ताज़ा खबर

पैरों के तलवे में जलन को दूर करने के उपाय | Pairo ke taluo ki jalan dur karane ke upay in hindi

Pairo ke taluo ki jalan dur karane ke upay in hindi पैरों की जलन से कई बार हम परेशान होते है, यह समस्या गर्मी के दिनों में ज्यादा परेशान करती है. इस समस्या के लिए हम डॉक्टर के पास जाना उचित नहीं समझते व आलस कर जाते है. इस समस्या को हम घरेलु नुस्खों के द्वारा दूर कर सकते है. आइये हम आपको बताते हैं पैरों के तलवे में जलन को दूर करने वाले घरेलू उपचार और जलन के मुख्य कारण.

पैरों के तलवे में जलन का कारण (Pairo ke taluo ki jalan ke Karan)

  • पैर में रक्त का प्रवाह कम होना
  • उम्र अधिक होना
  • डायबटीज भी है एक कारण
  • किडनी की परेशानी
  • विटामिन की कमी
  • शराब अधिक पीना
  • किसी दवाई का साइड इफेक्ट्स
  • ब्लडप्रेशर

Pairo ke taluo ki jalan

पैरों के तलवे में जलन को दूर करने के आसान घरेलु  उपाय

Pairo ke taluo ki jalan dur karane ke upay

1 बड़ी सौंफ सौंफ शरीर में ठंडक देती है, हाथ पैर की जलन को दूर करने लिए ये बहुत काम आती है. बड़ी सौंफ, खड़ा धना व मिश्री को बराबर मात्रा में मिलाकर पीस लें, अब दोनों समय खाने के बाद 1-1 चम्मच पानी के साथ लें, कुछ दिन लगातार खाने से आपको आराम मिलेगा.
2 अदरक अदरक भी हाथ पैर की जलन कम करता है. ये शरीर में खून का प्रवाह बढ़ाता है, रोजाना एक टुकड़ा अदरक का खाने से शरीर में खून सही ढंग से प्रवाह होगा, जिससे पैर की जलन व दर्द दूर होगा. इसके अलावा आप नारियल या जैतून के तेल में थोडा सा अदरक का रस मिलाकर हल्का गुनगुना कर लें, अब पैर व हाथ में 10 min तक मालिश करें, रोजाना ऐसा करने से आराम मिलेगा.
3 विटामिन से युक्त चीजें खाएं विटामिन B3 की कमी से हाथ पैरों में जलन होती है, इसलिए विटामिन से युक्त भोज्य पदार्थ का सेवन जरुर करें. इसके लिए आप बीन्स, अंडे का पीला भाग, दूध, फिश, चिकिन, मूंगफली, मटर, मशरूम का सेवन करें.
4 हरी घास पर चलें नेचुरल थेरिपी से अच्छा कोई इलाज नहीं होता है. बिना चप्पल के हरी घास पर चले, इससे पैर में खून का संचार अच्छे से होता है.
5 मसाज खून संचार बढ़ाने के लिए मसाज करना सबसे कारीगर है, नारियल या जैतून तेल से पैरों की कुछ देर मालिश करें, रोजाना ऐसा करने से आपको जलन की परेशानी दूर हो जाएगी.
6 लौकी घिसें लौकी से ठंडक मिलती है, इसके लिए लौकी को काट कर पैरों में कुछ देर घिसें, इसके अलावा आप उसके गूदे को निकालकर उसे लगायें. पुरे शरीर की गर्मी पैरों में अधिक महसूस होती है. लौकी से पैर में ठंडक मिलती है.
7 धनिया धनिया भी ठंडी प्रवत्ति का होता है, इसके सेवन से पैर हाथ में ठंडक मिलती है. मिश्री व धनिया को मिलाकर पाउडर बना लें अब इसे 1-2 चम्मच रोज खाएं. कुछ ही दिन में आराम मिलेगा.
8 मेहँदी मेहँदी काफी ठंडक देती है, ये सब हम सभी जानते है, इसे हाथों में लगाना हर औरत, लड़की को पसंद होता है. लेकिन ये एक घरेलु उपचार भी है जो हाथ पैर की जलन ख़त्म करती है. मेहँदी पाउडर को निम्बू का रस व सिरके के साथ मिलाकर पेस्ट बना लें, अब इसे पैर के तलवों पर कुछ देर लगायें फिर धो लें. इसी तरह आप इसे हाथ में भी लगा सकते है. कुछ दिन तक करने से जलन ख़त्म हो जाएगी, साथ ही पैरों का दर्द भी गायब हो जायेगा.
9 राइ का तेल राइ या सरसों का तेल मालिश के लिए सबसे अच्छा होता है. इससे सिकाई करना भी लाभकारी है, ये जलन के साथ साथ दर्द निवारक भी है. इसके लिए आप आधी बाल्टी गुनगुने पानी में 3-4 चम्मच तेल डालें और 5 min तक इसमें पैरों को डालें रहें. अब फूट फिलर से पैर घिसें जिससे पैर की सारी गन्दगी निकल जाये. अब ठन्डे पानी से पैर धो लें. ऐसा करने से दर्द भी कम होगा.
10 मक्खन मक्खन हर किसी की घर में आसानी से मिल जाता है, जिसे जब चाहें आप उपयोग कर सकते है. 1-2 चम्मच मक्खन में कुछ दाने मिश्री के मिलाएं, अब इसे अच्छे से मिलाएं, जिससे मिश्री घुल जाये. अब इसे पैर व हाथ में लगायें कुछ देर बाद धो लें, रोजाना करने से आपको फर्क समझ आएगा.

हाथ पैर में जलन एक आम समस्या है, जिसको हम आसानी से घर पर ही बिना किसी दवाई के ठीक कर सकते है. ऊपर दिए तरीकों को आप अपनाएं और कौन सा तरीका आपको बेहतर लगा जिससे आपको अधिक फर्क पड़ा हमें जरुर बताएं. अगर इसके अलावा आप और कोई तरीके पैरो की जलन को शांत करने के लिए जानती है, तो हमारे साथ जरूर शेयर करें.

अन्य पढ़े:

Vibhuti
Follow me

Vibhuti

विभूति दीपावली वेबसाइट की एक अच्छी लेखिका है| जिनकी विशेष रूचि मनोरंजन, सेहत और सुन्दरता के बारे मे लिखने मे है| परन्तु साईट के लिए वे सभी विषयों मे लिखती है|
Vibhuti
Follow me

4 comments

  1. maine alovera lagaya par jalan kam nhi hui kya karu

  2. ऐलोवेरा की गुदा पैरो के तलवे मे लगाने से 10मिनट के अन्दर पैरो की जलन शांत हो जाती है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *