कर्फ्यू पास क्या है और इसे कैसे प्राप्त किया जा सकता है | What is Curfew pass in hindi

कर्फ्यू पास क्या है और इसे कैसे प्राप्त किया जा सकता है? (What is Curfew pass in hindi, How to Get it online/offline)

कोरोना वायरस नाम का राक्षस धीरे-धीरे भारत देश में लोगों को अपनी चपेट में लिया जा रहा है. आज की गम्भीर परिस्थिति की बात करें तो पूरे भारत में अब तक कोरोना के 700 के उपर मामले दर्ज हो चुके हैं जिनमें से 13 लोग कोरोनावायरस के संक्रमण के कारण मृत घोषित किए जा चुके हैं. यह ऐसा संक्रमण है जिसकी वजह से एक इंसान ही दूसरे इंसान का दुश्मन हो जाता है क्योंकि यह एक इंसान के जरिए ही दूसरे इंसान तक पहुंच रहा है. इसी बात को मद्देनजर रखते हुए देश के प्रधानमंत्री ने 21 दिन के लिए पूरे देश को ताला लगा दिया है अर्थात पूरी तरह से लॉक डाउन कर दिया है. परंतु यदि आपातकालीन स्थिति हो तो घर से बाहर जाना होता है. इस समस्या को सुलझाने के लिए भी सरकार ने कर्फ्यू पास नाम की सुविधा ऐसे लोगों के लिए जारी की है. आइए जान लेते हैं कि कर्फ्यू पास किस तरह काम करता है और किन लोगों को प्राप्त हो सकता है नीचे दी गई जानकारी के जरिए समझते हैं.

curfew pass hindi

कर्फ्यू क्या होता है?

कर्फ्यू पास क्या है इससे पहले आपको यह जान लेना जरूरी है कि आखिर कर्फ्यू होता क्या है. देश में कुछ कानूनी अधिकारियों द्वारा लोगों को, अपने घर वापस लौटने और घर में ही रहने का आदेश दिया जाता है. यह सब कुछ गंभीर परिस्थितियों के दौरान ही किया जाता है और इसे ही कर्फ्यू का नाम दिया जाता है. कर्फ्यू फिलहाल कोरोनावायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए भारत में लगा दिया गया है.

कोरोना वायरस से बचने के लिए मोबाइल और लैपटॉप की स्क्रीन को कैसे साफ करें यहाँ पढ़ें

कर्फ्यू पास क्या है?

जैसा कि आपको बताया गया कि पूरे भारत देश में कर्फ्यू के चलते दिल्ली से सटे सारे बॉर्डर बंद कर दिए गए हैं ना तो कोई दिल्ली से बाहर जा सकता है और ना ही कोई दिल्ली में प्रवेश कर सकता है. ऐसे में यदि कोई गंभीर स्थिति में हो और आपातकालीन स्थिति की वजह से उसे दिल्ली में आना या दिल्ली से बाहर जाना पड़े तो इसके लिए उन्हें कर्फ्यू पास लेना होगा. ऐसी परिस्तिथि पुरे देश में है, क्यूंकि सभी जिला की सीमाओं को सील कर दिया है. अलग किसी कारणवश किसी व्यक्ति को दुसरे जिले जाना पड़े या अपने ही जिले में अत्यंत जरुरी काम है तो उसके पास कर्फ्यू पास होना अनिवार्य है.

कर्फ्यू पास एक ऐसी सुविधा है जिसके जरिए एक व्यक्ति आपातकालीन स्थिति या आवश्यक स्थिति में एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिए सरकार और प्रशासन से लिखित रूप में अनुमति प्राप्त करता है. जिसके बाद वह बिना प्रशासन की रोक-टोक के एक स्थान से दूसरे स्थान पर अपने काम को पूरा करने के लिए जा सकता है.

क्यों जारी करना पड़ा कर्फ्यू पास?

देश में लॉक डाउन के बाद भी सैकड़ों लोग सड़कों पर आ रहे हैं और बेवजह इधर-उधर घूम रहे हैं. जबकि सरकार इस बात का अंदेशा जनता को पहले ही जता चुकी है कि कोरोनावायरस इतनी गंभीर महामारी है जिससे यदि यह देश संक्रमित हो जाता है तो यह देश लगभग 21 साल पीछे चला जाएगा. लेकिन इसके बावजूद भी भारतीय लोग इस बात की गंभीरता को ना समझते हुए लगातार सड़कों पर आ रहे हैं जिसके चलते प्रशासन द्वारा आईपीसी की धारा 188 के तहत 100 से ज्यादा एफ आई आर दर्ज भी की जा चुकी है और 490 लोगों को हिरासत में भी ले लिया गया है. इसके अलावा दिल्ली की 340 से ज्यादा गाड़ियों को पुलिस ने अपने कब्जे में भी कर लिया है क्योंकि वे बेवजह सड़क पर निकलकर सफर कर रहे थे.

ऐसे में कुछ ऐसे लोगों को बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है जिन पर संकटों का पहाड़ टूट पड़ा है और वे आपातकालीन स्थिति से गुजर है, और उन लोगों को भी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा था जो आम जनता के लिए उनकी आधारभूत सुविधाओं को उपलब्ध कराने में लगे हुए हैं. जैसे दूध की गाड़ियां, फल सब्जियों की गाड़ियां, दवाई और चिकित्सा से जुड़ा सामान लाने वाली गाड़ियां आदि.

कोरोना वायरस से बचने के लिए मुंह पर पहने वाले मास्क को घर पर आसानी से बनाने का तरीका यहाँ पढ़ें

किसके लिए जारी किया गया है कर्फ्यू पास?

दरअसल दिल्ली की आम जनता की वजह से जिन लोगों को बेवजह परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है उन लोगों के लिए ही दिल्ली सरकार द्वारा यह कर्फ्यू पास जारी किए गए हैं. इस कर्फ्यू पास को प्राप्त करने वाले कुछ निम्नलिखित लोग सूची में शामिल किए गए हैं:-

  • कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों का इलाज करने वाले सभी डॉक्टर.
  • आधारभूत सुविधाएं जैसे दिल्ली में राशन लाने वाली गाड़ियों को यह कर्फ्यू पास दिया जाएगा.
  • दिल्ली में प्रवेश करने वाली दूध की गाड़ियों को भी यह कर्फ्यू पास प्रदान किया जाएगा.
  • सरकारी सुविधाओं को सुचारू रूप से चलाने वाले व्यक्तियों को भी यह कर्फ्यू पास प्रदान किया जाएगा.
  • कोई भी सरकारी विभाग जिसमें कर्मचारियों का पहुंचना अति आवश्यक है उन्हें भी उनका आई कार्ड देखने के बाद यह कर्फ्यू पास प्रदान किया जाएगा.

मुख्य रूप से यह सभी प्रकार के कर्फ्यू पास नोएडा, फरीदाबाद, गाजियाबाद, सोनीपत और गुरुग्राम की ओर जाने और आने वाले लोगों के लिए जारी किए गए हैं.

कहां से प्राप्त किए जा सकते हैं यह कर्फ्यू पास?

दिल्ली प्रशासन द्वारा कुछ निम्न जिलों में ही यह कर्फ्यू पास उपलब्ध है जहां से आसपास के आधारभूत सेवाएं प्रदान करने वाले लोग नहीं प्राप्त कर सकते हैं:-

  • गुड़गांव मानेसर के बाहर स्थित निजी संगठनों के जरिए:- डीसीपी कार्यालय, दक्षिण पश्चिम जिला, वसंत विहार.
  • फरीदाबाद में डीसीपी कार्यालय, दक्षिण-पूर्व जिला, सरिता विहार.
  • नोएडा में मौजूद डीसीपी कार्यालय, पूर्वी जिला, आईपी विस्तार, मंडावली.
  • सोनीपत में डीसीपी कार्यालय, बाहरी उत्तर जिला, समय पुर बादली.
  • बहादुरगढ़, झज्जर के अंदर डीसीपी कार्यालय बाहरी जिला, पीतमपुरा.

यदि हम अपनी सुरक्षा चाहते हैं तो हमें खुद को अपने घर में ही क्वॉरेंटाइन करना होगा क्वॉरेंटाइन का अर्थ अपने घर में खुद को ही खुद की देखभाल करते हुए अपना समय व्यतीत करना होगा ताकि हमारी वजह से किसी और को असुविधा जैसी परिस्थिति में पड़ना पड़े. यह एक ऐसा समय है जो भले ही भारत के प्रधानमंत्री द्वारा हमें दिया गया हो लेकिन यदि आप इस समय के मूल्य को समझेंगे तो यह एक ऐसा समय है जो आपको पहली बार बिना किसी व्यस्तता के, अपने परिवार के साथ सुनहरा समय बिताने का मौका मिला. आज से पहले तो आपकी पूरी जिंदगी धनोपार्जन के लिए आपने अपने काम को और भविष्य सवारने के लिए पढ़ाई को और ना जाने किस किसको दी होगी। परंतु आज यह पहला मौका है,  जब आप अपना मूल्यवान समय  अपने मूल्यवान परिवार को दे सकते हैं उन्हें समझ सकते हैं उनकी समस्याओं को सुलझा सकते हैं और अपने इस पल को बेहतर बना सकते हैं. इसलिए कोशिश करें कि अपने घर पर रहें सुरक्षित रहें और दूसरों को उनके काम में पूरी मदद करें.

Other links –

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *