हम छू लेंगे आसमां योजना 2022

0

एमपी सरकार ने शुरू की “हम छू लेंगे आसमां” योजना (Hum Choo lenge Aasman Yojana MP 2022 Hindi)[Application Form, Eligibility Criteria, Documents List, Last Date,Toll Free Number]

मध्यप्रदेश के छात्रों को बेहतर करियर चुनने में मदद करने के उद्देश्य से  एमपी राज्य सरकार ने एक योजना का आरंभ किया है, जिसका नाम ‘हम छू लेंगे आसमां’ है. इस स्कीम के जरिए  यहां की सरकार विद्यार्थियों को अकादमिक विकल्पों के बारे में काउंसलिंग मुहैया करवाएगी. जिससे की छात्र अपने लिए सही करियर का चुनाव कर सकें.

हम छू लेंगे आसमां योजना

हम छू लेंगे आसमां योजना

इस स्कीम की घोषणा मध्य प्रदेश के पब्लिक रिलेशनशिप विभाग द्वारा की गई है. लेकिन इस योजना का शुभारंभ 21 मई से किया जाएगा और इस अवसर पर इस राज्य के मुख्यमंत्री अपने राज्य के छात्रों को संबोधित भी करेंगे.

योजना का नाम“हम छू लेंगे आसमां”
कब शुरू होगी ये योजना21 मई
किस राज्य ने शुरू की योजनामध्य प्रदेश
किन के लिए शुरू की गई ये योजना12 वीं, 11 वीं और 10 वीं कक्षा के छात्रों के लिए

योजना की विशेषताएं (key Feature)

  • छात्रों को सही मार्गदर्शन देना

अक्सर 12 वीं कक्षा पास करने वाले छात्रों को अपने आगे के भविष्य के बारे में चिंता लगी रहती है और उन्हें इस बात की समझ नहीं होती है कि वो किस कोर्स को अपना करियर बनाने के लिए चुने. छात्रों की इसी परेशानी को दूर करने के लिए इस स्कीम को चलाया गया है.

  • 10 वीं के बच्चों को भी दिया जाएगा मार्गदर्शन

इस योजना को ग्यारहवीं और बारहवीं कक्षा के साथ-साथ दसवीं कक्षा के बच्चों के लिए भी स्टार्ट किया गया है. ताकि वो भी अपने लिए सही विषय का चुनाव कर सकें और अपने जीवन में कामयाब बना सकें.

  • अकादमिक काउंसलिंग

जो छात्र 11 वीं और 12 वीं कक्षा में पढ़ाई कर रहे हैं उनको काउंसलिंग देकर बताया जाएगा की वो किन कोर्सों को चुन सकते हैं और किन कोर्सों में एडमिशन लेने उनके लिए फायदेमंद होगा.

  • ऑनलाइन भी दी जाएगी काउंसलिंग

छात्रों के लिए काउंसलिंग क्लास का आयोजन ऑफलाइन से साथ-साथ ऑनलाइन भी किया जाएगा. ताकि ज्यादा छात्रों को काउंसलिंग प्रदान की जा सके.

दो तरह की काउंसलिंग दी जाएगी

  • इस स्कीम के तहत दो तरह की काउंसलिंग क्लासेज देने का प्लान तैयार किया गया है, जिनमें से पहली काउंसलिंग उन छात्रों को दी जाएगी जिन्होंने बारहवीं कक्षा में 70 % से कम अंक हासिल किए हुए हैं. जबकि दूसरी काउंसलिंग उन छात्रों को दी जाएगी जिन्होंने बारहवीं कक्षा में 70% से अधिक अंक प्राप्त किए हुए हैं.
  • जिन छात्रों ने 70 % से अधिक अंक प्राप्त किए होंगे उनको काउंसलिंग देने का आगाज 21 मई से किया जाएगा, जो कि 10 दिन तक यानी 31 मई तक चलेगा.
  • जिन विद्यार्थियों ने 70 % से कम अंक हासिल किए हैं उनको काउंसलिंग देने की शुरुआत 4 जून से की जाएगी और ये काउंसलिंग 14 जून तक चलेगी. इन 10 दिनों के दौरान छात्रों को सेल्फ एम्प्लॉयमेंट, स्व-रोजगार एवं रोजगार के विभिन्न विकल्पों के बारे बताया जाएगा
  • इसके साथ ही कम अंक हासिल करने वाले छात्रों का भी ध्यान इस स्कीम में रखा गया है औ 10 वीं, 11वीं और 12 वीं कक्षा के अनुत्तीर्ण छात्रों को भी काउंसलिंग दी जाएगी और ये काउंसलिंग 18 जून से स्टार्ट होगी और 28 जून तक चलेगी.

काउंसलिंग के शुरू होने से जुड़ी जानकारी

किनको दी जाएगी काउंसलिंगकब शुरू होगी काउंसलिंगकितने दिनों तक चलेगी काउंसलिंग
12 वीं कक्षा में 70 % से अधिक अंक हासिल करने वाले छात्रों को21 से लेकर 31 मई तक10 दिन
12 वीं कक्षा में 70 % से कम अंक हासिल करने वाले छात्रों को 4 जून से लेकर 14 जून तक10 दिन
10 वीं कक्षा के छात्रों को18 जून से लेकर 28 जून तक10 दिन

कैसे भरें योजना के लिए नामांकन (Enroll)-

http://www.educationportal.mp.gov.in/ और http://www.mpsdc.gov.in/rmsa/

लिंक पर जाकर छात्र अपने आपको इस स्कीम के लिए एनरोल कर सकते हैं.

  इस योजना से जुड़ी अन्य जानकारी-

  • फोन करके हासिल कर सकते हैं जानकारी

इस योजना से जुड़ी अन्य इनफार्मेशन जल्द ही एमपी राज्य सरकार की वेबसाइट में डाल दी जाएगी और अगर किसी छात्र को इस स्कीम को लेकर कोई सवाल है तो वो 0755-2770020 नंबर पर फोन कर सकते हैं. हालांकि छात्र इस नंबर पर सुबह के 10 बजे से लेकर रात के 11 बजे तक ही फोन कर सकते हैं.

  • योजना को लागू करने की जिम्मेदारी
  • “हम छू लेंगे आसमां” योजना को एमपी राज्य के हर जिले स्तर पर लागू किया जाएगी और इस स्कीम को सही से लागू करने की जिम्मेदारी हायर एजुकेशन काउंसलिंग, स्कूल एजुकेशन एंड टेक्निकल एजुकेशन और स्किल डेवलपमेंट एंड एम्प्लॉयमेंट डिपार्टमेंट की होगी. साथ ही हर जिले में कम से कम दो काउंसलिंग सेंटर खोले जाएंगे.

एमपी सरकार अपने राज्य के बच्चों के लिए कई ऐसी स्कीम स्टार्ट कर रही है, जिनकी मदद से बच्चों के फ्यूचर को बेहतर बनाया जा सके और हाल भी शुरू की गई ये स्कीम भी बच्चों के फ्यूचर से जुड़ी हुई है जो उनको सही करियर ऑप्शन चुनने में मदद करेगी.

अन्य पढ़े:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here