Home घरेलु नुस्खे चीकू खाने के फायदे, नुकसान | Chiku (Sapota) Fruit Benefits Side Effects...

चीकू खाने के फायदे, नुकसान | Chiku (Sapota) Fruit Benefits Side Effects in Hindi

0

चीकू खाने के फायदे, नुकसान, कब खाना चाहिए, इंग्लिश नाम [(Sapota) Fruit Benefits, Side Effects in Hindi]

आलू की तरह दिखने वाला चीकू एक मीठा फल है, जो हर मौसम में पाया जाता है. इसे इंग्लिश में sapota कहते है, जिसे बहुत कम लोग जानते होंगें. चीकू नाम से ये ज्यादा प्रचलित है. चीकू में कैलोरी की अधिकता होती है, जैसे आम व केला में होती है. ये हमारे स्वास्थ्य, बाल व त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद है. ये गोल आकार का होता है, इसमें उपरी परत में छिलका होता है, जिसे छील कर खाया जाता है, अंदर पल्प होता है, जिसके अंदर बीज भी होता है. ये आसानी से पचने वाला फल है, जिसमें शुगर की मात्रा अधिक होती है. इसकी उपज भारत व मैक्सिको में सबसे अधिक है. ये विटामिन व मिनिरल्स का बहुत अच्छा स्त्रोत है.

Table of Contents

चीकू खाने के फायदे एवं नुकसान (Chiku Benefits, Side Effects)

चीकू में मौजूद पोषक तत्व (Chiku Nutrition Vitamins) –

चीकू में विटामिन, गुलुकोस, कैलोरी, कॉपर, पोटेशियम, आयरन होता है.

पोषक तत्वमात्रा
प्रोटीन.44 g
कार्बोहाइड्रेट19.9 g
एनर्जी83 कैलोरी
फैट1.10 g
कोलेस्ट्रोल0
फाइबर5.3
नियासिन0.2 mg
विटामिन60 IU
एसिड0.252 mg
थायमिन0.058 mg

chiku

चीकू खाने के फायदे (Chiku (Sapota) Fruit Benefits in Hindi)

चीकू से स्किन के लिए फायदे (Benefits for Skin) –

सुंदर, हेल्थी स्किन की चाह किसको नहीं होती, इसके लिए आप चीकू को अपनी डाइट में शामिल करें. चीकू में एंटीओक्सिडेंट भी होता है, जिससे ये शरीर को अंदर से तंदरुस्त बनाता है.

  1. चीकू से आपकी स्किन प्राकतिक रूप से सुंदर व तंदरुस्त बनती है. इसमें मौजूद विटामिन E आपकी स्किन को मोइस्चर देता है, जिससे आपकी त्वचा हेल्थी और सुंदर होती है.
  2. इसमें एंटीओक्सिडेंट होता है, जिससे ये एक तरह का एंटी-एजिंग का भी काम करता है. इसके खाने से चेहरे में झुर्रियां नहीं आती है.
  3. इसके खाने से चेहरे पर मुहांसे नहीं आते है.
  4. चीकू में विटामिन A व C होता है, जिसे खाने से स्किन ग्लो करती है.

चीकू से बालों के लिए फायदे (Benefits for Hair) –

ये हम सब जानते है कि अगर हम अच्छी डाइट लेंगें, तो हमारे शरीर का हर एक भाग स्वस्थ रहेगा. चीकू खाने से हमारे बालों को भी पोषण मिलता है. बालों की परेशानी तब होती है जब हम खानपान पर ध्यान नहीं देते है, बालों में केमिकल का अधिक प्रयोग होता है. चीकू में सारे पोषक तत्व होते है जो बालों को मजबूत और हेल्थी बनाते है.

  1. चीकू खाने से बालों को मोइस्चर मिलता है, साथ ही वे मैनेजवल होते है.
  2. चीकू के बीज का तेल भी आता है, जिसे लगाने से बाल जड़ से मजबूत होते है, साथ ही वे लम्बे होते है.
  3. इसके अलावा आप चीकू के बीज को पीस कर उसका पेस्ट बना लें, अब उसमें कास्टर आयल मिलाकर, बालों की जड़ में लगायें. इसे 1 घंटे बाद धोएं. इससे बाल सॉफ्ट मजबूत होंगें.

चीकू से हेल्थ के लिए फायदे (Benefits for Health) –

चीकू स्वाद में तो अच्छा होता ही है, स्वास्थ्य के लिए भी बहुत अच्छा फल है. ये फल आसानी से पच जाता है, साथ ही इसे खाते ही शरीर में एनर्जी आती है, क्यूंकि इसमें ग्लूकोस अधिक मात्रा में होता है. इसलिए इसे शेक के रूप में सबसे अधिक प्रयोग किया जाता है.

आँखों के लिए अच्छा –

इसमें विटामिन A की अधिकता होने के कारण ये आँखों की रोशनी बढ़ाने में सहायक है.

एनर्जी दिलाये –

ग्लूकोस होने के कारण ये आपको तुरंत एनर्जी प्रदान करता है. एथलीट को ज्यादा एनर्जी की जरुररत होती है, इसलिए वे चीकू का फल अधिक मात्रा में खाते है.

कैंसर से बचाए –

चीकू में उपस्थित विटामिन A व B शरीर में कैंसर की कोशिकाओं को बढ़ाने नहीं देता है. इसमें एंटीओक्सिडेंट व फाइबर भी होता है, जिससे ये शरीर के सारे विषेले पदार्थ को भी बाहर निकालता है. विटामिन A से फेफड़ों व मुंह के कैंसर से बचा जा सकता है.

हड्डी (bones) मजबूत करे –

हड्डी को मजबूत करने के लिए शरीर को अतिरिक्त मात्रा में कैल्शियम, फोस्फोरस व आयरन की जरुरत पड़ती है. चीकू में ये तीनों ही पोषक तत्व होते है, जिससे ये हड्डीयों के लिए बहुत अच्छा है.

कब्ज की परेशानी दूर करे –

चीकू में फाइबर की मात्रा अत्याधिक होती है, व फाइबर का सेवन करने से कब्ज की परेशानी नहीं होती है.

गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद –

अक्सर गर्भस्थ के दौरान महिलाओं को बहुत से फल, सब्जियों को खाने के लिए मना कर दिया जाता है. लेकिन चीकू ऐसा फल है, जिसे डॉक्टर हमेशा खाने को बोलते है. इसे खाने से गर्भवती महिला को कमजोरी नहीं होती है.

एंटी वायरल व एंटीबैक्टीरिया प्रॉपर्टीज –

चीकू में ये दोनों प्रॉपर्टीज होती है, जिससे किसी भी तरह का कोई इन्फेक्शन हमारे शरीर में असर नहीं कर पाता.

डायरिया में सहायक –

इसमें पानी की अधिकता होती है, जिससे डायरिया में ये फायदा करता है. पानी में चीकू को उबालकर उस पानी को पियें, व चीकू भी खा सकते है. इससे बवासीर की परेशानी भी दूर होती है.

मेंटली स्ट्रोंग करे –

कई बार चिंता, परेशानी, डिप्रेशन से सर दुखने लगता है. मन भारी रहता है. ऐसे में आपको चीकू फल खाना चाहिए. मन बहुत शांत रहता है.

सर्दी जुखाम

चीकू खाने से कफ की परेशानी दूर होती है.

किडनी पथरी (स्टोन)

चीकू के बीज को पीस कर खाने से ये किडनी व ब्लाडर में होने वाले स्टोन को दूर करता है. इससे किडनी की दूसरी परेशानियाँ भी दूर होती है.

विषेले तत्व निकाले –

चीकू खाने से पेशाब अधिक लगती है, जिससे शरीर के सारे विषेले तत्व निकल जाते है. इससे शरीर में पानी की मात्रा बनी रहती है.

चीकू खाने के अन्य फायदे –

  • दांतों में कैबिटी लगने से रोके
  • एनीमिया से बचाए
  • ब्लडप्रेशर कण्ट्रोल करे
  • माउथ अल्सर से बचाए
  • अनिंद्रा की परेशानी दूर करे
  • दस्त में भी चीकू फायदा करता है.
  • इसे खाने से आंते मजबूत होती है.
  • मूत्र में जलन की परेशानी चीकू खाने से दूर होती है.

चीकू खाने के नुकसान

चीकू खाने से शरीर को होने वाले नुकसानों की जानकारी निम्नलिखित है।

वजन बढ़ना :-

चीकू खाने का एक नुकसान यह है कि, इसका ज्यादा सेवन करने से व्यक्ति का वजन बढ़ने लगता है। हालांकि यह ऐसे लोगों के लिए तो फायदेमंद है जो अपने वजन को बढ़ाना चाहते हैं परंतु यह ऐसे लोगों के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है, जो अपना वजन कम करना चाहते हैं। अपना वजन कम करने की इच्छा रखने वाले लोगों को चीकू का सेवन अत्याधिक मात्रा में नहीं करना चाहिए।

पेट की समस्या :-

चीकू खाने में बहुत ही स्वादिष्ट लगता है, इसीलिए जब लोग चीकू को खाते हैं, तो इसका सेवन अत्याधिक मात्रा में करने लगते हैं। बता दें अगर आप अत्याधिक मात्रा में चीकू का सेवन करते हैं, तो ऐसा करने से आपको पेट से संबंधित समस्याएं पैदा हो सकती हैं। जैसे कि आपके पेट में गैस बन सकती है या फिर आपको कब्ज भी हो सकती है। इसीलिए चीकू का सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए, क्योंकि चाहे कितनी भी अच्छी चीज क्यों ना हो अत्याधिक मात्रा में उसका सेवन करने से वह नुकसानदायक ही साबित होती है।

छोटे बच्चों को समस्या :-

चीकू की तासीर ठंडी होती है, इसीलिए अगर छोटे बच्चे सर्दियों के मौसम में इसका ज्यादा सेवन करते हैं तो ऐसा करने से उनके गले में खराश की समस्या, सांस लेने में दिक्कत की समस्या या फिर सर्दी की समस्या पैदा हो सकती है।

मुंह का स्वाद :-

अगर कोई व्यक्ति कच्चे चीकू का सेवन करता है, तो ऐसा करने से उसके मुंह का स्वाद कड़वा हो सकता है क्योंकि कच्चे चीकू में लेटेस्ट और टैनिन की मात्रा ज्यादा होती है।

चीकू का बीज खाने की समस्या :-

अगर कोई व्यक्ति चीकू के पीसे हुए बीज खाता है, तो ऐसा करने से उसके पेट में दर्द हो सकता है, क्योंकि चीकू के अंदर सैपोटिन और सैपोटिनिन केमिकल होते हैं।

अल्सर और हल्की खुजली :-

चीकू का ज्यादा सेवन करने से बॉडी में अल्सर की समस्या पैदा हो सकती है। इसके अलावा खुजली की समस्या भी गले में पैदा हो सकती है।जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कि चीकू के अंदर सैपोनिन मौजूद होता है, जो डायरिया और स्किन की खुजली का कारण बनता है। इससे आपको इसका सेवन संभल कर करना चाहिए.

शुगर लेवल बढ़ना :-

जो लोग डायबिटीज के पेशेंट हैं, उन्हें चीकू का सेवन एक लिमिट में ही करना चाहिए। अत्याधिक मात्रा में इसका सेवन करने से उनकी बॉडी में शुगर का लेवल बढ़ सकता है, जो उनके लिए नुकसानदेह साबित हो सकता है।

चीकू कब खाना चाहिए

चीकू एक पौष्टिक और स्वादिष्ट फल होता है, इसलिए इसका सेवन आप कभी भी कर सकते हैं। आप सुबह उठने के बाद ब्रश करने के बाद चीकू खा सकते हैं या फिर दोपहर में अथवा शाम को या फिर रात को भी चीकू खा सकते हैं।

FAQ

Q : चीकू खाने के नुकसान ज्यादा है या फिर फायदे ज्यादा है ?

Ans : इसके फायदे ज्यादा है।

Q : चीकू का आकार कैसा होता है ?

Ans : चीकू के फल का आकार छोटी वाली आलू के जैसा होता है।

Q : चीकू का रंग कैसा होता है ?

Ans : यह कत्थई कलर का दिखाई देता है।

Q : चीकू के अन्य नाम क्या है ?

Ans : कन्दुक-फल, सपोटा, गुदालू, शिमाई-ऐलुप्पई, चिकाली, अमेरिकन बुली, नोजबेरी आदि.

Q : क्या चीकू कैंसर से बचाने में सहायक होता है ?

Ans : जी हां।

Q : चीकू की तासीर कैसी होती है ?

Ans : चीकू की तासीर ठंडी होती है।

Q : क्या चीकू साल भर मार्केट में मौजूद रहता है ?

Ans : जी हां, आपको साल के 12 महीने चीकू मार्केट में मिलेगा।

Q : चीकू का वृक्ष कितना ऊंचा होता है ?

Ans : चीकू का वृक्ष लगभग 7 मीटर से लेकर 10 मीटर तक ऊंचा होता है।

छोटा सा दिखने वाला ये फल बड़ा गुडकारी है, इसे आप अपनी डाइट में जरुर शामिल करें. इसमें प्रोटीन भी होता है, जिससे शरीर में अच्छी ग्रोथ होती है.

अन्य पढ़ें –

  1. सीताफल के फायदे क्या है
  2. पपीते के फायदे क्या है
  3. करेला के फायदे क्या है
  4. अनार के नुकसान क्या हैं

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here