Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
ताज़ा खबर

कोर्सिका का इतिहास व सम्बंधित जानकारियां | Corsica Structure details, history in hindi

कोर्सिका का इतिहास व सम्बंधित जानकारियां | Corsica Structure details history in hindi

कोर्सिका एक ऐसा द्वीप है, जो कि भूमध्य सागर में स्थित है. यह फ्रांस के 18 मुख्य एवं पर्यटन क्षेत्रों में से एक है. यह आइलैंड फ्रांस के दक्षिणी पूर्वी समतल भूमि और इटॅलियन पेनिन्सुला के पश्चिमी भाग के मध्य स्थित है. इस आइलैंड के दो तिहाई हिस्से में पहाड़ फैले हुए हैं, जो इसे और भी खूबसूरत बनाते है. हालांकि यह फ्रांस का एक हिस्सा है किन्तु इसे ‘टेरीटोरियल कलेक्टिविटी’ के रूप में भी देखा जाता है. इस स्थान को फ्रांस के अन्य स्थानों से अधिक स्वायत्ता (ऑटोनोमी) प्राप्त है. उदाहरण के तौर पर कोर्सिका असेंबली अपने सीमित प्रशासनिक पॉवर का प्रयोग कर सकती है.

वर्ष 1975 तक  यह आइलैंड केवल एक ही डिपार्टमेंट से संचालित होता था, जो विभाजित होकर दो अलग डिपार्टमेंट बना जिनके नाम अपर कोर्सिका और साउथर्न कोर्सिका है. इस आइलैंड की क्षेत्रीय राजधानी अजाक्सिऊ (ajaccio) है.

इतिहास (History):

कोर्सिका पर रिपब्लिक ऑफ़ जेनोआ का शासन वर्ष 1284 से रहा था. इसके बाद इस स्थान को वर्ष 1755 में इस शासन से आजादी प्राप्त हुई और इसे कोर्सिका रिपब्लिक कहा जाने लगा. इस स्थान के नाम के पीछे का कारण आज तक सामने नहीं आया है. प्राचीन ग्रीक के लोगों में यह स्थान कलिस्ट, क्रिनोस, कर्नालिस, किर्ने, और कोर्सिस के नाम से जाना जाता था. वर्ष 1729 में कोर्सिका आन्दोलन की सहायता से इस स्थान को आजादी प्राप्त हुई. इसके बाद यहां पर ‘लुइगी गिअफ्फेरी’ और ‘गिअकिन्तो पोली’ का शासन रहा. इस स्थान का पहला संविधान वर्ष 1755 में बना था. यह संविधान टस्कन इटालियन भाषा में लिखा गया था.

कोर्सिका पर पहले नेपोलियन का राज था,  जिसके बाद 1814 के नेपोलियन युद्ध में इस पर ब्रिटिश हुकूमत ने अपना हक़ जमाया. बाद में इसे के फ़्रांसिसी शासक ने अपने साथ जोड़ लिया. क्रोसिका में मूलतः किसानी ही की जाती थी. उस समय क्रोसिका इटालियन सभ्यता से प्रभावित था. इनके हर एक क्षेत्र में इटालियन सभ्यता की झलक आती थी उनकी किताबे इटालियन भाषा में छपती थी जिसके कारण बहुत से संघर्ष भी हुये लेकिन कोर्सिका के लोगो का झुकाव फ़्रांस की तरफ था इसलिये कोशिश करने के साथ इन लोगो ने फ़्रांस की भाषा, सभ्यता आदि को सीखना शुरू किया जिसके लिए स्कूल में फ्रांस की भाषा अनिवार्य की गई. जिसके बाद धीरे से कोर्सिका का विकास हुआ. यहाँ शिक्षा के साथ रोजगार का विकास हुआ. समुद्र के मध्य स्थित होने के कारण सबसे पहले नौका के जरिये फ्रांस से कोर्सिका को जोड़ा गया. यहाँ से कोर्सिका का विकास शुरू हुआ था और आज यह बहुत सुंदर पर्यटन स्थल बन चूका हैं.

क्रोसिका के अपनी भोगोलिक संरचना के कारण यह एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल हैं जिसमे तटीय क्षेत्र के साथ, पर्वतीय क्षेत्र एवम वन क्षेत्र तीनो आते हैं जो कि बहुत सुंदर हैं. इसी कारण इसे देखने लोगो का ताता लगा रहता हैं. यह एक प्राय द्वीप हैं जहाँ कई फिल्मो की शूटिंग भी की जाती हैं. हाल ही में बनी फिल्म तमाशा जिसमे दीपिका पादुकोण एवम रणवीर कपूर ने काम किया हैं कि शूटिंग क्रोसिका में ही हुई हैं. इस फिल्म के डायरेक्टर इम्तियाज अली हैं जिनके फिल्मे हमेशा हट कर होती हैं. इन सभी ने अपने फिल्म के प्रोमोशन के दौरान क्रोसिका की बाते की. इन्होने खुलकर बताया कि कोर्सिका प्राकृतिक सुन्दरता से परिपूर्ण हैं जिसमे समुद्र तट की सुन्दरता, पर्वतीय माला की ठंडक एवम वन की हरियाली इन तीनो का बेजोड़ संगम इस स्थान को सभी की नजरो में उपर उठाता हैं. इसलिये इसे पर्यटन एवम फिल्म शूटिंग की दृष्टी से अधिक तवज्जु दिया जाने लगा हैं.

कोर्सिका भोगोलिक संरचना  (Corsica Structure details in hindi) :

कोर्सिका लगभग 250 करोड़ वर्ष पहले पश्चिमी किनारे पर एक ग्रेनाइट रीढ़ की हड्डी के बढ़ने  के साथ-साथ बना. लगभग 50 करोड़ साल पहले तलछटी चट्टानों के पूर्वी हिस्से को शीट बनाने के लिए ग्रेनाइट से दबाया गया था । यह एक समुद्र के मध्य में एक समुद्री पहाड़ की तरह हैं.यह चार बड़े आइस्लैण्ड में एक हैं. यह 183 किलोमीटर लंबा,83 किलोमीटर चौड़ा,इसका समुद्र तट 1000 किलोमीटर तक फैला हैं जिसमे 200 से अधिक बीच हैं. इसमें बहुत सी पर्वत श्रंखला भी हैं जिनमे मोंटे सिंटो नामक पर्वत श्रंखला सबसे ऊँची 2,706 मीटर की हैं. इसके अलावा 20 अन्य उच्च श्रंखला हैं जिनकी ऊंचाई 2000 मीटर के आस पास हैं. द्वीप का दो तिहाई भाग पर्वत श्रंखला का हैं और लगभग 20 % वन द्वीप हैं.कोर्सिका में यूरोप की सबसे उल्लेखनीय लंबी पैदल यात्रा ट्रेल्स GR20 हैं. 35 हजार Sq ft का एरिया प्राकृतिक भंडारों से भरा हुआ हैं.

तात्कालिक समय में कोर्सिका:

तात्कालिक समय में कोर्सिका का भ्रमण के उद्देश्य से जाना जाता है.

  • कोर्सिका के शहर: यहां पर इस स्थान के विशेष शहरों का नाम नीचे दिया जा रहा है. जिन शहरों को अजाक्सिऊ, बास्टिया, बोनिफसियो, कालवी, कार्गेसे, कोर्ट, पोट्रो वेक्कियो, सैंट फ्लोरेंट या सैन फियूरेंजु के नामों से जाना जाता है.

Corsica

बोली जाने वाली भाषाएं (Language)

कोर्सिका की औपचारिक भाषा फ्रेंच है. हालांकि कोर्सिका की अपनी भी एक भाषा है जिसे कोर्सिकन कहा जाता है. ऐसा देखा गया है कि यहां पर बसने वाली आबादी का 10% हिस्सा कोर्सिकान भाषा का प्रयोग करती है और कहीं कहीं इटालियन भी बोली जाती है.

यहां कैसे पहुंचें (How to Reach Corsica)

इस स्थान पर समुद्री अथवा आकाशीय रास्ते से जाया जा सकता है. हालांकि इस आइलैंड के अन्दर रेल सेवा का भी बहुत अच्छा इंतजाम किया गया है. यहां जाने के लिए सबसे पहले फ्रांस जाने की आवश्यकता होती है. फ्रांस पहुँचने के बाद आप आराम से वहां से बोट, प्लेन अथवा रेल के माध्यम से कोर्सिका जा सकते है.

  • बोट के माध्यम से : फ्रांस से कोर्सिका पहुँचने के लिए सबसे सरल साधन है एनपीजी. यह एक तेज गति से चलने वाली नांव है. आप इसकी सहायता से कोर्सिका के विभिन्न शहरों तक पहुँच सकते हैं. इस रास्ते से जाने पर आपको समुद्री सुन्दरता देखने का अवसर भी प्राप्त होता है.
  • प्लेन के माध्यम से: इस आइलैंड में कुल चार हवाई अड्डे हैं, जहाँ से शहर जाने के लिए आपको कार, बस आदि की सवारी प्राप्त हो जाती है. हालांकि फ्रांस से कोर्सिका आइलैंड के लिए बहुत अधिक हवाईजहाज मौजूद नहीं है. इस वजह से फ्रांस से इस स्थान पर पहुँचने के लिए आपको फ्लाइट के समय का ध्यान का रखना आवश्यक है.
  • रेल के माध्यम से : आप इस स्थान का भ्रमण रेल के माध्यम से भी कर सकते हैं. एक बार इस आइलैंड पर पहुँच जाने के बाद आपको अजाक्सिऊ और बास्टिया के बीच रेल सर्विस का प्रयोग किया जा सकता है.

घूमने का स्थान (Place to visit)

इस स्थान को आइलैंड ऑफ़ ब्यूटी भी कहा जाता है. यहां पर काफी स्थान ऐसे हैं, जहाँपर भ्रमण का आनंद उठाया जा सकता है. इसके चारों तरफ समुद्र है, जिसके बीचों बीच इस आइलैंड पर पहाड़ स्थित है. यहां पर लम्बी दूरी तय करने वाले रास्ते के लिए भी काफी बेहतर स्थान हैं, जिसका वर्णन नीचे किया जा रहा है.

  • लॉन्ग डिस्टेंस वाकिंग: इस आइलैंड में कई लॉन्ग डिस्टेंस वाकिंग स्थान है. यहां का सबसे मशहूर स्थल है जीआर-20, जो कि अपनी कठिनाई की वजह से काफी मशहूर है. इसको तय करने में कुल 17 दिनों का समय लेता है, जिसके अंतर्गत सभी पारम्परिक भ्रमण स्थलों का घूमना हो जाता है. इस स्थान का सबसे बड़ा खतरा यहां की ग्रीष्म कालीन आंधी और बिजली का गिरना है. यहां पर पैदल यात्रा करने के लिए टोपोग्राफिकल मैप की आवश्यकता होती है.
  • अन्य स्थान: इस आइलैंड के अन्य ट्रायल स्थानों में ‘सी टू सी’ ट्रायल बहुत अधिक आकर्षक है. इस स्थान को अच्छे से घुमने के लिए कुल 11 दिनों का समय लगता है.
  • मरे मरे सूद: यह ट्रायल पोर्टो विकीहो से प्रोप्रियानो के बीच होता है. इसके लिए 5 दिनों का समय लगता है. इतने समय में आप इस जगह का अच्छे से आनंद उठा सकते हैं.
  • मरे मोंटे: इस स्थान के भ्रमण के लिए कुल 5 दिनों का समय लगता है, यह सफर एक बेहद ही खूबसुरत गाँव से होकर जाता है, जहाँ पर मछली पालन का कार्य किया जाता है. इस स्थान पर बोट अथवा पैदल भी जाया जा सकता है.

यहां क्या करें : यदि आप इस स्थान पर ग्रीष्म काल के समय आते हैं तो यहां के बीच पर आपको तरह तरह के आयोजन देखने मिलते है. इस समय धूप में नहाना और तैराकी करने की व्यवस्था लगभग सभी बीच पर रहती है. कई मशहूर बीच पर आपको पतंग उड़ाने अथवा विंडसर्फ बोर्ड की भी सुविधा प्राप्त होती है. शाम के समय कई लोग बीच पर ही रुकते हैं और अधिकतर लोग शहर के पास के स्थित बार, होटलों एवं ढावों में भी जाते हैं. `

इसी के साथ इस आइलैंड के कई मुख्य शहरों की साईट भी आसानी से की जा सकती है. इस तरह से आप इस आइलैंड पर अपने इच्छानुसार किसी भी तरह का आनंद उठा सकते हैं.

खाने की विशेषताएँ (Food Specialty):

कोर्सियन आइलैंड में खाने के नाम पर फ्रेंच और इटालियन डिश बहुत ही अधिक पसंद किया जाता है, हालांकि इस स्थान पर कई ऐसे डिश पाए जाते हैं, जो कहीं और प्राप्त नहीं हो सकते. इस स्थान का सबसे पुराना खाद्य अखरोट है. इस स्थान में आम तौर पर ओज़ू, कोप्पा, हैम, फिगाटेलु और सॉसीशन डिश पाए जाते है, जो कि अक्सर सूअर के मांस से बने होते हैं.

पीने योग्य पदार्थ:

इस स्थान के लोग यहां का लोकल बीयर बहुत अधिक पसंद करते हैं. यहां पर इनके द्वारा खुद ही वाइन अथवा कोक बनाए जाते हैं. यहां का पिएत्रा, बियर आदि अपने स्वाद के लिए काफी मशहूर हैं, जो यहां के अलावा फ्रांस के अन्य किसी स्थान पर भी नहीं पाए जा सकते.

सावधानियां (Precautions)

इस तरह से यह स्थान कई तरह के अनोखे प्रवृत्ति से भरे हुए है. इस वजह से यहां देश विदेश से कई लोग घूमने के लिए जाते है. यहां के लोग भी मिलनसार प्रवृत्ति के होते हैं और यहां पर दिन रात के किसी भी समय आप आराम से भ्रमण कर सकते है. हालांकि इस स्थान पर कभी कभी योजना के तहत अपराध भी देखे जाते हैं. इस स्थान पर भ्रमण करते हुए लोगों से यदि सहायता से बात की जाए तो लोग हे मददगार साबित होते हैं.

अन्य पढ़े :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *