ताज़ा खबर
Home / निबंध / यातायात की समस्या और समाधान पर निबंध | Yatayat ki samasya and samadhan essay in hindi

यातायात की समस्या और समाधान पर निबंध | Yatayat ki samasya and samadhan essay in hindi

यातायात या ट्राफिक हमारे जीवन का वो हिस्सा है, जो हमारी ज़िन्दगी को और आसान बनाता है. यातायात के द्वारा आज हम लम्बी दुरी भी आसानी से, कम समय में तय कर लेते है. मानव ने हर क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास किये है, यातायात भी इससे अछुता नहीं है. पहले यातायात के लिए विभिन्न जानवर जैसे ऊँठ, घोड़ा, बैल, हाथी, या फिर मानव निर्मित हाथ गाड़ी, पानी में चलने वाले छोटे जहाज का इस्तेमाल होता है.

इनसे लम्बी दुरी तय करने में महीने भी लग जाते थे. मानव ने विकास किया और विज्ञान के सहारे हमारी ज़िन्दगी को इतना आसान बना दिया. यातायात के साधन बिना अब हम अपनी ज़िन्दगी की कल्पना भी नहीं कर सकते है, क्यूंकि हम इसके आदि हो चुके है. यातायात से हमें लाभ तो बहुत है, लेकिन ये कई बार हमारे लिए समस्या भी बन जाता है. चलिए आज इससे होने वाली समस्या और उसके समाधान के बारे में बात करते है.

Yatayat samasya samadhan

यातायात के साधन (Yatayat ke sadhan)

आज 21 वीं सदी में मानव ने यातायात के तीन मुख्य साधन दिए है –

1. वायु यातायात हवाईजहाज, हेलीकाप्टर, जेट प्लेन
2. जल यातायात जहाज, शिप, मोटर बोट, क्रूज
3. सड़क यातायात 6 पहिया वाहन ट्रक, बस, 4 पहिया वाहन कार, जीप, टैक्सी, इसके अलावा ऑटो रिक्शा, हाथ रिक्शा, साइकिल आदि. इस सूची में रेलगाड़ी का मुख्य स्थान है.

यातायात की समस्या और समाधान पर निबंध

Yatayat ki samasya and samadhan essay in hindi

यातायात के साधन से होने वाले लाभ, उनसे होने वाली समस्या व उसके समाधान के बारे में नीचे विस्तार से बताया गया है.

  1. वायु यातायात – विज्ञान के चमत्कार का अनूठा उदाहरन है हवाईजहाज. आसमान में पंक्षीयों को उड़ता देख, इन्सान के मन में भी हमेशा से उड़ने की चाह रही है. और इन्सान के मन में एक बार जो आ जाये वो करके ही रहता है. अपनी कल्पना को पर लगाकर उसे हवाईजहाज बना दिया. जिससे किसी भी स्थान में जाना और ज्यादा आसान हो गया. देश विदेश की यात्रा अब किसी के लिए मुश्किल नहीं रही.
  • वायु यातायात से होने वाली समस्या –
  • पंक्षीयों का जीवन खतरे में आ गया, हवाईजहाज से कई बेकसूर जानें रोज जाती है.
  • वायु प्रदुषण बढ़ने लगा.
  • हवाईजहाज के निर्माण, उसमें सुख सुविधा देने के लिए अधिक खर्च किया जाने लगा.
  • बड़े बड़े एअरपोर्ट बनाने के लिए खेतों, वनों को काटा जाने लगा.
  • इनमें तकनिकी खराबी की वजह से ये क्रेश हो जाते है, जिससे मनुष्य की जान के साथ खिलवाड़ होता है.
  • हवाईजहाज के अलावा लड़ाकू विमान भी बनने लगे, जिसका प्रयोग युद्ध में किया जाने लगा.
  • वायु यातायात समस्या का समाधान –
  • हवाईजहाज ऐसा होना चाहिए जिससे वायु प्रदुषण न हो.
  • युद्ध के लिए इसका इस्तेमाल नहीं होना चाहिए.
  • अच्छे इंजिनियर की नियुक्ति होनी चाहिए, जिससे कोई तकनिकी खराबी न आये.
  1. जल यातायात – बड़े बड़े गहरे समुद्र पर भी मानव ने यातायात संभव कर दिखाया है. छोटी छोटी नौकाओं ने आज बड़े बड़े जहाज, क्रूज की जगह ले ली है. समुद्र में बड़े बड़े जहाज में घूमना पर्यटकों की भी पसंद होता है. समुद्र में तैरते ये जहाज किसी आलिशान होटल की तरह होते है, जिसमें सारी सुख सुविधा होती है. इन जहाज से एक जगह से दुसरे जगह जाने में समय जरुर लगता है, लेकिन यात्रा काफी रोचक होती है. क्रूज भी आजकल काफी प्रचलित है, जो नदी, तालाब में लोगों को सैर कराते है. क्रूज में आजकल लोग पार्टी भी आयोजित करते है, जिसमें अलग अनुभव होता है. कश्मीर, केरल में तो वोट हाउस होते है, जो किसी झील या तालाब पर होते है, जिसमें जितने दिन चाहो रह सकते हो. बड़े बड़े जहाज आयात नियात का भी अच्छा साधन होते है. एक देश से दुसरे देश बड़े बड़े सामानों को आयात नियात विशाल जहाज के द्वारा ही किया जाता है.
  • जल यातायात से होने वाली समस्या –
  • बड़े बड़े जहाज समुद्र में चलते है, कई बार ये ख़राब हो जाते है, और बीच समुद्र में ही खड़े हो जाते है. इन जहाज में रखा तेल, गैस का स्त्राव समुद्र में होने लगता है, जिससे समुद्र में रहने वाले जीवों की जान पर खतरा बन जाता है. ऐसे घटना हमें आये दिन न्यूज़ में सुनाई देती है, पिछले साल मुंबई के पास भी ऐसा हुआ था, जिसमें आयल था, जो समुद्र में जा मिला था. इससे लाखों करोड़ों का नुकसान हुआ था.
  • समुद्र में गंदगी होती है, जिससे प्रकति को नुकसान होता है.
  • समुद्र में रहने वाली कई बड़ी प्रजाति विलुप्त होते जा रही है.
  • जल यातायात की समस्या का समाधान –
  • लम्बी दुरी तय करने वाले जहाज में तकनिकी खराबी न हो इसका विशेष ध्यान रखना चाहिए.
  • जहाज की कैपेसिटी के हिसाब से ही उसमें समान रखना चाहिए.
  • जहाज से समुद्र में रहने वाले जीव जंतु को नुकसान नहीं होना चाइये.
  1. सड़क यातायात – सबसे ज्यादा प्रसिद्ध और सुविधाजनक सडक यातायात होता है, जो दूर व पास सभी दूरियों को पार करता है. सड़कों में हमेशा 2 पहिया या चार पहिया गाड़ी दौड़ती हुई दिखती है. पर्सनल प्राइवेट सभी तरह की गाड़ियाँ होती है. सड़क यातायात के लाभ –
  • ट्रेन यातायात का सबसे आसान, आरामदायक, कम खर्चीला साधन है. ट्रेन की शुरुवात भाप इंजन से हुई थी, लेकिन आज ये डीजल, बिजली से चलती है. ट्रेन के द्वारा हजारों किलोमीटर की यात्रा एक साथ हजारों लोग कर पाते है. भारतीय रेल को और सशक्त बनाने के लिए हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी काफी मेहनत कर रहे है. आज हजारों ट्रेन है, जो देश को एक जगह से दूसरी जगह जोड़ रही है. ट्रेन में आराम के लिए एसी कोच भी होता है, साथ ही खाने पीने के भी भरपूर इंतजाम होते है. स्लीपर क्लास में कम पैसे में आप आसानी से जा सकते है. हमारे देश में आज 200 किलोमीटर प्रति घंटे वाली ट्रेन भी है. मेट्रो ट्रेन भी देश के कई हिस्सों में पाई जाती है. साथ ही बुलेट ट्रेन पर भी काम शुरू हो चूका है.
  • सड़क पर कार, जीप, वैन, बस और अन्य गाड़ियाँ दौड़ती है, जिससे हमारी ज़िन्दगी आसान हो गई है. आज एक से बढकर एक लक्ज़री गाड़ी मार्किट में है. कम कीमत से लेकर करोड़ों की गाड़ी है, जिसे लोग अपनी हैसियत के हिसाब से खरीब सकते है. शहर के अंदर सड़क पर रिक्शा, ऑटो, बाइक, स्कूटर, साइकिल चकती है, जो आम आदमी के बजट में भी आती है, और इससे कम समय में दुरी तय होती है.
  • ट्रकों, ट्राला, ट्रेक्टर के द्वारा भारी समान को एक स्थान से दुसरे स्थान ले जाया जा सकता है.
  • सड़क यातायात से होने वाली समस्या – सड़क यातायात जहाँ हमें बहुत लाभ देता है, लेकिन इससे बहुत सी बड़ी समस्यांए भी होती है.
  • गाड़ियों से निकलने वाले धुएं से वायु प्रदुषण होता है.
  • सड़क यातायात के नियम भारत सरकार द्वारा बनाये गए है, लेकिन कई बार लोग उसे फॉलो नहीं करते है. जिससे सड़क दुर्घटना आम हो गई है. देश में हर रोज हजारों लोग सड़क दुर्घटना में मारे जाते है.
  • ट्रेन के लिए ट्रैक बनाने के लिए बड़े बड़े पहाड़ों, वनों को काटा जाता है, जिससे पर्यावरण पर बहुत बुरा असर पड़ रहा है.
  • सड़क यातायात को और जोड़ने के लिए नदियों, समुद्रों पर ब्रिज बनाये जा रहे है, जिससे जल भी प्रदूषित होता है.
  • इन यातायात के साधनों का उपयोग कर करके इन्सान आलसी हो गया है, कम दुरी में भी वो गाड़ी का उपयोग करता है.
  • गाड़ियाँ बढ़ने से पेट्रोल, डीजल का प्रयोग बढ़ गया है.
  • सड़क यातायात की सबसे बड़ी समस्या ट्रैफिक जैम है, जिससे बड़े शहर में रहने वाले लोग ज्यादा परेशान होते है.
  • सड़क यातायात से होने वाली समस्या का समाधान –
  • यातायात नियमों का ज्ञान सभी को होना चाहिए, जिससे सड़क दुर्घटना की दर कम हो सके.
  • धुएं वाली गाड़ी को नहीं चलाना चाइये, साथ ही हो सके हो कम दुरी के लिए साइकिल का प्रयोग करें, या पब्लिक ट्रासपोर्ट का उपयोग करें. इससे हर गाड़ी में अलग अलग पेट्रोल डीजल भी नहीं लगेगा.
  • सड़क बनाने के लिए वन तो काटे जाते है, लेकिन एक अच्छा नागरिक होने के नाते आपको एक पोधा भी लगाना चाहिए.
  • यातायात नियम का पालन सभी नागरिक हो करना ही चाइये.

यातायात साधन का लाभ हम तभी ले सकते है, जब उसे हम सही ढंग से उपयोग करें. आज हम अगर वातावरण को स्वच्छ रखेंगें, तभी तो अपनी आने वाली पीढ़ी को हम सुंदर वातावरण दे पायेंगें. 

Vibhuti
Follow me

Vibhuti

विभूति दीपावली वेबसाइट की एक अच्छी लेखिका है| जिनकी विशेष रूचि मनोरंजन, सेहत और सुन्दरता के बारे मे लिखने मे है| परन्तु साईट के लिए वे सभी विषयों मे लिखती है|
Vibhuti
Follow me

यह भी देखे

My Favourite Season Essay

मेरा प्रिय मौसम पर निबंध | My Favourite Season Essay in hindi

My Favourite Season Essay in hindi मेरा प्रिय मौसम वर्षा ऋतु है. क्यूकि वर्षा ऋतु …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *