ताज़ा खबर
Home / सेहत / पालक के फायदे व नुकसान | Spinach benefits and side effects in hindi

पालक के फायदे व नुकसान | Spinach benefits and side effects in hindi

Spinach (Palak) ke benefits (fayde) and side effects in hindi हरी पत्तेदार सब्जी खाने की सलाह हर डोक्टर के द्वारा दी जाती है. हरी सब्जियों में सभी पोषक तत्व प्रचुर मात्रा में होते है. हरी सब्जियों के नाम पर सबसे पहले पालक को याद किया जाता है. पालक स्वाद के अलावा स्वास्थ्य के लिए भी बहुत अच्छा होती है. पालक सबसे अधिक ठंड के मौसम में आती है, और ठण्ड में इसे खाने के फायदे भी बहुत है. वैसे आजकल 12 महीने सभी सब्जियां मिल जाती है, लेकिन बरसात में आने वाली पालक में मिट्टी व कीटाणु बहुत होते है, इसलिए इसे इस मौसम में नहीं खाना चाहिए. खून की कमी होने पर सबसे पहले लोग पालक खाने की सलाह देते है, इससे शरीर में हीमोग्लोबिन बढ़ता है.  पालक को हमेशा अच्छे से 2-3 बार साफ पानी से धोकर खाना चाइये. पालक सलाद व सब्जी के रूप में खाया जाता है. पालक के पकोड़े भी बहुत स्वादिष्ट लगते है.

पालक में मौजूद पोषक तत्व प्रति 100 ग्राम (Spinach nutrition facts per 100 gram)–

पोषक तत्व मात्रा
कैलोरी 23
प्रोटीन 2%
कार्बोहाइड्रेट 2.9%
वसा 0.7%
रेशा 0.6%
खनिज 0.7%
सोडियम 3%
पोटेशियम 15%
विटामिन A 187%
विटामिन C 46%
कैल्शियम 9%
आयरन 15%
मैग्नीशियम 19%

पालक के फायदे व नुकसान

Spinach ke benefits and side effects in hindi

पालक में मौजूद मिनिरल्स शरीर के PH लेवल को कण्ट्रोल करने में सहायक है. पालक में प्रोटीन भी अधिक होता है, जितना आपको मीट में प्रोटीन मिलेगा उतना ही आपको पालक खाने से भी मिलेगा. हाई प्रोटीन खाने वालों को पालक अपनी डाइट में शामिल करना ही चाहिए. पालक का सूप भी बना कर पिया जाता है. पालक में गाजर व पत्ता गोभी के मुकाबले आयरन दोगुना होता है. पालक को पकाकर खाने से उसके बहुत से पोषक तत्व नष्ट हो जाते है, इसलिए इसे साफ़ करके धोकर सलाद या सूप के रूप में लेने की सलाह दी जाती है.

palak juice

पालक व पालक के जूस के फायदे (Palak and Palak Juice Fayde)–

  1. पालक में मैग्नीशियम, विटामिन्स व रेशा होता है, जो कैंसर की बीमारी के कीटाणु को शरीर में आने से रोकता है, व लड़ने में भी सहायक होता है.
  2. हार्ट अटैक, या दिल से जुड़ी सभी बीमारियों को पालक खाकर दूर किया जा सकता है.
  3. वजन कम करने की चाह रखने वालों को पालक जरुर खाना चाहिए, क्यूंकि इसमें कैलोरी भी कम होती है, साथ ही प्रोटीन अधिक होता है, जो फायदेमंद होता है.
  4. इसके खाने से रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है.
  5. पालक खाने से शरीर में खून बढ़ता है, जिससे एनीमिया की बीमारी नहीं होती है.
  6. पालक खाने से गठिया के रोग में आराम मिलता है.
  7. इसमें विटामिन C भी होता है, जो ब्लीडिंग की परेशानी दूर करता है.
  8. पालक खाने से आँखों की रोशनी बढ़ती है, साथ ही रात का अंधेपन की परेशानी दूर होती है.
  9. पालक में फाइबर भी होता है, जिससे पेट की परेशानी अल्सर, अपच, कब्ज, एसिडिटी दूर होती है.
  10. पालक में विटामिन K भी होता है, जो हड्डियों को मजबूत करने में सहायक होता है. इससे हड्डी मजबूत होती है, और शरीर में कैल्शियम की कमी दूर होती है.
  11. हाई ब्लड प्रेशर की परेशानी पालक खाने से दूर होती है.
  12. गर्भवती महिला के लिए पालक किसी वरदान से कम नहीं है. उसमें सारे पोषक तत्व है, जो गर्भवती महिला के शरीर के लिए जरुरी होते है. इसके अलावा ये माँ के शरीर में दूध को भी बढ़ाता है.
  13. पालक खाने से त्वचा स्वस्थ रहती है.
  14. उम्र के साथ चेहरे पर आने वाली झुरियां, मुहांसे, दाग धब्बे पालक खाने से दूर हो जाते है.
  15. पालक का जूस रोज पीने से चेहरे पर ग्लो आता है, इससे स्किन हाइड्रेटेड भी रहती है.
  16. क्रीम या कोई दवाई उपयोग करने की जगह पालक का जूस रोज पीना चाहिए.
  17. बाल आपकी सुन्दरता का मुख्य पार्ट होते है, बालों में खुजली आम समस्या है, सबके सामने ऐसा करने से शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता है. बालों को मजबूत घना बनाने के लिए हेयर टॉनिक या केमिकल युक्त शैम्पू का उपयोग न करें. इसकी जगह आप रोज पालक का सूप पियें. पालक में विटामिन B काम्प्लेक्स भी होता है, जिससे बालों की परेशानी दूर होती है.
  18. पालक खाने से दिमाग भी मजबूत होता है, साथ ही याददाश भी बढ़ती है.

पालक जहाँ फायदेमंद है, वहीँ उसके कुछ नुकसान भी है. अधिक सेवन से ये फायदे की जगह शरीर को नुकसान देने लगता है. हम आपको इसके बारे में भी बताते है.

पालक के नुकसान (Spinach side effects) –

  1. पालक की अधिकता हमारे शरीर में खनिज अवशोषण की क्षमता पर असर डालता है. शरीर में इतनी क्षमता नहीं होती कि वो इन तत्वों को पर्याप्त मात्रा में ग्रहण कर सके. यह हमारे सिस्टम की सामान्य कार्यप्रणाली में बाधा और खनिज की कमी से संबंधित विभिन्न बीमारियों को जन्म दे सकता है।
  2. पालक की अधिकता पेट की परेशानी की वजह बन सकती है. पालक में पर्याप्त मात्रा में फाइबर होता है. 1 कप सूप में 6 ग्राम फाइबर होता है. अच्छे पाचन के लिए फाइबर की आवश्कता होती है. लेकिन अधिक सेवन से ने पाचनतंत्र को नुकसान देता है. इससे गैस, कब्ज की परेशानी होती है. एक स्थ ज्यादा पालक खाने से इस तरह की परेशानी सामने आती है, इसलिए पालक को धीरे धीरे अपनी डाइट में शामिल करना चाइये.
  3. पालक को दुसरे किसी फाइबर युक्त पदार्थ के साथ खाने से शरीर में फाइबर की मात्रा बढ़ जाती है. जिससे बुखार, सर दर्द की परेशानी होने लगती है. इससे डायरिया भी हो जाता है.
  4. पालक खाने से किडनी में स्टोन की परेशानी हो सकती है. पालक में मौजूद आर्गेनिक पदार्थ शरीर में जाकर यूरिक एसिड में बदल जाते है. ये शरीर के लिए बेहद नुकसानदायक है. परिणामस्वरुप किडनी में छोटी से लेकर मध्यम आकर का स्टोन बन जाता है.
  5. गठिया रोग में अधिक पालक का सेवन नहीं करना चाइये.
  6. पालक खाने के बाद दांत में कीरकिराहट होती है. इस परेशानी से बचने के लिए पालन खाने के बाद ब्रश करें.
  7. पालक की अधिकता से किसी तरह की एलर्जी भी हो सकती है. जैसे खुजली, गले में जलन या खुजली आदि.

पालक को अपनी डाइट में शामिल करने के लिए एक प्रॉपर डाइट प्लान फॉलो करें, जिससे आपके शरीर को इससे फायदा मिले न की नुकसान.

Vibhuti
Follow me

Vibhuti

विभूति दीपावली वेबसाइट की एक अच्छी लेखिका है| जिनकी विशेष रूचि मनोरंजन, सेहत और सुन्दरता के बारे मे लिखने मे है| परन्तु साईट के लिए वे सभी विषयों मे लिखती है|
Vibhuti
Follow me

यह भी देखे

Tomato soup benefits

टमाटर सूप के फायदे व बनाने की विधि | Tomato soup benefits recipe in hindi

Tomato soup benefits recipe in hindi जब कभी हम बाहर लंच या डिनर के लिए …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *