ताज़ा खबर

राष्ट्रीय वयोश्री योजना का उद्देश्य चयनित क्षेत्र व लाभ | Rashtriya Vayoshri Yojana objective covered area and benefits information in hindi

Rashtriya Vayoshri Yojana objective, covered area and benefits  information in hindi भारत सरकार राष्ट्रीय वयोश्री योजना के तहत गरीबी रेखा के नीचे आने वाले वृद्धों को लाभ पहुंचा रही है. इस योजना के तहत सरकार उन तमाम वृद्धों को, जो शारीरिक रूप से किसी तरह से भी अक्षम है, उन्हें सरकार की तरफ से मुफ्त व्हीलचेयर तथा अन्य सहायक उपकरण दिए जा रहे हैं. इस योजना के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी नीचे दी जा रही है. 

राष्ट्रीय वयोश्री योजना की शुरुआत (Rashtriya Vayoshri Yojana launched)

यह योजना भारत सरकार द्वारा चलाई जा रही है. इसकी घोषणा देश के वित्तमंत्री अरुण जेटली जी द्वारा 2015 – 16 के आम बजट के दौरान की गई थी. आम बजट 2017 – 18 के आने के बाद एक – एक करके कई योजनाओं की शुरुआत की गई, उन्हीं में से एक योजना “राष्ट्रीय वयोश्री योजना” की शुरुआत आन्ध्र प्रदेश के नेल्लोर में 1 अप्रैल 2017 को की गयी. इस उदघाटन समारोह में मुख्यअतिथि के रूप में ‘सोशल जस्टिस एंड एम्पोवेर्मेंट’ मंत्रालय के मंत्री श्री थावरचंद गहलोत मौजूद थे, जिन्होंने इस योजना का उद्घाटन किया.

इस योजना के लिए आंध्रप्रदेश के बाद लगातार हर राज्य के चयनित क्षेत्रों में इस तरह के कैंप आयोजित हो रहे हैं. अब तक यह योजना आध्रप्रदेश के अतिरिक्त मध्यप्रदेश के उज्जैन में और महाराष्ट्र में लागू हो गयी है. महाराष्ट्र में यह योजना 4 जून 2017 को शुरू की गई, जिसमे इस योजना के उदघाटन के लिए भी मंत्री श्री थावरचंद गहलोत उपस्थित थे.

राष्ट्रीय वयोश्री योजना का उद्देश्य (Rashtriya Vayoshri Yojana objectives)

सरकार ये योजना उन सभी ग़रीब वरिष्ठ नागरिकों को ध्यान में रख कर लागू कर रही है, जो उम्र के साथ आती अक्षमताओं की वजह से परेशान रहते हैं, और पैसे की कमी की वजह से अपनी आवश्यकता वाली चीज़ें भी नहीं ख़रीद पाते. उन्हें अपने दिनचर्या के कामों को करने में भी कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है. उन्हें हर अपने कामों के लिए घर के अन्य सदस्यों अथवा अन्य लोगों पर निर्भर रहना पड़ता है. ये सभी यन्त्र इन वृद्धों को स्वावलंबी बनायेंगे और इससे इनमें ज़िन्दगी जीने का एक नया जज़्बा और आत्मविश्वास पैदा होगा. इस तरह सरकार देश के वरिष्ठ नागरिकों को हर तरह से सक्षम बनाने की कोशिश कर रही है. यही इस योजना को शुरू करने का उद्देश्य है. वरिष्ठ नागरिकों के लिए योजना 10 साल तक के लिए 7.5 लाख रूपये पर ब्याज दर 8% होगी.

राष्ट्रीय वयोश्री योजना का लाभ उठाने के लिए योग्यता (Rashtriya Vayoshri Yojana eligibility)

  • यह योजना, जैसा कि गरीबी रेखा से नीचे वाले लोगों के लिए है, अतः इसके लिए पंजीकरण कराते समय बीपीएल कार्ड की आवश्यकता पड़ेगी.
  • इस योजना का लाभ वही लोग उठा सकेंगे, जिनकी उम्र 60 वर्ष से अधिक है. अतः लाभार्थी की उम्र किसी मान्य दस्तावेज़ के तहत 60 वर्ष की होनी चाहिए.

राष्ट्रीय वयोश्री योजना से लाभ (Rashtriya Vayoshri Yojana benefits in hindi)

  • इस योजना के तहत मिलने वाले सारे सामान मुफ्त दिए जायेंगे.
  • इस योजना के तहत पाए जाने वाले यंत्रों में :
  1. वाकिंग स्टिक
  2. एल्बो क्रचेस
  3. ट्राईपॉड्स
  4. क्वैडपोड
  5. श्रवण यन्त्र
  6. व्हीलचेयर
  7. कृत्रिम डेंचर्स
  8. स्पेक्टल्स
  • ये कृत्रिम उपकरणों की संख्या किसी परिवार में मौजूद वरिष्ठ नागरिकों की संख्या पर आश्रित होगी. यदि किसी परिवार में एक से अधिक लोग लाभार्थी हुए, तो यंत्रों की संख्या कम की जा सकती है, ताकि अधिक से अधिक लोग इस योजना का लाभ उठा सकें.
  • सरकार इस योजना के तहत कैंप लगवायेगी, जिसमे कई बड़े डॉक्टर्स भी मौजूद रहेंगे. ये डॉक्टर्स उन सभी लोगों का चेक अप करेंगे जो ये लाभ उठाना चाहते हैं. इन्ही डॉक्टर्स के चेक अप के बाद उन्हें डॉक्टर द्वारा निर्देशित मशीनें दी जायेंगी. नेशनल डॉक्टर्स डे का इतिहास यहाँ पढ़ें.  

राष्ट्रीय वयोश्री योजना के लिए चयनित क्षेत्र (Rashtriya Vayoshri Yojana covered area)

राज्य/ केन्द्रशासित प्रदेश जिले
अंडमान और निकोबार उत्तरी, मध्य तथा दक्षिणी अंडमान निकोबार
आन्ध्र प्रदेश विशाखापत्तनम
अरुणाचल प्रदेश पश्चिमी कमेंग / पसिंघट
असम कामरूप / सोनीपुर
बिहार बक्सर / पश्चिमी चंपारण
चंडीगढ़ चंडीगढ़
छत्तीसगढ़ रायपुर
दादरा और नागर हवेली दादरा और नागर हवेली
दमन और दिउ दमन और दिउ
गोवा उत्तरी गोवा / दक्षिणी गोवा
गुजरात वड़ोदरा / अहमदाबाद
हरयाणा करनाल
हिमाचल प्रदेश शिमला / हमीरपुर
जम्मू और कश्मीर श्रीनगर / लखीमपुर
झारखण्ड गुमला / रांची
कर्नाटक दक्षिण बंगलोर / धारवाड़
केरल कोच्ची / थिरुवानंथपुरम
मध्यप्रदेश खंडवा / उज्जैन
महाराष्ट्र नागपुर / धुले
दिल्ली करोल बाग़ / चांदनी चौक
ओड़िसा सुंदरगढ़ / अंगुल
पंजाब गुरदासपुर / होशियारपुर
राजस्थान झालावार / बीकानेर
तमिलनाडु कन्याकुमारी / दक्षिणी चेन्नई
तेलंगाना हैदराबाद / करीमनगर
उत्तरप्रदेश लखनऊ / वाराणसी
उत्तराखंड हरिद्वार / अल्मोरा
पश्चिम बंगाल आसनसोल / दार्जीलिंग
मणिपुर पूर्वी इम्फाली / दक्षिणी इम्फाल
मेघालय पूर्वी जैंतिया पहाड़ी / री भोई
मिजोरम ऐजवल / चम्फाई
नागालैंड दीमापुर / कोहिमा
त्रिपुरा उनोकोटी / धलाई
लक्षद्वीप लक्षद्वीप
पुदुचेर्री ओरुकला / करैकल
सिक्किम पूर्वी सिक्किम / दक्षिण सिक्किम

राष्ट्रीय वयोश्री योजना का पर्यवेक्षण (Rashtriya Vayoshri Yojana supervision)

सन 2011 के सर्वेक्षण के अनुसार भारत में कुल 10.38 करोड़ वरिष्ठ नागरिक मौजूद हैं. इनमें लगभग 5.2 प्रतिशत वरिष्ठ नागरिकों को आयु के साथ होने वाली शारीरिक समस्याएं हैं. इस योजना के तहत इन सभी ज़रूरतमंदों को ध्यान में रखते हुए, इन आंकड़ों को पूरा करने की कोशिश की जायेगी. इस योजना के तहत देश के 5.20 लाख वरिष्ठ नागरिकों को लाभ पहुँचाया जाएगा. सरकार के ‘सोशल जस्टिस तथा एम्पोवेर्मेंट’ मंत्रालय को इस योजना का कार्यभार दिया गया है. अतः इस योजना के तहत समस्त कार्यों का देख रेख ये मंत्रालय ही करेगा. राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस के बारे में यहाँ पढ़ें.

राष्ट्रीय वयोश्री योजना की मुख्य बातें (Rashtriya Vayoshri Yojana facts)

  • भारत सरकार द्वारा पहली बार ऐसी कोई योजना चलाई जा रही है, जिसका फायदा वरिष्ठ नागरिक को मिल सकेगा.
  • इस योजना के लिए सरकार ने 477 करोड़ रूपए का बजट तैयार किया है.
  • ये योजना साल 2019 – 20 तक चलती रहेगी.
  • यदि वरिष्ठ नागरिक को एक से अधिक परेशानी अथवा रोग हो, तो प्रत्येक अक्षमता के लिए अलग अलग यन्त्र दिए जायेंगे.
  • ALMICO इन सभी आवंटित यंत्रों का एक वर्ष तक मुफ़्त मेंटेनेंस का कार्यभार लेगा.
  • किसी भी ज़िले में, जहाँ के लोगों को यह सुविधा दी जाएगी वहाँ लाभार्थियों में 30 प्रतिशत स्त्रियाँ भी रहेंगीं.
  • ये सभी आवंटन सरकार अपनी तरफ से कैंप लगा कर करेगी.   

राष्ट्रीय वयोश्री योजना से निष्कर्ष (Rashtriya Vayoshri Yojana)

गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले लोगों का जीवन सक्षम बनाने के लिए ये योजना बहुत ही लाभकारी सिद्ध हो रही है. इस योजना से प्राप्त लाभ अधिक से अधिक लोगों तक पहुँचाया जा रहा है. भारत सरकार का यह क़दम कई ज़रुरतमंदों के लिये उपयोगी साबित हो रहा है. योजना के तहत लगभग देश के सभी हिस्से को लाने की कोशिश की गयी है. सरकार की यह नीति देश के लोगों के लिए बहुत कारगर साबित होगी.

अन्य पढ़ें –

Ankita

Ankita

अंकिता दीपावली की डिजाईन, डेवलपमेंट और आर्टिकल के सर्च इंजन की विशेषग्य है| ये इस साईट की एडमिन है| इनको वेबसाइट ऑप्टिमाइज़ और कभी कभी आर्टिकल लिखना पसंद है|
Ankita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *