
  • इसमें प्रत्येक विभाग के लिए अधिकारी केवल 3 विद्यार्थियों का चयन कर सकता है और उसे यह लिस्ट डीक्लेअर करने से पहले यह नाम नीति आयोग सीइओ के समक्ष प्रस्तुत करने होते है.
  • यदि किसी विभाग में बहुत अधिक आवेदन आते है तो नीति आयोग के द्वारा विद्यार्थियों के चयन के लिए विभिन्न पात्रता या कटऑफ का सहारा ले सकता है.
  • विभिन्न विभागों के अधिकारियों कि यह जिम्मेदारी होगी कि वह इंटर्नशिप के गोल को पूरा करे और विद्यार्थियों को सही ज्ञान प्राप्त करने में मदत करे. इंटर्नशिप के दौरान विद्यार्थियों कि अटेंडेंस उनके कार्य और उनकी प्रगति का ब्यौरा संबंधित विभाग द्वारा रखा जाता है.
  • प्रत्येक विभाग का हेड प्रत्येक विद्यार्थी के आचरण पर भी नजर रखता है. और यदि विद्यार्थी को रिसर्च वर्क के लिए किसी प्रकार के डाटा कि आवश्यकता होती है तो वह भी उसे उपलब्ध करवाता है.
  • इस इंटर्नशिप के समाप्त होने के बाद प्रत्येक इंटर्न स्टूडेंट को अपने कागज और रिपोर्ट तैयार करन अनिवार्य है. विद्यार्थी को यह तैयार कि गई रिपोर्ट को उस डिपार्टमेंट में सबमिट करना होगा तबी यूज़ प्रमाण पत्र दिया जायेगा.

डिपार्टमेंट की कांटेक्ट डिटेल Contact Details of the Department :   

यदि कोई भी व्यक्ति इस संबंध में और अधिक जानकारी चाहता है तो वह नीति योग की ऑफिसियल साईट http://www.rvnl.org/ पर विजित कर सकता है. इस डिपार्टमेंट में संपर्क के लिए टेलीफोन नंबर 011 2309 6622 है. इसके आलावा इस डिपार्टमेंट का एड्रेस : नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ ट्रांस्फोर्मिंग इंडिया, संसद मार्ग एरिया नई दिल्ली, 110001 है.

अन्य पढ़े:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *