डॉ भीमराव अम्बेडकर अनमोल वचन | Bhim Rao Ambedkar Quotes In Hindi

डॉ भीमराव अम्बेडकर अनमोल वचन ( Dr Bhim Rao Ambedkar Quotes In Hindi)

बी. आर.  अम्बेडकर भारत के संविधान निर्माता हैं, जिनका जन्म 14 अप्रैल को मध्य प्रदेश के महू में हुआ . आज भी इनके जन्म दिवस पर महू से संभाग इंदौर तक रैली निकाली जाती हैं .ये देश में व्याप्त उच्च नीच के भेद भाव से अत्यंत अशांत थे, जिसके लिए वे लोगो को जागरूक करने का निरंतर प्रयास करते रहे .

बी. आर.  अम्बेडकर जीवन परिचय 

SN बिंदु परिचय
1 नाम डॉक्टर भीम राव अम्बेडकर (बाबा साहेब)
2 जन्म 14 अप्रैल 1891 महू
3 मृत्य 6 दिसंबर 1956 दिल्ली
4 स्नातक वकालत, अर्थशास्त्र, राजनीति शास्त्र (लंदन ऑफ़ इकोनॉमिकस)
5 काम प्रोफ़ेसर, अर्थशास्त्री,वकील
6 मुख्य कार्य भारत संविधान निर्माता
7 अवार्ड भारत रत्न

Dr. B.R. Ambedkar Quotes in Hindi

बी. आर.  अम्बेडकर अनमोल वचन (Dr.B.R. Ambedkar Quotes in Hindi)

  • मनुष्य एवम उसके धर्म को समाज के द्वारा  नैतिकता  के  आधार  पर चयन करना चाहिये .अगर  धर्म  को  ही मनुष्य के लिए सब कुछ मान लिया जायेगा तो किन्ही और मानको का कोई मूल्य नहीं रह जायेगा .
  • जिस तरह हर एक व्यक्ति यह सिधांत दोहराता हैं कि एक देश दुसरे देश पर शासन नहीं कर सकता उसी प्रकार उसे यह भी मानना होगा कि एक वर्ग दुसरे पर शासन नहीं कर सकता .
  • भारतियों पर दो भिन्न विचारधाराये शासन कर रही हैं एक तरफ राजनैतिक अर्थात देश जो उन्हें संविधान के तहत स्वतंत्रता, समानता और आदर्श की तरफ प्रेरित करती हैं और दूसरी तरफ धर्म जो इसके विरुद्ध इन सबका तिरस्कार करता हैं .
  •  ज्ञान का विकास ही मनुष्य का अंतिम लक्ष्य होना चाहिये .
  • किसी भी कौम का विकास उस कौम की महिलाओं के विकास से मापा जाता हैं .
  • राजनैतिक शरीर के लिए कानून और व्यवस्था ही दवा हैं और जब भी राजनैतिक शरीर बीमार होता हैं उसे क़ानून  और  व्यवस्था  की दवा ही लगती हैं .
  • किसी भी क्रांति की सफलता के लिए गुस्सा/जोश ही पर्याप्त नहीं हैं . जो जरुरी हैं वो हैं न्याय एवम राजनैतिक, सामाजिक अधिकारों में सच्ची आस्था .
  •  मैं उस धर्म को पसंद करता हूँ जो स्वतंत्रता,समानता और भाईचारे का भाव सिखाता हैं .
  • इतिहास गवाह हैं जब भी अर्थशास्त्र एवम नैतिक मूल्यों के बीच टकराव हुआ हैं सदैव जीत अर्थशास्त्र के साथ थी . स्वार्थ को कभी इच्छा के साथ नहीं जोड़ा जाता जब तक कि उसे बल पूर्वक धकेला ना गया हो .
  • एक  महान व्यक्ति एक  प्रख्यात व्यक्ति से एक ही बिंदु पर भिन्न हैं कि महान व्यक्ति समाज का सेवक बनने के लिए तत्पर रहता हैं .
  • जीवन महान होना चाहिये ना कि लम्बा .

इसमें हिंदी भावार्थ हैं . अनमोल वचन जीवन को एक नयी दिशा देते हैं जब भी अगर भीतर नकारत्मक सोच पनपने लगती हैं, तो  इन जैसे महान व्यक्तियों के अनमोल वचनों को पढ़े. डॉ भीमराव अम्बेडकर का जीवन परिचय एवम जयंती के बारे मे पढ़ने के लिए क्लिक करें.

अन्य पढ़े :

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *