Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
ताज़ा खबर

वर्ल्ड कप क्रिकेट में भारत का प्रदर्शन | India’s Performance in World Cup Cricket in Hindi

वर्ल्ड कप क्रिकेट में भारत का प्रदर्शन (India’s Performance in World Cup Cricket in Hindi)

आज क्रिकेट में भारत चैंपियन बन गया है, यह तो सभी लोग जानते हैं. क्योंकि आज भारत उन सभी टीम से भी आगे निकल गया हैं, जोकि हमेशा से ही चैंपियन टीमें रही है. और अगर हम वर्ल्ड कप की बात करें, तो अब तक विश्व में 10 वर्ल्ड कप क्रिकेट आयोजित हो चुके हैं. इन सभी मैचों में भारत का प्रदर्शन किस तरह का था, एवं भारत ने अब तक कितने वर्ल्ड कप जीते हैं, यह सभी जानकारी हम आपको इस लेख के माध्यम से देने जा रहे हैं.

world cup

वर्ल्ड कप क्रिकेट में भारत का अब तक प्रदर्शन (India’s Performance in World Cup Cricket)

विश्व में अब तक के सभी वर्ल्ड कप क्रिकेट में भारत के प्रदर्शन की जानकारी इस प्रकार है –

  • वर्ल्ड कप सन 1975 :- विश्व में पहला वर्ल्ड कप क्रिकेट मैच सन 1975 में इंग्लैंड में आयोजित किया गया था. जिसे प्रूडेंशियल वर्ल्ड कप के नाम से भी जाना जाता है. उस समय वर्ल्ड कप 60 ओवरों का हुआ करता था. इसमें वेस्ट इंडीज टीम ने जीत हासिल की थी, जिसके कप्तान क्लाइव लॉयर्ड थे. इस वर्ल्ड कप के एक मैच में भारत के पूर्व क्रिकेटर सुनील गावस्कर ने पूरे 60 ऑवर खेले और केवल 36 रन बनाये थे. इस वर्ल्ड कप में भारत का प्रदर्शन बहुत अच्छा नहीं था. भारत इस वर्ल्ड कप में इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और ईस्ट अफ्रीका के साथ एक ग्रुप में था. लेकिन इसमें भारत ने केवल ईस्ट अफ्रीका को हराया था, बाकि सभी के साथ भारत की हार हुई थी. जिसके कारण भारत इस टूर्नामेंट से बाहर हो गया था.
  • वर्ल्ड कप सन 1979 :- इसके बाद अगला वर्ल्ड कप जून 1979 में इंग्लैंड में ही खेला गया था. और इसमें भी जीत वेस्ट इंडीज की हुई थी. और इसमें भी भारतीय टीम सभी ग्रुप मैच हारते हुए पहले राउंड में ही बाहर हो गई थी. इसमें वेस्ट इंडीज के साथ इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान सेमीफाइनल तक पहुंची थी. और अंत में वेस्ट इंडीज की जीत हुई.
  • वर्ल्ड कप सन 1983 :- यह वह वर्ल्ड कप मैच था, जिसमें भारत ने जीत हासिल की थी और इसमें जीत के हक़दार एवं कप्तान कपिल देव थे. यह मैच भी हर बार की तरह इंग्लैंड में ही आयोजित हुआ था. और इसमें भारत ने जीत हासिल कर सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए थे. इस वर्ल्ड कप में भारत ने वेस्टइंडीज के जीत की हैक्ट्रिक करने के सपने को भी तोड़ दिया था. वेस्ट इंडीज के साथ हुए फाइनल मैच में भारत ने वेस्ट इंडीज को 43 रनों से मात दी थी, और उस साल की चैंपियन टीम बनी थी.
  • वर्ल्ड कप सन 1987 :- यह पहला ऐसा वर्ल्ड कप था, जोकि इंग्लैंड में आयोजित नहीं किया गया था, बल्कि इसे भारत और पाकिस्तान ने मिल कर आयोजित किया था. यह वर्ल्ड कप अक्टूबर से नवम्बर के महीने में आयोजित किया गया था. इसी वर्ल्ड कप से ओवर्स 60 से घटाकर 50 कर दिए गये थे. इस वर्ल्ड में भारतीय टीम सेमीफाइनल तक पहुंची थी, किन्तु सेमीफाइनल में इंग्लैंड ने भारत को हरा दिया था, और उसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को हराकर यह वर्ल्ड कप अपने नाम किया.
  • वर्ल्ड कप सन 1992 :- सन 1992 में 5 वां वर्ल्ड कप आयोजित हुआ, जोकि ऑस्ट्रेलिया एवं न्यूज़ीलैंड ने मिल कर आयोजित किया था. इस वर्ल्ड कप में भारतीय टीम के ओर से कप्तानी मोहम्मद अजहरुद्दीन जी ने की थी. हमारे देश में प्रसिद्ध क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर का यह वर्ल्ड कप पहला वर्ल्ड कप था. इस वर्ल्ड कप में भारत का प्रदर्शन बहुत अच्छा नहीं रहा था. क्योंकि इसमें पहला मैच भारत इंग्लैंड से हार गया था. इसके बाद अगला मैच श्रीलंका के साथ हुआ, किन्तु यह मैच भी ड्रा हो गया था. फिर भारत का मैच ऑस्ट्रेलिया के साथ हुआ, जिसमें भारत की हार हुई थी, लेकिन इसमें भारत का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा था. इसके बाद फिर पाकिस्तान के साथ हुए मैच में जावेद मियाँदाद और किरण मोरे के बीच कुछ अनबन हो गई थी, जिसके कारण इस मैच को याद किया जाता है. इस तरह से भारत ने इस वर्ल्ड कप में कुल मिलाकर केवल 2 मैच जीते थे. इस वर्ल्ड कप में चैंपियन टीम पाकिस्तान थी, लेकिन आपको बता दें, कि पाकिस्तान के साथ हुए मैच में भारत ने जीत हासिल की थी.
  • वर्ल्ड कप सन 1996 :- सन 1996 में हुए वर्ल्ड कप का मेजबान देश भारतीय उपमहाद्वीप था. और यह वर्ल्ड कप भारत के लिए मिला जुला रहा था, क्योंकि इसमें भारत ने श्रीलंका से सेमिफाइनल में हार प्राप्त की थी. दरअसल इस वर्ल्ड कप में भारत ने क्वार्टरफाइनल में पाकिस्तान को बहुत अच्छे तरीके से हरा दिया था. जिसमें नवजोत सिंह सिद्धू और अजय जड़ेजा ने बेहतरीन प्रदर्शन किया था. और इसी वर्ल्ड कप में सचिन तेंदुलकर ने वर्ल्ड कप में अपना पहला शतक लगाया था. सचिन तेंदुलकर इस साल के वर्ल्ड कप में काफी अच्छा प्रदर्शन करते दिखाई दिये. इस वर्ल्ड कप को इस लिए भी जाना जाता है, क्योंकि इस वर्ल्ड कप में भारत और श्रीलंका के बीच हुए मैच में जब सचिन तेंदुलकर आउट हुए और फिर एक के बाद एक सभी खिलाड़ी आउट होते गये, तो वहां बैठे भारतीय दर्शकों ने भारत की हार होते देख, वहां हुडदंग मचानी शुरू कर दी. जिसके चलते मैच नतीजे तक नहीं पहुँच सका और स्कोर के आधार पर और श्रीलंका टीम को जीत का ख़िताब दे दिया गया था. और इसके बाद श्रीलंका टीम फाइनल में भी जीत हासिल कर गई और इस वर्ल्ड कप की चैंपियन टीम बन गई.
  • वर्ल्ड कप सन 1999 :- इस साल के वर्ल्ड कप की मेजबानी ब्रिटेन द्वारा की गई थी. इस वर्ल्ड कप में भारत के 2 बल्लेबाज थे, जिन्होंने लोगों का आकर्षण अपनी ओर खींचा और वे थे राहुल द्रविड़ एवं सौरव गागुंली. इन दोनों की जोड़ी ने इस वर्ल्ड कप में कमाल कर दिया था. श्रीलंका के साथ हुए मैच में दोनों की पार्टनरशिप में 318 रन बने, जोकि अब तक का सबसे बड़ा रिकॉर्ड है. इस वर्ल्ड कप में भारत ने श्रीलंका और पाकिस्तान दोनों ही टीमों को शानदार तरीकें से हराया था, लेकिन ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड से हार के चलते भारत को वर्ल्ड कप की ट्रॉफी हासिल नहीं हो पाई.
  • वर्ल्ड कप सन 2003 :- यह आठवां क्रिकेट वर्ल्ड कप था, जिसका आयोजन अफ्रीका में हुआ था. इस वर्ल्ड कप में भारत का प्रदर्शन बहुत अच्छा रहा था, और सभी टीमों में भारत सबसे बेहतरीन टीम बनी थी. इस वर्ल्ड कप में सचिन और सौरव गांगुली ने मिलकर बहुत ही अच्छा खेल खेला था. यह वर्ल्ड कप सौरव गांगुली की कप्तानी में खेला गया था. जिसमे गांगुली ने काफी अच्छा प्रदर्शन करते हुए टीम इंडिया को फाइनल तक पहुंचाया था. इस पूरे वर्ल्ड कप में भारत ने केवल 2 मैच हारे और ये दोनों मैच ऑस्ट्रेलिया से हारे थे. हालाँकि इस वर्ल्ड कप के फाइनल मैच में भले की भारत ने हार का समाना किया हो, लेकिन इस पूरे टूर्नामेंट में भारत का प्रदर्शन काबिले – तरीफ रहा था. सचिन तेंदुलकर को इस वर्ल्ड कप में सोने का बेट वाली ट्रॉफी प्रदान की गई थी. इसके फाइनल मैच में वीरेंद्र सहवाग ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया था.
  • वर्ल्ड कप सन 2007 :- अब तक जितने भी वर्ल्ड कप हुए थे, उनमें से यह वर्ल्ड कप भारत के लिए सबसे ख़राब वर्ल्ड कप रहा था. क्योंकि इस पूरे वर्ल्ड कप में भारत ने किसी भी मैच में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया था, सिवाय एक मैच को छोड़ कर. जी हाँ एक मैच भारत का बरमूडा के खिलाफ हुआ था, जिसमे भारत ने अब तक का सबसे उच्चतर स्कोर रिकॉर्ड 413 रनों का बनाया था. जिसे अब तक किसी भी टीम द्वारा नहीं तोड़ा गया है. किन्तु इसके अलावा किसी मैच में भारत ने जीत हासिल नहीं की. इस वर्ल्ड कप के बाद पाकिस्तान के कप्तान इंजमाम – उल – हक़ ने अपनी कप्तानी पर से इस्तीफा दे दिया था और भारत में भी राहुल द्रविड़ के स्थान पर महेंद्र सिंह धोनी को भारतीय क्रिकेट टीम का कप्तान बनाया गया.
  • वर्ल्ड कप सन 2011 :- यह वर्ल्ड कप 10 वां वर्ल्ड कप था, जोकि भारत के लिए सन 1983 के बाद सबसे बेहतरीन वर्ल्ड कप रहा था. यह वर्ल्ड कप भारतीय उपमहाद्वीप में तीसरी बार आयोजित किया गया वर्ल्ड कप था. इसमें भारतीय टीम के महेंद्र सिंह धोनी ने लाजवाब कप्तानी की थी. सबसे पहले तो इस वर्ल्ड कप में भारत ने बांग्लादेश को हराकर जीत हासिल करते हुए सन 2007 में हुए वर्ल्ड कप में हुई हार का बदला ले लिया. इस पूरे वर्ल्ड कप में भारतीय टीम ने केवल एक मैच हारा था, जोकि दक्षिण अफ्रीका के साथ था. बाकी सभी मैचों में भारत की जीत हुई थी. इस वर्ल्ड कप में भारतीय टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अपनी सूझ – बूझ से सबसे बेहतरीन कप्तानी की थी. इस वर्ल्ड कप में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को सेमिफाइनल में ही धुल चटा दी थी. इसके बाद फाइनल में श्रीलंका के साथ खेलते हुए भारत ने जीत हासिल की. और सन 1983 के बाद इस साल यानि दूसरी बार भारत ने वर्ल्ड कप का ख़िताब अपने नाम किया.we
  • वर्ल्ड कप सन 2015 :- सन 2015 के वर्ल्ड कप में मेजबानी ऑस्ट्रेलिया एवं न्यूज़ीलैंड टीम द्वारा की गई थी. यह 11 वां क्रिकेट वर्ल्ड कप था. इस वर्ल्ड कप में भारतीय टीम का प्रदर्शन कुछ खास नहीं था. हालाँकि पिछली बार जीत हासिल करने के बाद महेंद्र सिंह धोनी ही भारतीय टीम के कप्तान थे. लेकिन इस वर्ल्ड कप में महेंद्र सिंह धोनी की तकनीक काम नहीं आई. और भारत सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया से हार कर बाहर हो गया था. इस वर्ल्ड कप की चैंपियन टीम ऑस्ट्रेलिया बनी, जिसने न्यूज़ीलैंड को हराकर यह ख़िताब जीता. इस साल के वर्ल्ड कप के बाद धोनी ने अपनी कप्तानी छोड़ने का फैसला किया, और फिर विराट कोहली भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान बन गये.

इस साल यानि 2019 में वर्ल्ड कप इंग्लैंड एवं वेल्स दोनों मिलकर आयोजित करने जा रहे हैं. इस वर्ल्ड कप में विराट कोहली भारतीय टीम के कप्तान है, और यह उनकी अगुवाई में पहला वर्ल्ड कप है. वर्ल्ड कप के पहले मैच की शुरुआत 30 मई 2019 को होने जा रही है. इस साल का यह वर्ल्ड कप 12 वां वर्ल्ड कप है. इस वर्ल्ड कप में पहला मैच भारत का दक्षिण अफ्रीका से साथ है. इसमें विराट कोहली पर लोगों की उम्मीद है, कि वे इस बार भारत को जीत दिलाएंगे. अतः अब इस वर्ल्ड कप में भारत किस तरह से प्रदर्शन करता है, और क्या वह इस साल चैंपियन टीम बन सकता है. यह सब आपको वर्ल्ड कप के होने वाले मैचों में भारत के प्रदर्शन के साथ पता चल जायेगा.

अन्य पढ़े:

Ankita

अंकिता दीपावली की डिजाईन, डेवलपमेंट और आर्टिकल के सर्च इंजन की विशेषग्य है| ये इस साईट की एडमिन है| इनको वेबसाइट ऑप्टिमाइज़ और कभी कभी आर्टिकल लिखना पसंद है|
Ankita

One comment

  1. bahut hi intresting info diya hai apne thanks

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *