अटल पेंशन योजना की पूरी जानकारी 2020| Atal pension Yojana in Hindi

अटल पेंशन योजना 2020 -2021 Atal pension Yojana Scheme in Hindi (APY) Online/Offline Application Form Process, Eligibility Criteria, Calculator, Chart, Premium Plan, Benefit, List, Login, Balance, Bank, Brochure, App, PDF

अटल पेंशन योजना को पहले स्वावलंबन योजना के नाम से पहचाना जाता था. यह पेंशन योजना भारत सरकार के द्वारा दिए गए सहयोग और समर्थन से चलाई जा रही है, जिसका उल्लेख फरवरी 2015 के बजट भाषण में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने किया था. अटल पेंशन योजना एक गारंटीकृत पेंशन स्कीम है और इस योजना को पेंशन विनियामक निधि (रेगुलेटरी फण्ड) और विकास प्राधिकरण यानि पेंशन फण्ड एंड डेवेलोपमेंट अथॉरिटी के माध्यम से भारत सरकार द्वारा चलाया जाती है.

अटल पेंशन योजना के लॉन्च का विवरण (Atal pension yojana scheme launched Date)

इस योजना को 2015 में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा कोलकाता में किया गया था. पहले की स्वावलंबन योजना में मौजूद त्रुटियों को खत्म कर उसको नवनीकृत कर अटल पेंशन योजना का नाम दिया गया है. जो भी ग्राहक स्वावलंबन योजना से जुड़े थे, उन सभी को इस योजना से जोड़ा जायेगा.  

अटल पेंशन योजना का उद्देश्य (Atal pension yojana objectives)

इस योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि आर्थिक रूप से पिछड़े हुए असंगठित क्षेत्र के गरीब लोग अपने वृद्धा अवस्था में आर्थिक तंगी से बचने के लिए अपनी जवानी में ही इस योजना के माध्यम से अपने लिए आर्थिक मदद खुद अर्जित कर सकते हैं.  

Atal Pension Yojana

अटल पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए आवश्यक योग्यता (Atal pension yojana eligibility criteria):

  • ग्राहक भारतीय निवासी होना चाहिए. इस पेंशन योजना का लाभ सिर्फ वैसे लोग ले सकते है, जिनकी आयु की सीमा 18 साल से लेकर 40 साल तक के बीच की है. इस योजना के तहत 20 साल तक आपको न्यूनतम भुगतान करना पड़ेगा या इससे अधिक भी हो सकता है.
  • इस योजना के तहत मिलने वाली सरकारी सहायता सिर्फ उन लोगों के लिए उपलब्ध है, जो आयकर का भुगतान नहीं करते है और जिन्होंने 31 मार्च 2016 के पहले इस योजना के लिए अपना पंजीकरण कराया था.

अटल पेंशन योजना के तहत लगने वाले आवश्यक दस्तावेज

इसके लिए आपके पास आधार कार्ड एवं सेविंग्स बैंक अकाउंट या बचत खाता के साथ-साथ निवास प्रमाण के लिए राशन कार्ड या बैंक पासबुक की प्रतिलिपि भी ली जा सकती है. इतना ही नहीं आपसे निवास प्रमाण पत्र भी मांगा जा सकता है. 

अटल पेंशन योजना की प्रमुख विशेषताएं

  • इस योजना के तहत भारत सरकार का 50% सह-योगदान होगा, जो सीधे आपके खाते में प्रति वर्ष डाली जाएगी. हालाँकि यदि आप किसी भी तरह के सामाजिक सुरक्षा जैसी अन्य योजना का हिस्सा है तो आप सरकारी अंश दान का लाभ नहीं ले सकते है.  
  • इस योजना के तहत सरकार शुरुआत के पांच सालों तक ही ग्राहकों को सह- योगदान देगी. इस पेंशन योजना के तहत खुले खाते को प्रधानमंत्री के जन धन योजना के तहत खोले गए खाते से भी जोड़ा जायेगा और इसमें दिया गया योगदान स्वचलित रूप से कट जायेगा, योजना के अनुसार पैसों के लेनदेन के काम को ऑटो डेबिट सुविधा के अंतर्गत पूरा किया जायेगा. इसलिए ग्राहकों को तारीखों को याद रखने की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा.     
  • इस योजना के तहत ग्राहक को 60 वर्ष की उम्र के बाद ही पेंशन की सुविधा प्रदान की जायेगी. अगर इस उम्र के बीच उनकी मृत्यु हो जाती है तब जो भी जमा पूंजी है उसे नॉमिनी को दे दी जायेगी. साथ ही उसे ब्याज की राशि भी प्रदान की जाएगी.
  • उसके बाद उस ग्राहक का अकाउंट बंद हो जायेगा. अगर उसकी मृत्यु 60 वर्ष के उम्र के बाद होती है तब पेंशन की राशि ग्राहक की पत्नी या उसके पति को प्रदान की जाएगी. ग्राहक के द्वारा नामंकित व्यक्तियों की पहचान के लिए आधार कार्ड आवश्यक दस्तावेज होगा.         

अटल पेंशन योजना के तहत मिलने वाली पेंशन की राशि (atal pension yojana money return in hindi) 

  1. इस योजना के तहत 1000 रुपये से 5000 रुपये तक की राशि पेंशन के रूप में नागरिक प्राप्त कर सकते है. पेंशन की राशि नागरिकों के द्वारा जमा किये गए उम्र के आधार पर, एवं उसके द्वारा दिए गए योगदान के आधार पर निर्भर करेगी.
  2. इस योजना के द्वारा लाभकर्ता या ग्राहक जितनी भी पेंशन राशि की प्राप्ति की चाहत रखता है उसके अनुसार दी हुई. कुल राशि को दी हुई अवधि 20 वर्ष तक के अन्दर जमा करना पड़ेगा.
  3. इस पेंशन योजना से जिस उम्र में नागरिक जुड़ते है उस वक्त उनकी जो भी उम्र होगी जैसे कि 18, 20, 25 वर्ष इत्यादि, उस उम्र के अनुसार हर महीने देने वाली योगदान की राशि को निर्धारित किया गया है. जिसे हमने नीचे टेबल में दर्शित किया है  –
क्र.म. ग्राहक या लाभकर्ता के लिए निर्धारित उम्र 1000 रुपये पेंशन को पाने के लिए निर्धारित अंशदान2000 रुपये पेंशन को पाने के लिए निर्धारित अंशदान3000 रुपये पेंशन को पाने के लिए निर्धारित अंशदान4000 रुपये पेंशन को पाने के लिए निर्धारित अंशदान5000 रुपये पेंशन को पाने के लिए निर्धारित अंशदान
1.184284126168210
2.2050100150198248
3.2576151226301376
4.30116231347462577
5.35181362543722902
6.4029158287311641454
7.नामांकित व्यक्ति को पैसे की वापसी1.7 लाख3.4 लाख 5.1 लाख6.8 लाख 8.5 लाख

 

 

इस योजना के माध्यम से पेंशन का लाभ लेने के लिए चुने गए पेंशन योजना के अनुसार जो योगदान की कुल राशि बताई गयी है उसे देना होगा.

इस तरह जितनी जल्दी आप इस योजना का हिस्सा बनेगें, उतना ही कम मासिक योगदान करना पड़ेगा, जिस वजह से आप पर पैसे का अतिरिक्त दबाव नहीं पड़ेगा और जितनी ज्यादा उम्र में या देरी से इस योजना से जुड़ेंगे, आप के मासिक योगदान की राशि बढ़ जाएगी.   

अटल पेंशन योजना के तहत ग्राहकों को दिए जाने वाले दंड (Atal pension yojana disadvantages or Penalty Criteria) 

इस योजना के तहत अगर ग्राहक राशि को जमा करने में विलम्ब करता है, तो उसे कम से कम 1 रुपया और ज्यादा से ज्यादा 10 रुपया दंड स्वरुप देना पड़ेगा.

जिस तरह के पेंशन योगदान की राशि होगी, उसी के अनुसार दंड की राशि तय है –

  • प्रतिमाह 100 रुपये के योगदान के लिए प्रति माह 1 रुपये का जुर्माना भरना पड़ेगा.
  • प्रतिमाह 101 से 500 रुपये की सीमा तक की राशि योगदान के लिए प्रतिमाह 2 रुपये तक का जुर्माने के तौर पर भरना पड़ेगा.
  • प्रतिमाह 501 से 1000 रुपये के बीच तक की राशि योगदान के लिए प्रतिमाह 5 रुपये तक का जुर्माना भरना पड़ेगा.
  • प्रतिमाह 1000 रुपये से अधिक राशि के योगदान के लिए हर महीनें 10 रुपये तक का जुर्माना भरना पड़ेगा.  

अटल पेंशन योजना के नियम (atal pension yojana rules and regulations)

  • 6 महीने तक लगातार अगर किसी भी तरह का दोष या डिफ़ॉल्ट जैसे कि खाता के रख रखाव, खाते में पूंजी का शून्य हो जाना इत्यादि पाया गया तो खाता को फ्रीज यानि सरकारी पैसा आना बंद कर दिया जायेगा.
  • 12 महीने तक लगातार गड़बड़ी पाई गयी तो खाता को निष्क्रिय कर दिया जायेगा. पूरे एक साल तक डिफ़ॉल्ट अर्थात पैसे को नहीं डाला गया तो खाते को पूरी तरह से बंद कर दिया जायेगा.     

अटल पेंशन योजना के तहत आवेदन करने का तरीका (How to apply for atal pension yojana):

आप अपनी सुविधा के अनुसार ऑनलाइन या ऑफ़लाइन दोनों ही प्रकार से इस पेंशन योजना में अपना पंजीकरण कर सकते है.

  1. ऑफ़लाइन (Offline Process):

    इसके लिए आप बैंक शाखा या डाकघर से संपर्क करे जहाँ आपने अपना बचत बैंक खाता खोला है, वहां से फॉर्म को लेकर दिए गये विवरण को भरकर जमा कर दें.

  2. ऑनलाइन (How to open atal pension yojana online) :

    इंटरनेट बैंकिंग का उपयोग करके अटल पेंशन योजना के लिए आप सीधे नामांकन कर सकते है. यह सुविधा सभी बैंक नहीं प्रदान करते है लेकिन कुछ बैंकों के द्वारा इस सुविधा को उपलब्ध कराया जाता है. आप इस लिंक के माध्यम से सभी जानकारियों को प्राप्त कर सकते है या यहाँ से फॉर्म भी डाउनलोड कर सकते है. हमने एसबीआई बैंक के अंतर्गत एपीआई के लिए आवेदन के तरीकों का वर्णन किया है जो निम्न है –

    इसके लिए आपको पहले नेट बैंकिंग खाते में लॉग इन करना होगा, फिर मेरा खाता टैब के तहत आप सामाजिक सुरक्षा योजना का चुनाव करें. उसके बाद आपके सामने एक नई पृष्ठ खुलेगी जिसमे चयन योजना का विकल्प होगा उसमे अटल पेंशन योजना को चुने फिर अपने बचत खाता संख्या को चुने जिसे आप योजना से लिंक करना चाहते है और उसे जमा कर दें.

    जैसे ही आप सबमिट या जमा करेंगे आपको ग्राहक पहचान (सीआईएफ़) संख्या का चयन करने का विकल्प मिलेगा, जिसे चयनित करने के बाद जमा कर दें. उसके बाद आपके सामने इंटरनेट आवेदन का पृष्ठ खुल जायेगा.

    आवेदन में दिए गए निर्देशों के अनुसार विवरण को भरना होगा. जैसे कि – बैंक का विवरण, व्यक्तिगत विवरण, जन्म तिथि, पेंशन का विवरण, अंशदान की राशि इत्यादि सभी विवरणों को भरकर जमा कर दें.

 अटल पेंशन योजना कैसे बंद करे (atal pension yojana closure procedure)

सबसे महत्वपूर्ण जानकारी यह है कि अगर आप अटल पेंशन योजना के लिए ऑन लाइन आवेदन कर सकते है, लेकिन ऑनलाइन सदस्यता को समाप्त नहीं कर सकते है, इसके लिए आपकों बैंक के होम ब्रांच में जाना पड़ सकता है, जो कि आपके लिए परेशानी का कारण बन सकता है.       

Atal Pension Yojana FAQ

अटल पेंशन योजना क्या है

यह एक पेंशन योजना है जिसके अंतर्गत वर्तमान समय में प्रीमियम भरने के बाद 60 वर्ष की आयु के बाद 1000 से ₹5000 तक की राशि पेंशन के रूप में लाभार्थी को मिलती है। इस योजना का लाभ लेने के लिए इस योजना के अंतर्गत निवेश करना आवश्यक है।

अटल पेंशन योजना कब लागु हुआ ?

2015

अटल पेंशन योजना के अंतर्गत प्रीमियम कितना भरना होता है

अटल पेंशन योजना के अंतर्गत जिस उम्र में व्यक्ति भाग लेता है उस उम्र के अनुसार प्रीमियम राशि का भुगतान करना होता है यह प्रीमियम राशि बहुत ही कम होती है मासिक प्रीमियम भरने पर सबसे कम प्रीमियम ₹210 एवं अधिकतम प्रीमियम ₹1454 का भरा जाता है। यह आंकड़ा ₹5000 मासिक पेंशन के लिए है।

अटल पेंशन योजना के अंतर्गत कितनी आयु में पंजीयन करवा सकते हैं

इस योजना के अंतर्गत 18 से 40 वर्ष का व्यक्ति भाग ले सकता है।

अटल पेंशन योजना के अंतर्गत कितनी पेंशन मिलती है

इस योजना के अंतर्गत 1000 से 5000 के बीच पेंशन मिलती है जिसका चुनाव लाभार्थी को स्वयं करना होता है।

अटल पेंशन योजना के अंतर्गत किस आयु में पेंशन मिलती है

हमारे देश में पेंशन के लिए निर्धारित आयु 60 वर्ष के बाद की है इसके बाद ही कोई भी व्यक्ति सीनियर सिटीजन कैटेगरी के अंदर आ जाता है और उससे इस तरह के लाभ दिए जाते हैं।

अटल पेंशन योजना का क्या नियम है

इस योजना के अंतर्गत बहुत से नियमों का पालन किया जाता है सबसे पहले योजना के अंतर्गत पंजीयन के लिए 18 से 40 वर्ष की आयु होना जरूरी है।कम से कम 20 वर्ष के प्रीमियम भुगतान के बाद 60 वर्ष की आयु के पश्चात लाभार्थी को अधिकतम ₹5000 पेंशन के तौर पर मिलते हैं। इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी की मृत्यु हो जाने की एवज में भी नियम बनाए गए हैं। लाभार्थी अपना नॉमिनी बना सकता है योजना के अंतर्गत पति का डिफॉल्ट नॉमिनी पत्नी है एवं पत्नी का डिफॉल्ट नॉमिनी पति है इसके अलावा भी किसी एक को नॉमिनी बनाया जा सकता है। योजना के अंतर्गत कॉरपस अमाउंट का भी ध्यान रखा गया है जो कि अधिकतम 8 पॉइंट 5 लाख के आसपास होता है।

अटल पेंशन योजना का टोल फ्री नंबर क्या है

1800-180 -1111

अन्य पढ़े :

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *