Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
ताज़ा खबर

दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) में प्रवेश लेने की प्रक्रिया | Delhi University (DU) Admission 2018 in hindi

दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) में प्रवेश लेने की प्रक्रिया से जुड़ी जानकारी (Delhi University (DU) Admission 2018, Registration Process, Courses, Entrance Exam, Colleges, Admit Card, Fee, Form, Online Admission Portal, Documents, Eligibility Criteria, Cutoff, Last Date Detail in hindi)

साल 1922 में स्थापित हुई दिल्ली यूनिवर्सिटी का नाम सर्वश्रेष्ठ यूनिवर्सिटी में गिना जाता है और इसलिए हर साल लाखों की संख्या में बच्चे इस यूनिवर्सिटी में दाखिला लेने के लिए अप्लाई करते है. साल 2018 के सत्र के लिए, दिल्ली यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेने की प्रक्रिया भी अभी हाल ही में स्टार्ट हो गई है और इस यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेने की इच्छा रखने वाले छात्र ऑनलाइन जाकर अप्लाई कर सकते हैं.

Delhi University Admission

डीयू के कॉलेजों में अंडर ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट से जुड़े हुए विभिन्न कोर्सेज की पढ़ाई करवाई जाती है और हर कोर्स के लिए अलग तरह से छात्रों का रजिस्ट्रेशन किया जाता है. कुछ पाठ्यक्रमों यानी कोर्सेज के लिए, प्रवेश परीक्षा के आधार पर डीयू में प्रवेश मिलता है, जबकि कुछ पाठ्यक्रमों में प्रवेश योग्यता परीक्षा (qualifying examination) के आधार पर होता हैं. इसके अलावा एमबीबीएस या बीडीएस कोर्स में एडमिशन एनईईटी परीक्षा के माध्यम से किया जाता है.

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जुड़ी जानकारी-

किस साल हुई स्थापना सन् 1922
कुलाधिपति का नाम भारत के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू – अगस्त 2017 से अभी तक)
कहां है स्थित दिल्ली
कैंपस के नाम नार्थ कैंपस और साउथ कैंपस
कुल कॉलेज 77
कुल पाठ्यक्रम 240, जिसमें से यूजी के 87 पाठ्यक्रम हैं और पीजी के पाठ्यक्रम 153 हैं. 
आधिकारिक वेबसाइट           http://du.ac.in/index.html 

साल 2018-2019 के सत्र में दाखिला लेने से जुड़ी महत्वपूर्ण तारीख (Important Dates) –

साल 2018-2019 के सत्र में जो छात्र दाखिला लेना चाहते हैं, उन्हें सात जून तक अपना एप्लीकेशन फॉर्म ऑनलाइन के माध्यम से जमा करवाना होगा और दाखिले से जुड़ी अन्य जानकारी इस प्रकार है-

ऑनलाइन पंजीकरण शुरू होने की तारीख 15 मई, 2018
ऑनलाइन पंजीकरण करने  की अंतिम तारीख 7, जून, 2018
एमिशन लेने की अंतिम तारीख 16 अगस्त, 2018
कब आएगी पहली कटऑफ 19 जून, 2018 डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन ,एडमिशन एंड पेमेंट

 

19 जून  से लेकर 21 जून तक
कब आएगी दूसरी कटऑफ 25 जून, 2018 डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन ,एडमिशन एंड पेमेंट

 

25 जून से 27 जून तक
कब आएगी तीसरी कटऑफ 30 जून, 2018 डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन ,एडमिशन एंड पेमेंट

 

30 जून से 3 जुलाई तक
कब आएगी चौथी कटऑफ 6 जुलाई, 2018 डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन ,एडमिशन एंड पेमेंट

 

6 जुलाई से 9 जुलाई तक
कब आएगी पांच कटऑफ 12 जुलाई, 2018 डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन ,एडमिशन एंड पेमेंट

 

12 जुलाई से 14 जुलाई तक

प्रवेश परीक्षा की तारीख (Entrance exam Date)

डीयू के कई ऐसे ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट कोर्सेज हैं जिनमें दाखिला एंट्रेंस एग्जाम के माध्यम से मिलता है और ये एग्जाम कब होगें, इन एग्जाम का रिजल्ट कब आएगा और एंट्रेंस एग्जाम से जुड़ी अन्य इन्फोर्मेशन इस http://admission.du.ac.in/pg2018/index.php/site/login लिंक पर मिल जाएगी.

डीयू के कॉलेजों के नाम (Delhi University College name)

दिल्ली यूनिवर्सिटी का नाम देश की सबसे बड़ी यूनिवर्सिटी में गिना जाता है और इस यूनिवर्सिटी के कुल 77 कॉलेज मौजूद हैं और इस http://www.du.ac.in/du/index.php?page=list-of-colleges  लिकं पर इन सभी कॉलेजों के बारे में इनफार्मेशन दी गई है.

एडमिशन प्रक्रिया को लेकर किया गया है बदलाव (Changes in Admission Process)

  • दिल्ली यूनिवर्सिटी में एडमिशन की प्रक्रिया को लेकर इस बार थोड़ा सा बदलाव किया गया है और साल 2018 के लिए छात्रा प्रवेश योग्यता (merit) और प्रवेश परीक्षा (entrance) वाले कोर्सेज के लिए एक ही ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से अप्लाई कर सकें.
  • सीबीएसई बोर्ड के जरिए 12 वीं कक्षा पास करने वाले उम्मीदवारों को केवल अपना रोल नंबर प्रदान करने होगा और रोल नंबर की सहायता से ही उस छात्र के अंक स्वचालित (automatically) रूप से प्राप्त कर लिए जाएंगे.
  • पांच साल के पत्रकारिता कोर्स को भी इस बार डीयू की कोर्स सूची में शामिल किया गया है और छात्र इस कोर्स के लिए भी अप्लाई कर सकेंगे.
  • स्पोर्ट कोटा के जरिए जो छात्र डीयू के अंडर ग्रेजुएट कोर्स के लिए आवेदन करेंगे उन्हें ऑनलाइन आवेदन करते समय तीन अलग-अलग प्रमाण पत्रों को अपलोड करने होंगे.
  • एंट्रेंस बेस्ड कोर्सेज के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवार खेल / ईसीए, कश्मीरी प्रवासक और डीयू वार्ड कोटा के तहत आवेदन नहीं कर सकते हैं.

ग्रेजुएट कोर्स के लिए पंजीकरण करवाने की प्रक्रिया (Registration Process)

दिल्ली यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेने के लिए सबसे पहले आपको एक फॉर्म भरना होगा और ये फॉर्म ऑनलाइन के जरिए ही भरा और सबमिट किया जाएगा.

प्रक्रिया (How to register) –

  • ऑनलाइन पंजीकरण करने के लिए, आवेदकों को सबसे पहले इस ug.du.ac.in/app2k18 यूआरएल पर जाना होगा. इस यूआरएल पर जाने के बाद एक पेज खुलेगा और उस पेज पर आपको सबसे ऊपर ‘न्यू एप्लिकेंट सिग्न उप’ (NEW APPLICANT SIGN UP) लिखा हुआ दिखेगा और उसकी के नीचे लिखे गए न्यू रजिस्ट्रेशन (New Registration) पर आपको क्लिक करना होगा.
  • न्यू रजिस्ट्रेशन पर किल्क करने के बाद एक नया पेज खुलेगा जिसका लिंक ये https://ug.du.ac.in/app2k18/Account/Register हैं और इस लिंक पर आपको एक फॉर्म फील करने के लिए कहा जाएगा और आपको उस फॉर्म को फील करना होगा. फॉर्म फील करने के बाद आपको नीचे दिए गए रजिस्ट्रेशन पर किल्क करना होगा और इस तरह से आपका रजिस्ट्रेशन हो जाएगा.
  • रजिस्ट्रेशन हो जाने के साथ ही आपको आपके ई मेल अकाउंट या फोन पर एक कन्फर्मेशन मैसेज भी भेजा जाएगा. जिसका मतलब होगा की आपका रजिस्ट्रेशन हो चुका है. इसलिए अगर आपको कन्फर्मेशन मैसेज नहीं आता है तो इसका मतलब है कि आपका रजिस्ट्रेशन पूरा नहीं हुआ है और आपको फिर से रजिस्ट्रेशन करना होगा.              

ऑनलाइन फॉर्म भरने की प्रक्रिया (Online Form Process) :

  • रजिस्ट्रेशन होने के बाद आपको फिर से https://ug.du.ac.in/app2k18 लिकं पर जाना होगा और इस लिंक के पेज की राइट साइड पर लिखे गए रजिस्टर्ड एप्लिकेंट सिग्न इन (Registered application sign in) में पूछी गई जानकारी जैस की पंजीकृत ईमेल-आईडी, यूजर्सनेम,पासवर्ड और उसके बाद दिए गए “कैप्चा इमेज ” (“Captcha Image”) में लिखे गए नंबर को सही से भरना होगा. नंबर भरने के बाद आपको लॉगइन पर किल्क करना होगा.
  • यदि आपको अपना पासवर्ड याद नहीं है तो आप उसे रीसेट भी कर सकते हैं और ऐसा करने के लिए आवेदक को “पासवर्ड रीसेट करें” पर क्लिक करना होगा.
  • लॉग इन करने के बाद, आवेदक को एक डिक्लेरेशन पढ़ने को मिलेगी और उनको उसे पढ़कर स्वीकार करना होगा और “जारी रखें” पर क्लिक करना होगा.
  • क्लिक करने के बाद एक एप्लीकेशन फॉर्म का पेज खुलेगा और उस फॉर्म में एप्लिकेंट को अपनी पर्सनल डिटेल्स, अकादमिक डिटेल्स, बैंक डिटेल्स, कॉरेस्पोंडेंस एड्रेस जैसी जानकारी भरनी होगी. इसके साथ ही एप्लिकेंट को उस कोर्स का चयन भी करना होगा जिसमें वो प्रेवश लेना चाहता है और इस तरह से पूरे फॉर्म को भरने के बाद एप्लिकेंट को ऑनलाइन पेमेंट करनी होगी. पेमेंट हो जाते ही ये प्रक्रिया खत्म हो जाएगी.

आवश्यक दस्तावेज (Necessary Documents)

ऑनलाइन फॉर्म भरते टाइम एप्लिकेंट को कई तरह के डॉक्यूमेंट की भी जरूरत पड़ेगी और उन डॉक्यूमेंट के नाम इस प्रकार हैं-

  • क्लास X का सर्टिफिकेट या मार्कशीट

एप्लिकेंट को क्लास X का सर्टिफिकेट या मार्कशीट को स्कैन करना होगा और फॉर्म भरते समय इसे अपलोड करना होगा. क्लास X की मार्कशीट या सर्टिफिकेट के जरिए एप्लिकेंट की सही बर्थ ऑफ डेट का पता चल सकेगा. इसलिए फॉर्म भरते समय वो ही बर्थ ऑफ डेट भरें जो कि आपके क्लास X की मार्कशीट या सर्टिफिकेट में लिखी गई है.

  • कक्षा XII मार्क-शीट

एप्लिकेंट को सेल्फ अटेस्टेड, कक्षा XII की मार्क-शीट की कॉपी को स्कैन करना होगा और फिर फॉर्म भरते टाइम इसे अपलोड करना होगा. अगर एप्लिकेंट को बोर्ड द्वारा कक्षा XII मार्क-शीट जारी नहीं की गई होगी, तो उस केस में एप्लिकेंट को अपने बोर्ड की वेबसाइट से मार्क-शीट डाउनलोड करके और उसे सेल्फ अटेस्टेड करके अपलोड करना होगा.

  • वैलिड सर्टिफिकेट

एससी / एसटी / ओबीसी / पीडब्ल्यूडी / केएम / सीडब्ल्यू के छात्रों को अपनी जाति से जुड़े वैलिड सर्टिफिकेट की जरूरत भी फॉर्म फील करते समय पड़ेगी और इन छात्रों को अपना वैलिड सर्टिफिकेट भी  सेल्फ अटेस्टेड करके अपलोड करना होगा.  जो छात्र स्पोर्ट कोटा  के जरिए एडमिशन लेना चाहते हैं उन्हें इससे जुड़े हुए सर्टिफिकेट की भी जरूत फॉर्म भरते समय पड़ेगी.

  • फोटो और हस्ताक्षर
  • एप्लिकेंट को फॉर्म फील करते समय अपनी एक पासपोर्ट साइज फोटो और स्कैन किए गए हस्ताक्षर को भी अपलोड करना होगा. स्कैन किए गए पासपोर्ट साइज फोटो का साइज 2 inch x 2 inch (5 mm x 5 mm) होना चाहिए.
  • प्रवेश प्रक्रिया से संबंधित किसी भी प्रकार के प्रश्न का उतर एप्लिकेंट को इस http://www.du.ac.in/du/uploads/08052018pdf लिंक पर मिल जाएगी और एप्लिकेंट चाहे तो इस du.ug.help2018@gmail.com आईडी पर भी अपने सवाल भेज सकते हैं या फिर 27006900 फोन नंबर पर कॉल कर सकते हैं.
  • जबकि दूसरे देश का अगर कोई छात्र डीयू में प्रेवश लेने चाहता है तो उसे इस http://fsr.du.ac.in/ लिंक पर जाना होगा.

स्नातक पाठ्यक्रम में दाखिला लेने के लिए तय किए गए योग्यता मानदंड (Eligibility criteria for UG Students)

आयु

दिल्ली यूनिवर्सिटी के कॉलेजों में यूजी पाठ्यक्रमों में एडमिशन लेने के लिए कोई भी न्यूनतम आयु नहीं है. हालांकि कुछ कोर्स में न्यूनतम आयु तय की गई है.

बीएमएस /बी.ए (ऑनर्स) बिजनेस इकोनॉमिक्स / बीबीए (एफआईए)

  • जो छात्र बीएमएस /बी.ए (ऑनर्स) बिजनेस इकोनॉमिक्स / बीबीए (एफआईए) में दाखिला लेने चाहते हैं उनके पास 12 वीं कक्षा के चार विषयों में कम से कम 60% अंक होने चाहिए. एससी, एसटी, सीडब्ल्यू और पीडब्ल्यूडी काटेगोरिएस के छात्रों के लिए अंक सीमा 55 % तय की गई है.
  • इन चार विषयों में से दो विषय अंग्रेजी, गणित होना अनिवार्य है. जबकि बाकी दो विषय दिल्ली विश्वविद्यालय द्वारा अनुमोदित वैकल्पिक विषयों की सूची में से होने चाहिए.
  • जो छात्र बी टेक (सूचना प्रौद्योगिकी और गणितीय अभिनव) में एडिमशन लेने के लिए अप्लाई करना चाहते हैं, उनके 12 कक्षा के चार विषयों में कम से कम 60% मार्क्स होने चाहिए. जबकि ओबीसी के छात्रों के लिए ये अंक सीमा 54% और डब्ल्यूडी / सीडब्ल्यू, एससी / एसटी छात्रों के लिए 57% तय की गई है.

पंजीकरण शुल्क (Registration Fee Admission Merit Based )

अंडर ग्रेजुएट के जिन कोर्सेज में एडमिशन मेरिट के आधार पर होता है उनके लिए आवेदन शुल्क इस प्रकार है –

जाति (Caste) फीस (Fee)
जनरल, कश्मीरी प्रवासियों (केएम), सेना / विधवाएं (सीडब्ल्यू) और अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) 150 रुपए
अनुसूचित जाति (अनुसूचित जाति), अनुसूचित जनजाति (एसटी), विकलांग व्यक्तियों (पीडब्ल्यूडी) 75 रुपए
खेल / ईसीए कोटा 100 रुपए

 

जिन अंडर ग्रेजुएट प्रोग्राम में एडमिशन एंट्रेंस बेस्ड होगा उनके लिए आवेदन शुल्क इस प्रकार है (Registration Fee Admission Entrance Based)

जाति (Caste) फीस (Fee)
जनरल 500 रुपए
अनुसूचित जाति (अनुसूचित जाति), अनुसूचित जनजाति (एसटी), विकलांग व्यक्तियों (पीडब्ल्यूडी) 250 रुपए

 

डीयू के यूजी कोर्स के नाम और उनके बारे में जानकारी (DU’s UG courses)

दिल्ली यूनिवर्सिटी में हर तरह के अंडर ग्रेजुएट कोर्स करवाए जाते हैं, इसलिए छात्रों के पास एडमिशन लेने के लिए कई कोर्सेज का ऑप्शन होते है. इसके बारे में आपको यहाँ जानकारी मिल जाएगी http://www.du.ac.in/du/index.php?page=undergraduate.

संख्या कोर्स का नाम अवधि (Duration)
1 बी. ए. (ऑनर्स) एप्लाइड साइकोलॉजी तीन साल
2 बी. ए. (ऑनर्स) बंगाली तीन साल
3 बी. ए.(ऑनर्स) बिजनेस इकोनॉमिक्स तीन साल
4 बी. ए. (ऑनर्स) अरबी तीन साल
5 . बी. ए. (ऑनर्स) इकोनॉमिक्स तीन साल
6 बी. ए. (ऑनर्स) इंग्लिश तीन साल
7 बी. ए. (ऑनर्स) फ्रेंच तीन साल
8 बी. ए. (ऑनर्स) भूगोल तीन साल
9 बी. ए. (ऑनर्स) जर्मनी तीन साल
10 बी. ए. (ऑनर्स) हिस्ट्री तीन साल
11 बी. ए. (ऑनर्स) पत्रकारिता और मास संचार तीन साल
12 बी. ए. (ऑनर्स) इटालियन तीन साल
13 बी. ए. (ऑनर्स) संगीत तीन साल
14  बी. ए. (ऑनर्स) हिंदी तीन साल
15 बी. ए. (ऑनर्स) फारसी तीन साल
16 बी. ए. (ऑनर्स) फिलॉसॉफी

 

तीन साल
17 बी. ए. (ऑनर्स) राजनीति विज्ञान तीन साल
18 बी. ए. (ऑनर्स) मनोविज्ञान तीन साल
19 बी. ए. (ऑनर्स) पंजाबी तीन साल
20 बी. ए. (ऑनर्स) संस्कृत

 

तीन साल
21 बी. ए. (ऑनर्स) सोशल वर्क तीन साल
22 बी. ए. (ऑनर्स) समाजशास्त्र तीन साल
23 बी. ए. (ऑनर्स) स्पैनिश तीन साल
24 बी० ए० (ऑनर्स) उर्दू तीन साल
25 बी.ए. कार्यात्मक हिंदी तीन साल
26 बैचलर ऑफ लाइब्रेरी एंड इनफार्मेशन साइंस

 

तीन साल
27 बैचलर ऑफ फिजिकल एजुकेशन

 

तीन साल
28 बीएससी (एच) इंस्ट्रूमेंटेशन तीन साल
29 बीएससी (ऑनर्स) एंथ्रोपोलॉजी तीन साल
30 बीएससी (ऑनर्स) बायो-कैमिस्ट्री तीन साल
31 बीएससी (ऑनर्स) बायोमेडिकल साइंस तीन साल
32 बीएससी (ऑनर्स) वनस्पति विज्ञान तीन साल
33 बीएससी (ऑनर्स) कैमिस्ट्री तीन साल
34 बीएससी (ऑनर्स) कंप्यूटर साइंस तीन साल
35 बीएससी (ऑनर्स) इलेक्ट्रॉनिक्स तीन साल
36 बीएससी (ऑनर्स) फूड टेक्नोलॉजी तीन साल
37 बीएससी (ऑनर्स) भूविज्ञान तीन साल
38 बीएससी (ऑनर्स) होम साइंस तीन साल
39 बीएससी (ऑनर्स) गणित तीन साल
40 बीएससी (ऑनर्स) माइक्रोबायोलॉजी तीन साल
41 बीएससी (ऑनर्स) भौतिकी तीन साल
42 बीएससी (ऑनर्स) पॉलिमर साइंस

 

तीन साल
43 बीएससी (ऑनर्स) स्टेटिस्टिक्स तीन साल
44 बीएससी (ऑनर्स) जूलॉजी तीन साल
45 बीएससी (ऑनर्स) जैविक विज्ञान

 

तीन साल
46 बीएससी (पीएचईईएस) तीन साल
47 बीएससी एग्रो-केमिकल एंड कीट प्रबंधन के साथ एप्लाइड लाइफ साइंसेज तीन साल
48 बीएससी एप्लाइड फिजिकल साइंस (विश्लेषणात्मक रसायन शास्त्र) तीन साल
49 बीएससी औद्योगिक रसायन शास्त्र तीन साल
50 बीएससी जीव विज्ञान तीन साल
51 बीएससी शारीरिक शिक्षा और खेल विज्ञान तीन साल
52 बैचलर ऑफ बिजनेस स्टडीज तीन साल
53 वित्तीय और निवेश विश्लेषण के स्नातक तीन साल
54 बीएफए  फाइन आर्ट्स तीन साल
55 बी.एड तीन साल
56 बी,ए. वोकेशनल  स्टडीज तीन साल
57 बी.एड. होम साइंस

 

तीन साल
58 बीएससी (एमटी) रेडियोग्राफी तीन साल
59 बीएससी एप्लाइड लाइफ साइंसेज तीन साल
60 बीएससी एप्लाइड फिजिकल साइंस तीन साल
61 फिजिकल साइंस विथ केमिस्ट्री तीन साल
62 प्राथमिक शिक्षा स्नातक तीन साल
63 फिजिकल साइंस विथ कंप्यूटर तीन साल
64 बीएससी फिजिकल साइंस तीन साल

 

पोस्ट ग्रेजुएट पाठ्यक्रम में दाखिला लेने के लिए तय की गई योग्यता मानदंड (DU PG Admission Eligibility Criteria 2018)-

  • डीयू के पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स में एडमिशन लेने के लिए कोई भी स्पेसिफिक एज क्राइटेरिया नहीं है और किसी भी आयु का व्यक्ति पोस्ट ग्रेजुएट के कोर्सेज में एडमिशन लेने के लिए अप्लाई कर सकता.
  • हालांकि उम्मीदवारों को यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेने के लिए एमसीआई या एआईसीटीई द्वारा अधिसूचित मानदंडों को पूरा करना होगा और जो छात्र पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स में एडमिशन लेने चाहते हैं उनके पास अंडर ग्रेजुएट की डिग्री होना भी अनिवार्य है.
  • पोस्ट ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में एडमिशन लेने से जुड़ी और क्या क्या योग्यता होनी चाहिए वो आपको इस http://admission.du.ac.in/pg2018/php/site/login लिंक पर मिल जाएगी. बस आपको इस लिंक पर जाकर उस कोर्स के नाम का सिलेक्शन करना होगा जिसमें आप दाखिला लेने चाहते हैं.

पोस्टग्रेजुएट पाठ्यक्रम के फॉर्म को भरने की प्रक्रिया (Registration Process)

  • पोस्ट ग्रेजुएट यानी मास्टर कोर्स में प्रवेश के लिए छात्रों को अपना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाना होगा और छात्र अपना रजिस्ट्रेशन इस http://admission.du.ac.in/pg2018/php/site/signup यूआरएल पर जाकर कर सकते हैं.
  • ऊपर बताए गए यूआरएल पर जाकर छात्र को एक एप्लीकेशन फॉर्म भरना होगा और ये फॉर्म भरने के बाद छात्र का रजिस्ट्रेशन हो जाएगा. जिसके बाद छात्र को ईमेल आएगा और उस इमेल में आपको एक पार्सवार्ड भेजा जाएगा.
  • छात्र को अपने ई मेल और पार्सवार्ड को इस लिंक http://admission.du.ac.in/pg2018/php/site/login पर दिए गए प्लीज लॉगिन हेयर (Please login here) पर भरना होगा और ये भरने के बाद एडमिशन से जुड़ा हुए एप्लीकेशन फॉर्म भरने का लिंक खुल जाएगा और उस लिकं पर छात्र को पूछी गई सभी इनफार्मेशन को भरना होगा. इनफार्मेशन भरने के बाद आपका एप्लीकेशन फॉर्म जमा हो जाएगा.

डीयू पीजी प्रवेश प्रक्रिया 2018 (DU PG Admission Procedure 2018)-

  • डीयू के पोस्ट ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में से कुछ पाठ्यक्रमों में एडमिशन लेने के लिए, प्रवेश परीक्षा यानी एंट्रेंस टेस्ट लिया जाता है जबकि कुछ पाठ्यक्रमों के लिए, उम्मीदवारों को स्नातक स्तर के आधार पर प्रवेश मिल जाता है.
  • एंट्रेंस टेस्ट में ऑब्जेक्टिव टाइप के प्रश्न पूछे जाते हैं और ये सभी प्रश्न इक्वल मार्क्स के होते हैं. ये टेस्ट द्विभाषी यानी हिंदी और अग्रेजी भाषा में होते हैं.
  • प्रवेश परीक्षा में उम्मीदवारों के प्रदर्शन के आधार पर यूनिवर्सिटी मेरिट सूची बनाती है और इसी सूची के आधार पर छात्रों को एडमिशन मिलता है.

प्रवेश पत्र 2018 (DU PG Admit Card 2018)

पोस्ट ग्रेजुएट के जिन कोर्सेज के लिए एंट्रेंस टेस्ट होता है और उस कोर्स के लिए जिन छात्रों ने आवेदन किया होता है, उन्हें एप्लिकेशन फॉर्म भरने के कुछ टाइम बाद प्रवेश पत्र यानी एडमिट कार्ड जारी कर दिया जाता है और छात्रों को ऑनलाइन के जरिए अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड करना होता है.

डीयू में पढ़ाए जाने वाले पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स के नाम (Post Graduate Course Details)

डीयू में लगभग 65 से भी अधिक पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स करवाए जाते हैं और कोई भी भारतीय छात्र इन कोर्स में एडमिशन लेने के अप्लाई कर सकते है http://www.du.ac.in/du/index.php?page=post-graduate.

संख्या कोर्स का नाम कोर्स की अवधि
1 एमए (हिंदुस्तान संगीत) वोकल / इंस्ट्रुमेंटल

 

दो साल
2 एम.ए (कर्नाटक संगीत) वोकल / वाद्य यंत्र तीन साल
3 एम.ए एप्लाइड साइकोलॉजी तीन साल
4 एम.ए अरबी दो साल
5 एम.ए बंगाली दो साल
6 एम.ए बौद्ध अध्ययन दो साल
7 एम.ए तुलनात्मक भारतीय साहित्य दो साल
8 एम.ए पूर्वी एशियाई अध्ययन दो साल
9 एम.ए अर्थशास्त्र दो साल
10 एम.ए अंग्रेजी दो साल
11 एम.ए फ्रेंच दो साल
12 एम.ए भूगोल दो साल
13 एम.ए जर्मन दो साल
14 एम.ए हिंदी दो साल
15 एम.ए हिस्पैनिक दो साल
16 एम.ए इतिहास दो साल
17 एम. ए इतालियन दो साल
18 एम.ए जापानी दो साल
19 एमए लाइफ लॉग लर्निंग एंड एक्सटेंशन दो साल
20 एम.ए भाषाविज्ञान दो साल
21 एम.ए फारसी दो साल
22 एम.ए फिलॉसफी दो साल
23 एम.ए राजनीति विज्ञान दो साल
24 एम.ए साइकोलॉजी दो साल
25 एम.ए पंजाबी दो साल
26 एम.ए रूसी अध्ययन दो साल
27 एम.ए संस्कृत दो साल
28 एम.ए सामाजिक कार्य दो साल
29 एम.ए समाजशास्त्र दो साल
30 एम.ए तमिल दो साल
31 एम.ए उर्दू दो साल
32 एम.ए / एम.एस.सी पर्यावरण अध्ययन दो साल
33 एम.ए / एम.एस.सी मैथमेटिक्स दो साल
34 एम.ए / एम.एस.सी स्टेटिस्टिक्स दो साल
35 एम.सी.ए दो साल
36 एमबीए (आईबी) दो साल
37 एमबीए (एचआरडी) दो साल
38 म.कॉम दो साल
39 म.एससी

एंथ्रोपोलॉजी

दो साल
40 एमएससी जीव रसायन दो साल
41 एमएससी बायोमेडिकल साइंसेज दो साल
42 एम.एससी बॉटनी दो साल
43 एम.एससी रसायन विज्ञान दो साल
44 एम.एससी कंप्यूटर विज्ञान दो साल
45 एमएससी विकास संचार और विस्तार दो साल
46 एमएससी इलेक्ट्रानिक्स दो साल
47 एमएससी कपड़ा और परिधान विज्ञान दो साल
48 एमएससी खाद्य और पोषण दो साल
49 एमएससी जेनेटिक्स दो साल
50 एमएससी भूगर्भशास्त्र दो साल
51 एमएससी मानव विकास और बचपन अध्ययन

 

दो साल
52 एमएससी सूचना विज्ञान दो साल
53 एमएससी कीटाणु-विज्ञान दो साल
54 एमएससी परिचालन अनुसंधान और एमए / एमएससी। एप्लाइड ऑपरेशनल रिसर्च दो साल
55 एमएससी पीएच.डी. संयुक्त डिग्री (बायोमेडिकल रिसर्च, एसीबीआर) दो साल
56 एमएससी भौतिक विज्ञान दो साल
57 एमएससी संयंत्र आण्विक जीवविज्ञान और जैव प्रौद्योगिकी दो साल
58 एमएससी संसाधन प्रबंधन और डिजाइन आवेदन दो साल
59 एमएससी प्राणि विज्ञान दो साल
60 एमटेक माइक्रोवेव इलेक्ट्रॉनिक्स दो साल
61 एम.टेक रासायनिक संश्लेषण और प्रक्रिया प्रौद्योगिकी दो साल
62 एम.टेक नैनोसाइंस और नैनो टेक्नोलॉजी दो साल
63 एम.टेक परमाणु विज्ञान और प्रौद्योगिकी दो साल
64 पुस्तकालय और सूचना विज्ञान के मास्टर दो साल
65 मास्टर ऑफ एजुकेशन (एमएड) दो साल
66 मास्टर्स ऑफ़ मैथमेटिक्स एजुकेशन दो साल
67 मास्टर ऑफ़ फिजिकल एजुकेशन दो साल

 

दिल्ली यूनिवर्सिटी पीएचडी कोर्स एडमिशन (Phd Course list Admission in Delhi University)

पीएचडी कोर्स की जानकारी आप इस लिंक से प्राप्त कर सकते है http://www.du.ac.in/du/index.php?page=ph-d.

दिल्ली यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेने से जुड़े हुए फॉर्म को छात्र काफी सावधानी से भरें, क्योंकि अगर कोई छात्र किसी तरह की इन्फोर्मेशन को गलत भर देता है, तो उस छात्र के एप्लीकेशन फॉर्म को रद्द कर दिया जाता है. जिसके कारण उस छात्र को इस यूनिवर्सिटी में एडमिशन नहीं मिल पाता है. साथ ही फॉर्म भरते टाइम छात्र सही से उस कोर्स का चुनाव करें जिसमें वो एडमिशन लेना चाहते हैं. क्योंकि अक्सर कई छात्रों द्वारा गलत कोर्स का चुनाव कर लिया जाता है, जिसके कारण उन्हें आगे जाकर प्रॉब्लम होती है.

अन्य पढ़े:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *