[लिस्ट] बिहार मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन योजना 2020 | Bihar Mukhyamantri Vridhajan Pension Yojana in Hindi

बिहार मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन योजना 2020 (Bihar Mukhyamantri Vridhajan Pension Yojana in Hindi) (ऑनलाइन आवेदन / पंजीकरण फॉर्म, वृद्धा पेंशन लिस्ट, पात्रता, स्टेटस, राशी, लाभार्थी सूचि)  (MVPY) Universal Old Age Pension Scheme [Application Form Online, Eligibility Criteria, Documents, Beneficiary List, Check Status name, Amount]

सरकार द्वारा देश के हर गरीब नागरिक जोकि किसी भी श्रेणी का हो और बच्चे, महिलाओं, बुजुर्गों और युवाओं में से कोई भी हो, उनके जीवन को सरल बनाने के लिए कई सारे प्रयास किये जाते रहे हैं. ताकि वे बिना किसी परेशानी के अच्छे से अपना जीवन व्यतीत कर सकें. ऐसा ही एक प्रयास बिहार की राज्य सरकार द्वारा भी किया गया है. बिहार राज्य सरकार ने अपने राज्य के ऐसे वृद्धजनों को जोकि किसी भी सरकारी नौकरी से संबंध नहीं रखते हैं उन्हें प्रतिमाह पेंशन देने की योजना बनाई गई हैं. इस योजना में कौन – कौन से वृद्धजन पेंशन का लाभ प्राप्त कर सकते हैं और उन्हें यह लाभ किस प्रकार मिलेगा यह सब जानने के लिए आप इस लेख के साथ अंत तक बने रहिये.

Mukhyamantri Vridhajan Pension Yojana In bihar

योजना का नाम मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन योजना
राज्य बिहार
लांच की तारीख फरवरी, 2019
लांच की गई मुख्यमंत्री नितीश कुमार जी द्वारा
लागू की गई अप्रैल, 2019 से
लाभार्थी राज्य के वरिष्ठ नागरिक
लाभ पेंशन
संबंधित विभाग बिहार का समाज कल्याण विभाग
अधिकारिक वेबसाइट https://www.sspmis.in/

बिहार मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन योजना की लाभ एवं विशेषताएं (Bihar Mukhyamantri Vridhajan Pension Yojana Benefits and Features)

  • योजना का उद्देश्य :- यह योजना राज्य के गरीब वृद्धजनों के लिए राहत लेकर आई है. इसके माध्यम से बिहार राज्य सरकार वृद्धजनों की वृद्धावस्था के दौरान होने वाली परेशानी को कम करने के उद्देश्य को पूरा करना चाहती हैं.
  • वृद्धजनों को आर्थिक सहायता :- इस योजना में राज्य सरकार द्वारा वृद्धजनों पर उनकी वृद्धावस्था के दौरान आने वाले आर्थिक संकट को दूर कर उन्हें आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है.
  • जीवन स्तर में सुधार :- ऐसे व्यक्ति जोकि बुजुर्ग हैं उनके जीवन के स्तर में सुधार लाने के लिए उन्हें प्रतिमाह पेंशन देने का फैसला बिहार राज्य सरकार द्वारा लिया गया है. ताकि उनकी अच्छे से जीवन यापन करने में मदद हो सके.
  • आसान आवेदन प्रक्रिया :- इस योजना की विशेषता यह है कि इसमें आवेदन करने वाले लाभार्थियों को आवेदन करने के लिए कहीं जाने की आवश्यकता नहीं है. इसके लिए बहुत ही आसान ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया बनाई गई है.
  • वृद्धजनों की आत्मनिर्भरता को बढ़ाना :- बिहार राज्य में इस योजना के लागू होने से वृद्धजनों में आत्मनिर्भरता बढ़ रही है, इससे उन्हें अपने परिवार या अन्य किसी पर भी आश्रित नहीं होना पड़ रहा है.
  • पेंशन स्वरुप दी जाने वाली राशि :- इस योजना में पेंशन स्वरुप लाभार्थियों को प्रतिमाह 400 रूपये की राशि प्रदान की जा रही हैं, लेकिन यह राशि केवल 60 से 79 वर्ष तक के वृद्धजनों को प्रदान की जाएगी. इसके बाद 79 से ऊपर के वृद्धजनों को दी जाने वाली राशि में 100 रूपये का इजाफा किया गया है. यानि कि उन्हें प्रतिमाह कुल 500 रूपये की राशि प्रदान की जा रही है.
  • बायोमेट्रिक पहचान जरुरी नहीं :- अब तक किसी भी योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थियों की बायोमेट्रिक पहचान जरुरी थी. किन्तु अब वृद्धजनों की बायोमेट्रिक पहचान जरुरी नहीं है. इसका कारण यह है कि उनकी फिंगरप्रिंट्स की स्कैनिंग में काफी परेशानी आती है.
  • मृत्यु तक दी जाएगी :- इस योजना के तहत दी जाने वाली पेंशन की राशि लाभार्थियों को उनकी मृत्यु तक दिए जाने का प्रावधान है. एक बार लाभार्थी की मृत्यु हो गई उसके बाद उनके परिवार वालों या संबंधी को इसका लाभ प्रदान नहीं किया जायेगा.
  • प्रीमियम राशि :- इस योजना के लाभार्थियों को इस योजना का लाभ लेने के लिए कुछ भी प्रीमियम देने की आवश्यकता नहीं है. यह उनके लिए पूरी तरह से मुक्त है.
  • बैंक खाता में राशि का वितरण :- इस योजना में दी जाने वाली पेंशन की राशि लाभार्थियों के हाथों में नहीं दी जा रही हैं, बल्कि सीधे उनके बैंक खाते में स्थानांतरित की जा रही है.

बिहार कोरोना तत्काल सहायता योजना मोबाइल एप्प डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

बिहार मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन योजना में पात्रता मापदंड (Bihar Mukhyamantri Vridhajan Pension Yojana Eligibility Criteria)

  • बिहार का नागरिक :- इस योजना में पेंशन बिहार के गरीब वृद्धजनों को प्रदान किये जा रहा है. इसके अलावा अन्य किसी राज्य का व्यक्ति इस योजना के लिए पात्र नहीं है.
  • आयु पात्रता :- इस योजना में लाभार्थी की आयु पात्रता के लिए 60 से अधिक की आयु निर्धारित की गई हैं, यानि कि 60 साल से अधिक उम्र का व्यक्ति ही इस योजना का लाभ उठाने के लिए पात्र है.
  • वृद्धाजन की पात्रता :- इस योजना में वृद्धजनों के लिए यह पात्रता निर्धारित की गई है कि वह एक सरकारी कर्मचारी नहीं होना चाहिए. इस योजना में सरकारी कर्मचारियों के अलावा अन्य किसी भी वरिष्ठ व्यक्ति को पेंशन की राशि प्रदान की जा रही है.
  • सभी श्रेणी के लोगों के लिए :- इस योजना के लिए सभी श्रेणी के लोगों को शामिल किया गया है. इसके लिए केवल यह पात्रता रखी गई हैं कि लाभार्थी गरीब हो, अर्थात उसकी सालाना आय बहुत कम हो, वही इसका लाभ ले सकता है.

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना बिहार का लाभ लेने के लिए यहाँ क्लिक करें

बिहार मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन योजना के लिए आवश्यक कागजात (Bihar Mukhyamantri Vridhajan Pension  Yojana Required Papers)

  • पहचान प्रमाण पत्र :- वृद्धजनों को अपनी पहचान के लिए अपने पास कुछ आवश्यक दस्तावेज जैसे वोटर आईडी कार्ड, आधार कार्ड एवं मूल निवासी प्रमाण पत्र आदि की कॉपी रखनी आवश्यक है.
  • आयु का प्रमाण :- बिहार की इस पेंशन योजना में लाभार्थी को आयु पात्रता दर्शाने के लिए अपने आयु प्रमाण पत्र की आवश्यकता भी पड़ सकती है.
  • आय का प्रमाण :- चूकी इस योजना में गरीब लोगों को लाभ प्रदान किया जा रहा है एवं इसमें सरकारी कर्मचारी को स्वीकृति नहीं दी गई है. इसलिए इस योजना में लाभार्थी को अपनी आय का प्रमाण देना भी आवश्यक है.
  • बैंक पासबुक :- इस योजना में दी जाने वाली पेंशन की राशि लाभार्थी के बैंक खाते में जमा की जानी हैं, इसलिए लाभार्थियों को अपनी बैंक पासबुक भी अपने पास रखना जरुरी है.

बिहार मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया (Bihar Mukhyamantri Vridhajan Pension Yojana Application Process)

इस योजना में आवेदन प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए इसे ऑनलाइन रखा गया है, लाभार्थी घर बैठे ही इस योजना का लाभ ले सकता है. इसकी प्रक्रिया इस प्रकार है –

  • आपको सबसे पहले बिहार राज्य की सामाज कल्याण विभाग की इस अधिकारिक वेबसाइट https://www.sspmis.in/ पर क्लिक करते हुए इसके होम पेज पर पहुंचना है.
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन में सामने ही एक लिंक शो होने लगेगी. उस पर लिखा हुआ होगा कि – ‘मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन योजना में आवेदन करने के लिए यहाँ क्लिक करें’. आप उस पर क्लिक करें.
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर आपका आधार सत्यापित करने के लिए कुछ जानकारी पूछे जाने के विकल्प शो होंगे, आपको वे सभी जानकारी सही – सही देनी होगी.
  • इसके बाद नीचे की ओर आते ही आपके सामने ‘आधार सत्यापित करें’ की एक बटन दिखाई देगी, आप उस पर क्लिक कर दें. यहाँ आपके आधार के सत्यापन की प्रक्रिया पूरी हो जाती हैं.
  • फिर संबंधित अधिकारीयों द्वारा इसकी जाँच करने के बाद आपका आवेदन स्वीकार कर लिया जाता है. और इसके बाद आपको पेंशन की राशि प्रदान करने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाती है.

बिहार मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन योजना में स्थिति एवं लिस्ट में नाम की जाँच (Bihar Mukhyamantri Vridhajan Pension Yojana Check Status and Name in List)

  • बिहार की वृद्धजन पेंशन योजना में एक बार आवेदन करने के बाद उसकी स्थिति की जाँच के लिए आपको फिर से इस योजना की अधिकारिक वेबसाइट में जाना होगा.
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर सामने कुछ विकल्प दिए होंगे. उनमें से आपको ‘बेनेफिसिअरी स्टेटस’ पर क्लिक करना है. इसके बाद आप वहां ‘सर्च बेनेफिसिअरी स्टेटस’ पर क्लिक करें या आप स्टेटस को ट्रैक भी कर सकते हैं.
  • अब आपके सामने एक दूसरा पेज खुलेगा जहां से आपको पूछी जाने वाली जानकारी देने के बाद आपके आवेदन की स्थिति की जानकारी प्राप्त हो जाएगी.
  • जब आपका आवेदन पूरा हो जायेगा, तो फिर आप बेनेफिसिअरी स्टेटस में ही जाकर लाभार्थी सूची में अपने नाम की जाँच भी कर सकते हैं.

अतः इस तरह से यह योजना बिहार के लाभार्थी वृद्धजनों के लिए उनके बुढ़ापे का एक सहारा बन कर उभर रही है. इसी तरह की योजनायें देश के अन्य राज्यों के वृद्धजनों के लिए भी शुरू की गई हैं.

अन्य पढ़े

  1. बिहार कोरोना तत्काल सहायता योजना मोबाइल एप्प डाउनलोड 
  2. पीएम किसान सम्मान निधि योजना लाभार्थी सूची
  3. मध्यप्रदेश सरकार देगी मजदूर को 1000 रूपए रजिस्ट्रेशन करें 
  4. छोटी बचत योजनायें क्या होती है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *