इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2021- गर्भवती महिलाओं को सरकार दे रही हैं 6000 रुपये, जानिए कौन होंगे लाभार्थी

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2021, आवेदन फॉर्म, पात्रता नियम, दस्तावेज, लाभार्थी सूचि, (Indira gandhi matritva poshan yojana IGMPY in hindi) (Online Apply, UPSC)

राजस्थान सरकार ने  नवंबर 2020 को इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना को शुरू किया है। बता दें कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी ने राजस्थान राज्य की सभी गर्भवती महिलाओं को 6,000 रुपए की मदद करने की घोषणा की है। यहां जानकारी दे दें कि यह सहायता राशि गर्भवती महिलाओं को उनके दूसरे बच्चे के जन्म पर पांच चरणों में दी जाएगी। अगर आपको इस योजना के बारे में जानकारी नहीं है तो सारा विवरण हमारे इस आर्टिकल में आपको मिल जाएगा। ‌

इंदिरा गांधी मातृत्व सहयोग योजनाजननी सुरक्षा योजना, जानिए कितना लाभ मिल रहा है.

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2021

बता दें कि राजस्थान राज्य सरकार ने राज्य की गर्भवती महिलाओं के लिए और उनके बच्चों के पोषण के लिए इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2020 को किया है। इस स्कीम के तहत राज्य के 4 जिलों की गर्भवती महिलाओं को 6,000 रुपए की वित्तीय राशि किस्तों में प्रदान की जाएगी। बता दें कि राजस्थान सरकार द्वारा महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए यह बहुत ही महत्वपूर्ण कदम उठाया है क्योंकि गर्भवती महिलाओं को पूर्ण पोषण मिलना बहुत ही अनिवार्य है जिससे की बच्चा स्वस्थ पैदा होगा।

योजना का नाम

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना

किसने शुरू की

मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत

किसके लिए शुरू की

गर्भवती महिलाओं के लिए  

कितने जिलों में शुरू

राज्य के 4 जिलों में

सहायक राशि

6,000 रुपए

लाभार्थी महिलाओं की संख्या

77,000

बेनेफिशरी वेबसाइट

rajasthan.gov.in

टोल फ्री नंबरNA

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के लाभार्थी (Beneficiaries Of The Scheme)

बता दें कि राजस्थान की राज्य सरकार ने 77,000 से भी ज्यादा महिलाओं को इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना से लाभान्वित करने का ऐलान किया है और इसके लिए सरकार 43 करोड रुपए की राशि हर साल खर्च करेगी ताकि इस योजना का कार्यान्वयन सफलतापूर्वक किया जा सके।

राजस्थान टीएडी सुपर 30 प्रोजेक्ट योजना के तहत छात्र मुफ्त में ऑनलाइन कोचिंग का लाभ उठा सकते हैं जानिए कैसे.

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना राजस्थान इन जिलों में लागू- फेस वन

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना अभी राज्य के 4 ज़िलों उदयपुर, दुर्गापुर, बांसवाड़ा और प्रतापगढ़ में शुरू की गई है। बता दें कि यह योजना अभी सबसे अधिक पिछड़े हुए जिलों में शुरू की गई है और राज्य सरकार इस योजना को पूरे प्रदेश में चरणबद्ध तरीके से शुरू करेगी जिससे कि सभी गर्भवती महिलाओं और उनके होने वाले बच्चे को बहुत अधिक फायदा होगा। ‌

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना की राशि व किस्त

जानकारी के लिए बता दें कि इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2020 के तहत गर्भवती महिलाओं को सरकार द्वारा 5 चरणों में 6000 रुपए की राशि का वितरण किया जाएगा जिसकी जानकारी इस प्रकार से है –

  • पहली किस्त- पहली किस्त में 1,000 रुपए की राशि की सहायता दी जाएगी जिससे कि गर्भवती महिलाओं की प्रेगनेंसी जांच, स्क्रीनिंग और रजिस्ट्रेशन जैसी प्रक्रियाएं पूरी हो सकेंगी।
  • दूसरी किस्त- दूसरी किस्त में भी 1,000 रुपए कि मदद की जाएगी जिनसे कि महिलाओं की कम से कम 2 जांच हो सकें।
  • तीसरी किस्त- बता दें कि तीसरी किस्त में भी 1,000 रुपए की राशि संस्थागत प्रसव पर प्रदान की जाएगी।
  • चौथी किस्त- चौथी किस्त में भी महिलाओं को 2,000 रुपए उस समय दिए जाएंगे जब बच्चे का जन्म हो जाएगा और बच्चे के जन्म को 105 दिन हो जाएंगे और उसके सभी जन्म टीके भी लग जाएंगे।
  • पांचवी किस्त- यह 1,000 रुपए की राशि उस समय प्रदान की जाएगी जब दूसरे बच्चे का जन्म हो जाएगा और उसके जन्म होने के 3 महीने के भीतर परिवार नियोजन के साधन को अपनाने वाले को ही यह वित्तीय मदद मिलेगी।

राज किसान साथी पोर्टल के अंतर्गत किसान एक जगह से उठा सकते हैं सभी योजनाओं का लाभ, जानिए क्या हैं पोर्टल.

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के लिए योग्यता (Eligibility Criteria)

  • लाभार्थी महिला राजस्थान की स्थाई निवासी होनी चाहिए.
  • दूसरे बच्चे के जन्म पर योजना का फायदा.
  • केवल गर्भवती महिलाएं आवेदन दे सकती हैं.
  • बैंक खाता धारक महिला होना चाहिए.

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के लिए दस्तावेजों की सूची (Required Documents)

यहां बता दें कि इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के लिए राजस्थान की राज्य सरकार ने राज्य की 4 जिलों की महिलाओं को लाभ देने के लिए घोषणा की है। जो महिलाएं इस योजना का लाभ लेना चाहती हैं उन्हें इसके लिए निम्नलिखित दस्तावेज देने होंगे जिनकी जानकारी सरकार से है-

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • राशन कार्ड और वोटर आईडी कार्ड।
  • बैंक अकाउंट की या पोस्ट ऑफिस अकाउंट की पासबुक की फोटो कॉपी
  • पासपोर्ट फोटोग्राफ
  • पीएचसी या सरकारी से जारी हेल्थ कार्ड

राजस्थान राज कौशल पोर्टल : श्रमिक घर बैठे ऑनलाइन पंजीयन कर पा सकते हैं रोजगार, जानिए क्या है प्रक्रिया.  

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया (Registration Process)

अगर आप इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के लिए आवेदन देना चाहते हैं तो आपको इसके लिए बता दें कि जिस प्रकार महिलाएं दूसरी मातृत्व योजनाओं का लाभ राजस्थान राज्य सरकार की आधिकारिक वेबसाइट से ले रही हैं उसी प्रकार इस योजना के तहत भी लाभ ले सकती हैं। यहां जानकारी के लिए बता दें कि अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर उम्मीदवार अपना एप्लीकेशन फॉर्म भरकर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। लेकिन अभी आवेदन की प्रक्रिया शुरू नहीं की गई है परंतु इस योजना की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया बहुत जल्दी शुरू कर दी जाएगी।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना FAQ

Q : इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना को किसलिए शुरू किया गया है ?

Ans : राजस्थान की सभी गर्भवती महिलाओं के लिए उनके दूसरे बच्चे के जन्म पर.

Q : इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना को कितने राज्य में शुरू किया गया है ?

Ans : 4 राज्यों में.

Q : इस योजना के तहत महिलाओं को कितनी राशि दी जाएगी और कैसे ?

Ans : 6000 रुपए जो कि 5 किस्तों में दिए जाएंगे.

Q : क्या इंदिरा गांधी मातृत्व योजना में राज्य की सभी महिलाएं भाग ले सकती हैं ?

Ans : नहीं.‌

अन्य पढ़ें –

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *