जानिए अभिनेता गोविंदा कैसे बने हीरो नंबर 1 | Actor Govinda Biography in hindi

अभिनेता गोविंदा का जीवन परिचय – हिट फिल्म लिस्ट, परिवार, विवाद, अवार्ड [Actor Govinda Biography in hindi, Age, Caste, Family, Daughter, Hit movie list, Upcoming movie, Awards, Career, Politics] 

भारतीय सिनेमा जगत में ‘आंटी नंबर वन’ फिल्म से ज्यादा प्रसिद्धि पाने वाले एवं वर्सेटाइल एक्टर फिल्म निर्माता फिल्म निर्देशक और एक पूर्व राजनीतिज्ञ के रूप में कार्य करने वाले गोविंदा जी को हर एक भारतीय नागरिक बहुत ही अच्छे तरीके से , तो जानता ही होगा। फिल्मी जगत के प्रसिद्ध अभिनेता गोविंदा जी को लोग उनके डांस के लिए भी बहुत अच्छी तरीके से जानते हैं और उनको पसंद भी करते हैं। फिल्मी जगत में गोविंदा जी ने हर-एक  क्षेत्र में अपने हुनर का लोहा मनवाया है , उनके इसी काबिलियत के बल पर उनको भारतीय फिल्मी जगत से कई सारे पुरस्कार भी मिल चुके हैं। यदि आप भी ऐसे अभिनेता के बारे में और भी जानना चाहते हैं और उनके जीवन में कैसे सफलताएं आई हैं ? यह भी जानना चाहते हैं , तो हमारे इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

Govinda Biography Jivni In Hindi

परिचय बिंदु (Introduction Points)

 

परिचय (Introduction)
पूरा नाम (Full Name) गोविंद अरुण आहूजा
जन्म दिन(Birth Date)

 

21 दिसंबर ,1963
जन्म स्थान (Birth Place)

 

विरार, महाराष्ट्र, भारत
पेशा (Profession)

 

अभिनेता
राजनीतिक पार्टी (Political Party)

 

—-
राष्ट्रीयता (Nationality)

 

भारतीय
उम्र (Age)

 

57 वर्ष
गृहनगर (Hometown)

 

विरार, महाराष्ट्र, भारत
धर्म (Religion)

 

हिन्दू
जाति (Caste)

 

पंजाबी, सिन्धी
वैवाहिक स्थिति (Marital Status)

 

विवाहित
राशि (Zodiac Sign)

 

धनु
डेब्यू फ़िल्म ( Dabut Film ) इलज़ाम (1986)
शैक्षिक योग्यता ( Education ) ज्ञात नहीं
लम्बाई ( Height ) (लगभग)  से० मी०- 171
मी०- 1.71
फीट इन्च- 5’ 7”
वजन/भार ( Weight ) (लगभग)   80 कि० ग्रा०
शारीरिक संरचना ( Body Shape ) (लगभग)  -छाती: 44 इंच
-कमर: 36 इंच
-Biceps: 14 इंच
आँखों का रंग ( Eye Colour ) भूरा
बालों का रंग ( Hairs Colour ) काला
गर्लफ्रेंड ( Girlfriend ) नीलम कोठारी (अभिनेत्री) , रानी मुखर्जी (अभिनेत्री)

करीना कपूर के बारे में कई अनकही बाते जानना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करे

गोविंदा का प्रारंभिक एवं परिवारिक परिचय [Initial Life And Introduction]

पूर्व भूत अभिनेता, अरुण कुमार और पूर्व भूत गायिका एवं अभिनेत्री निर्मला देवी के छठवीं संतान के रूप में गोविंदा आहूजा जी का जन्म 21 दिसंबर 1963 को मुंबई के विरार में हुआ। गोविंदा जी के माता-पिता की कुल 6 संतानें थी , जिनमें से गोविंदा जी सबसे छोटे और सबसे प्यारे बच्चों में से एक थे। गोविंदा जी का एक भाई कृति कुमार एक अभिनेता प्रोड्यूसर और डायरेक्टर के रूप में कार्य करता है। वहीं पर उनकी बहन कामिनी खन्ना एक राइटर , म्यूजिक डायरेक्टर और गायिका के रूप में भी दिखी हैं। फिल्म अभिनेता गोविंदा जी ने अपने प्रारंभिक शिक्षा को अन्नासाहेब वर्तक कॉलेज मुंबई के वसई में पूरा किया है। 1987 में सुनीता जी से शादी करने के बाद उनको दो संतानें हुई एक बेटी टीना अहूजा और एक पुत्र यशवर्धन अहूजा है। गोविंदा जी की माता एक मुस्लिम जाति से थी , परंतु उनके पिता से शादी करने के बाद उन्होंने हिंदू धर्म का पालन किया। उनकी माता के मुस्लिम जाति होने के बाद भी गोविंदा जी के अंदर सारे के सारे हिंदू धर्म वाले गुण और संस्कार उनकी माता ने दिए थे।

पारिवारिक परिचय (Introduction Of Family )

 

परिचय (Introduction)
माता / पिता  (Mother & Father ) निर्मला देवी  एवं  अरुण कुमार
बहन / भाई (Sister / Brother) कामिनी खन्ना  और  कृति कुमार
पत्नी ( Wife ) सुनीता अहूजा
बेटा और बेटी  ( Daughter & Son ) टीना अहूजा और  यशवर्धन अहूजा

गोविंदा आहूजा जी का फिल्मी करियर [Film Career]

80 के दशक में ‘इल्जाम’ फिल्म से फिल्मी जगत में डेब्यू करने वाले गोविंदा जी का फिल्मी करियर शुरू हुआ था। फिल्मी जगत में शुरुआती समय के दौरान गोविंदा जी ने एक्शन और डांसिंग हीरो के रूप में अपने करियर की शुरुआत की थी। 80 के दशक के अंत में और 90 दशक के प्रारंभ में अभिनेता गोविंदा ने अपने आपको कॉमेडी हीरो के रूप में फिल्मी जगत में स्थापित किया। वर्सेटाइल एक्टर के रूप में विख्यात गोविंदा जी ने अब तक कुल लगभग 165 से भी अधिक फिल्मों में अभिनय किया हुआ है और उनकी बहुत सी ऐसी फिल्में भी हैं , जिन्होंने एक अलग ही भारतीय सिनेमा में रिकॉर्ड कायम किया है। 1992 में में आई फिल्म शोला और शबनम में उन्होंने अपने कॉमेडी करियर की शुरुआत की थी इन्होंने इस फिल्म में एनसीसी कैडेट का किरदार निभाया था। जोकि , भारतीय फिल्मी दर्शकों द्वारा खूब पसंद भी किया गया था। फिल्म निर्माता डेविड धवन द्वारा निर्मित 1999 में ‘हसीना मान जाएगी’ फिल्म में उनके अभिनय को खूब पसंद किया गया और इसी के मद्देनजर इनको फिल्म फेयर बेस्ट कॉमेडियन का अवार्ड भी इस फिल्म के लिए प्रदान किया गया था। इतना ही नहीं 1996 में आई फिल्म ‘साजन चले ससुराल’ में भी फिल्म फेयर स्पेशल अवार्ड भी इनको प्रदान किया गया था। मगर वर्ष 2000 में एक ऐसा समय आया जब गोविंदा जी की लगातार फिल्में भारतीय सिनेमाघरों में असफल होती जा रही थी और यही समय था जब गोविंदा जी ने अपने जीवन में उतार-चढ़ाव वाला समय देखा था। मगर उनका यह सबसे खराब समय केवल 6 वर्षों तक चला और वर्ष 2006 के बाद एक बार फिर से अभिनेता गोविंदा ने फिल्मी जगत में एक धमाकेदार कॉमेडियन के रूप में एंट्री ली। इसके अतिरिक्त गोविंदा जी ने वर्ष 2014 में टेलीविजन जगत में एक रियलिटी शो डांस इंडिया सुपर मॉम सीजन 2 में जज बने हुए नजर आए थे। इतना ही नहीं किया तो उस समय का सबसे ज्यादा टीआरपी शो साबित हो गया था , जो इस के बराबर कोई अन्य टेलीविजन प्रोग्राम नहीं था। वर्ष 2017 में ‘आ गया हीरो’ फिल्म के लिए इन्होंने निर्माता और मुख्य अभिनय का किरदार निभाया था।

कॉमेडी की दुनियाँ में अभी स्टैंड अप कॉमेडी का बोल बाला चल रहा हैं हमारे देश के सबसे बेहतरीन कमेडियन हैं कपिल शर्मा उनके  बारे में जानने के लिए यहाँ क्लिक करे 

अभिनेता गोविंदा आहूजा जी की कुछ प्रमुख फिल्में [Movie List]
अभिनेता गोविंदा आहूजा जी ने फिल्मी जगत में बहुत से फिल्मों में अपना किरदार किया हुआ है और हमने उन सभी फिल्मों की लगभग नामों की सूची तैयार की है , जो नीचे निम्नलिखित दी गई है। यदि इस सूची में कोई फिल्मों के नाम छूट गए हो , तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं।

  1. 1986  – लव 86
  2. 1986  – इलज़ाम
  3. 1986  – तन बदन
  4. 1986  – सदा सुहागन
  5. 1986  – ड्यूटी
  6. 1987  ­- दादागिरी
  7. 1987  – प्यार करके देखो
  8. 1987  – मेरा लहू
  9. 1987  – मरते दम तक
  10. 1987  – खुदगर्ज़
  11. 1987  – सिंदूर
  12. 1988  – शिव शक्ती
  13. 1988  – दरिया दिल
  14. 1988  – घर में राम गली में श्याम
  15. 1988  – प्यार मोहब्बत
  16. 1988  – हत्या
  17. 1988  – घर घर की कहानी
  18. 1988  – तोहफा मोहब्बत का
  19. 1988  – जीते है शान से
  20. 1988  – हलाल की कमाई
  21. 1988  – पाप को जला कर राख कर दूँगा
  22. 1988  – मेरा ईमान
  23. 1989  – सच्चाई की ताकत
  24. 1989  – दोस्त गरीबों का
  25. 1989  – दो कैदी
  26. 1989  – आसमान से ऊँचा
  27. 1989  – फर्ज़ की जंग
  28. 1989  – गैर कानूनी
  29. 1989  – बिल्लू बादशाह
  30. 1989  – जैसी करनी वैसी भरनी
  31. 1989 – ताकतवर
  32. 1989  – जंगबाज़
  33. 1989  – घराना
  34. 1989  – जेंटलमैन
  35. 1989  – पाप का अंत
  36. 1989  – आखिरी बाज़ी
  37. 1990  – महासंग्राम
  38. 1990  – तकदीर का तमाशा
  39. 1990  – आवारगी
  40. 1990  – नया खून
  41. 1990  – इज़्ज़तदार
  42. 1990  – स्वर्ग
  43. 1990  – काली गंगा
  44. 1990  – अपमान की आग
  45. 1990 – पाप के दुश्मन
  46. 1991  – हम
  47. 1991  – कर्ज़ चुकाना है
  48. 1991  – कौन करे कुर्बानी
  49. 1991  – भाभी
  50. 1991  – रईसजादे
  51. 1992  – शोला और शबनम
  52. 1992  – जान से प्यारा
  53. 1992  – राधा का संगम
  54. 1992  – ज़ुल्म की अदालत
  55. 1992  – नाच गोविंदा नाच
  56. 1992  – बाज
  57. 1993  – आँखें
  58. 1993  – प्रतीक्षा
  59. 1993  – मुकाबला
  60. 1993  – ज़ख्मों का हिसाब
  61. 1993  – आदमी खिलौना है
  62. 1993  – भाग्यवान
  63. 1993  – तेरी पायल मेरे गीत
  64. 1994  – राजा बाबू
  65. 1994  – दुलारा
  66. 1994  – प्रेम शक्ति
  67. 1994  – खुद्दार
  68. 1994  – इक्का राजा रानी
  69. 1994  – आग
  70. 1994  – ब्रह्मा
  71. 1994  – बेटा हो तो ऐसा
  72. 1994  – अंदाज़ अपना अपना
  73. 1995  – आंदोलन
  74. 1995  – हथकड़ी
  75. 1995  – किस्मत
  76. 1995  – कुली नं॰ 1
  77. 1995  – रॉक डांसर
  78. 1995  – गैम्बलर
  79. 1996  – अपने दम पर
  80. 1996  – साजन चले ससुराल
  81. 1996  – माहीर
  82. 1996  – जोरदार
  83. 1996  – छोटे सरकार
  84. 1997  – हीरो नं॰ 1
  85. 1997  – अग्निचक्र
  86. 1997  – बनारसी बाबू
  87. 1997  – दो आँखें बारह हाथ
  88. 1997  ­- लोहा
  89. 1997  – दीवाना मस्ताना
  90. 1997  – नसीब
  91. 1998  – आंटी नम्बर 1
  92. 1998  – अचानक
  93. 1998  – दूल्हे राजा
  94. 1998  – महाराजा
  95. 1998  – बड़े मियाँ छोटे मियाँ
  96. 1998  – परदेसी बाबू
  97. 1999  – अनारी नंबर 1
  98. 1999  – राजाजी
  99. 1999  – हसीना मान जायेगी
  100. 1999  – हम तुम पे मरते हैं
  101. 2000  – हद कर दी आपने
  102. 2000  – जोरू का गुलाम
  103. 2000  – कुंवारा
  104. 2000  – शिकारी
  105. 2000  – जिस देश में गंगा रहता है
  106. 2000  – बेटी नंबर 1
  107. 2001  – सेंसर
  108. 2001  – जोड़ी नम्बर वन
  109. 2001  – अलबेला
  110. 2001  – दिल ने फिर याद किया
  111. 2001  – क्योंकि मैं झूठ नहीं बोलता
  112. 2001  – आमदनी अठन्नी खर्चा रुपइया
  113. 2002  – प्यार दीवाना होता है
  114. 2002  – अँखियों से गोली मारे
  115. 2002  – वह तेरा क्या कहना
  116. 2002  – चलो इश्क़ लड़ाएं
  117. 2003  – एक और एक ग्यारह
  118. 2003  – राजा भैया
  119. 2005  – खुल्लम खुल्ला प्यार करें
  120. 2005  – सुख
  121. 2006  – सैंडविच
  122. 2006  – भागम भाग
  123. 2007  – सलाम-ए-इश्क़
  124. 2007  – जहाँ जायेगा हमें पायेगा
  125. 2007  – पार्टनर
  126. 2007  – ओम शांति ओम
  127. 2008  – हम से है जहान
  128. 2008  – मनी है तो हनी है
  129. 2009  – चल चला चल
  130. 2009  – लाइफ पार्टनर
  131. 2009  – वांटेड
  132. 2009  – डु नोट डिस्टर्ब
  133. 2010 ­- रावण
  134. 2011  – नोटी @ 40
  135. 2011  – दिल्ली सफारी
  136. 2011  – लूट
  137. 2013  – दीवाना में दीवाना
  138. 2013  – समाधि
  139. 2014  – होलीडे
  140. 2014  – किल दिल
  141. 2014  – हैपी एंडिंग
  142. 2015  – हे ब्रो
  143. 2017  – आ गया हीरो
  144. 2018  – भगवान के लिए मुझे छोड़ दो
  145. 2018  – फ्राइडे
  146. 2019  – रंगीला राजा

गोविंदा जी को मिले कुछ फिल्मी जगत से पुरस्कार [Awards]

गोविंदा जी ने फिल्मी जगत में अपने दम पर अपना लोहा मनवाया है और उनके इन्हीं लगन की वजह से उनको फिल्मी जगत से कुछ पुरस्कारों से नवाजा भी गया है। जिनमें 12 फिल्मफेयर पुरस्कार में नामांकन और उनके नाम एक फिल्म फेयर विशेष पुरस्कार एवं सर्वश्रेष्ठ हास्य अभिनेता का पुरस्कार। इसके अतिरिक्त उनको 4 बार जी सीने पुरस्कार से भी नवाजी किया गया है।

कादर खान के साथ गोविंदा ने बहुत सी फिल्मे की अगर आप कादर खान की निजी ज़िंदगी को जानना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करे

गोविंदा जी का बतौर राजनेता के रूप में करियर [Career]
गोविंदा जी ने फिल्मी जगत में अपना लोहा मनवाया ही है। मगर इसके अतिरिक्त उन्होंने राजनीतिक क्षेत्र में भी अपना अहम योगदान दिया हुआ है। महाराष्ट्र मुंबई के उत्तर क्षेत्र में गोविंदा जी ने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी की तरफ से वर्ष 2004 में सातवें सांसद के रूप में चुनाव लड़ा था और वे विजई भी हुए थे। उनका सामना इस चुनाव में राम नाईक जी के साथ में था। गोविंदा जी ने चुनाव लड़ने के पूर्व यह कहा था , कि वह स्वास्थ्य और शिक्षा को लेकर खास तौर पर विशेष ध्यान देंगे और उन्होंने ऐसा किया भी था, परंतु कुछ कठिनाइयों की वजह से वे ज्यादा समय तक पर राजनीतिक क्षेत्र में नहीं रह सके। गोविंदा जी द्वारा राजनेता के रूप में किए गए सभी कार्यों को आज भी सराहा जाता है। उनके राजनीतिक जीवन की भी सराहना की जाती है।

विवाद (Controversy)

वर्ष 2016 में जब एक समय ऐसा था , कि गोविंदा जैसे प्रसिद्ध कलाकार विवादों में घिरे हुए थे। क्योंकि , फिल्म ‘मनी है तो हनी है’ के शूटिंग के दौरान उन्होंने रे (Ray) नामक एक व्यक्ति को थप्पड़ मार दिया था। जिसकी वजह से वह उन दिनों काफी विवादों में भी गिर चुके थे। इसके बाद उस व्यक्ति ने गोविंदा के विपरीत बॉम्बेहाईकोर्ट में एक याचिका भी दर्ज की थी। मगर उस व्यक्ति की याचिका को बॉम्बे हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया था। इसके बाद उस व्यक्ति ने सर्वोच्च न्यायालय में एक याचिका दायर की और परिणाम स्वरूप गोविंदा को दंड के रूप में ₹5,00000 का जुर्माना उस व्यक्ति को प्रदान करने का कोर्ट द्वारा आदेश दिया गया था।

वरुण धवन जो कि डेविड धवन के बेटे हैं उनकी लाइफ स्टाइल जानना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करे

गोविंदा जी ने अपने परिश्रम और अपने लगन के बल पर आज सभी भारतीय दिलों में एक अलग जगह बनाई है। गोविंदा जी के जीवन से हमें यह सीख लेनी चाहिए कि जीवन में सदैव अपने काम के प्रति सतर्क और सुनिश्चित रूप से अग्रसर रहना चाहिए और आपको सफलता अवश्य प्राप्त होगी। अगर आपको हमारे द्वारा साजा किए गए इस लेख के संबंधित कोई सुझाव या फिर कोई राय हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में आवक से बताएं। गोविंदा जी के इस जीवन परिचय को आप अपने मित्रों एवं परिजनों के साथ अवश्य शेयर करें।

Other links –

Ankita

अंकिता दीपावली की डिजाईन, डेवलपमेंट और आर्टिकल के सर्च इंजन की विशेषग्य है| ये इस साईट की एडमिन है| इनको वेबसाइट ऑप्टिमाइज़ और कभी कभी आर्टिकल लिखना पसंद है|
Ankita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *