ताज़ा खबर
Home / हॉट टॉपिक / याकूब मेमन को दी गई फांसी, पूरी की गई उसकी आखरी इच्छा

याकूब मेमन को दी गई फांसी, पूरी की गई उसकी आखरी इच्छा

इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट की कारवाही रात्रि 3 बजे की गई | तमाम दलीलों एवम अपीलों को ख़ारिज करते हुए याकूब मेमन को फांसी की सजा सुनाई गई जिस पर 5 बजे मुहर लगी और 7 बजे तक नागपुर जेल से याकूब का शरीर बाहर लाया गया | इतनी तेजी से पहली बार सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाकर अमल किया हैं |

27 जुलाई 28 जुलाई से कई दिग्गज याकूब को फांसी से बचाने के लिए मैदान में उतरे | राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी से भी फांसी रोकने की अपील की गई थी जिसे उन्होंने ख़ारिज कर दिया | उनका भी यही मानना हैं इस तरह से फांसी माफ़ की जाने लगी तो न्याय पालिका का क्या महत्व रह जायेगा |

yakub memon fansi

Yakub Memon Fansi

दूसरी तरफ जेल में कल दिन से ही याकूब बहुत बैचेन था | कल दोपहर से उसने खाना पीना छोड़ दिया था और बार – बार सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बारे में पूछ रहा था | उसने भी यह कहा कि उसके फांसी के मामले को सियासी बना दिया गया उस पर राजनीति का खेल खेल लिया गया अब उसे बचा पाना नामुमकिन हैं | याकूब को सुबह 5 बजे फांसी की सजा सुनाई गई | आखरी ख्वाइश पूछने पर याकूब ने अपनी बेटी से बात करने की इच्छा व्यक्त की | उसकी बात मुंबई में उसकी बेटी से करवाई गई | याकूब जब जेल में डाला गया था तब उसकी बेटी का जन्म हुआ था | आखरी वक्त में उसने बीवी और बच्ची का ध्यान रखना यह संदेश अपने चचेरे भाई को दिया |1993 के मुंबई बम ब्लास्ट के बाद उसे नेपाल से गिरफ्तार किया गया था |

12 मार्च 1993 को मुम्बई में सीरियल बम बलास्ट हुए थे जिसमे 257 लोग मारे गए थे आज २३ वर्ष बाद पहली बार मुंबई ब्लास्ट में किसी आतंकवादी को फांसी दी गई हैं |

सुप्रीम कोर्ट भावनाओं पर सजा नहीं सुनाती | अगर याकूब दोषी नहीं पाया जाता तो उसे इतना कठोर दंड दिया ही क्यूँ जाता | हिन्दू या मुस्लिम होना सुप्रीम कोर्ट के नियमों को नहीं हिलाता | अगर देश वासी को आवाज उठानी ही हैं तो इस बात पर उठाना चाहिए कि क्यूँ और कैसे देश में आतंकवादी अभी भी घुस रहे हैं ? क्यूँ सुरक्षा इतनी कमजोर हैं कि आज वर्दी पहनकर आतंकी सीधे पुलिस चौकी पर हमला कर रहे हैं | देश के जाने माने लोग बस राजनीति करना ही जानते हैं | देश सेवा, जन सेवा, सुरक्षा इसका भाव उन में बचा ही नहीं हैं |

 ————————————————————————————————————————————————————-

Tiger Yakub Memon Controvercy In Hindi याकूब मेमन की फांसी को लेकर सलमान खान का ट्वीट,कई दिग्गज दे रहे हैं याकूब को समर्थन, राष्ट्रपति से की गई फांसी को रोकने की अपील  – पढ़े क्या हैं पूरा मामला |

 

Tiger Yakub Memon Controversy In Hindi 

बजरंगी भाईजान की बात करते करते शनिवार रात्रि 12 से 2 के बीच सलमान भाई देश के एक गंभीर मुद्दे पर ट्वीट करने लगे | मुंबई बम ब्लास्ट के तहत याकूब मेमन को फांसी दी जा रही हैं जिसका विरोध करते हुए सलमान खान ने कहा कि याकूब मेमन एक निर्दोष हैं | उसे टाइगर मेमनके बदले फांसी देना न्याय नहीं हैं | इस पर विचार करने की जरुरत हैं | पहले ही मुंबई बम ब्लास्ट में कई मासूम की मौत हो चुकी हैं फिर एक गलत फैसले के चलते टाइगर के बजाय याकूब को फांसी पर चढ़ाना एक और बेगुनाह की मौत हैं |

सलमान खान के ऐसे ट्वीट के बाद शिव सेना एवम बीजेपी के कार्यकर्ता भड़क गए और कई स्थानों पर बजरंगी भाईजान के प्रसारण को रोक दिया |

सभी का मानन हैं यह एक गंभीर मुद्दा हैं इस पर ऐसे भावनात्कम होकर सलमान जैसे सुपर स्टार अगर कमेंट करेंगे तो देश में साम्प्रदायिक मत भेद उभर कर सामने आने लगेगा | माना कि सलमान खान ने के इंसानियत की भावना से ट्वीट किया लेकिन एक लिखित स्टेटमेंट का मतलब हर कोई अपने हिसाब से ले सकता हैं और इस पर व्यक्तिगत रूप से रियेक्ट कर सकता हैं जो कि देश की शांति के लिए सही नहीं हैं |

मामले कि गंभीरता को समझते हुए रविवार की शाम सलमान के पिता सलीम खान ने ट्वीट में कहा- सलमान की बातों को गंभीरता से ना ले एवं सभी उसे नज़रंदाज़ करें क्यूंकि उसके लिखने एवम सभी के समझने के बीच एक गलतफहमी हैं |

जिसके बाद रात्रि में सलमान खान ने ट्वीट के जरिये सभी से माफ़ी मांगी और कहा कि उनके कहने का मतलब यह नहीं हैं कि याकूब मेमन निर्दोष हैं लेकिन मुंबई बम ब्लास्ट का उत्तरदायी टाइगर मेमन हैं इसलिये उसे ही फांसी देना ज्यादा सही हैं |

सलामन ने अपने शब्द वापस लेते हुए पुराने ट्वीट डिलीट किये | साथ ही बताया कि वो अपनी बात पर कायम हैं लेकिन अपने पिता के कहने पर वे माफ़ी मांगते हैं और अपने ट्वीट डिलीट कर रहे हैं |

सलमान के ट्वीट के बाद पकिस्तान से नवाज शरीफ ने भी इस बात पर जोर दिया कि भाई को फांसी ना दे | अगर टाइगर आपके मुल्क में हैं तो कहे |

मामला बहुत गभीर हैं | मुंबई बम ब्लास्ट में कई लोग मारे गये थे| यह एक फिल्म नहीं हैं कि आसानी से भावनाओं में बहा जा सके | माना कि शांति और प्रेम का रास्ता सही हैं लेकिन आज के समय में नियत कितनी साफ़ हैं | यह नहीं कहा जा सकता | असल जिंदगी का राइटर कौन हैं यह कोई नहीं जानता किस बात का, किस फैसले का क्या परिणाम होगा वास्तविक जिंदगी में यह कह पाना मुश्किल हैं | एक  फिल्म के राइटर, प्रोडूसर एवम डायरेक्टर को अपने हर एक कदम के परिणाम का पता होता हैं | वहाँ भावनाओ के बहा जा सकता हैं | पर आज इस तरह के फैसले लेकर कई मासूम जो 1993 से न्याय की उम्मीद कर रहे हैं उनके सब्र का इम्तिहान लेना हैं |

सलमान एक ज़िम्मेदार नागरिक हैं जिन्हें कई लोग फॉलो करते हैं ऐसे में उन्हें अपने आप पर नियंत्रण रखने की जरुरत हैं | ऐसे ट्वीट भावनाओं के साथ साथ देश की एकता एवम शांति पर गहरा आघात दे सकते हैं |

सलमान के अलावा भी कई हस्तियों ने याकूब मेमन की फांसी के खिलाफ राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी को विरोध पत्र लिखा एवम फांसी रोकने की अपील की | इनमें सीताराम येचुरी, वृंदा करात, कांग्रेस के मणिशंकर अय्यर, बीजेपी केशत्रुघ्न सिन्हा, राम जेठमलानी, केटीएस तुलसी, दीपांकर भट्टाचार्य समेत कई फेमस लोग शामिल हैं जिन्होंने याकूब की फांसी रोकने की बात कही हैं | लेकिन अभी तक इस मामले में कोई फैसला नहीं लिया गया हैं अतः नागपुर में याकूब की फांसी की तैयारी जारी हैं |

Tiger Yakub Memon Controversy In Hindi याकूब मेमन की फांसी को लेकर सलमान खान का ट्वीट | इस मामले में आपका क्या कहना हैं ? क्या सलमान एवम अन्य लोगो का यह विरोध सही हैं ? कमेंट करें |

अन्य पढ़े :

Karnika

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

यह भी देखे

sapno ka matlab

सपनों का मतलब और उनका फल | Sapno Ka Matlab and Swapan phal in hindi

Sapno Ka Matlab (arth) or Swapan phal, dream meaning in hindi सपने हर किसी को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *