Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
ताज़ा खबर

इंडियन गवर्नमेंट इंटर्नशिप प्रोग्राम लिस्ट | Indian Government Internship Program List In Hindi 2018

इंडियन गवर्नमेंट इंटर्नशिप प्रोग्राम Indian Government Internship Program In Hindi 2018 [Stipend,Application Process  Form,Eligibility Criteria,Job,Date,Documents,Selection Criteria,Student List,Result,Certificate]

केंद्र सरकार ने छात्रों के हितों को ध्यान रखते हुए काफी योजनाए बनाई हैं. इन योजनाओं के अंतर्गत इच्छुक अभ्यर्थीयों को कुछ विशेष इंटर्नशिप करने का मौका दिया जा रहा हैं. ये छात्रों के करियर में बहुत उपयोगी है  क्योंकि इन इंटर्नशिप प्रोग्राम्स के अंत में उन्हें सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा, और ये प्रमाण-पत्र स्टूडेंट के अकेडमिक डिग्री की महत्ता को बढ़ाएंगे.

Indian Government Internships Program

आरबीआई इंटर्नशिप प्रोग्राम (RBI Internship Program)

केंद्र के सरकारी विभागों की तरह ही आरबीआई या रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया भी इच्छुक छात्रों को इंटर्नशिप प्रोग्राम ऑफर कर रही हैं.

इंटर्नशिप के बारे में जानकारी 

  1. योग्यता (Eligibility) – वो सभी अभ्यर्थी जो इकोनॉमिक्स,फाइनेंस,बैंकिंग और इससे जुड़े सब्जेक्ट्स में पीएचडी कर रहे हैं, वो इस इंटर्नशिप प्रोग्राम में एप्लाई कर सकते हैं.
  2. आरबीआई इंटर्नशिप प्रोग्राम बीटेक और बीई के छात्रों को जिनके पास कंप्यूटर, डाटा एनालिसिस की नोलेज हैं या फिर इकोनॉमिक्स,स्टेटिस्टिकल साइंस या फाइनेंस से सम्बन्धित कोई डिग्री हो तो वो भी जॉइन कर सकता हैं.
  3. अवधि (Duration)– इस इंटर्नशिप की अवधि 6 महीने की होगी. डिपार्टमेंट इस इंटर्नशिप को 2 अलग-अलग सेशन में आयोजित करवाएगा, जिसमे पहला सेशन जनवरी से जबकि दूसरा सेशन जुलाई से शुरू होगा.
  4. इंटर्नशिप प्रोजेक्ट में पोजीशन हासिल करने के लिए अभ्यर्थी को कम से कम 5 महीने पहले अपना रेज्यूम भेजना होगा.
  5. यदि कोई अभ्यर्थी जनवरी में जॉइन करना चाहता हैं तो उसे इस साल के पहले के अगस्त में एप्लाई करना होगा. जुलाई में जॉइन करने के लिए अभ्यर्थी को फरवरी में एप्लाई करना होगा.
  6. स्टाइपेंड (Stipend) – इस इंटर्नशिप प्रोग्राम के तहत प्रत्येक चुने हुए अभ्यर्थी को प्रतिमाह 35000 रूपये स्टाइपेंड दिए जायेंगे.
  7. कैसे अप्लाई करे (How to apply) – कोई भी व्यक्ति जो एप्लीकेशन भेजने का इच्छुक हो वो इस लिंक cgmsru@rbi.org.in पर क्लिक कर सकता हैं और अपना रेज्यूम या एप्लीकेशन फॉर्म भर सकता हैं.

निति आयोग इंटर्नशिप प्रोग्राम (NITI Aayog Internship program)

पहले स्कीम डेवलपमेंट और इससे जुड़े सभी निर्णय प्लानिंग कमिशन द्वारा लिए जाते थे,  बाद में डिपार्टमेंट ने इसमें परिवर्तन करते हुए यह काम निति आयोग को सौंप दिया. यह विभाग सरकारी विभागों में इंटर्नशिप करने के लिए इच्छुक अभ्यर्थियों को भी इंटर्नशिप प्रोग्राम ऑफर करता हैं.

इंटर्नशिप सम्बन्धित जानकारी 

  1. योग्यता (Eligibility)- नीति आयोग के अधीन संचालित होने वाली इंटर्नशिप किसी भी विशेष वर्ग के छात्रों के लिए निर्धारित नहीं हैं, इसके लिए कोई भी व्यक्ति जो यूजी,पीजी या रिसर्च कोर्स कर रहा हो वो एप्लीकेशन लगा सकता हैं
  2. अवधि (Duration) – इस प्रोग्राम के लिए 6 सप्ताह का समय निर्धारित किया गया हैं. यदि कुछ विशेष परिस्थितियों में सम्बन्धित विभाग के हेड चाहे तो इसे ज्यादा से ज्यादा 3 महीने तक एक्सटेंड कर सकते है.
  3. इस प्रोग्राम के लिए इच्छुक अभ्यर्थी साल के किसी भी महीने के शुरू के 10 दिनों में एप्लीकेशन लगा सकता हैं.
  4. कैसे अप्लाई करे (How to apply)– इसमें एप्लाई करने के लिए अभ्यर्थी को इसकी ऑफिशियल लाइन पर क्लिक करना होगा. वैसे नीति आयोग की आधिकारिक साईट पर जाकर अप्लाई किया जा सकता हैं.
  5. इस इंटर्नशिप प्रोग्राम के अंतर्गत अभ्यर्थी को कुछ भी वेतन या राशि नही दी जायेगी. निर्धारित समय अवधि के समाप्त होने के बाद अभ्यर्थी द्वारा प्रोजेक्ट रिपोर्ट सबमिट करवाई जायेगी तब ही उन्हें सर्टिफिकेट दिया जाएगा.

एक्सटर्नल अफेयर्स मिनिस्ट्री इंटर्नशिप प्रोग्राम 

केंद्र सरकार का ये विभाग भारत के अन्य देशों के साथ राजनैतिक और कूटनीतिक रिश्ते बनाने का काम करता हैं. ये विभाग ही विदेशों में होने वाले अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रमों में भारत के प्रतिनिधियों को भेजने का काम सम्भालता हैं. कोई भी अभ्यर्थी जो इस इंटर्नशिप में भाग लेता हैं वो देश के विदेश नीतियों को बेहतर तरीके से समझ सकता हैं.

इंटर्नशिप सम्बन्धित जानकारी 

  1. योग्यता (Eligibility)– यदि कोई अभ्यर्थी इसके ग्रेजुएशन प्रोग्राम में भाग लेना चाहता हैं, तो वो एक ऑनसाईट अभ्यर्थी होगा. यदि अभ्यर्थी पोस्ट-ग्रेजुएशन प्रोजेक्ट का हिस्सा बनना चाहता हैं तो वो एक ऑफसाईट अभ्यर्थी होगा.
  2. अवधि (Duration) – इंटर्नशिप की अवधि 1 महीने से 6 महीने तक हो सकती हैं. परन्तु इंटर्नशिप ड्राफ्ट के अनुसार मिनिस्ट्री ऑफ़ एक्सटर्नल अफेयर्स केवल 30 एप्लीकेशन स्वीकार करेगा.
  3. अभ्यर्थी कभी भी अप्लाई कर सकता हैं, लेकिन यदी अभ्यर्थी अपने सिलेक्शन की सम्भावना बढ़ाना चाहता हैं तो उसे सिलेक्शन शुरू होने से एक महीने पहले एप्लीकेशन जमा करवानी होगी.
  4. स्टाइपेंड (Stipend)- नीति आयोग स्कालरशिप की तरह इंटर्नस को इस प्रोग्राम में भाग लेने के लिए कोई पेमेंट/वेतन नहीं मिलेगा.
  5. कैसे अप्लाई करे? (How to apply)– सभी अभ्यर्थी को यूनिवर्सिटी या कॉलेज से एप्रूवल लाना होगा. इसके अलावा 3 लीगल आईडी प्रूफ्स, आधार कार्ड डिटेल्स, और हेड ऑफ़ दी डिपार्टमेंट की तरफ से ज़ारी की गई एनओसी और रिकमंडेशन भी जमा करवाना होगा. इसके लिए 2 आधिकारिक साईट usfsp@mea.gov.in और jsad@mea.gov.in  हैं.

लॉ एंड जस्टिस मिनिस्ट्री इंटर्नशिप प्रोग्राम 

किसी भी देश के विकास और प्रगति के लिए वहां का वैधानिक विभाग बहुत महत्वपूर्ण विभाग हैं. यह विभाग क़ानूनी मामलों को और उनके क्रियावयन को देखता हैं. इस विभाग में इंटर्नशिप करने पर संविधान को और बेहतर तरीके से समझने में मदद मिलती हैं.

इंटर्नशिप सम्बन्धित जानकारी 

  1. योग्यता (Eligibility)– वो सभी अभ्यर्थी जो इस इंटर्नशिप का हिस्सा बनना चाहते हैं उनके पास किसी मान्यता प्राप्त इंस्टिट्यूट से डिग्री कोर्स के दौरान फाइनल ईयर में लॉ का सब्जेक्ट होना चाहिए.
  2. अवधि (Duration)– सामान्य परिस्थितियों में इंटर्नशिप का समय इस प्रोजेक्ट में 4 महीनों के लिए रहेगा, लेकिन कुछ विशेष परिस्थितियों के लिए यह इंटर्नशिप 6 महीनों तक के लिय एक्सटेंड भी हो सकती हैं. इस योजना के अंतर्गत डिपार्टमेंट को मिलने वाली सैकड़ों एप्लीकेशन में से केवल 5 छात्रों को चुना जाएगा.
  3. एप्लीकेशन लाइन पूरे साल खुली रहेगी, लेकिन विभाग द्वारा आधिकारिक नोटिफिकेशन ज़ारी करने के बाद ही एप्लीकेशन सबमिट करना बेहतर होगा.
  4. सर्टिफिकेट (Certificate)– विभाग द्वारा इंटर्न को कोई वेतन या भत्ता नहीं दिया जाएगा, उन्हें केवल सर्टिफिकेट मिलेगा.
  5. कैसे अप्लाई करे (How to apply)– एप्लीकेशन डॉक्यूमेंट को ld@nic.in पर से अपलोड करना होगा. सभी अभ्यर्थियों को अपने रिज्यूम अपलोड करने होंगे, रिकमेंडेशन लेटर और हेड ऑफ़ दी डिपार्टमेंट से मिला एनओसी भी साथ में लगाना होगा.

डायरेक्टरेट जर्नल ऑफ फोरेन ट्रेड इंटर्नशिप (Directorate General of Foreign Trade Internship program)

पिछले कुछ समय में देश को बिजनेस और एक्सपोर्ट में विकास के लिए व्यापार और आर्थिक क्षेत्र में प्रगति करना आवश्यक हो गया हैं. कुछ ट्रेड रूल्स हैं,जो कि दोनों पक्षों द्वारा फॉलो किये जाते हैं. ये निर्धारित ट्रेड के नियम ही दोनों पक्षों के लिए फायदेमंद और सुरक्षित होते हैं. इस तरह के लॉ की जिम्मेदारी के लिए फॉरेन ट्रेड डिपार्टमेंट हैं.

इंटर्नशिप सम्बन्धित जानकारी 

  1. योग्यता (Eligibility) – ये इंटर्नशिप प्रोग्राम केवल फाइनल ईयर के लॉ स्टूडेंट्स के लिए हैं. वो अभ्यर्थी जो मैनेजमेंट, फाइनेंस और इकोनॉमिक्स में ग्रेजुएशन की डिग्री लेना चाहते हैं वो भी एप्लाई कर सकते हैं.
  2. इंटर्नशिप सेशनस (Internship sessions) – इच्छुक अभ्यर्थी विभाग के 2 इंटर्नशिप सेशन में से कोई भी एक जॉइन कर सकते हैं, यह समर सेशन (ग्रीष्मकालीन) जून में शुरू होगा और जुलाई तक चलेगा, जबकि विंटर(शीतकालीन) सेशन दिसम्बर से शुरू होकर जनवरी तक चलेगा.
  3. अवधि (Duration)– इस इंटर्नशिप स्कीम की कुल समयावधि 2 महीने हैं.
  4. एप्लीकेशन डेट- (Application date)- जैसा कि तय हैं कि इसके 2 शेश्न हैं तो इन दोनों के लिए सबमिशन की तारीख भी अलग-अलग होगी. समर सेशन के लिए इच्छुक अभ्यर्थी 31 अप्रैल तक जबकि विंटर सेशन के लिए 31 अक्टूबर तक एप्लीकेशन जमा करवा सकेंगे.
  5. स्टाइपेंड (Stipend) -चुने हुए अभ्यर्थियों को डिपार्टमेंट द्वारा कुल 10,000 रूपये तक भत्ता दिया जाएगा.
  6. एप्लीकेशन की प्रक्रिया (Application process)– एप्लीकेशन लेटर,अभ्यर्थी का सीवी और आवश्यक पेपर्स Sharma@nic.in. पर अपलोड करने होंगे.

कॉर्पोरेट अफेयर्स मिनिस्ट्री इंटर्नशिप प्रोग्राम (Corporate Affairs Ministry Internship program) 

सभी इंडियन कम्पनी चाहे वो देश की सीमा के भीतर स्थित हो या बाहर कही विदेश में हो, उन्हें भारत के ट्रेड और कॉर्पोरेट रूल्स को फॉलो करना पड़ता हैं. इन कम्पनीयों के सभी काम इन लॉ के अनुसार ही होते हैं. सभी अभ्यर्थियों के लिए इस कॉर्पोरेट लॉ को समझने के लिए इस इंटर्नशिप में भाग लेना काफी फायदेमंद साबित हो सकता हैं.

इंटर्नशिप सम्बन्धित जानकारी 

  1. योग्यता (Eligibility)– सिर्फ वो अभ्यर्थी जो इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी,मैनेजमेंट,इकोनॉमिक्स,कॉमर्स,लॉ, फाइनेंस में पोस्ट ग्रेजुएशन या रिसर्च  ओरिएंटेड कोर्स कर रहे हैं या कम्प्यूटर साइंस में बीटेक कर रहे है,वो एप्लाई कर सकते हैं.
  2. अवधि (Duration)- इंटर्नशिप की अवधि 2 महीने की हैं,यह जून या जुलाई में शुरू हो सकता हैं.
  3. सबमिशन डेट (Submission date)– अभ्यर्थी इसके लिए हर साल 31 जनवरी तक एप्लीकेशन और डॉक्यूमेंटस जमा करवा सकते हैं.
  4. स्टाइपेंड (Stipend)– प्रत्येक चुने हुए अभ्यर्थी को मासिक 10,000 रूपये मिलेंगे.
  5. एप्लीकेशन फॉर्म (Application form)– नियत समय में सभी एप्लीकेशन फॉर्म p@nic.in पर अपलोड करना होगा.

फाइनेंस मिनिस्ट्री इंटर्नशिप प्रोग्राम (Finance Ministry Internship program)

देश के आर्थिक विकास के लिए फाइनेंस मिनिस्ट्री ही जिम्मेदार हैं. बजट बनाने से लेकर नए टैक्स लगाने तक के सभी आर्थिक मसले इस विभाग द्वारा ही सुलझाए जाते हैं. इस विभाग में बेहतर तरीके से कामों को क्रियान्वित करने के लिए कुछ उप-विभाग भी हैं जिनके नाम खर्च विभाग,इकनोमिक अफेयर्स, रिवेन्यु, फाइनेशियल सर्विसेज और डिसइन्वेस्टमेंट हैं.

इंटर्नशिप सम्बन्धित जानकारी 

  1. योग्यता (Eligibility)– केवल वो अभ्यर्थी जो मैनेजमेंट, फाइनेंस और इकोनॉमिक्स में 5 वर्षीय कोर्स कर रहे हैं,वो ही इस इंटर्नशिप में भाग ले सकेंगे. लेकिन अभ्यर्थी को कोर्स के 4थे या 5वे वर्ष का छात्र होना चाहिए.
  2. अवधि (Duration)– इस इंटर्नशिप की अवधि 2 से 6 महीने के बीच में कुछ भी हो सकती हैं. ये बेहतर होगा कि एप्लीकेशन लेटर को एक महीने पहले भेजा जाए. यदि कोई व्यक्ति इंटर्नशिप प्रोग्राम फरवरी में जॉइन करना चाहता हैं,तो उसे 1 जनवरी से पहले फॉर्म जमा करवाना होगा.
  3. स्टाइपेंड (Stipend)- सभी अभ्यर्थियों को मासिक 10,000 रूपये का स्टाइपेंड दिया जाएगा.
  4. एप्लीकेशन की प्रक्रिया (Application process)- हर अभ्यर्थी को अपने सीवी और अन्य डाक्यूमेंट्स के साथ एप्लीकेशन पोस्ट सर्विस से मिनिस्ट्री ऑफ़ फाइनेंस तक पहुचानी होगी.

कॉम्पिटीशन कमीशन इंटर्नशिप प्रोग्राम    

यदि कोई अभ्यर्थी कंज्यूमर लॉ को समझना चाहता हैं और कंज्यूमर मार्केट में प्रतिस्पर्धी माहौल में काम करना चाहता हैं तो उसे कॉम्पिटीशन कमीशन डिपार्टमेंट के इंटर्नशिप प्रोग्राम में भाग लेना चाहिए. यह विभाग गैरकानूनी प्रेक्टिसेस को हटाने का काम भी करता हैं.

इंटर्नशिप सम्बन्धित जानकारी 

  1. योग्यता (Eligibility)– केवल वो अभ्यर्थी जिन्हें लॉ,फाइनेंस,इकोनॉमिक्स और मैनेजमेंट की अच्छी समझ हैं और अच्छी एकेडमिक नोलेज हैं वो ही इस इंटर्नशिप की योग्यता रखते हैं.
  2. अवधि (Duration)– डिपार्टमेंट द्वारा आयोजित सभी इंटर्नशिप प्रोग्राम केवल 1 महीने के होते हैं. सभी अभ्यर्थियों को ये सुनिश्चित करना होगा कि वो एक महीने पहले एप्लीकेशन जमा करवाए. महीने के पहली तारीख से पहले फॉर्म सबमिट करना बेहतर होगा.
  3. स्टाइपेंड (Stipend)– हर चुने हुए अभ्यर्थी को 10,000 रूपये का कैश प्राइज मिलेगा.
  4. कैसे अप्लाई करे (How to apply) – सभी एप्लीकेशन फॉर्म, कॉलेज डिटेल्स, आईडी और शिक्षा के प्रमाण पत्र और टॉपिक की समरी सम्बन्धित विभाग को भेजनी होगी, इसके लिए इन सबको अपना रिज्यूम essay@gmail.com पर अपलोड करना होगा.

वीमेन एंड चाइल्ड डेवलपमेंट मिनिस्ट्री इंटर्नशिप प्रोग्राम (Women and Child Development Ministry Internship program)

पहले महिला और बच्चों से सम्बन्धित सभी योजनाओं को ह्यूमन रिसोर्सेज डिपार्टमेंट द्वारा सम्भाला जाता था. फिर केंद्र सरकार ने महिला और बच्चों की आवश्यकताओं पर और ज्यादा फोकस करने की जरूरत को समझा. इस डिपार्टमेंट द्वारा शुरू किया गया इंटर्नशिप प्रोग्राम, महिला और बच्चों से सम्बन्धित योजनाओं के विकास के लिए शुरू किया गया.

इंटर्नशिप सम्बन्धित जानकारी 

  1. योग्यता Eligibility— यह बताया जा चूका हैं कि ग्रेजुएट, पोस्ट-ग्रेजुएट और किसी भी सब्जेक्ट के रिसर्च स्कॉलर इस प्रोजेक्ट के लिए एप्लाई कर सकते हैं.
  2. अवधि Duration– सभी अभ्यर्थियों को उनकी योग्यता के अनुसार ही प्रोजेक्ट में स्थान मिलेगा. कोई अंडर-ग्रेजुएट अभ्यर्थी एक मंथ के लिए इंटर्नशिप प्रोग्राम जॉइन कर सकता हैं. यदि अभ्यर्थी के पास पोस्ट-ग्रेजुएशन की डिग्री है तो वो 3 महीने तक चलने वाली स्कीम को जॉइन कर सकता हैं. यदि अभ्यर्थी के पीजी डिग्री का फाइनल रिजल्ट आ चूका हो तो वो इंटर्नशिप में भाग लेने के योग्य होंगे, जो की 6 महीने तक चलेगा. विभाग द्वारा साल भर में 4 विभिन्न इंटर्नशिप प्रोग्राम आयोजित किये जाते हैं.
  3. स्टाइपेंड Stipend– अभ्यर्थी को इस प्रोग्राम में भाग लेने के लिए कोई तरह की राशि नहीं दी जायेगी.
  4. कैसे अप्लाई करे How to apply – कोई भी जानकारी हासिल करना या एप्लीकेशन सबमिट करने के लिए इसकी ऑफिशियल साईट का उपयोग कर सकते हैं. इसके लिए http://wcd.nic.in/act/internship-programme-young-students पर क्लिक किया जा सकता हैं.

मिनिस्ट्री ऑफ़ कल्चर इंटर्नशिप प्रोग्राम  (Ministry of Culture Internship Programs)          

म्यूजियम सिर्फ पुरानी चीजों और डाक्यूमेंट्स देखने के लिए नहीं हैं. ये वो जगह हैं जहां पर देश की धरोहर को सुरक्षित रखा जाता हैं. ये म्यूजियम हमेशा मिनिस्ट्री ऑफ कल्चर के अंदर सम्भाला जाता हैं. लेकिन इस महत्वपूर्ण जगह को विशेष सुरक्षा और रख-रखाव की जरूरत होती हैं.

इंटर्नशिप सम्बन्धित जानकारी 

  1. योग्यता (Eligibility)– म्युजियम को पुराने सामान के रख-रखाव की जरूरत होती हैं. इस कारण केवल वो ही अभ्यर्थी इस इंटर्नशिप के योग्य होंगे जो इससे सम्बन्धित विषय की योग्यता रखते हो. कोई कॉलेज या यूनिवर्सिटी से एन्थ्रोपोलोजी, हिस्ट्री, साइंस, आर्कियोलॉजी, म्युजिओलोजी, भाषा, स्कल्पचर, लाइब्रेरी साइंस और फाइन आर्ट्स में डिग्री हो, उन्हें प्राथमिकता दी जायेगी.
  2. अवधि (Duration)– इंटर्नशिप प्रोग्राम को 2 भागो में बांटा गया है. समर सेशन 6,9 या 12 महीने का होगा वही विंटर सेशन 9 से 12 महीने तक का होगा. समर सेशन मई,जून और जुलाई से शुरू होगा. विंटर सेशन दिसम्बर,जनवरी और फरवरी में शुरू होगा.
  3. एप्लीकेशन की तारीख (Application date)– यदि कोई अभ्यर्थी इंटर्नशिप का इच्छुक हो तो उसे 10 मार्च तक अप्लाई करना होगा. यदि अभ्यर्थी विंटर इंटर्न प्रोग्राम में भाग लेना चाहता हैं तो उसे एप्लीकेशन 10 तक सबमिट करनी होगी.
  4. स्टाइपेंड (Stipend)– डिपार्टमेंट से चुने हुए एप्लिकेंट को कोई स्टाइपेंड नहीं मिलेगा.
  5. कैसे अप्लाई करे (How to apply)nationalmuseminternship@gmail.com पर क्लिक करे और इच्छुक अभ्यर्थी यहाँ पर आवश्यक योग्यता,एप्लीकेशन का समय और जरूरत के डोक्युमेन्ट्स के बारे में जान सकते हैं. आपको इसके लिए लिस्ट में बताये गये सभी डाक्यूमेंट अपलोड करने होंगे.

अन्य पढ़े

  1. जीरो बजट प्राकृतिक खेती क्या है 
  2. सोलर चरखा मिशन क्या हैं 
  3. लोकसभा इंटर्नशिप प्रोग्राम -2018 
  4. डिजिटल इंडिया इंटर्नशिप स्कीम