Home जीवन परिचय अरुणाचलम मुरुगनंतम का जीवन परिचय व पैडमैन की कहानी | Arunachalam Muruganantham...

अरुणाचलम मुरुगनंतम का जीवन परिचय व पैडमैन की कहानी | Arunachalam Muruganantham Biography

0

Padman :- अरुणाचलम मुरुगनंतम का जीवन परिचय व पैडमैन की कहानी | Arunachalam Muruganantham Biography, Padman Movie story in hindi (Akshay Kumar)

Padman ka asli naam अरुणाचलम मुरुगनंतम hai. अरुणाचलम मुरुगनंतम ने महिलाओं के लिए काफी योगदान किया है. आज भी भारत के कई गांवों में पीरियड्स के दौरान वहां कि महिलाएं पैड का इस्तेमाल नहीं करती हैं. इसकी वजह पैड्स का महंगा होना है. गांव के इलाकों में लोगों की इतनी आमदनी नहीं होती है कि वो हर महीने अपनी आमदनी में से पैड खरीद सके. भारत की महिलाओं की इसी समस्या को बखूबी से समझकर इसका हल अरुणाचलम मुरुगनंतम ने निकाला. आज हम आपको ये बताएंगे कि किस तरह से उन्होंने महिलाओं के पैड नहीं खरीद पाने की समस्या को हल किया.

कौन हैं अरुणाचलम मुरुगनंतम ( Who is Arunachalam Muruganantham the sanitary napkin man )

नामअरुनाचलम मुरुगनांथम
जन्म12 अक्टूबर 1961
जन्म स्थानकोयंबतूर, तमिलनाडू
उम्र61 साल
राष्ट्रीयताभारतीय
व्यवसायसामाजिक व्यावसायी
स्कूलपता नहीं
कॉलेजपता नहीं
शैक्षिक योग्यतापढ़ाई बीच में छोड़ दी थी
पिता का नामएस. अरुणाचलम
माता का नामए, वनिता
शौकनई खोज और आविष्कार करना, पढ़ना, सामाजिक कार्य करना
पुरस्कारवर्ष 2006 में, भारत की पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने राष्ट्रीय नवप्रवर्तन अवार्डवर्ष2014 में, टाइम पत्रिका ने उन्हें दुनिया के 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की सूची में रखा।वर्ष 2016 में, भारत सरकार द्वारा पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
वैवाहिक स्थितिविवाहित
पत्नी का नामशांति
बच्चेएक बेटी
संपत्तिपता नहीं

अरुणाचलम मुरुगनंतम का जन्म भारत के तमिलनाडु राज्य में सन् 1962 में हुआ था. तमिलनाडु राज्य के कोयम्बटूर में जन्मे अरुणाचलम मुरुगनंतम बेहद ही गरीब परिवार से आते थे. जब मुरुगनंतम छोटे थे, तभी उनके पिता का निधन एक सड़क दुर्घटना में हो गया था. उनके पिता एस. अरुणाचलम के निधन के बाद उनको उनकी मां ए. वनिता ने मजदूरी करके पाला था. 14 साल की उम्र में मुरुगनंतम को उनके स्कूल से बाहर निकाल दिया गया था. जिसके बाद उन्होंने अपना घर चलाने के लिए कई तरह की नौकरियां की. वहीं आज वो अपनी मेहनत के दम पर देश के एक सामाजिक उद्यमी के तौर पर जाने जाते हैं. वहीं मुरुगनंतम कहते हैं कि वो चाहते हैं कि हर गांव की महिला सैनिटरी नैपकिन का इस्तेमाल करे.

Arunachalam Muruganantham padman movie

पत्नी के लिए बनाएं सस्ते पैड (Arunachalam Muruganantham sanitary pad story in hindi)

अरुणाचलम मुरुगनंतम की सन् 1998 में शांती नाम की एक महिला से शादी हुई थी. अपनी पत्नी शांती का पीरिड्य के दौरान महंगे पैड ना खरीद पाने और पैड की जगह न्यूजपेपर का इस्तेमाल करने की बात जब अरुणाचलम को पता चली, तो उन्होंने सस्ते पैड बनाने का ठान लिया. अरुणाचलम मुरुगनंतम को सस्ते पैड की मशीन बनाने के लिए करीब दो साल लगे. इस दौरान उन्हें कई बार निराशा भी हाथ लगी. मगर उन्होंने हार का सामना करते हुए, कम लागत में सैनिटरी नैपकिन बनाने वाली मशीन का आविष्कार कर ही डाला.

जयाश्री इंडस्ट्रीज की स्थापना (Jayashree Industries)

अरुणाचलम मुरुगनंतम ने सस्ते पैड बनाए जाने वाली मशीन और तकनीक के अपने सुझाव को साल 2006 में आईआईटी मद्रास के सामने रखा था. जिसके बाद अरुणाचलम मुरुगनंतम के इस आविष्कार को नेशनल इनोवेशन फाउंडेशन ग्रासरूट टेक्नोलॉजिकल इनोवेशन अवॉर्ड के लिए भेजा गया. वो इस अवॉर्ड को जीतने में सफल हुए. पुरस्कार जीतने के बाद उन्होंने जयाश्री इंडस्ट्रीज की स्थापना की. जयाश्री इंडस्ट्रीज द्वारा बनाई गई 1300 से ज्यादा मशीनें भारत के 27 राज्यों के अलावा अन्य सात देशों में स्थापित की गई हैं . वहीं कई कॉर्पोरेट संस्थाओं ने उनके इस आविष्कार को खरीदने की कोशिश की मगर उन्होंने इसे बेचने से इंकार कर दिया. इतना ही नहीं मुरुगनांतम ने कई जानी मानी संस्थानों में भाषण भी दिया है, जिसमें से आईआईटी बॉम्बे, आईआईएम बैंगलोर, आईआईएम अहमदाबाद और हावर्ड शामिल हैं.

मुरुगनंतम की उपलब्धियों (Arunachalam Muruganantham Awards)

अरुणाचलम मुरुगनंतम को भारत सरकार द्वारा पद्म श्री से सम्मानित किया गया है. मुरुगनंतम को टाइम मैगज़ीन द्वारा विश्व के सबसे 100 प्रभावशाली लोगों की सूची में साल 2014 में शामिल किया गया था. उन्हें “जव्ल्स ऑफ कोयम्बटूर ” अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया है. इतना ही नहीं उनकी भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी, यूनाइटेड स्टेट के 44 वे राष्ट्रपति बराक ओबामा, शी जिनपिंग, शिंजो आबे, पुतिन, अरुंधति राय, हिलेरी क्लिंटन आदि जैसे विश्व प्रसिद्ध नेता और हस्तियों ने सराहना भी की है. मुरुगनंतम के ऊपर कई डॉक्यूमेंट्री भी बनाई गई है.

मुरुगनांतम के जीवन पर बन रही है फिल्म (Arunachalam Muruganantham life based movie Padman)

मुरुगनांतम ने जिस तरह अपने जीवन में कई तरह के संघर्ष करते हुए, समाज की महिलाओं के लिए एक बेहतरीन आविष्कार किया हैं. उसकी जितनी सहाराना की जाए जो कम है. उनकी इसी मेहनत को देखकर बॉलीवुड में उनके जीवन के ऊपर ‘पेंडमन’ नाम की एक फिल्म भी बनाई जा रही है. इस फिल्म में उनकी भूमिका अभिनेता अक्षय कुमार निभा रहे हैं.

FAQ

Q- रियल लाइफ पैडमैन कौन है?

Ans- रियल लाइफ का पैडमैन है अरुणाचलम मुरुगनंतम।

Q- अरुणाचलम मुरुगनंतम का जन्म कब और कहां हुआ?

Ans- अरुणाचलम मुरुगनंतम का जन्म 12 अक्टूबर 1961 को कोयंबतूर में हुआ।

Q- अरुणाचलम मुरुगनंतम को कब आया इसका सुझाव?

Ans- अरुणाचलम मुरुगनंतम को 2006 में आया इसका सुझाव।

Q- अरुणाचलम मुरुगनंतम ने कहां-कहां भाषण दिया है?

Ans- अरुणाचलम मुरुगनंतम ने आईआईटी बॉम्बे, आईआईएम बैंगलोर, आईआईएम अहमदाबाद और हावर्ड शामिल हैं।

Q- अरुणाचलम मुरुगनंतम पर बनी फिल्म में किसने निभाया था उनका किरदार?

Ans- अक्षय कुमार।

Q- कैसा रहा अरुणाचलम मुरुगनंतम का जीवन?

Ans- काफी संघर्षमय जीवन बीता चुके हैं अरुणाचलम मुरुगनंतम।

होम पेजयहाँ क्लिक करें

अन्य पढ़ें –

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here