Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
ताज़ा खबर

हम पांच जी टीवी सीरियल | Hum Paanch ZEE TV Old Serial In Hindi

Hum Paanch ZEE TV Old Serial In Hindi हम पांच एक ऐसा सीरियल है, जिसे 90 के दशक में हर किसी ने देखा होगा. इस कॉमेडी सीरियल की लोकप्रियता देख भाई देख सीरियल जितनी ही थी. इसे आल टाइम फेवरेट सीरियल का खिताब मिला हुआ है. 1995 में पहली बार दर्शकों के सामने आने वाला ये सीरियल, उस समय 1999 तक दर्शकों का मनोरंजन करता रहा, जो उस समय का लम्बे समय तक चलने वाला सीरियल था. इसकी लोकप्रियता को देखते हुए इसे सन 2005 में एक बार फिर इसका सीजन 2 आया था. जो 2006 के मध्य तक प्रसारित हुआ था. सीजन 1 के मुकाबले सीजन 2 उतना लोकप्रिय नहीं हुआ था. देख भाई देख सीरियल के बारे में यहाँ पढ़ें.

90 के दशक में जब पहली पहली बार केबल चैनल टीवी पर आना शुरू हुए थे, तब जी टीवी पहला हिंदी प्राइवेट चैनल था. इस चैनल में आने वाले हर सीरियल को बहुत पसंद भी किया गया था. हम पांच भी उन्हीं में से था. टीवी की दुनिया की क्वीन कही जाने वाली एकता कपूर इस सीरियल की निर्माता थी. एकता की प्रोडक्शन कंपनी ‘बालाजी टेलेफिल्म्स’ 1994 में रजिस्टर हुई थी. इनका पहला सीरियल हम पांच ही था, इसी के साथ 1995 में ही एकता का एक और सीरियल ‘पड़ोसन’ दूरदर्शन पर शुरू हुआ था. पड़ोसन सीरियल के बारे में यहाँ पढ़ें.

हम पांच जी टीवी सीरियल 

Hum Paanch ZEE TV Old Serial In Hindi

क्रमांक परिचय बिंदु नाम
1. क्रिएटेड बाय बालाजी टेलेफिल्म्स और जी टेलेफिल्म्स
2. निर्माता एकता कपूर एवं शोभा कपूर
3. लेखक इम्तियाज़ पटेल
4. संगीत श्रीरंग अरास एवं ललित सेन
5. सीजन 2
6. एपिसोड
  • सीजन 1 – 261
  • सीजन 2 – 41

hum-paanch

  हम पांच सीजन 1 हम पांच सीजन 2
डायरेक्टर कपिल कपूर एवं रजत रवैल समीर कुलकर्णी, राजू पार्सेकर एवं राजन वाघधरे
कंपोजर श्रीरंग अरास ललित सेन
स्टोरी, स्क्रीनप्ले, डायलोग इम्तियाज पटेल इम्तियाज पटेल
एडिटर अजय भावे विकास शर्मा एवं रानी सिंह

हम पांच सीरियल की कहानी (Hum Paanch ZEE TV Old Serial  Story) –

हम पांच सीरियल की कहानी एक मिडिल क्लास आदमी आनंद माथुर की है. आनंद माथुर अच्छा, ईमानदार नौकरीपेशा आदमी है, उसकी पांच बेटी मिनाक्षी, राधिका, स्वीटी, काजल और छोटी है. अपनी बेटियों की वजह से आनंद हमेशा कोई न कोई परेशानी में पड़ जाता है. आनंद की तीन बेटी उसकी पहली पत्नी की है, जिसकी मृत्यु हो जाती है. जिसके बाद आनंद बीना से शादी करता है, जिससे उसे दो लड़कियां होती है. आनंद की पहली बीवी की तस्वीर घर में लगी रहती है, जो आनंद से हमेशा बात करती रहती है. इसकी पांच बेटीयां एक दुसरे से बिलकुल जुदा है, लेकिन इनमें एकता भी है. इनकी हरकतों की वजह से आनंद हमेशा परेशां रहता है. इस कॉमेडी फॅमिली सीरियल को सबने बहुत पसंद किया, कई इसमें ऐसे एपिसोड रहे है, जिन्हें देखने के बाद लोग पेट पकड़-पकड़ के हँसे है. सीरियल में इन मुख्य किरदारों के अलावा और भी अन्य किरदार रहे है, जो समय समय में कई एपिसोड में नजर आते रहते थे.

हम पांच सीजन 2 (Hum Paanch Serial Season 2)–

2005 में जब सीजन 2 आया, तब ये बताया गया कि आनंद लम्बे समय से अमेरिका में रहने के बाद भारत लौटा है. इस सीजन में दिखाया जाता है कि मिनाक्षी और राधिका की शादी हो चुकी है. मिनाक्षी अपने पति को एक नौकर की तरह रखती है, उस पर हमेशा चिल्लाती रहती है. उसकी एक बेटी भी होती है, जिसका नाम दामिनी होता है. राधिका की शादी एक वैज्ञानिक से होती है, उसकी बेटी का नाम गुडिया होता है. सीजन 2 को लोगों ने कुछ खास पसंद नहीं किया. 2005 वो समय था, जब टीवी पर बहुत से चैनल और उन पर बहुत से सीरियल आने लगे थे. डेली सोप सीरियल में सास बहु का फैशन इस समय आ चूका था, जिस वजह से इस हल्की फुलकी कॉमेडी को लोगों से कुछ खास पसंद नहीं किया और ये महझ 42 एपिसोड के बाद बंद हो गया.

ये पाँचों लड़कियां हर एपिसोड में कुछ न कुछ नया करती रहती है. उनकी हर योजना में उनकी माँ बीना उनका साथ देती है.

हम पांच सीरियल के किरदार (Hum Paanch ZEE TV Old Serial Cast) –

  • आनंद माथुर ये किरदार सीरियल में अशोक सराफ ने निभाया था. अशोक जी हिंदी मराठी फिल्मों का जाना माना नाम है. हम पांच सीरियल के बाद इन्हें एक अलग पहचान मिली. सीरियल में आनंद माथुर के किरदार में ये एक मिडिल क्लास आदमी थे. जो मुंबई एक मुंसीपाल्टी स्कूल से पढाई करके, बीए की डिग्री प्राप्त करता है. ये एक मेडिसिन फैक्ट्री में काम करता है.
  • बीना माथुर बीना का किरदार शोमा आनंद ने निभाया था. बीना, एक छोटे से गाँव बलिया की रहने वाली थी. जब आनंद माथुर बीना को देखने उसके घर जाते है, तब उसकी तीनों बेटियां भी उसके साथ होती है. आनंद की बड़ी बेटी मिनाक्षी बीना को देखकर बोलती है कि वो लाउडस्पीकर है, जो ध्वनि प्रदुषण फैलाती है. स्वीटी कहती है कि अगर बीना मिस उत्तरप्रदेश की प्रतियोगिता में अकेले भी हिस्सा लेगी तो भी वे हार जाएँगी. बीना इन लड़कियों से बदला लेने के लिए आनंद से शादी करती है लेकिन शादी के बाद वो अपनी तीनों सौतेली बेटियों से अपनी बेटियों से भी ज्यादा प्यार करने लगती है.
  • मिनाक्षी सबसे पहले मिनाक्षी का किरदार वंदना पाठक ने निभाया था, जिसके बाद कविता राठोड़, ऋतू दीपक, नीलम सागर भी इस किरदार में नजर आई थी. मिनाक्षी आनंद माथुर की पहली बीवी से बड़ी बेटी होती है. ये नारी मुक्ति मोर्चा से जुड़ी रहती है, जो महिलाओं के उपर होने वाले अत्याचार के लिए आवाज उठाती रहती है. इसके हाथ में हमेशा बेलन होता है. कई बार ये बात उनके पिता आनंद माथुर के लिए मुसीबत बन जाती है.
  • राधिका राधिका का किरदार सबसे पहले अमिता नांगिया ने निभाया था, फिर विद्या बालन, सुजाता संघमित्रा भी आगे इस किरदार में नजर आई थी. विद्या बालन का ये पहला सीरियल था, जिसके बाद वे दुनिया के सामने आई और उन्हें लोकप्रियता मिली. ये आनंद की दूसरी बेटी होती है. राधिका बहुत बुद्धिमान, होशियार होती है, जो पढाई में हमेशा आगे रहती है. उसको सुनाई कम देता है, जिस वजह से वो सुनने की मशीन लगाती है. लेकिन वो उसे हमेशा लगाना भूल जाती है, जिस वजह से वो सुनती नहीं है और दूसरों को परेशानी होती है. उसे चश्मा भी लगता है, कई बार वो उसे भी लगाना भूल जाती है और फिर कभी दिवार, कभी दरवाजे तो भी इन्सान से टकरा जाती है.
  • स्वीटी ये किरदार राखी टंडन ने निभाया था. स्वीटी इस सीरियल का बहुत चुलबुला किरदार था, जिसे राखी ने बहुत अच्छे से निभाया था, उन्हें आज भी लोग स्वीटी नाम से पुकारते है. ये आनंद की तीसरी बेटी होती है. स्वीटी बहुत सुंदर होती है, लेकिन उसके पास दिमाग की कमी होती है, इसलिए उसे ब्यूटी विथआउट ब्रेन कहते है. स्वीटी का जिंदगी में एक ही मकसद होता है, उसे शाहरुख़ खान से शादी करनी होती है, और एक बड़ी एक्टर या मॉडल बनना है. स्वीटी अपने आप को दुनिया की सबसे सुंदर लड़की समझती है. स्वीटी की बिना सर पैर की बातों से सीरियल में खुशनुमा माहोल बन जाता है, इस वजह से वो अपने घर वालों की फटकार भी सुनती है. स्वीटी की एक और आदत होती है, सीरियल में जब भी उसके घर की बेल बजती वो ही उसे खोलती है. स्वीटी के हिसाब से दरवाजा खोलने का हक सिर्फ उसका है, और खोलने से पहले वो एक गाना गाती और फिर दरवाजा खोलती है.
  • काजल काजल का किरदार भैरवी रायचूर से निभाया था. काजल बीना की बेटी होती है. ये एक टॉमबॉय होती है, जो हमेशा लड़कों की तरह ही कपड़े पहनती, चलती और बातें करती है. उसको यही लगता है कि काश वो लड़का बनकर ही पैदा होती. काजल को सब काजल भाई कहते है. उसकी संगति सीरियल में गुंडों से रहती है, जो यहाँ वहां मार पीट करते रहते है. काजल की इस भाईगिरी से उसके पिता हमेशा परेशान रहते है.
  • छोटी छोटी का किरदार सबसे पहले प्रियंका मेहरा फिर ऐश्वर्या दुग्गल फिर आखिर में अन्ना खान ने निभाया था. छोटी बीना की बेटी होती है, जो सबसे छोटी होती है लेकिन बातें बहुत बड़ी बड़ी करती है. छोटी पूरी गॉसिप की दुकान होती है, जो पुरे मोहल्ले की गोसिप सुन कर यहाँ वहां करती है, और अपनी माँ को भी सुनाती है. छोटी बलिया के लोगों को बोलती है कि वो मीना कुमारी पुनर्जन्म है, गाँव वाले उसका मंदिर बना देते है. छोटी को गॉसिपिंग की वजह से अपने पिता से बहुत डांट पड़ती है.
  • बबली ये किरदार सुचित्रा बांदेकर ने निभाया था. बबली आनंद माथुर के बॉस पोपटलाल की बेटी होती है, लेकिन ये स्वीटी की बहुत अच्छी दोस्त होती है. जो स्वीटी को अपना गुरु मानती है, और उसे गुरु मैया कहकर बुलाती है. बबली भी स्वीटी की तरह पागल, झल्ली होती है, जो बिना सोचे समझे स्वीटी की हर बात को मानती है.
  • पूजा आंटी सुनील अंकल पूजा का किरदार अरुणा संगल और सुनील का किरदार जतिन कनाकिया ने निभाया था. पूजा-सुनील आनंद माथुर के पड़ोसी रहते है. जो हमेशा झगड़ते रहती है, जिनके घर में छोटी कान लगाये रहती है और उनकी बातें सुन पुरे पड़ोस में फैलाती है. पूजा को जब भी ये लड़कियां पूजा आंटी कहती है तो वो यही है आंटी मत कहो ना..
  • आनंद माथुर की पहली बीवी ये किरादर पहले सीजन में प्रिया तेंदुलकर ने निभाया था, प्रिया रजनी नाम के सीरियल के लिए बहुत फेमस रही है. 2002 में उनकी मौत हो गई थी, जिस वजह से हम पांच के दुसरे सीजन में इस किरदार में सुधा चंद्रन नजर आई थी. ये किरदार फोटो फ्रेम के अंदर का ही है, जो सिर्फ आनद माथुर से बातें करता है. आनंद जब भी दीवार में लगी इस तस्वीर की तरफ देखकर बातें करता, सबको लगता फिर वो दीवार से बातें करने लगा. जिस बात के लिए सब उसे बहुत टोंकते है.

हम पांच सीरियल से मिलने वाली शिक्षा

  • इस सीरियल में बीना की तीन सौतेली बेटी होती है, लेकिन इसमें सौतेली माँ और तीनों बेटियों के बीच अटूट प्यार दिखाया गया है. सीरियल के किसी एपिसोड में ऐसा नहीं लगा कि ये उसकी रियल बेटी नहीं है. सगा सौतेला के रिश्ते को इस सीरियल में बहुत सुंदर ढंग से दिखाया गया है.
  • इस सीरियल में पांच बेटियां एक आम मिडिल क्लास आदमी की होती है. लेकिन वो कभी इस बात से उदास नहीं होता कि उसे पांच लड़कियां है, लड़का क्यों नहीं है. वो अपनी लड़कियों को हर चीज में लड़कों से बेहतर समझता है. 5 लड़कियों का बाप हमेशा दुनिया के सामने सीना तान के खड़ा रहता है.
  • नारी शक्ति का अटूट उदहारण है सीरियल हम पांच. सीरियल में दिखाया गया है कि लड़कियां किसी भी रूप में कमजोर नहीं होती है, वे अपनी मेहनत के बल पर जो चाहें कर सकती है.
Vibhuti
Follow me

Vibhuti

विभूति दीपावली वेबसाइट की एक अच्छी लेखिका है| जिनकी विशेष रूचि मनोरंजन, सेहत और सुन्दरता के बारे मे लिखने मे है| परन्तु साईट के लिए वे सभी विषयों मे लिखती है|
Vibhuti
Follow me

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *