मुख्यमंत्री राशन योजना झारखण्ड में शुरू, कंटेन्मेंट क्षेत्र के हर घर को 15 दिन का राशन देगी सरकार

झारखण्ड मुख्यमंत्री राशन योजना 2020 (Jharkhand Mukhyamantri Ration Yojana in Hindi) [Eligibility, Documents, Apply] मुख्यमंत्री राशन योजना शुरू, कंटेन्मेंट क्षेत्र के हर घर को 15 दिन का राशन देगी सरकार

Jharkhand Mukhyamantri Ration Yojana In Hindi

योजना का नाम मुख्यमंत्री राशन योजना
राज्य झारखण्ड
लांच की तारीख 17 अप्रैल, 2020
लांच की गई झारखण्ड राज्य सरकार द्वारा
अंतिम तिथि पूरे कोरोनावायरस लॉकडाउन के दौरान
लाभार्थी राज्य के जरुरत मंद नागरिक
संबंधित विभाग खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना झारखण्ड की लिस्ट देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

झारखण्ड मुख्यमंत्री राशन योजना की विशेषताएं (Jharkhand Mukhyamantri Ration Yojana Features)

  • योजना का उद्देश्य :- इस योजना को शुरू करने का राज्य सरकार का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना हैं कि राज्य का कोई भी नागरिक भूखा न रहे.
  • राशन की कमी की आपूर्ति :- राज्य में किसी भी जिले या गाँव का कोई भी परिवार जोकि राशन की कमी की समस्या से जूझ रहा हैं, सरकार द्वारा उनके घर तक आवश्यक खाद्य पदार्थों की डिलीवरी की जाएगी.
  • राशन में शामिल होने वाले खाद्य पदार्थ :- चावल, दाल, आलू, प्याज, सरसों का तेल, चायपत्ती, शक्कर, नमक एवं इसी तरह के आवश्यक खाद्य पदार्थों को लाभार्थी परिवारों तक पहुँचाया जायेगा. इसके अलावा दूध पाउडर, परले – जी बिस्किट एवं लाइफबौय कंपनी के साबुन भी उपलब्ध कराएगा. आपको बता दें कि इन सभी कंपनियों ने मुख्यमंत्री राहत कोष में अपना -अपना कुछ योगदान भी दिया है.
  • कुल राशन :- इस योजना के अंतर्गत झारखण्ड राज्य सरकार जरुरत मंद परिवारों को कुल 15 दिनों का राशन मुफ्त में प्रदान करेगी.

पीएम किसान सम्मान निधि योजना लाभार्थी सूची में अपना नाम चेक करने के लिए यहाँ क्लिक करें

झारखण्ड मुख्यमंत्री राशन योजना में पत्रता मापदंड (Jharkhand Mukhyamantri Eligibility Criteria)

  • झारखण्ड के निवासी :- इस योजना के तहत झारखण्ड की सीमा के अंदर आने वाले नागरिकों को इस योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा.
  • राज्य में गरीबों की मदद करना :- इस योजना के अंतर्गत झारखण्ड राज्य सरकार राज्य के ऐसे गरीबों की मदद करना चाहती हैं, जोकि जरुरतमंद परिवार के हैं.
  • झारखण्ड के कांटेंमेंट क्षेत्र :- ऐसे क्षेत्र जहां कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज मिलने के बाद उसके आस – पास के कम से 3 किलोमीटर के दायरे को सील किया जाता है, ऐसे क्षेत्र कांटेंमेंट क्षेत्र कहे जाते हैं. ऐसे क्षेत्रों में रहने वाले गरीबों को इस योजना के तहत राशन की सुविधा प्रदान की जाएगी.

इस तरह से झारखण्ड राज्य सरकार राज्य की सीमा के बाहर रहने वाले राज्य के नागरिकों के साथ ही कांटेंमेंट क्षेत्र में रहने वाले लोगों की भी मदद करने का प्रयास कर रही हैं.

अन्य पढ़े

  1. उत्तरपदेश योगी मजदूर भत्ता योजना में रजिस्टर करें 
  2. झारखण्ड कोरोना सहायता एप्प डाउनलोड करे 
  3. कोरोना वायरस लक्षण 
  4. सेल्फी एडिक्शन क्या हैं 

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *