Top 5 This Week

spot_img

Related Posts

G20 Summit 2023, Full Form, Theme, Logo, Date, Latest News | G20 शिखर सम्मेलन

G20 Summit 2023, Kya hai, Theme, Logo, Host Country, Dates, Latest News, Full form, Members, Participants | जी20 क्या है, थीम,लोगो, फुल फॉर्म, शिखर सम्मेलन, सदस्य देश, समिट, बैठक

साल 2023 में g20 शिखर सम्मेलन का आयोजन भारत की राजधानी नई दिल्ली में किया गया है। 2023 के जी-20 शिखर सम्मेलन के अध्यक्ष के तौर पर नरेंद्र मोदी ने जिम्मेदारी ली हुई है। विदेशो से इस शिखर सम्मेलन में आमंत्रित मेहमानों का भी आना चालू हो गया है और केंद्रीय तथा स्टेट गवर्नमेंट के द्वारा भी शिखर सम्मेलन को बिना किसी बाधा के पूरा करवाने के लिए पूरी कमर कस ली गई है। हम इस आर्टिकल के माध्यम से ऐसे लोगों को आज G20 के बारे में जानकारी दे रहे हैं, जो जानना चाहते हैं की जी-20 का मतलब क्या होता है। इस पेज पर हम आपको मुख्य तौर पर जानकारी प्रदान करेंगे कि “जी-20 क्या है” और “g20 की स्थापना कब हुई” तथा “जी-20 में कितने देश शामिल हैं।”

G20 New Delhi Summit
G20 New Delhi Summit

G20 क्या है

G20 एक अंतर्राष्ट्रीय गठबंधन है. साल 1999 में g20 की स्थापना की गई थी। इसमें दुनिया के 20 ऐसे देश शामिल हैं जो विश्व की बड़ी अर्थव्यवस्था और यूरोपीय संघ में शामिल है। G20 में शामिल सभी देश आपस में आर्थिक सहयोग पर चर्चा करते हैं। इसके अलावा इस ग्रुप ऑफ़ 20 देश की बैठक में इंटरनेशनल आर्थिक सहयोग, आतंकवाद, मानव तस्करी, ग्लोबल वार्मिंग जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर विचार विमर्श किए जाते हैं। अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ़्रांस, जर्मनी, इंडिया, इंडोनेशिया, इटली, जापान, मेक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, दक्षिण कोरिया, तुर्की, यूनाइटेड किंगडम, और यूनाइटेड स्टेट्स इत्यादि सभी देश जी-20 में शामिल है। 

G20 Full Form

यदि G20 के फुल फॉर्म के बारे में बात करें तो इसका फुल फॉर्म GROUP OF TWENTY होता है। इसका मतलब 20 देशो का समूह होता है। G20 समिट का प्रतिनिधित्व यूरोपीय सेंट्रल बैंक और यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष द्वारा किया जाता है।

G20 Summit 2023

साल 2023 में देश की राजधानी नई दिल्ली में 9 और 10 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की अध्यक्षता में G20 समिट का आयोजन होगा और यह समिट संपन्न होगा। इस साल 2023 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी इसके अध्यक्ष हैं।

G-20 Summit Schedule

इंडिया में 200 से भी ज्यादा मीटिंग g20 समिट की होगी। इसका आयोजन 60 अलग-अलग शहरों में होगा।

  • 3 से 6 सितंबर – चौथी शेरपा मीटिंग
  • 5 से 6 सितंबर – फाइनेंस रिप्रेजेंटेटिव की मीटिंग
  • 6 सितंबर – कंबाइन शेरपाओं और फाइनेंस रिप्रेजेंटेटिव की मीटिंग
  • 8 सितंबर – कल्चरल प्रोग्राम
  • 9 से 10 सितंबर – G-20 समिट में मिनिस्टर की मीटिंग
  • 10 सितंबर – गांधी जी के समाधि स्थल राजघाट पर जाया जाएगा और यहां पर राष्ट्रीय अध्यक्ष की ग्रुप फोटो ली जाएगी।

G20 Summit Location

G20 समिट की लोकेशन हर साल चेंज होती रहती है। साल 2023 में इसकी लोकेशन दिल्ली का प्रगति मैदान है।

G20 Summit Logo

मोदी जी के द्वारा साल 2023 के लिए g20 के लोगो का अनावरण किया गया, जिसमें एक खिलता हुआ कमल फूल और उसकी 7 पंखुड़ियां दिखाई दे रही है। यह फूल वर्तमान के समय में आशा का प्रतिनिधित्व करता है।

G-20 Theme

भारत में इस सम्मेलन के लिए वसुदेव कुटुंबकम की थीम या एक पृथ्वी एक कुटुंब एक भविष्य की थीम रखी गई है। जानकारी के लिए बताना चाहते हैं कि, g20 समिट की जो थीम है वह भारत के राष्ट्रीय तिरंगा के तीन रंग केसरिया, सफेद और हरे से प्रेरणा लेता है।

G20 ऑफिसियल वेबसाइट

G20 की आधिकारिक वेबसाइट का लिंक है, जहां से आप अधिक जानकारी जी-20 के बारे में प्राप्त कर सकते हैं।

G20 का गठन क्यों हुआ

एशिया में बहुत सारे फाइनेंस से संबंधित संकट समय-समय पर आते रहते हैं। इन्हीं संकटों पर चर्चा करने के लिए और संकटों से छुटकारा पाने के लिए g20 का गठन किया गया है। यह इस ग्रुप में शामिल देशों के प्रतिनिधि को एक प्लेटफार्म देता है, जहां पर वह जाकर के अपनी बात रखते हैं और दूसरे देशों के प्रतिनिधि के साथ विचार विमर्श करते हैं। जानकारी के लिए बताना चाहेंगे साल 2008 में दुनिया भर में मंदी आईz उसके पश्चात जी-20 को टॉप मिनिस्टर के संगठन में बदल दिया गया। साथ ही यह भी निर्णय लिया गया की साल भर में किसी न किसी एक देश में एक बार g20 देश के मिनिस्टर की बैठक का आयोजन आवश्यक किया जाए, ताकि महत्वपूर्ण मुद्दों पर बातचीत हो सके।

G20 की स्थापना

वर्ष 1999 में अमेरिका की राजधानी वॉशिंगटन डीसी में 25 तारीख को G20 की स्थापना की गई थी और इसके पहले शिखर सम्मेलन का आयोजन साल 2008 में 14 और 15 नवंबर को किया गया था। पहले शिखर सम्मेलन को एशिया में आए फाइनेंस क्राइसिस की वजह से अमेरिकन राष्ट्रपति के द्वारा स्टार्ट किया गया था। दुनिया के अलग-अलग देश में हर साल जी-20 शिखर सम्मेलन का आयोजन होता है और हर साल इसके अध्यक्ष बदलते ही रहते हैं। जिस किसी भी देश में g20 का आयोजन होता है, वहां पर हर साल बहुत से मेहमानों को आमंत्रित किया जाता है। साल 2008 के पश्चात अभी तक अलग-अलग देश में g20 समिट का आयोजन किया जा चुका है। साल 2023 में इसका आयोजन भारत देश में हो रहा है।

G20 में शामिल देशों की सूची (Countries)

यहां पर आपके लिए जानना आवश्यक है कि, जी-20 ग्रुप का कोई भी परमानेंट हेडक्वार्टर नहीं होता है। नीचे हमने आपको g20 ग्रुप में शामिल देशों की लिस्ट दी हुई है, जिसके माध्यम से आप जान सकते हैं की, g20 में कौन से देश शामिल है।

  • रूस
  • सऊदी अरब
  • दक्षिण अफ्रीका
  • कनाडा
  • चीन
  • फ्रांस
  • जर्मनी
  • भारत
  • इंडोनेशिया
  • इटली
  • जापान
  • कोरिया गणराज्य
  • मैक्सिको
  • अर्जेंटीना
  • ऑस्ट्रेलिया
  • ब्राजील
  • तुर्की
  • यूनाइटेड किंगडम
  • संयुक्त राज्य अमेरिका
  • यूरोपीय संघ

G-20 शिखर सम्मलेन सूची

नीचे आपको बताया जा रहा है कि, कौन से साल में कौन से देश के किस शहर में g20 शिखर सम्मेलन का आयोजन हुआ था।

देशस्थानसमय
संयुक्त राज्य अमेरिकावाशिंगटन डी सी4–15 नवंबर 2008  
यूनाइटेड किंगडमलंदन2 अप्रैल 2009
संयुक्त राज्य अमेरिकापिट्सबर्ग24-25 सितंबर 2009
कनाडाटोरंटो26–27 जून 2010
दक्षिण कोरियासियोल11–12 नवंबर 2010
फ्रांसकान3-4 नवंबर 2011
मैक्सिकोसैन जोस डेल काबो, लॉस काबोस18-19 जून 2012  
रूससेंट पीटर्सबर्ग5-6 सितंबर 2013
ऑस्ट्रेलियाब्रिस्बेन15-16 नवंबर 2014
तुर्कीसेरिक, अंताल्या15-16 नवंबर 2015
चीनहांगझोऊ4-5 सितंबर 2016
जर्मनीहैम्बर्ग7-8 जुलाई 2017
अर्जेंटीनाब्यूनस आयर्स30 नवंबर – 1 दिसंबर 2018
जापानओसाका28–29 जून 2019
सऊदीअरब      रियाद21–22 नवंबर 2020  
इटलीबारी2021
भारतनई दिल्ली9 -10 सितम्बर 2023  

G20 का मुख्यालय

जब कभी भी g20 शिखर सम्मेलन का आयोजन होता है, तब इसमें शामिल 20 देश के प्रमुख प्रतिनिधि g20 में शामिल होते हैं। हम आपको यहां पर अवगत कराना चाहते हैं कि, दुनिया का एक टॉप लेवल का शिखर सम्मेलन होने के बावजूद भी इसका कोई भी परमानेंट हेडक्वार्टर नहीं है। इसकी प्रमुख वजह यह है कि, हर साल दुनिया के अलग-अलग देश में g20 शिखर सम्मेलन का आयोजन होता है। यही वजह है कि, ग्रुप में शामिल देशों के द्वारा किसी भी देश में अपना हेड क्वार्टर नहीं बनाया गया है। जब कभी शिखर सम्मेलन का आयोजन होता है, तो उसमें दूसरे देशों को भी गेस्ट कंट्री के तौर पर शामिल किया जाता है। स्पेन को छोड़कर हर साल ग्रुप ऑफ 20 के गेस्ट में आसियान देश के अध्यक्ष, दो अफ्रीकी देश और एक देश या इससे ज्यादा देशों को g20 के अध्यक्ष के द्वारा इस समिट में आने के लिए इनविटेशन दिया जाता है।

भारत में G20 का आयोजन कब और कहां होगा

हमारे देश में सितंबर के महीने में 9 सितंबर से लेकर के 10 सितंबर के बीच g20 का आयोजन दिल्ली में मौजूद प्रगति मैदान में भारत मंडपम पर किया जाएगा। जानकारी के लिए बताना चाहते हैं कि प्रगति मैदान में आयोजित होने वाले g20 शिखर सम्मेलन में अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन भी शामिल होंगे। इसके अलावा दुनिया के दिग्गज मिनिस्टर भी इसमें शामिल होंगे।

G20 की कार्यशैली और उद्देश्य

जानकारी के अनुसार जी-20 अध्यक्षता के अंतर्गत 1 साल के लिए g20 के जो एजेंडा है उसका संचालन किया जाता है और शिखर सम्मेलन का भी आयोजन किया जाता है। G20 में दो ट्रैक होते हैं जिसमें से पहला होता है फाइनेंशियल ट्रैक और दूसरे का नाम है शेरपा ट्रैक। इसमें से सेंट्रल बैंक के गवर्नर और फाइनेंस मिनिस्टर के द्वारा जिस ट्रैक का नेतृत्व किया जाता है, वह फाइनेंस ट्रैक होता है तथा शेरपा के द्वारा शेरपा ट्रैक का नेतृत्व किया जाता है।

कहां रुकेंगे विदेशी मेहमान

हमारा देश सितंबर में आयोजित होने वाले g20 शिखर सम्मेलन में विदेशी मेहमानों का स्वागत करने के लिए पूर्ण रूप से तैयार है। विदेशी मेहमानों में अमेरिका के राष्ट्रपति से लेकर के कई बड़े-बड़े देशों के प्रधानमंत्री भारत आएंगे। इसलिए उनके ठहरने की व्यवस्था करने के लिए सरकार ने दिल्ली एनसीआर में तकरीबन 30 होटल की बुकिंग की हुई है, जिनकी जानकारी आगे आपको दी जा रही है।

नामस्थान
अमेरिकन प्रेसिडेंट जो बिडेनआईटीसी मौर्य,  नई दिल्ली  
यूके प्राइम मिनिस्टर ऋषि सुनकHotel Shangri-La, New Delhi
चाइनीस प्रेसिडेंट जी जिनपिंगताज पैलेस, नई दिल्ली
फ्रांस प्रेसिडेंट इमैनुएल मैक्रोThe Claridges, New Delhi
ऑस्ट्रेलिया प्राइम मिनिस्टर एंथोनी अल्बेनीसद इंपिरियल, नई दिल्ली  
इटली डेलीगेटHyatt Regency, New Delhi
मेक्सिको डेलीगेटRadisson Blu, New Delhi
जापान डेलीगेटThe Lalit   
चाइनीस डेलीगेटThe Lalit
अमेरिकन डेलीगेट:ITC Maurya, New Delhi  

G20 Latest News

राजधानी दिल्ली में G20 की बैठक होने वाली है, इस कारण 8 सितंबर से लेकर 10 सितंबर तक दिल्ली में सभी प्राइवेट और गवर्नमेंट स्कूल, कॉलेज, ऑफिस, बैंक की छुट्टी घोषित कर दी है। यहाँ तक की सभी शोप्पिंग मॉल, मार्केट, सिनेमा घर भी बंद रहेंगे। हॉस्पिटल और ट्रावेल्लिंग सुविधा चालू रहेगी।

होम पेज यहाँ क्लिक करें

FAQ

Q : G20 सम्मेलन की आधिकारिक भाषा क्या है?

Ans : अंग्रेजी, फ्रेंच और स्पेनिश इत्यादि G-20 की आधिकारिक भाषा मानी जाती है।

Q : भारत में g20 शिखर सम्मेलन की थीम क्या है?

Ans : भारत में इस सम्मेलन के लिए वसुदेव कुटुंबकम की थीम या एक पृथ्वी एक कुटुंब एक भविष्य की थीम रखी गई है।

Q : G20 सम्मेलन 2023 कब और कहां होगा?

Ans : g20 सम्मेलन 2023 का आयोजन नई दिल्ली के प्रगति मैदान में 9 और 10 सितंबर को होगा।

Q : 2023 में जी 20 सम्मेलन की मेजबानी कौन सा देश करेगा?

Ans : 2023 में जी-20 सम्मेलन की मेजबानी हमारा भारत देश करेगा।

Q : G20 का मुख्यालय कहाँ है?

Ans : g20 का मुख्यालय किसी भी देश में मौजूद नहीं है।

Q : G20 मे कुल कितने देश शामिल है?

Ans : 20

Q : G20 के प्रथम अध्यक्ष कौन थे?

Ans : कनाडाई वित्त मंत्री पॉल मार्टिन

Q : G20 का काम क्या है?

Ans : इस ग्रुप में शामिल सभी देश आपस में आर्थिक सहयोग पर विशेष रूप से चर्चा करते हैं और अन्य मुद्दों पर भी विचार विमर्श करते हैं।

अन्य पढ़ें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Popular Articles