ताज़ा खबर

स्ट्राबेरी के फायदे | Strawberry benefits in hindi

Strawberry benefits (fayde) in hindi गार्डन स्ट्राबेरी या स्ट्राबेरी, फ्रेगेरिया [Fragaria] प्रजाति की उपज की एक मिश्रित प्रजाति [Hybrid Species] हैं. यह विश्व भर में एक फल के रूप में उगाई जाती हैं. स्ट्राबेरी नामक यह फल अपनी सुगंध, चटख [Bright] लाल रंग, रसीले स्वाद और मिठास जैसे गुणों के कारण बहुत पसंद किया जाता हैं. इसे ताजे फल के रूप में तो प्रयोग किया जाता ही हैं, साथ ही इसका उपयोग प्रिज़र्व्ड फ़ूड, जैसे -: फ्रूट ज्यूस, पाई [Pies], आइसक्रीम, मिल्क शेक और चॉकलेट के रूप में भी किया जाता हैं. कृत्रिम [Artificial] स्ट्राबेरी का उपयोग करके इसके फ्लेवर वाले बहुत से पदार्थ बनते हैं, जैसे -: लिप ग्लोस, कैंडी, हैण्ड सेनेटाईज़र, परफ्यूम और अन्य भी कई पदार्थ.

स्ट्राबेरी के स्वास्थ्यवर्धक फ़ायदे (Strawberry health benefits in hindi) -:

स्ट्राबेरी का उपयोग चाहे ताजे फल की तरह हो या प्रिज़र्व्ड फ़ूड के रूप में, दोनों ही तरह से इससे हमें कई स्वास्थ्य सम्बन्धी लाभ प्राप्त होते हैं. इसके कई फ़ायदे हैं, जिनका वर्णन निम्नानुसार हैं -:

  • एंटी – ओक्सिड़ेंट्स का भंडार [Packed with Antioxidants]-: अगर आप स्ट्राबेरी खाना इतना पसंद नहीं करते तो इसे पसंद कीजिये और वो भी केवल इसके रसीले और खट्टे मीठे स्वाद के लिये नहीं, बल्कि इसके सुपर फुड होने के कारण क्योंकि स्ट्राबेरी में बहुत से पोषक तत्व होते हैं, यह एंटी – ओक्सिड़ेंट्स का भंडार हैं, जैसे -: इसके अन्दर विटामिन C पाया जाता हैं. इसके सेवन से शरीर की एंटी ओक्सिडेंट सम्बन्धी आवश्यकताओं को आसानी से पूरा किया जा सकता हैं.
  • रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना [Immunity booster] -: हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में स्ट्राबेरी का सेवन फ़ायदेमंद होता हैं. इसके अन्दर जो विटामिन C पाया जाता हैं, वह रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में बहुत उपयोग में आता हैं. इसका कुछ हफ्ते सेवन करने से ही इसके परिणाम देखने को मिलते हैं.
  • आँखों के लिए उपयोगी [Strawberry benefits for eyes] -: स्ट्राबेरी में पाये जाने वाले एंटी – ओक्सिड़ेंट्स गुणों के कारण ये आँखों के लिए बहुत उपयोगी हैं. यह आँखों में होने वाली बीमारी मोतियाबिंद [Cataract] को होने से रोकता हैं. सूर्य से निकलने वाली पराबैंगनी किरणें [UV Rays] हमारी आँखों के लेंस को नुकसान पहुंचाती हैं, जिससे बचने के लिए समुचित मात्रा में विटामिन C हमारे शरीर में पहुँचना आवश्यक हैं और विटामिन C से आँखों के कोर्निया और रेटिना भी मजबूत बनते हैं, जो कि स्ट्राबेरी में पाया जाता हैं.
  • केंसर की रोकथाम में सहायक [Strawberry cure for cancer] -: स्ट्राबेरी में पाया जाने वाला एक पदार्थ हैं – एलेजिक [Ellagic] एसिड. इसमें एंटी – केंसर प्रोपेर्टिज़ पाई जाती हैं, जिससे यह विभिन्न प्रकार के केंसर की रोकथाम में सहायक होता हैं, जैसे -: यह केंसर सेल्स की बढ़त [Growth] को रोकता हैं. इसमें पाया जाने वाला विटामिन C शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता [Immune System] को बनाये रखता हैं और केंसर की रोकथाम हेतु शरीर का स्वस्थ बने रहना, सर्वोत्तम उपाय हैं. स्ट्राबेरी में ल्योटीन [Lutein] और ज़िथेंसिन [Zeathancins] नामक एंटी – ओक्सिड़ेंट्स पाए जाते हैं, जो हमारी कोशिकाओं [Cells] में पाए जाने वाले हानिकारक तत्वों के प्रभाव को ख़त्म करते हैं.
  • झुर्रियों को रोकना [Strawberry benefits for face] -: स्ट्राबेरी में पाए जाने वाले विटामिन C से कोलेजिन [Collagen] से त्वचा स्वस्थ रहती हैं. यह त्वचा के खिंचाव और लचीलेपन को बनाये रखता हैं, जिससे झुर्रियां नहीं आती और साथ ही बढ़ती उम्र के साथ त्वचा को डेमेज होने से भी रोकता हैं.
  • कोलेस्ट्रोल रोकने में सहायक [Fight bad Cholesterol] -: खून में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को संतुलित रखने में स्ट्राबेरी बहुत सहायक होती हैं, उच्च कोलेस्ट्रोल का इलाज जानने के लिए पढ़े. स्ट्रॉबेरी में ह्रदय सम्बन्धी रोगों की देखभाल के लिए पोषक तत्व पाए जाते हैं. इसमें पाया जाने वाला एलेजिक एसिड ह्रदय के लिए बहुत लाभकारक होता हैं. साथ ही यह डायबटीज के इलाज में भी फ़ायदेमंद हैं.
  • गठिया रोग की रोकथाम में सहायक [Prevent Arthritis] -: स्ट्राबेरी में पाए जाने वाले एंटी – ओक्सिड़ेंट्स शरीर के जोड़ों में आने वाली अकड़ और जलन को रोकने में मदद करते हैं, जिससे गठिया रोग के उपचार में मदद मिलती हैं अथवा इसके होने की सम्भावना बहुत कम हो जाती हैं.
  • रक्तदाब नियंत्रण में सहायक [Regulate Blood Pressure] -: स्ट्राबेरी में पोटेशियम नामक पोषक तत्व भी पाया जाता हैं, जो ह्रदय को पोषण देता हैं. यह ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में रखता हैं और सोडियम के नकारात्मक प्रभाव को कम करते हुए उच्च रक्तदाब को कम करने में भी सहायता करता हैं. ह्रदय की इतनी देखभाल के कारण इसे “ हार्ट हेल्थी फ्रूट ” का टाइटल भी दिया गया हैं.
  • फाइबर बढ़ाने में सहायक [Boost Fibre] -: अच्छी पाचन क्रिया के लिए फाइबर बहुत आवश्यक हैं और स्ट्राबेरी में फाइबर पर्याप्त मात्रा में पाया जाता हैं. फाइबर की कमी के कारण कब्ज [Constipation] और आँतों [Intestines] में जलन, जैसी समस्याएँ उत्पन्न हो जाती हैं, इसलिए स्ट्राबेरी ग्रहण करना फायदेमंद होता हैं. साथ ही फाइबर शुगर के अवशोषित [Absorb] करने की मात्रा को भी काम करता हैं, जिससे डाईबिटिज़ के मरीज भी इसे शौक से खा सकते हैं.
  • उचित वजन बनाये रखने में सहायक [Aid in Weight Management] -: टाइप – 2 डाईबिटिज़, ह्रदय सम्बन्धी रोगों और सम्पूर्ण शरीर के स्वस्थ रहने के लिए उचित वजन होना आवश्यक हैं. स्ट्राबेरी में केलोरी की मात्रा और फेट कम होते हैं, साथ ही इसमें सोडियम और शुगर भी कम मात्रा में पाई जाती हैं और कार्बोहाइड्रेट उचित मात्रा में होता हैं, ये सभी मिलकर शरीर का वजन उचित रूप से बनाये रखते हैं.
  • जन्म के पूर्व का स्वास्थ्य बनाये रखना [Strawberry benefits during pregnancy] -: गर्भवती महिलाओं अथवा गर्भधारण की इच्छुक महिलाओं को विटामिन B लेने की सलाह दी जाती हैं, इसके लिए स्ट्राबेरी ग्रहण करना एक अच्छा उपाय हो सकता हैं. गर्भस्थ शिशु की स्पाइनल कॉर्ड, खोपड़ी [Skull] और दिमाग के विकास में फोलेट [Folate] बहुत जरुरी होता हैं और स्ट्राबेरी में यह तत्व पाया जाता हैं, अतः इसे ग्रहण करना बहुत लाभदायी होता हैं.
  • एलर्जी और अस्थमा रोकने में कारगर [Prevent Allergies and Asthma] -: स्ट्राबेरी में एंटी – इन्फ्लेमेटरी इफेक्ट पाए जाते हैं, इस कारण इसे ग्रहण करने से विभिन्न प्रकार की एलर्जी का प्रभाव कम हो जाता हैं, जैसे -: आँखों में से पानी आना, हमेशा ज़ुखाम रहना, पित्त [Hives], आदि.

चूँकि इसमें विटामिन C की भरपूर मात्रा पाई जाती हैं, जो अस्थमा को कम करने में सहायक हैं, अतः इस कारण भी इसे खाना चाहिए.

Strawberry benefits

  • डिप्रेशन की रोकथाम में सहायक [Prevention from Depression] -: स्ट्राबेरी में पाए जाने वाले पोषक तत्वों की सहायता से डिप्रेशन के मरीजों की रोकथाम में मदद मिलती हैं. यह उनके मूड को सही बनाये रखते हैं, जिससे उन्हें सकारात्मक ऊर्जा मिलती हैं और वे अच्छा महसूस करते हैं.

स्ट्राबेरी पोषक तत्वों की मात्रा [Strawberry nutrition facts] -:

वैसे तो स्ट्राबेरी में विभिन्न पोषक तत्व पाए जाते हैं, परन्तु कौनसा तत्व कितनी मात्रा में हैं, इसका पता निम्न तालिका में वर्णित हैं -:

100 ग्राम स्ट्राबेरी में पोषक तत्वों की मात्रा -:

क्रमांक पोषक तत्व मात्रा
ऊर्जा [Energy] 33 कैलोरी
1. कार्बोहाइड्रेट्स 7.68 ग्राम
2. शुगर 4.89 ग्राम
3. डाईटरी फाइबर 2 ग्राम
4. वसा [Fat] 0.3 ग्राम
5. प्रोटीन 0.67 ग्राम
विटामिन
1. थायमिन [Thiamine] [B1] 0.024 मिलीग्राम [2%]
2. रिबोफ्लेविन [Riboflavin] [B2] 0.022 मिलीग्राम [2%]
3. नियासिन [Niacin] [B3] 0.386 मिलीग्राम [3%]
4. पैंटोथेनिक [Pantothenic] एसिड [B5] 0.125 मिलीग्राम [3%]
5. विटामिन B6 0.047 मिलीग्राम [4%]
6. फोलेट [Folate] [B9] 24 माइक्रोग्राम [6%]
7. कोलाइन [Choline] 5.7 मिलीग्राम [1%]
8. विटामिन C 58.8 मिलीग्राम [71%]
9. विटामिन E 0.29 मिलीग्राम [2%]
10. विटामिन K 2.2 माइक्रोग्राम [2%]
खनिज [Minerals]
1. केल्शियम 16 मिलीग्राम [2%]
2. लौह तत्व [Iron] 0.41 मिलीग्राम [3%]
3. मैग्नेशियम 13 मिलीग्राम [4%]
4. मैगनीज 0.386 मिलीग्राम [18%]
5. फास्फोरस 24 मिलीग्राम [3%]
6. पोटेशियम 153 मिलीग्राम [3%]
7. सोडियम 1 मिलीग्राम [0%]
8. जिंक 0.14 मिलीग्राम [1%]
अन्य घटक [Other Constituents]
1. पानी 90.95 ग्राम
2. फ़्लोराइड [Fluoride] 4.4 माइक्रोग्राम

इस प्रकार स्ट्राबेरी के इन गुणों के कारण हमें अपने आहार में इसे शामिल करके इन पोषक तत्वों का लाभ उठाना चाहिए.

Vini

विनी दीपावली वेबसाइट की लेखिका है, जिनको लिखने का शौक है, इसलिए वे दीपावली साईट के लिए कुछ विषयोंपर लिखती है|

यह भी देखे

Tomato soup benefits

टमाटर सूप के फायदे व बनाने की विधि | Tomato soup benefits recipe in hindi

Tomato soup benefits recipe in hindi जब कभी हम बाहर लंच या डिनर के लिए …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *