ताज़ा खबर

तुलसी पत्ते के गुण एवम फायदे व नुकसान | Tulsi Leaves gun and Benefits and Side Effects in Hindi

तुलसी पत्ते के गुण एवम फायदे व नुकसान | Tulsi Leaf (Leaves) gun and Benefits (Fayde) and Side Effects In Hindi

तुलसी का नाम सुनते ही पवित्र पौधा याद आता है. तुलसी का पौधा एक ऐसा पौधा है, जो भारत देश में लगभग हर घर में होता है, बड़े से बड़ा व छोटे से छोटा आदमी इसे अपने घर में लगाता है. भारत देश में इसे अपने घर में लगाना शुभ माना जाता है. धार्मिक मान्यता के अलावा इसके वैज्ञानिक कारण भी है, तुलसी स्वास्थ की नजर से बहुत लाभकारी है. कहते है घर के आँगन में तुलसी होने से रोग विरोग घर में प्रवेश नहीं कर पाते है. तुलसी की पूजा अर्चना हर हिन्दू स्त्री सुबह करती है. कई युगों से तुलसी को एक औषधि के रूप में भी देखा जाता है, इसकी पत्तियों से लेकर फल तना सब, कुछ ना कुछ फायदा देते हैं.

भारतवासी हिन्दू लोग तुलसी को देवी मानते है व उनकी विधि विधान से पूजा करते है. तुलसी विवाह एक बहुत फेमस त्यौहार है, जो दीवाली के बाद वाली देव उठनी एकादशी यानि ग्यारस में मनाया जाता है. तुलसी को हिन्दू, भगवान को प्रसाद के साथ जरुर चढ़ाते है. तुलसी का प्रयोग बहुत सी दवाइयों में भी होता है. हम इसका प्रयोग घर पर भी आसानी से कर बहुत से रोगों से छुटकारा पा सकते है.

Tulsi Leaves

तुलसी के पत्ते के गुण (Tulsi Leaves Gun)

1 तुलसी लगाने से आस पास सुगंध फैलती है.
2 यह शरीर की आतंरिक समस्याएँ दूर करती है.
3 सर्दी खांसी से बचाती है.
4 वायु को शुद्ध करती है.
5 पाचन सम्बन्धी समस्या हल होती है.
6 ताजगी देती है.

तुलसी के पत्ते के उपयोग (Tulsi Leaves Use)

  • इसे पीस कर चेहरे पर लगाने से मुहांसे दाग धब्बे सब दूर हो जाते है.
  • पानी में तुलसी डाल कर पीने से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढती है.
  • इसे खाने से मुंह की दुर्गंध गायब हो जाती है.
  • तुलसी का तेल बहुत से दर्द में उपयोग किया जाता है.
  • तुलसी से बहुत से पेय पदार्थ बनाये जाते है.

तुलसी के पत्ते में पाए जाने वाले पोषक तत्व (Tulsi Leaves Nutritional Value)

1 कप यानि 42 ग्राम तुलसी के पत्तों में निम्न पोषक तत्व पाए जाते हैं :

क्र.. पोषक तत्व मात्रा
1. प्रोटीन 1.3 ग्राम
2. पानी 38.7 ग्राम
3. ऐश 0.6 ग्राम
4. कुल कैलोरी 9.8
5. कार्बोहाइड्रेट्स 1.1 ग्राम
6. कुल फैट 271 mg
7. कैल्सियम 75 mg
8. आयरन 1.3 mg
9. सोडियम 1,7 mg
10. पोटैशियम 125 mg
11. मैग्नीशियम 27 mg
12. फॉस्फोरस 24 mg
13. विटामिन A C E K B6 क्रमशः (2237 iu, 7.6 mg, 339 mcg, 176 mcg, 66 mcg)

तुलसी के फायदे एवम लाभ (Tulsi Leaf Benefits and Labh in hindi)

तुलसी के कई तरह हैं जिसे नीचे दर्शाया गया है :

तुलसी के स्वास्थ्य के लिए फ़ायदे (Tulsi Leaves Benefits for Health)

  1. बुखार कम करे – तुलसी में एंटीबैक्टेरिया, एंटीफंगल व एंटीबायोटिक प्रोपर्टीज होती है, जो बुखार को भी कम करने में लाभ कारी होता है. चाहें वो बुखार इन्फेक्शन वाला हो या मलेरिया वाला, तुलसी उसे कम करने में सक्षम है. आयुर्वेद में बुखार के समय तुलसी का काढ़ा पीने की सलाह मुख्य रूप से दी जाती है. इसे पीने से सचमुच बहुत जल्द फायदा मिलता है. ये खासतौर पर बच्चों के लिए बहुत अच्छा होता है.  

    काढ़ा बनाने का तरीका – ½ लीटर पानी में कुछ तुलसी की पत्तियां व इलायची पाउडर डाल कर, उसे तब तक उबालें जब तक वो आधा ना रह जाये. इसमें आप दूध व शक्कर भी मिला सकते है. अब इसे मरीज को हर 2-3 घंटे में देते रहे.

  2. डायबटीज के खिलाफ काम करे – शरीर में इन्सुलिन को बनाने व बनाये रखने वाले तत्व को तुलसी बाहर निकालती है. तुलसी ब्लड शुगर को कम करती है, जिससे डायबटीज कंट्रोल रहती है.
  3. तनाव दूर करे  एक शोध के अनुसार तुलसी शरीर में तनाव बढ़ाने वाले हार्मोन को बाहर निकालता है. इसे एंटी स्ट्रेस एजेंट भी कहा जाता है. तुलसी हमारी सभी कोशिकाओं को सामान्य रूप से चलने में मदद करती है, खून का संचार अच्छे से करती है. अधिक तनाव होने पर डॉक्टर भी तुलसी खाने की सलाह देते है. ज्यादा तनाव होने पर 10-12 तुलसी दिन में 2 बार चबाएं, तनाव बहुत हद तक कम होगा.
  4. पथरी की समस्या दूर करे  किडनी में पथरी होने पर तुलसी के द्वारा उस समस्या ने निजात मिल सकता है. किडनी में पथरी मुख्य रूप से खून में यूरिक एसिड बढ़ने से होती है. तुलसी इस यूरिक एसिड को कम करने में सक्षम है. तुलसी में मौजूद तेल इस स्टोन को नष्ट करता है व तुलसी एक तरह की दर्द निवारक भी है, इसलिए यह किडनी स्टोन में होने वाले दर्द से भी आराम देता है. इसलिए यह पथरी की समस्या को दूर करने के लिए घरेलू इलाज है. 

    कैसे उपयोग करें  तुलसी के रस को निकालकर उसमें शहद मिलाएं. अब इसे कम से कम 6 महीने तक रोज पियें. किडनी से पथरी बिना किसी इलाज के बाहर निकल जाएगी.

  5. कैंसर जैसी भयानक बीमारी दूर करे – तुलसी में एंटीऑक्सीडेंट प्रॉपर्टीज होने के कारण ये ब्रैस्ट कैंसर व तम्बाकू से होने वाले मुंह के कैंसर में आराम देती है. रोज तुलसी चबाने से कैंसर की कोशिकाएं शरीर में बढ़ नहीं पाती है.
  6. स्मोकिंग छुड़ाने में मददगार  तुलसी में एंटी स्ट्रेस एजेंट होते है, जो स्मोकिंग छोड़ने में भी मदद करते है. तनाव कम होने से सिगरेट पीने की इच्छा कम होती है, जिससे आप स्मोकिंग आसानी से त्याग सकते है. जब ही सिगरेट पीने की इच्छा जागे तुलसी की कुछ पत्तियां लेकर चबाने लगे कुछ ही समय में आपकी ये इच्छा गायब हो जाएगी. इसके अलावा तुलसी चबाने से एक और फायदा है, इतने सालों से जो स्मोकिंग से आपके शरीर को नुकसान हुआ है वो तुलसी से रिकवर हो जाता है.
  7. प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये – तुलसी शरीर में प्रतिरोधक क्षमता बढाती है जिससे सर्दी खांसी जुखाम, फ्लू , वायरल ये सब शरीर में अपना असर नहीं दिखा पाते है. चाय में तुलसी डालकर पीना ठण्ड व बरसात के दिनों में बहुत फायदेमंद होता है. आप आसपास होने वाली हर बीमारी से बचे रहेंगें.
  8. दर्द मिटाए  किसी भी कारण से होने वाले सिरदर्द को तुलसी की पत्ती ठीक कर सकती है. तुलसी में दर्द मिटने के तत्व होते है जिसे खाने से बहुत हद तक आपको सभी तरह के दर्द से आराम मिलेगा. 

    कैसे उपयोग करें– एक पतीले में पानी लें, उसमे कुछ तुलसी की पत्तियां डालें, अब इसे उबालें. थोडा ठंडा कर इसमें टॉवल भिगोकर निचोड़े अब इसे अपने सिर में बांध लें. बहुत जल्द सिरदर्द ठीक हो जायेगा. इसके अलावा आप तुलसी की पत्ती की जगह उसमें तुलसी का तेल भी डाल सकते है.

  1. दस्त उलटी दूर करे – इस समस्या को भी तुलसी आसानी से दूर कर देती है. दस्त होने पर तुलसी की कुछ पत्तियों को पीस कर उसमें शहद व जीरा पाउडर मिलाएं अब इसे मरीज को हर 2 घंटे में दें. बहुत आराम पाएंगे. इसके अलावा उलटी होने पर तुलसी के रस में अदरक का रस व छोटी इलायची का पाउडर मिलाकर पीना चाहिए. दस्त की समस्या से निजात पाने के लिए यह घरेलू इलाज है.
  2. अन्य फायदे
  • दमे की बीमारी से परेशान है, तो तुलसी की पत्तियों को काले नमक के साथ मिलाएं फिर इसे चबाते रहें.
  • कोढ़ जैसी बीमारी भी तुलसी के द्वारा ठीक होती है. तुलसी का लेप लगाने से ये ठीक हो जाता है.
  • कान का दर्द या कम सुनाई देता है, तो तुलसी के रस में कप्पोर डालें, फिर हल्का गर्म कर इसे कान में डालें बहुत जल्द आराम मिलेगा.
  • तुलसी चबाने से बच्चों बड़ो सभी की स्मरण की क्षमता बढ़ती है.

तुलसी के त्वचा के लिए फ़ायदे (Tulsi Leaves Benefits for Skin)

तुलसी से त्वचा को लाभ प्राप्त होता है जिनमे से कुछ इस प्रकार हैं :

  • कई कॉस्मेटिक उत्पाद बनाने वाली कंपनियां अपने उत्पाद में तुलसी को एक घटक के रूप में इस्तेमाल करती हैं क्योकि इसमें एंटी- बैकटीरिया गुण होते हैं. जोकि बैक्टीरिया से त्वचा की रक्षा करते हैं.
  • तुलसी की पत्तियों को सूखा खाने या जूस के रूप में खाने से यह खून साफ़ करता है, जिससे आपकी त्वचा निखरती व glow करती है. साथ ही इससे मुहांसे की परेशानी भी ठीक हो जाती है, और त्वचा हेल्थी बनती है.
  • बेसन और तुलसी के पेस्ट को त्वचा में लगाने से काले धब्बे साफ हो जाते हैं. तुलसी के पत्ते को त्वचा में रगड़ने से भी काले धब्बे हट जाते हैं.
  • तुलसी के पत्तों को सरसों के तेल के साथ तब तक उबालें जब तक यह काला ना हो जायें. फिर इसे ठंडा कर अपनी त्वचा में लगाये. ऐसा ठंड के मौसम में करने से त्वचा तुरंत हील हो जाती है.
  • आयुर्वेद डॉक्टर के अनुसार तुलसी स्किन की बड़ी से बड़ी परेशानी को हल करने में सक्षम है. इसके लिए तुलसी के पेस्ट को चेहरे पर नियमित रूप से लगायें.

तुलसी के बालों के लिए फ़ायदे (Tulsi Leaves Benefits for Hair)

तुलसी बालों के लिए भी अच्छी होती है, इसके कई फ़ायदे हैं जोकि इस प्रकार हैं :

  • बालों के झड़ने का मुख्य कारण रुसी और खुजली ही है ऐसे में रोज़ाना लगाये जाने वाले में कुछ बूँद तुलसी के तेल की डालकर लगाया जाए तो इस समस्या से निजात पाया जा सकता है.
  • तुलसी हिबिस्कस और नीम के पत्तों का पेस्ट बनाकर लगाने से आपकी जड़ो में खुजली नहीं होती और बाल झड़ने की भी समस्या हल होती है.
  • रोज़ाना तुलसी के तेल से मालिश करने से बालों को ऊर्जा प्राप्त होती है.
  • आपको तुलसी खानी भी चाहिए या तुलसी का जूस पीना चाहिए, क्योकि इससे भी बालों को फायदा होता है.
  • तुलसी पाउडर को नारियल तेल में मिलाकर बालों की जड़ो में मसाज करें. कुछ ही दिन में आपके बाल लम्बे घने चमकदार हो जायेंगें.

तुलसी की पत्तियों से नुकसान (Tulsi Leaves Side Effects)

तुलसी का एक अनूठा फायदा है कि इसे खाने से ज्यादा साइडइफ़ेक्ट नहीं होता है और आसानी से आपके घर में लग जाती है, जिसे आप जब चाहें उपयोग कर सकते है. लेकिन कुछ नुकसान होते हैं जो इस प्रकार हैं :

  • ऐसा पाया गया है कि तुलसी के अधिक सेवन से यूजोनोल की अधिक मात्रा हो जाती है, जोकि बहुत नुकसान पहुंचता है. यह कई हानिकारक चीजों जैसे सिगरेट आदि में पाया जाता है. इससे खांसी के दौरान खून, तेजी से श्वास और मूत्र में खून जैसी समस्या हो जाती है.
  • तुलसी खून को पतला करता है इसलिए इसे किसी अन्य दवा के साथ नहीं लेना चाहिए.

मुझे उम्मीद है कि तुलसी के फायदे पढ़कर आप इसकी उपयोगिता समझ गए होंगे और आज से ही इसका उपयोग करेंगे. अगर ये आपके घर में नहीं है तो आज ही आप कहीं से लाकर इसे घर में लगाइए घर में ताजगी महसूस करेंगें.

अन्य पढ़े:

Vibhuti
Follow me

Vibhuti

विभूति दीपावली वेबसाइट की एक अच्छी लेखिका है| जिनकी विशेष रूचि मनोरंजन, सेहत और सुन्दरता के बारे मे लिखने मे है| परन्तु साईट के लिए वे सभी विषयों मे लिखती है|
Vibhuti
Follow me

2 comments

  1. thand ke dino me tulsi ki chai pina bahut hi labhdayak hota hai

  2. vaise iska bohot fayda h ..kya ise garm pani me dalkr pee skte h

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *