अर्नब गोस्वामी का जीवन परिचय (लेटेस्ट न्यूज़,केस की जानकारी)| Arnab Goswami Biography in Hindi

अर्नब गोस्वामी का जीवन परिचय (शिक्षा, आयु, विवाद, सैलरी, जाति, परिवार, केस, अर्नब गोस्वामी लेटेस्ट न्यूज़ इन हिंदी, (Arnab Goswami Biography in Hindi) (Caste, Age, Family, net worth, news, Wife)

टीवी पर न्यूज़ चैनल तो आप देखते हैं होंगे और अर्णव गोस्वामी को भी आप ने समाचार चैनल रिपब्लिक टीवी पर देखा होगा। रिपब्लिक टीवी के प्रधान संपादक के पद पर अर्णव गोस्वामी पदस्थ है साथ ही वे न्यूज ब्रॉडकास्टिंग एसोसिएशन के वर्तमान अध्यक्ष भी है। अर्णव गोस्वामी अपने बेबाक इंटरव्यू और कमेंट्स के लिए बेहद प्रसिद्ध है. पत्रकारिता से जुड़े होने के बावजूद, उनका नाम भारत में बहुत फेमस है और नेता से लेकर अभिनेता तक सभी इनके शो में जाकर अपना इंटरव्यू देना पसंद करते है. आज हम उनके जीवन के कुछ जाने और अनजाने तथ्यों के बारे में यहां आपको बताने जा रहे हैं।

arnab-goswami-biography-hindi-jivani-age-salary-caste
नाम अर्णव रंजन गोस्वामी
अन्य नामअर्णब, अरनव
पेशा पत्रकार, न्यूज़ एंकर
प्रसिद्धि पत्रकारिता
जन्म 7 मार्च 1973
उम्र 47 साल
हाइट 5.11
जन्म स्थान गुवाहाटी, असम 
राष्ट्रीयता भारतीय
गृहनगर गुवाहाटी, असम 
धर्म हिन्दू
जाति ब्राह्मण
वैवाहिक स्थिति विवाहित
सैलरी 1 करोड़

रिया चक्रवर्ती जीवनी – जानिए रिया के केस में क्या नया मोड़ आया है

अर्णव गोस्वामी जन्म एवं परिवार (Birth, family)

सन 1995 में पत्रकारिता को अपने करियर के रूप में चुनने वाले अर्णव गोस्वामी का जन्म असम के गुवाहाटी में हुआ था। वे अपने माता-पिता के साथ गुवाहाटी में ही रहते थे। गोस्वामी के पिता भारतीय सेना में देश के लिए सेवा कर चुके हैं जो बाद में भारत की राजनीतिक पार्टी बीजेपी में सम्मिलित हो गए। उनकी मां सुप्रभात गेम स्वामी एक लेखिका है। अर्णव गोस्वामी के परिवार के बहुत सारे सदस्य अच्छे पदों पर आसीन रह चुके हैं जैसे उनके दादाजी रजनीकांत गोस्वामी एक वकील के रूप में तथा उनके नाना गौरी शंकर भट्टाचार्य असम के विपक्ष नेता के सामने विधायक के रूप में कार्य कर चुके हैं।

अर्णव गोस्वामी पारिवारिक जानकारी

पत्नी समयाव्रता रे गोस्वामी
बच्चे 2
पिता मनोरंजन गोस्वामी
माता सुप्रभा गोस्वामी
बहन 1

अजीत डोभाल जीवनी – जानिए कौन है भारत के जासूस अजीत, कैसे उन्होंने देश को बचाया है

अर्णव गोस्वामी शिक्षा (Education)

अर्णव ने भारत के अलग-अलग स्कूलों से अपनी पढ़ाई पूरी की क्योंकि उनके पिता एक सेना में जवान थे। हालांकि दिल्ली कैंट में स्थित सेंट मैरी स्कूल से उन्होंने अपनी माध्यमिक परीक्षाएं की और बाद में जबलपुर छावनी के केंद्रीय विद्यालय में जाकर अपनी वरिष्ठ माध्यमिक पढ़ाई पूरी की। दिल्ली यूनिवर्सिटी के हिंदू कॉलेज से उन्होंने समाजशास्त्र में बीए ऑनर्स की डिग्री हासिल करने के बाद सोशल एंथ्रोपॉलजी में मास्टर डिग्री के लिए सैंट एंथोनी कॉलेज ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी इंग्लैंड में दाखिला लिया। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में अर्णव फेलिक्स के विद्वान रह चुके हैं। कॉलेज में उन्हें एक लड़की जिसका नाम समयव्रत रे गोस्वामी था उससे प्यार हो गया जिसके बाद उन्होंने उससे शादी कर ली। अब उनका एक प्यारा सा बेटा भी है।

अर्णव गोस्वामी पत्रकारिता करियर (Career)

  • अर्णव गोस्वामी को पत्रकारिता से बहुत ज्यादा लगाव था उन्होंने कोलकाता के इंग्लिश समाचार पेपर जिसका नाम द टेलीग्राफ के साथ काम करना प्रारंभ किया परंतु 1 साल भी वहां टेक कर काम नहीं कर पाए और दिल्ली आ गए।
  • उसके बाद उन्हें एनडीटीवी से जुड़ने का मौका मिला जिसमें उन्होंने न्यूज़ आवर की एंकरिंग से अपने करियर की शुरुआत फिर से की।
  • कुछ समय पश्चात दिल्ली मेट्रो पर प्रसारित होने वाला न्यूज़ सुना इस प्रोग्राम में भी अर्णव ने एंकरिंग शुरू की।
  • साल 2004 के दौरान अर्णव ने न्यूज़ नाइट एंकरिंग के लिए एशियाई टेलीविजन पुरस्कारों में एशिया का बेस्ट समाचार एंकर का अवार्ड अपने नाम कर लिया।
  • 2006 में उन्होंने एनडीटीवी का साथ छोड़ दिया और फिर टाइम्स नाउ न्यूज़ चैनल में प्रधान संपादक के रूप में फिर से ज्वाइन किया। इस चैनल पर उनकी मेजबानी में एक कार्यक्रम प्रस्तुत किया जाता था जिसका नाम फ्रेंकली स्पीकिंग विद अर्णव रखा गया। इस शो के दौरान उन्होंने बेनजीर भुट्टो, हामिद करजई, दलाई लामा, हिलेरी क्लिंटन, और नरेंद्र मोदी जैसे बड़े-बड़े प्रतिष्ठित हस्तियों का इंटरव्यू लिया।
  • शायद वे टाइम्स नाउ के साथ खुश नहीं थे इसलिए पत्रकारिता की स्वतंत्रता और संपादकीय मतभेदों जैसे राजनीतिक मुद्दों के चलते 1 नवंबर 2016 को उन्होंने चैनल छोड़ दिया।
  • उसके बाद वे रिपब्लिक टीवी से जुड़े जिसमें प्रबंध संपादक के तौर पर वे आज भी मौजूद हैं। वे अपने जीवन की कड़ी मेहनत और रात दिन अपने काम में दिलचस्पी दिखाते हुए आज इस मुकाम पर पहुंच पाए हैं।
  • अपनी पत्रकारिता के जरिए उन्होंने अपने बहुत से विचार लोगों के बीच उजागर किए हालांकि बहुत सारे विवादों से भी उन्हें अपने जीवन में गुजारना पड़ा।

सोनिया गाँधी जीवनी – जानिए सोनिया गाँधी जी ने कब और कैसे करी थी अपने करियर की शुरुवात

अर्णव गोस्वामी के जीवन के अवार्ड (Awards)

  • वर्ष 2008 में अर्णव गोस्वामी ने पत्रकारिता में उत्कृष्टता के लिए रामनाथ गोयंका अवार्ड अपने नाम किया।
  • समाचार टेलीविजन editor-in-chief के लिए अर्णव गोस्वामी को साल 2012 में एनडीए अवार्ड से नवाजा गया।
  • अर्णव को सर्वसम्मति से न्यूज ब्रॉडकास्टिंग फेडरेशन का अध्यक्ष 8 दिसंबर 2019 को चुना गया।

अर्णव और रिपब्लिक टीवी

अर्णव ने बहुत सारे चैनलों के साथ जुड़ने के बाद रिपब्लिक टीवी शुरू किया जो एशिया नेट द्वारा फंडेड था जिसकी शुरुआत 6 मई 2017 को हुई। उनके इस चैनल में एशिया नेट में मुख्य रूप से राज्यसभा के तत्कालीन स्वतंत्र सदस्य जिनका नाम राजीव चंद्रशेखर था, उन्होंने निवेश किया जो फिलहाल बीजेपी पार्टी के सदस्य भी है और केरल में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के उपाध्यक्ष के पद पर मौजूद थे। बीजेपी में आधिकारिक रूप से शामिल होने के बाद राजीव चंद्रशेखर ने एशिया नेट के निदेशक के तौर पर इस्तीफा दे दिया। अर्णव के द्वारा शुरू किया गया टीवी न्यूज़ चैनल बहुत से विवाद के बावजूद अत्यधिक प्रसिद्ध है. एशिया में यह एक मात्र इंग्लिश न्यूज़ चैनल है जो लगातार 100 हफ़्तों तक नंबर एक की पोजीशन पर रहा है, इससे पहले किसी भी न्यूज़ चैनल ने यह मुकाम हासिल नहीं किया था.

अर्नब गोस्वामी लेटेस्ट न्यूज़ इन हिंदी (Latest News)

अर्णव गोस्वामी को बुधवार सुबह मुंबई पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है. गिरफ्तार करने की वजह एक 53 वर्षीय इंटीरियर डिज़ाइनर और उसकी माँ की कथित आत्महत्या का मामला बताया जा रहा है. कहा जा रहा है कि अर्णव ने रिपब्लिक नेटवर्क के स्टूडियो का इंटीरियर डिज़ाइन कराया था जिसका उन्होंने पेमेंट नहीं किया था और अर्णव ने इंटीरियर डिज़ाइनर का किसी वजह से अपमान भी कर दिया था, जिसके बाद इंटीरियर डिज़ाइनर ने आत्महत्या कर ली. फिर अर्णव के खिलाफ इस पर केस भी हुआ. केस काफी समय से चला आ रहा था. और आज मुंबई पुलिस द्वारा अर्णव को आईपीसी की धारा 306 के तरह आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है.

अर्नब गोस्वामी केस (Controversy) –

  • रिपब्लिक टीवी के अध्यक्ष शेखर गुप्ता पर आरोप लगाते हुए लाइव टेलीविजन पर एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया के सदस्य के रूप में 20 अप्रैल 2020 को अर्णव ने कई कारणों का हवाला देते हुए इस्तीफा दे दिया।
  • शशि थरूर ने अर्णव और रिपब्लिक टीवी पर आरोप लगाया था कि उनकी पत्नी सुनंदा थरूर की मृत्यु में उनका हाथ है. इसके लिए उन्होंने हाई कोर्ट में अर्जी भी की थी.
  • साल 2020 में सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु के बाद अर्णव ने कई बार इस केस को नए एंगल के साथ अपने न्यूज़ चैनल पर दिखाया है, जिससे वो काफी विवाद में रहे है. अर्नव ने अंकिता लोखंडे के साथ इंटरव्यू करके काफी सुर्खिया बटोरी थी.

FAQ –

Q: अर्नब गोस्वामी कितना कमाते है?

Ans: 1.4 करोड़ हर महीने, सालाना 383 करोड़ नेट वर्थ.

Q: अर्नब गोस्वामी की पत्नी कौन है?

Ans: सम्याव्रता रे गोस्वामी

Q: अर्नब गोस्वामी कौन है

Ans: एक भारतीय टीवी एंकर और पत्रकार है.

Q: अर्णब गोस्वामी पर कौनसा केस चल रहा है?

Ans: सुनंदा पुष्कर मृत्यु केस

अन्य पढ़ें –

Follow me

Vibhuti

विभूति अग्रवाल मध्यप्रदेश के छोटे से शहर से है. ये पोस्ट ग्रेजुएट है, जिनको डांस, कुकिंग, घुमने एवम लिखने का शौक है. लिखने की कला को इन्होने अपना प्रोफेशन बनाया और घर बैठे काम करना शुरू किया. ये ज्यादातर कुकिंग, मोटिवेशनल कहानी, करंट अफेयर्स, फेमस लोगों के बारे में लिखती है.
Vibhuti
Follow me

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *