Annapurna Yojana : महिलाएं आत्मनिर्भर बनना चाहती हैं,तो आसानी से मिलता है लोन,जानिए पूरी प्रक्रिया

हमारे देश की महिलाओं को प्राचीनकाल से ही देवी अन्नपूर्णा का रूप कहा जाता रहा है. अन्नपूर्णा का अर्थ होता हैं स्वादिष्ट खाना बनाने वाला व्यक्ति, जोकि खास तौर पर घर की महिलाएं होती है. घर पर अपने परिवार वालों को महिलाएं स्वादिष्ट खाना खिलाती ही हैं. लेकिन यदि वे अपने इस हुनर को अपना व्यवसाय बना ले, तो उनके आत्मनिर्भर बनने की ओर यह एक महत्वपूर्ण कदम हो सकता है. ऐसी महिला उद्यमियों के लिए हमारे देश की सरकार एवं निजी सेक्टर्स ने मिलकर लोन योजना शुरू की हैं. ताकि उन्हें वित्तीय सहायता मिल सके, और खुद आत्मनिर्भर बनकर वे अपना व्यवसाय करके पैसा कमा सकें. इस योजना की पूरी डिटेल आपको हमारे इस लेख के माध्यम से मिल जाएगी.

PM किसान ट्रैक्टर सब्सिडी योजना : किसानों को आधी कीमत पर मिल रहे है ट्रैक्टर, जानिए आप कैसे उठा सकते है लाभ

अन्नपूर्णा योजना क्या है ?

अन्नपूर्णा योजना सरकार एवं निजी सेक्टर्स के द्वारा मिलकर शुरू की गई एक योजना हैं जिसमें महिला उद्मियों की मदद की जाती हैं. इसमें उन्हें लोन प्रदान किया जाता हैं. ताकि वे अपना व्यवसाय शुरू कर सकें या फिर अपने हालही में चल रहे व्यवसाय का विस्तार कर सकें.

निष्ठा विद्युत मित्र योजना – सरकार दे रही है महिलाओं को रोजगार का अनूठा मौका, हर महीने होगी अच्छी कमाई

अन्नपूर्णा योजना का उद्देश्य                                 

इस योजना को इस उद्देश्य के साथ शुरू किया गया हैं कि महिलाएं स्वयं का व्यवसाय करके पैसे कमा सकें एवं खुद आत्मनिर्भर बनकर खुद की सुरक्षा एवं पालन पोषण करने में समर्थ बन सकें.

PM उज्ज्वला योजना : केंद्र ने तीन फ्री रसोई गैस योजना में किया बदलाव, तीसरे गैस सिलिंडर की किश्त चाहिए तो ऐसे करें आवेदन

अन्नपूर्णा योजना में मिलने वाली लोन राशि

केंद्र सरकार एवं निजी सेक्टर मिलकर लाभार्थी महिलाओं को 50 हजार रूपये तक की लोन की राशि प्रदान करते हैं, जोकि विभिन्न बैंकों के माध्यम से प्रदान की जाती हैं. हालांकि हो सकता हैं कुछ बैंक लाभार्थी महिलाओं से लोन देने के पहले कुछ संपत्ति गिरवी रखने के लिए कहें. यह इसलिए किया जा सकता हैं ताकि बैंक से मिलने वाले लोन राशि को वे जल्द से जल्द लौटा सकें. हालांकि एक बार महिलाओं को लोन राशि मिल जाने के बाद उन्हें कुछ समय सीमा दी जाती हैं जिसमें उन्हें लोन चुकाना होता हैं. इस योजना में महिअलों को 36 मासिक क़िस्तों में लोन राशि चुकाने के लिए कहा जा रहा है.    

UP सेवायोजन रोजगार मेला : युवाओं के लिए अनोखा मौका, बिना शुल्क के पायें नौकरी,जाने प्रक्रिया

अन्नपूर्णा योजना में ब्याज दर

केंद्र सरकार एवं निजी सेक्टर के द्वारा शुरू की गई इस योजना की ब्याज दर बहुत ही सस्ती हैं, जोकि विशेष लोन की सुविधा प्रदान करती हैं. किन्तु यह ब्याज दर का निर्धारण बाजार दर और जिस बैंक से लोन लिया जा रहा हैं उस बैंक द्वारा किया जाता है.

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना-सरकार दे रही है प्रवासी श्रमिकों को रोजगार, जानिए विस्तार से

अन्नपूर्णा योजना का लाभ किसे मिलेगा

केंद्र सरकार एवं निजी सेक्टर द्वारा शुरू की गई अन्नपूर्णा योजना का लाभ देश की उन सभी महिलाओं को दिया जाना हैं, जोकि आत्मनिर्भर बनकर खुद का केटरिंग का व्यवसाय शुरू करना चाहती हैं.

PM कुसुम योजना : किसानों को 90% सब्सिडी पर मिलेंगें सोलर पंप, जाने आप कैसे कर सकते है ऑनलाइन आवेदन

अन्नपूर्णा योजना के लाभ का उपयोग

अन्नपूर्णा योजना के साथ जुड़कर महिलाएं बैंक से लोन लेकर अपना फ़ूड केटरिंग का व्यवसाय शुरू कर सकती हैं. इस योजना के तहत मिलने वाली लोन राशि का उपयोग महिलाएं अपने व्यवसाय को शुरू करने में लगने वाली आवश्यक चीजों को खरीदने में कर सकती हैं. जैसे कि –

  • खाना बनाने के लिए आवश्यक बर्तन, कटलरी, गैस कनेक्शन, अनाज, सब्जी मसालें और अन्य खाना बनाने में उपयोग में लाई जाने वाली चीजें ले सकती हैं.  
  • खाना बनाने के बाद या कुछ ऐसी चीजें जिन्हें गर्म एवं ठंडा रखने के लिए रेफ्रीजरेटर, मिक्सर, हॉट केस एवं टिफिन बॉक्स आदि की आवश्यकता होती हैं. इसकी व्यवस्था भी वे कर सकती हैं.
  • इसके आलवा महिलाएं अपने कैटरिंग का व्यवसाय करते समय अपनी शॉप या घर को व्यवस्थित जमा सकें, इसके कुछ आवश्यक चीजें भी वे ले सकती हैं जैसे कि बर्तन स्टैंड, खाना बनाने के लिए टेबल और साथ में फ़िल्टर किया हुआ पानी आदि.

UP बाल श्रमिक विद्या योजना : कामकाजी बालकों को 1000 रूपए एवं बालिकाओं 1200 रूपए मिलेंगें प्रतिमाह, जानिए प्रक्रिया

अन्नपूर्णा योजना के तहत लोन के लिए आवेदन

अन्नपूर्णा योजना के तहत लाभार्थी महिलाओं को लोन लेना हैं तो इसके लिए उन्हें बैंक जाना होगा. वहां जाकर बैंक से उन्हें इस योजना के बारे में एवं इसके तहत मिलने वाली लोन राशि के बारे में सभी जानकारी मिल जाएगी. साथ में उन्हें आवेदन करने के लिए आवेदन फॉर्म भी वहीं प्राप्त हो जायेगा. 

इस तरह से केंद्र सरकार ने महिलाओं को सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनने में मदद करने के लिए इस योजना को लागू किया है, ताकि महिलाएं अपना खुद का बिज़नेस करें और स्वयं ही अपने परिवार का पालन पोषण करने में सक्षम हो सकें. क्योकि यदि कभी उन्हें अपने परिवार को अकेले ही संभलने की जरुरत पड़ेगी तो वे यह आसानी से कर सकेंगी.     

अन्य पढ़े –

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *