ताज़ा खबर

भारत के बारे में आश्चर्यजनक तथ्य | Amazing Facts About India in hindi

भारत के बारे में आश्चर्यजनक तथ्य | Amazing Facts About India in hindi

भारत विविधताओं से भरा देश है. यहाँ पर कई ऐसी चीज़े मौजूद हैं, जो विश्व भर में कहीं नहीं पायीं जा सकती और इसी वजह से यह देश विश्व भर में बहुत विख्यात है. इस देश में विभिन्न तरह की संस्कृतियाँ एक साथ घुल मिल कर इस देश का सौंदर्य और भी अधिक बढ़ा देती हैं. यहाँ पर कला, संस्कृति और विभिन्न प्रतिभाओं का एक दिलचस्प नमूना देखने मिलता है.

Amazing India Facts

भारत के बारे में आश्चर्यजनक तथ्य

Amazing Facts About India in hindi

यहाँ पर इस देश से सम्बंधित विभिन्न तथ्यों का वर्णन किया जा रहा है, जिसे जान कर आप हैरान रह जायेंगे.

  1. तैरने वाला पोस्ट ऑफिस : भारत में इन्टरनेट की सुदृढ़ व्यवस्था के बाद भी यहाँ पर अब तक डाक व्यवस्था चल रही है. भारत की डाक व्यवस्था में लगभग 1,55,000 पोस्ट ऑफिस मौजूद हैं. इस तरह से 7,175 लोगों पर एक पोस्ट ऑफिस की सुविधा है. डल झील में एक डाकघर ऐसा है, जो डल झील में तैरता रहता है. इसका उदघाटन अगस्त 2011 में किया गया था. यह नेहरु पार्क पोस्ट ऑफिस है, जिसका पिनकोड 190001 है.
  2. कुम्भ का मेला : कुम्भ मेला भारत के विशेष आकर्षणों में एक है. इस मेले के समय सभी श्रद्धालु गंगा स्नान करते है. यह मेला हरिद्वार का कुम्भ मेला, इलाहाबाद कुम्भ मेला, नासिक कुम्भ मेला (त्रिम्बकेश्वर सिंहस्थ), उज्जैन सिंहस्थ आदि इसी उत्सव के अंतर्गत आते हैं. इस मेले की सबसे ख़ास बात ये है कि यह प्रति 12 वर्ष में एक बार होता है, जिसमे देश विदेश के कई श्रद्धालू शामिल होते हैं. साल 2011 में होने वाले कुम्भ मेले में 75 मिलियन श्रद्धाललु शामिल हुए थे.
  3. सर्वोच्च क्रिकेट ग्राउंड : भारत में क्रिकेट सर्वाधिक लोकप्रिय खेल है. यहाँ के सभी बच्चो से लेकर बूढों तक क्रिकेट में और इसकी ख़बरों में दिलचस्पी लेते हैं. बहरत में एक ऐसा क्रिकेट मैदान है, जो बहुत ऊंचाई पर बनाया गया है और लोग वहाँ पर क्रिकेट खेलते भी हैं. समुद्रतल से लगभग 2444 मीटर की उंचाई पर मौजूद यह क्रिकेट ग्राउंड हिमाचल प्रदेश के चिल नामक स्थान पर है. इसका निर्माण वर्ष 1893 में किया गया था. यह चिल मिलिट्री स्कूल के अंतर्गत आता है.
  4. शैम्पू की अवधारणा : शैम्पू की धारणा सबसे पहले भारत में ही शुरू हुई. शैम्पू पहली बार भारत में ब्रिटेन औपनिवेशिक काल में बना था. शैम्पू शब्द की उत्पति भी हिंदी का एक शब्द ‘चम्पू” से बना है. आरम्भ में यह एक आयुर्वेदिक उपचार के रूप में प्रयोग किया जाता था, जिससे तनाव और थकान दूर हो जाती थी. किन्तु बाद में इस शब्द का अर्थ बदलकर बालों में साबुन लगाना हो गया. कैसी हर्बर्ट पहले शैम्पू निर्माता हुए. आधुनिक शैम्पू का आविर्भाव वर्ष 1930 में हुआ.
  5. भारतीय कबड्डी टीम ने अबतक सभी विश्वकप को अपने नाम कराया : कबड्डी एक बहुत ही दिलचस्प खेल है, जिसे अब विश्व भर में खेला जाने लगा है. इसी तरह पिछले 20 वर्षों में कबड्डी के 5 विश्व कप का आयोजन हुआ. इन पांचो कबड्डी विश्वकप टूर्नामेंट में भारत ने पाँचों विश्वकप अपने नाम किया. भारत की महिला कबड्डी टीम ने भी अब तक आयोजित सभी विश्वकप को अपने नाम किया है. इस तरह से भारत अभी तक कबड्डी के लिए विश्व चैंपियन बना हुआ है.
  6. स्विट्ज़रलैंड का साइंस डे डॉ कलाम को समर्पित है : भारत के पूर्व राष्ट्रपति और वैज्ञानिक डॉ एपीजे अब्दुल कलाम विश्व प्रसिद्द व्यक्तित्व थे. इन्होने शिक्षा में और विज्ञान के प्रसार में खूब काम किया. भारत में पहली बार अग्नि-शस्त्रों का निर्माण भी इन्हीं के द्वारा किया गया. इन्होने विश्वभर में भारत का नाम रौशन किया. स्विटज़रलैंड में मनाया जाने वाला विज्ञान दिवस इन्हीं को समर्पित किया है. अतः इस देश में प्रतिवर्ष साइंस डे के दिन डॉ कलाम को याद किया जाता है. यह दिवस स्विट्ज़रलैंड में 26 मई को मनाया जाता है.
  7. भारत के प्रथम राष्ट्रपति ने अपने वेतन का सिर्फ 50% हिस्सा लिया : भारत को आज़ादी प्राप्त होने के बाद यहाँ पर विकास की आवश्यकता थी. आज़ादी मिलने के बाद भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद बने. उन्होंने अपने वेतन का सिर्फ 50% हिस्सा लिया और कहा इससे ज्यादा की उन्हें आवश्यकता नहीं है. अपने बारह वर्ष के कार्यकाल के दौरान इन्होने अपने वेतन का सिर्फ 25% ही लिया और बाक़ी राशि को देश हित के लिए छोड़ दिया. इस समय इनका वेतन महज रू 10,000 रूपए था.
  8. भारत का पहला रॉकेट लौन्चिंग स्टेशन तक साइकिल से ले जाया गया : भारत का पहला रॉकेट जो कि अंतरिक्ष में भेजा जाने वाला था, उसे उसके लौन्चिंग स्टेशन तक साइकिल से ले जाया गया. भारत का पहला रॉकेट साल 1963 में बन कर तैयार हुआ था. यह रॉकेट इतना हल्का और छोटा बनाया गया था कि इसे साइकिल से कहीं पर भी ले जाया जा सकता था. रॉकेट साइंस के क्षेत्र में ये भारत और इसरो की पहली सफलता थी. इस रॉकेट को थुम्बा इक्वेटोरियल लौन्चिंग स्टेशन से अंतरिक्ष में भेजा गया. इसके बाद इसरो ने लगभग 350 रॉकेट बनाए.
  9. भारत अंग्रेजी बोलने वाला विश्व का दूसरा सबसे बड़ा देश है : यह एक विस्मय वाली बात है कि भारत अंग्रेजी बोलने वाला विश्व का दूसरा सबसे बड़ा देश है. इस आंकड़े में भारत से आगे सिर्फ संयुक्त राष्ट्र अमेरिका है. भारत में हिन्दी के साथ अंग्रेजी का भीं खूब इस्तेमाल होता है. कई ऑफिसियल सरकारी कामों में भी अब इसका प्रयोग होने लगा है. यहाँ के लोगों में शिक्षा का प्रसार बहुत जल्द हुआ है, तथा कई विषयों का ज्ञान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अंग्रेजी में ही प्राप्त हो सकता है. अतः यहाँ पर अंग्रेजी भी बहुत अच्छे से बोली जाने वाली भाषा हो गयी.
  10. भारत में विश्व के सबसे अधिक शाकाहारी वास करते हैं : भारत शुरू से ही विश्व भर के लिए धर्म और आध्यात्म का केंद्र रहा है. यहाँ पर कई महात्माओं ने समय समय पर जन्म लिया और लोगों को जीवन का सार समझाया. यहाँ पर न्याय- अन्याय पर भी काफ़ी चर्चाएँ होती रही है. अतः यहाँ पर रहने वाले कई धार्मिक लोग मांसाहार का भक्षण नहीं करते. ऐसे लोग अपना जीवन शुद्ध और सात्विक तरह से व्यतीत करते है, और कभी भी मांसाहार ग्रहण नहीं करते हैं.
  11. विश्व का सर्वाधिक दूध उत्पन्न करने वाला देश : भारत एक कृषि प्रधान देश है, अतः यहाँ पर पशुपालन को भी खूब महत्त्व प्राप्त हुआ है. इसी वजह से यहाँ के गाँव में लगभग सभी के घरों में गाय अथवा भैंस पायी जाती हैं. यही कारण है कि यहाँ पर दूध तथा दूध से बनी सामग्रियों की कमी नहीं होती है. वर्ष 2014 के गणना के अनुसार भारत में 132.4 मिलियन टन दूध उत्पादित किया था, जो विश्व भर के किसी भी देश में उत्पन्न किये गये दूध से अधिक था.
  12. हीरा पहली बार भारत में पाया गया : हीरे का अविर्भाव पहली भार भारत में हुआ. संस्कृत में इसे वज्र कहा जाता है, जिसे भगवान इन्द्र का अस्त्र माना गया है. चौथी शाताबी ईपू के इतिहासों में हीरे का वर्णन पहली बार किया जाता है. यहाँ के बाद यूरोप में भी हीरे पाए जाने लगे 13 वें शताब्दी के आस पास इसका प्रयोग ज्वेलरी के लिये किया जाने लगा. 18 वी सदी के आस पास भारत विश्व का सबसे अधिक हीरा उत्पाद करने वाला देश था. इस समय भी भारत में हीरे का व्यापार बहुत स्वस्थ तरह से चल रहा है.
  13. ध्यानचंद को जर्मनी की नागरिकता का प्रस्ताव मिला था : ध्यानचंद हॉकी के बहुत बड़े खिलाड़ी थे. इन्हें हॉकी का जादूगर भी कहा जाता है. साल 1936 में बर्लिन विश्व कप के दौरान भारत ने ध्यानचंद के नेतृत्व में जर्मनी को 8-1 से हराया था. इसके बाद हिटलर ने हॉकी खिलाड़ी ध्यानचंद को बुलावा भेजा. हिटलर ने उन्हें कहा कि यदि वे जर्मनी की तरफ से हॉकी खेलने के लिए राज़ी हो जाते हैं, तो उन्हें जर्मनी की नागरिकता दी जायेगी और साथ ही जर्मनी मिलिट्री में एक ऊंचा ओहदा भी दिया जाएगा. किन्तु ध्यानचंद ने हिटलर के इस प्रास्ताव को अस्वीकार कर दिया था.
  14. फ्रेडी मरकरी और बेन किंग्सले भारतीय मूल के हैं : विश्व प्रसिद्द क्वीन बैंड के जाने माने गायक फ्रेड्डी मरकरी का जन्म एक पारसी परिवार में फर्रोख बुल्सरा के नाम से हुआ था. वहीं दूसरी तरफ़ जाने माने ऑस्कर अवार्ड प्राप्त हॉलीवुड स्तर बेन किंग्सले का जन्म कृष्ण पंडित भांजी के नाम से हुआ था.
  15. हावेल एक भारतीय कंपनी है : नाम से हालाँकि एक विदेशी कम्पनी लगती है, किन्तु इलेक्ट्रिक वायर बनाने वाली कॉम्पनी हावेल एक भारतीय ब्रांड है. इसे इसके तात्कालिक मालिक द्वारा महज 10 लाख रूपए में ख़रीदा गया था. इस ब्रांड का नाम आज भी इसके पुराने मालिक हवेली राम गुप्ता के नाम पर चल रहा है.
  16. भारत में हाथियों के लिए स्पा की सुविधा है : प्रति वर्ष भारत के पुन्नाथूर कट्टा के ‘एलीफैंट यार्ड रेजुवेनेशन सेंटर’ में हाथियों को एक अच्छा स्पा ट्रीटमेंट दिया जाता है. यह स्थान केरल के गुरुवायुरप्पन हिन्दू मंदिर के अंतर्गत आता है. यहाँ पर 59 हाथियों को स्पा दिया जाता है. इस स्पा के दौरान सभी 59 बड़े बड़े हाथी पानी में आराम करते रहते हैं और लोग इन्हें स्क्रब आदि करते हैं. इस मंदिर के पूजा पाठ आदि में हाथियों का बहुत बड़ा महत्व है.
  17. विश्व का सबसे बड़ा परिवार भारत में हैं : भारत के एक राज्य मिज़ोरम के एक ग्राम बक्तावत में विश्व का सबसे बड़ा परिवार है. यहाँ के निवासी ज़ोना चाना की कुल 39 पत्नियाँ हैं. इन पत्नियों से इन्हें कुल 94 बच्चे, 14 बहुएँ और 33 नाती- पोते भी हैं. पूरा परिवार कम से कम 100 कमरों में निवास करता है, जो कि 4 तल्लों में बना हुआ है.
  18. एक जंगल में केवल एक व्यक्ति के वोट देने के लिए पोलिंग बूथ का निर्माण किया गया है : गुजरात के गिर वन में महंत भारतदास दर्शन दास रहते हैं. इस वन में ये अकेले वास करते हैं, और विभिन्न तरह के चुनावों के दौरान सिर्फ इनके वोट देने के लिए ही एक पोलिंग बूथ की स्थापना की जाती है. इससे यह पता चलता है कि भारत में गणतंत्र का कितना महत्त्व है.
  19. सबसे बड़ी शव यात्रा भारत में हुई थी : विश्व का सबसे बड़ी शव यात्रा भारत के चेन्नई के हुई थी. यह शव यात्रा तमिलनाडु के पूर्व मुख्य मंत्री सीएन अन्नादुराई की थी. उनकी शव यात्रा में लगभग 15 मिलियन लोगों ने हिस्सा लिया था. अन्नादुराई एक बहुत अच्छे लेखक और प्रवक्ता थे. इन्हें इस लिए भी याद किया जाता है कि इन्होने हिंदी को न मानकर तमिल को अपने राज्य की औपचारिक भाषा के रूप में चयन किया था.
  20. हिंदी भारत की राष्ट्रीय भाषा नहीं है : हिंदी भारत में सर्वाधिक बोले जाने वाली भाषा है. समय समय पर इसे राष्ट्रीय भाषा बनाने के मुद्दे पर कई राजनैतिक दलों ने अपने स्वार्थ भी साधे हैं, किन्तु देश में विभिन्न तरह की भाषाएं होने की वजह से हिंदी भारत की राष्ट्रीय भाषा नहीं बनायी जा सकी है. हालाँकि यहाँ के सभी कार्य हिंदी और अंग्रेजी दो भाषाओं में होते हैं. भारत के किसी भी राज्य में वहाँ की स्थानीय भाषा के साथ हिंदी और अंग्रेजी को भी प्रयोग में लाया जाता है. अतः भारत में अभी तक हिंदी को राष्ट्रीय भाषा का दर्ज़ा नहीं मिला है.
  21. विश्व का पहला विश्वविश्वविद्यालय भारत में स्थापित हुआ : ऐसा माना जाता है कि विश्व का पहला विश्व विद्यालय मगध के तक्षशिला में स्थापित किया गया था. इस विश्वविद्यालय का नाम तक्षशिला विश्वविद्यालय था, जिसे 800 ईपू में स्थापित किया गया था. यह विश्वविद्यालय 800 ईपू से 550 ईपू तक चलता रहा, जिसमे देश विदेश के कई विद्यार्थी विभिन्न विषयों में ज्ञानअर्जन किया करते थे. इस विश्वविद्यालय में गणित, आयुर्वेद, ज्योतिष, अंतरिक्ष विज्ञान, संगीत, नृत्य आदि का ज्ञान दिया जाता था.
  22. विश्व का सबसे बड़ा विद्यालय भारत में स्थित है : आज के समय विश्व का सबसे बड़ा विद्यालय भारत में स्थित है. यह भारत के लखनऊ में स्थित है, जिसका नाम सिटी मोंटेसरी स्कूल है. इस विद्यालय में कम से कम 45 हज़ार छात्र हैं. विद्यालय में शिक्षकों की संख्या 2500, 1000 क्लासरूम और 11 क्रिकेट टीमें मौजूद हैं.
  23. चीनी का निर्माण भारत में हुआ था : भारत विश्व का पहला देश था, जहाँ पर चीनी का पहली बार रिफाइंड चीनी बनाया गया. इसके बाद विदेश से आने वाले कई लोग इस प्रक्रिया को समझ कर अपने देशों में चीनी का निर्माण करने लगे.
  24. विश्व का सबसे ऊँचा मंदिर भारत में बनने जा रहा है : भारत के उत्तरप्रदेश के वृंदावन में विश्व का सबसे ऊँचा मंदिर बनने जा रहा है. जिसका नाम वृंदावन चंद्रोदय मंदिर है.

इस तरह से भारत में कई ऐसी रोचक बातें है, जो इस देश को अन्य देशों से भिन्न बनाती है.

अन्य पढ़ें –

Ankita

Ankita

अंकिता दीपावली की डिजाईन, डेवलपमेंट और आर्टिकल के सर्च इंजन की विशेषग्य है| ये इस साईट की एडमिन है| इनको वेबसाइट ऑप्टिमाइज़ और कभी कभी आर्टिकल लिखना पसंद है|
Ankita

2 comments

  1. Thank you so much for giving us this important knowledge……. Its an amazing article.

  2. All Facts are Very Interesting ..आपने बहुत अच्छे से Explain है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *