ताज़ा खबर

जन धन योजना (Jan Dhan Yojana) के लाभ, हानि तथा सम्भावनाएं | क्या यह सरकार का सोचा समझा फैसला हैं ?

प्रधानमंत्री जन धन योजना (Jan Dhan Yojana) के लागू होते ही कई तरह के सवाल जवाब शुरू हो गये जिन्हें या तो विपक्ष सामने ला रहा हैं या मीडिया इसके खिलाफ या हक़ में ब्यान बाजी कर रही हैं | सरकार से पूछे जाने पर उनका यही जवाब हैं कि यह योजना गरीब भारतियों को ध्यान में रखकर बनाई गई हैं जिससे उनमे आत्म विश्वास बढ़ेगा, साथ ही उनके जीवन शैली में भी उचित परिवर्तन आयेंगे |

प्रधानमंत्री श्री मोदी के स्वतंत्रता दिवस के भाषण, जिसमे उन्होंने जन धन योजना(Jan Dhan Yojana) को जनता के सामने रखा, के बाद 22 अगस्त को रिकॉर्ड तोड़ खाते खोले गए | पुरे देश में इसकी संख्या 1.5 करोड़ आंकी गई, ऐसा कभी किसी देश में नहीं देखा गया, जहाँ एक साथ इतने अकाउंट खोले गए हो | इससे बस यही अंदाजा लगता हैं कि मोदी के शब्दों में ताकत हैं, साथ ही जनता भी उन्हें पूरा समर्थन दे रही हैं |

जन धन योजना (Jan Dhan Yojana)के लाभ:

जन धन योजना (Jan Dhan Yojana) के अनुसार, देश के हर एक परिवार का एक खाता बैंक में खोला जायेगा और साथी ही 1 लाख की न्यूनतम राशि का बीमा किया जायेगा | यह ग्रामीण परिवेश के असुरक्षित परिवार को ध्यान में रखकर बनाई गई नीति हैं |

भारतीयों का अधिक से अधिक चालीस फीसदी प्रति दिन एक डॉलर से भी कम पर अपना जीवन व्यतीत करते हैं, यह योजना के इस तरह के जीवन को सुधारने तथा उनमे सुरक्षा के भाव को जगाने के लिए बनाई गई हैं |

इस (Jan Dhan Yojana) योजना के अनुसार गरीबों के जीवन में सूतखोर साहूकारों की भागीदारी कम होगी और गरीब सीधे बैंक से जुड़ेंगे | पहले छोटी सी राशि भी गरीब ग्रमीण बैंक से उधार नहीं लेते थे और साहूकारों के झमेले में फस जाते थे लेकिन अब वे सभी रूपए पैसो सम्बन्धी उधार सीधे बैंक से ले सकते हैं |

जन धन योजना  (Jan Dhan Yojana)की हानि:

सभी कार्यो के दो पहलु हैं इस (Jan Dhan Yojana) योजना के भी कुछ दुष्परिणाम हैं जिनमे से एक हैं पुनर्प्राप्ति एवम ऋण संग्रह |

अब इस (Jan Dhan Yojana) योजना के कारण ऋण लेने वाले उधारकर्ता न्यूनतम राशि उधार लेंगे जो कि अधिक मात्रा में होगी, जिसका असर व्यापारिक तथा उच्च सामाजिक गतिविधियों पर होगा |और इन सभी का ब्यौरा रखना भी मुश्किल होगा |इससे बैंक के सिस्टम काफी प्रभावित होंगे, जिसके लिए उन्हें अभी से तैयार होना आवश्यक हैं तथा उचित वित्तीय नियम बनाना भी जरुरी हैं ताकि उधार की राशि आसानी से रिकवर की जा सके |

जन धन योजना (Jan Dhan Yojana)से भविष्य की सम्भावनाये :

Universal Banking का आईडिया भारत में बहुत पुराना हैं पर इसे ग्रामीण तथा छोटे शहरी लोगो के उचित समर्थन ना मिलने के कारण सफल नहीं माना गया | इसी कारण जन धन योजना में RuPay Card को जोड़ा गया, जिससे निचले स्तर के लोग भी इस सुविधा का उपयोग कर वित्तीय प्रणाली को सुचारू बनाने में अपना अहम योगदान दे सके |साथ ही ओवर ड्राफ्ट फैसिलिटी को योजना के तहत लिया जा रहा हैं |

अगर उधारकर्ता से ऋण एकत्र करने की कोई उचित व्यवस्था नहीं बनाई गई तो इस योजना का मूल उद्देश्य विफल हो जायेगा और बनाये गये अकाउंट निष्क्रियता की स्थिति में चले जायेंगे |

जिस तेजी से बेंको में अकाउंट ओपन हो रहे हैं अगर उसी तेजी से इस विषय पर काम नहीं किया गया तो यह (Jan Dhan Yojana) व्यवस्था वित्तीय प्रणाली को संकट में डाल देगी, इसका देश की अर्थव्यवस्था पर भारी असर होगा |

पढ़े

Read more Detail about Jan Dhan Yojana in Hindi

Read More About RuPay Card In Hindi

Karnika

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *