यदि आपका आधार कार्ड गलत हाथों में पड़ जायें, और डर है कि उसका कोई गलत इस्तेमाल न करें, तो यहाँ सभी सवालों के जवाब पढ़ें

आप और हम सभी ये जानते हैं कि हमारे देश में जो सबसे ज्यादा जरुरी दस्तावेज हैं वह है आधार कार्ड. किन्तु आज के समय में देखा जा रहा है कि इस दस्तावेज को लेकर काफी फ्रोड हो रहे हैं. आप सोच रहे होंगे कि ये फ्रोड क्यों हो रहे हैं. तो आपको बता दें कि ये फ्रोड इसलिए हो रहे हैं क्योंकि आधार कार्ड आपके बैंक खाते, पैन कार्ड, राशन कार्ड जैसे कई जरुरी चीजों के साथ लिंक किया हुआ है. ऐसे में यदि किसी व्यक्ति का आधार कार्ड कहीं खो जाता है. तो उसके मन में कई सारे सवाल उठाते हैं जैसे कि आधार कार्ड का कोई गलत इस्तेमाल न कर लें. लेकिन अब आपको डरने की जरूरत नहीं है हमारा यह लेख आपके सभी सवालों के जवाब चुटकियों में दे देगा. जी हां यहाँ हम आपको आप लोगों द्वारा ही पूछे गए कुछ सवालों के जवाब और कुछ महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं. इसे अंत तक पढ़िये.

aadhar card faq in hindi

आधार कार्ड सेंटर खोलें – सरकार दे रही है फ्री में फ्रैंचाइज़ी, आप भी उठा सकते हैं फायदा करना होगा यह काम.

आधार कार्ड से जुडी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी

  • आधार कार्ड में आपकी निजी जानकारी दी हुई होती है. इसलिए इसे कभी भी आपको सार्वजनिक नहीं करना चाहिए.
  • आपको आधार कार्ड बनवाते समय उस मोबाइल नंबर को देना आवश्यक है जो आपका खुद का है, आपके पास है और साथ ही चालू भी होना चाहिये.
  • आधार कार्ड डाउनलोड करने के लिए जरुरी नहीं है कि आपको आपका आधार कार्ड नंबर याद हो, आप इसे रजिस्ट्रेशन नंबर जोकि आपको आधार कार्ड बनवाने के बाद दिया गया था वह या फिर 16 अंकों की वर्चुअल आईडी में से किसी को भी दर्ज करके आधार कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं.
  • यदि आपका आधार कार्ड यूआईडीइआई अधिकारी द्वारा किये गये स्पीड पोस्ट के माध्यम से आप तक नहीं पहुँच पाता है, तो आपको बता दें कि आपका ऑनलाइन डाउनलोड किया गया आधार कार्ड भी मान्य होगा. क्योंकि आपके आधार कार्ड की एक डिजिटल प्रिंट संबंधित अधिकारी द्वारा वेबसाइट पर डाल दी जाती है जिसे एक यूनिक पासवर्ड के माध्यम से ओपन करके डाउनलोड किया जा सकता है. इससे आपका आधार कार्ड सुरक्षित भी रहता है.
  • आधार कार्ड डाउनलोड करने के लिए 8 अंकों का पासवर्ड सेट किया गया है. जिसमें पहले के 4 अंक आधार कार्ड धारक के नाम की स्पेलिंग होती है, और बाकी के 4 अंक आधार कार्ड धारक के जन्म का साल होता है.

आधार कार्ड के फ्रोड से जुड़े कुछ सवाल   

Q : यदि मेरा आधार कार्ड किसी ऐसे व्यक्ति के हाथ लग जाये जो मेरे नाम से बैंक में खाता खुलवाने की कोशिश करें तो मुझे इससे क्या नुकसान होगा ?

Ans : कुछ भी नहीं. क्योंकि सरकारी नियमों के अनुसार आधार कार्ड के जरिये भले ही बैंक में खाता खुल जाता है. लेकिन बैंक में खाता खुलवाते समय अन्य वेरिफिकेशन की भी आवश्यकता होती है. इसके बिना खाता नहीं खुल सकता है. यदि बैंक द्वारा सिर्फ आधार कार्ड के जरिये आपका बैंक में खाता खुल जायें, तो बैंक इस गलती के जिम्मेदार होगा आप नहीं.

आधार कार्ड से जुड़ी कोई भी जानकारी जानना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें.

Q : जिन लोगों के साथ आधार कार्ड संबंधित फ्रोड हुआ है उन्होंने क्या गलती की ?

Ans : फ्रोड करने वाले व्यक्ति अक्सर बड़ी रकम का लालच देते हैं या फिर ये कहते है कि आपका कार्ड ब्लाक कर दिया गया है, और इसके बदले में आपसे सभी जानकारी जैसे कि आपके जन्मतिथि, पैन कार्ड नंबर, यूजर आईडी, यहां तक कि आपके मोबाइल में आने वाला ओटीपी, पासवर्ड एवं पिन प्राप्त कर लेते हैं. लेकिन आपको बता दें कि सरकार ने यह पहले ही स्पष्ट किया हुआ है कि बैंक द्वारा कभी भी इस तरह की जानकारी नहीं मांगी जाती है, ये सभी निजी जानकारी दे देने से ही उनके साथ फ्रोड होता है. आपसे यदि कोई इस तरह की जानकारी फोन करके मांगता है तो आपको सीधे अपने बैंक की ब्रांच में जाकर इसके बारे में पता करना चाहिए.      

Q : यदि किसी व्यक्ति के पास मेरे बैंक खाते में दिया हुआ आधार कार्ड नंबर है तो क्या वह व्यक्ति मेरें खाते से पैसे निकाल सकता है ?

Ans : बिलकुल भी नहीं. जब किसी व्यक्ति को खाते से पैसे निकालने होते हैं तो बैंक के द्वारा तय की गई एक प्रक्रिया को फॉलो करना होता है. जिसके लिए जरुरी होता है कि खाता धारक स्वयं बैंक जाये, चेक में उसके सही हस्ताक्षर हो, इसके अलावा बैंक एटीएम, डिजिटल ट्रांजेक्शन के लिए पिन, ओटीपी, पासवर्ड आदि और भी कई जानकारी मांगते हैं. सिर्फ एक आधार कार्ड नंबर से खाते से पैसे नहीं निकाले जा सकते हैं. इसे इस तरह से भी समझ सकते हैं कि जैसे किसी व्यक्ति को किसी का बैंक खाता नंबर पता है तो इसका मतलब यह नहीं की वह खाते से पैसे निकाल सकता है. ठीक ऐसा ही आधार कार्ड नंबर में भी होता है.

PAN AADHAR LINK – पैन कार्ड एवं आधार कार्ड लिंक नहीं है तो ऐसे करें आवेदन.

Q : क्या किसी व्यक्ति को उसके आधार कार्ड के गलत उपयोग से आर्थिक नुक्सान हो सकता है ?

Ans : यूआईडीएआई के मुताबिक अब तक ऐसा कोई मामला सामने नहीं आया है कि किसी व्यक्ति का आधार कार्ड नंबर चुरा कर उसे आर्थिक आघात पहुँचाया गया हो. आधार कार्ड के प्लेटफॉर्म को सुरक्षित रखने के लिए इसके सिस्टम में कई सारे बदलाव किये जाते रहते हैं. इसलिए इस तरह के किसी भी फ्रोड का मामला अब तक समाने नहीं आ पाया है.

Q : यदि आधार कार्ड नंबर का गलत इस्तेमाल कोई नहीं कर सकता है तो यूआईडीइआई द्वारा सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी देने से क्यों मना किया जाता है ?

Ans : दरअसल भले ही आधार कार्ड नंबर का गलत इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है, लेकिन बिना किसी जरुरत के अपनी निजी जानकारी को सार्वजनिक करना सही नहीं होता है. इससे फ्रोड करने वाला व्यक्ति भले ही आपको आर्थिक नुकसान न पहुंचाएं लेकिन आपको किसी और मुश्किल में जरुर डाल सकता है.

यदि आपके आधार कार्ड में आपकी कोई जानकारी गलत डली हुई है तो उसे ठीक करने एवं उसमें सुधार करने के लिए यहाँ क्लिक करें.

तो ये थे आधार कार्ड से संबंधित आपके द्वारा पूछे जाने वाले कुछ सवाल एवं उनके जवाब. उम्मीद है आधार कार्ड के फ्रोड से संबंधित आपको जो भी परेशानी थी वह अब हल हो गई होगी.

अन्य पढ़ें –

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *