ताज़ा खबर
Home / मूवी रिव्यु / Raja Harishchandra Movie Review(pahli Indian movie)

Raja Harishchandra Movie Review(pahli Indian movie)

download

राजा हरिश्चंद्र
क्या होता आज अगर indian cinema नहीं होता, ना कोई Shahrukh khan को जानता ना Amitabh Bacchan और ना ही Amir Khan| हमारे पास कुछ entertainment का साधन ही नहीं होता| 1913 में Indian cinema की पहली full length film Raja Harishchandra आई थी जिसे direct and produce indian icon दादा साहेब फाल्के ने किया था| Dada Saheb Phalke ही वो इन्सान थे जिन्होंने इस indian cinema की रचना की, जिसे जन्म दिया| इसीलिए उन्हें ‘Father of indian cinema’ की उपाधि से नवाजा गया है| उनकी पहली film की कहानी legend Raja Harishchandra पर आधारित है जो हिन्दू पुराणों के हिसाब से सच्ची घटना है|
Raja Harishchandra film को indian cinema में एक historic benchmark की तरह देखा जाता है| इस film की सिर्फ एक print बनाई गई थी जिसे Coronation Cinematograph में दिखाया गया था| Film ने कमाल दिखा दिया और बहुत बड़ी hit साबित हुई, साथ ही साथ इस तरह की फिल्मों के लिए रस्ते खोल दिए|
Raja Harishchandra film की कहानी राजा पर ही केन्द्रित होती है| Raja Harishchandra हमेशा सच बोलते और अपने वचन के पक्के इन्सान थे| Film में दिखाया गया है की कैसे Raja Harishchandra Vishwamitra को दिए वचन को पूरा करने के लिए पहले अपना साम्राज्य फिर अपनी wife और end में अपने बेटे को भी छोड़ देते है| सच्चाई की इस मूरत को भगवन देखता है और उसका सब कुछ लौटा देता है|
D.D. Dabke जो मराठी stage के actor रहे थे, उन्होंने Raja Harishchandra के किरदार को चरितार्थ किया था| Raja Harishchandra की wife Taramati का किरदार male actor Anna Salunke ने बड़ी ख़ूबसूरती से निभाया था| Harishchandra के बेटे का किरदार Dada Saheb Phalke जी के बेटे Bhalachandra D. Phalke ने निभाया था| Film की script Ranchhodbai Udayram and Dada Saheb Phalke ने मिल कर तैयार की थी|
Dada Saheb Phalke ने Dadar main road में अपना studio तैयार किया एवं set खड़ा किया और खुद अपनी film की shooting start कर दी| Film Phalke जी पहली फिचर film थी जिसकी लम्बाई 3700 ft(4 reels) लगभग 50 min की film थी| Film को बन्ने में 7 months 21 days लगे थे| film 21 अप्रैल 1913 में Coronation Cinema में release हुई लेकिन सिर्फ special guest और media के लिए| बाद में 3 मई 1913 को सभी दर्शक के लिए भी release हो गई और बहुत बड़ी super hit हुई| इसकी success के बाद Phalke जी ने Satyavan Savitri, Satyawadi Raja Harish Chandra(1917), Lanka Dahan(1917), Sri Krisna Janma(1918) and Kaliya Mardan(1919) जैसी और भी hits हमारे indian cinema को दी|
Phalke जी ने film में सभी character male लिए थे उस समय कोई भी female film करने को तैयार नहीं हो रही थी Phalke जी को बहुत परेशानी हुई और फिर उन्होंने delicate-looking man से रानी का किरदार करवाया| Dada Saheb Phalke बहुत सरल और अनुशासन प्रिय इन्सान थे| उनकी wife भी उतनी ही अच्छी और कर्मठशील थी वे पूरी cast and crew तक़रीबन 500 के लिए अकेले खुद खाना बनती थी और साथ ही साथ film के costumes भी धोती थी|
Original film 4 reels की बनी थी जो आज National film archive of india, pune में एक मात्र print है|

Karnika

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

यह भी देखे

baaghi

बाघी : रेबेल्स फॉर लव मूवी प्रीव्यू | Baaghi A Rebel for Love Movie Review hindi

Baaghi A Rebel for Love movie cast review hindi बाघी आने वाली बॉलीवुड फिल्म है …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *