ताज़ा खबर

कहानी घर घर की ओल्ड स्टार प्लस सीरियल | Kahani Ghar Ghar ki Old Serial In Hindi

Kahani Ghar Ghar ki Old Star Plus Serial In Hindi सन 2000 में भारत के टेलिविज़न जगत में टेलिविज़न क्वीन एकता कपूर द्वारा बनाया गया “कहानी घर घर की (KGGK)” दूसरा सबसे बड़ा सीरियल था और ऐसा लगता है जैसे “क्यूकि साँस भी कभी बहू थी (KSBKBT)” सीरियल ने इसको जन्म दिया है. KSBKBT सीरियल आने के बाद उसी साल 16 अक्टूबर सन 2000 को एकता कपूर ने इस सीरियल की शुरुआत की. यह सीरियल भी KSBKBT सीरियल की तरह ही बहुत लोकप्रिय सीरियल रहा है. लोग इस सीरियल को बहुत ही चाव से देखते थे. उस समय एकता कपूर के सभी सीरियलों में एक चीज बहुत ही कॉमन थी वह यह थी कि, उसके हर सीरियल का नाम “क” अक्षर से शुरू होता था. क्यूंकि सास भी कभी बहु थी ओल्ड सीरियल के बारे में यहाँ पढ़ें.

KGGK सीरियल की कहानी की शुरुआत मुख्यतः ओम और पार्वती अगरवाल के ऊपर फोकस की गई है. ओम अगरवाल, अगरवाल परिवार के बड़े और आदर्श बेटे और पार्वती बड़ी एवं आदर्श बहू हैं, जोकि अपने परिवार को जोड़े रखती है. इस सीरियल में विश्वनाथ अगरवाल के बेटे और उनके बच्चों की कहानी है, लेकिन मूल रूप से इसकी कहानी पार्वती के परीक्षण (trial) और पीढ़ा (tribulation) पर केन्द्रित है. इस सीरियल को उस समय इतना पसंद किया गया कि लोग अपने घर में पार्वती जैसी बहू लाने की इच्छा जताने लगे. उनका मानना था कि यदि उन्हें पार्वती जैसी बहू मिल जाये तो, उनके भाग्य खुल जायेंगे. इसके अलावा इस सीरियल में कुछ और मुख्य किरदार भी थे जोकि कमल अगरवाल और उनकी पत्नी पल्लवी अगरवाल के थे जोकि सपोर्टिंग कास्ट के रूप में थे.

kahani-ghar-ghar-ki-serial

एकता कपूर के सीरियलों की एक विशेषता यह भी थी कि एक समय के बाद जब किसी सीरियल की TRP कम होने लगती थी, तब वे उस सीरियल को आगे बढ़ाने और उसकी तरफ लोगों का ध्यान केन्द्रित करने के लिए उस सीरियल की कहानी में 20 साल का लीप ले आती थीं. जिससे नए – नये किरदारों के साथ उस सीरियल की TRP में दोबारा बढ़ोत्तरी हो सके. इसे लोग बहुत पसंद करते थे इसके चलते KGGK सीरियल में 2 बार लीप लाया गया, और लोगों ने इसे भी बहुत पसंद किया.

कहानी घर घर की ओल्ड स्टार प्लस सीरियल 

Kahani Ghar Ghar ki Old Star Plus Serial In Hindi

KGGK ओल्ड टेलीविजन सीरियल की जानकारी और इसे टेलिविज़न जगत में लाने एवं उसे चलाने वाले क्रू मेम्बर्स निम्न सूची में दर्शाए गए है-

क्र.. जानकारी बिंदु               जानकारी
1. निर्माण कंपनी बालाजी टेलीफिल्म्स
2. कहानी लेखक बी.एम. व्यास, अंजना सूद, महेश पांडे, अनिल नागपाल, संदीप सिक्कांद, कमलेश पांडे, निम सूड और सोनाली जफ्फर
3. पटकथा लेखक बी.एम. व्यास, आनंद गाँधी, ट्विंकल, प्रभा, अंजना सूद, महेश पांडे, धीरज सरना, राधेश्याम राय, विक्की चन्द्र, अनिल नागपाल, विन्सेंट वर्गीज,पिंकी शाह, उषा दीक्षित
4. डायलाग लेखक अमल डोंवर, धीरज सरना, शशि आर. सिंह, दीप्ति रावल और शरद त्रिपाठी.
5. निर्देशक अरविन्द बब्बल, अनिल वी. कुमार, भरत भाटिया, गैरी भिंडर, राकेश मल्होत्रा, पार्थो मित्रा, राजेश बब्बर, रविन्द्र गौतम, संतोष कोहले, दीपक चवन
6. निर्माता एकता कपूर , शोभा कपूर
7. रचनात्मक निर्देशक प्रशांत भट्ट, स्वप्ना वाघमरे जोशी, मितु कुमार, संदीप सिक्कांड, निवेदिता बासु और सांची बावा
8. सम्पादक (Editor) विकास शर्मा, निशित शाह, मोहद सलीम और रोचक अरोरा
9. शुरूआती विषय प्रिया भट्टाचार्या द्वारा “कहानी घर घर की”
10. कुल एपिसोड 1661
11. प्रसारण समय 16 अक्टूबर सन 2000 से 9 अक्टूबर सन 2008 तक
12. चैनल स्टार प्लस
13. प्रसारण का समय रात 10:00 बजे से 10:30 बजे तक
14. मुख्य किरदार साक्षी तनवर, किरण करमार्कर, अली असगर, श्वेता क्वात्रा

कहानी घर घर कीसीरियल की कहानी (Kahani Ghar Ghar ki Old Serial Story) –

कहानी घर घर की यानि KGGK सीरियल की कहानी यह है कि एक बहुत ही प्रतिष्ठित, अमीर और ताकतवर व्यापारी विश्वनाथ अगरवाल का बेटा ओम अगरवाल था. उसकी समझदार और सभ्य पत्नी पार्वती अगरवाल थी जोकि मध्यम वर्गीय परिवार से सम्बन्ध रखती थी और अगरवाल परिवार की बहुत ही आदर्श बहु बन गई. प्रारंभ में, पार्वती अपना खुद का निर्णय करने के लिए सक्षम नहीं थी, किन्तु कुछ समय बाद वे इस चीज के लिए स्वतंत्र हो गईं थी और अपने परिवार की रक्षा के लिए बड़ी परेशानियों से हो कर गुजरती थी. पार्वती और ओम की एक बेटी थी जिसका नाम श्रुती था.

इस सीरियल में अगरवाल परिवार के चार बेटों के विभिन्न रिश्तों की कहानी थी. सबसे छोटा बेटा कमल अगरवाल था जोकि अपनी भाभी यानि पार्वती की हर परेशानी में उनकी मदद करता था. उसका अपनी असिस्टेंट के साथ अफ्फैर भी था जिसका नाम निवेदिता था और वह गर्भवती भी हो गई थी. लेकिन अपने बेटे को जन्म देते ही उसकी मृत्यु हो गई. इसके बाद इसकी कहानी इस प्रकार आगे बढ़ी कि कैसे कमल की पत्नी पल्लवी ने उसके विश्वासघात के लिए उसे माफ़ किया और उसके बेटे कृष्णा को अपने बेटे के रूप में बड़ा किया.

अजय एक कामयाब वकील था, उसका किसी के साथ अफ्फैर था जबकि उसकी पत्नी अवंतिका थी और वह गर्भवती भी थी. जब वह रहस्यमयी परिस्थितियों में मारा गया तब उसकी हत्या का इल्जाम ओम अगरवाल पर आया. पार्वती तो इसके लिए अपने पति और सच्चाई में से किसी एक को चुनना पड़ा. पार्वती ने उस समय ओम के खिलाफ जाकर अवंतिका को सपोर्ट किया. हालांकि बाद में यह पता चला कि अजय की कातिल खुद अवंतिका ही है और उसे सजा हो गई तब पार्वती ने उसकी बेटी का ख्याल रखा.

इसके बाद सीरियल में 20 साल का लीप आया. इसमें यह बताया गया कि श्रुती पार्वती की रियल बेटी नहीं है. उसकी रियल बेटी गायत्री है जोकि बचपन में गलती से श्रुती के साथ बदल गई थी. जब गुरुद्वारा अस्पताल में दंगों के कारण तोड़ – फोड़ हो रही थी तब वे दोनों पैदा हुई थीं. पार्वती ने दोनों को अपनी बेटी के रूप में स्वीकार किया. लेकिन दोनों के बीच एक भयंकर प्रतिद्वंदिता शुरू हो गई. श्रुती समीर से प्यार करती थी किन्तु गायत्री ने उससे धोखेबाजी के तहत शादी कर ली. जब सच सामने आया तब समीर ने गायत्री को तलाक देकर श्रुती से शादी करने की योजना बनाई. लेकिन उस समय गायत्री ने कहा कि वह गर्भवती है. तब ओम एवं पार्वती के लिए यह परीक्षा की घड़ी थी, ओम ने श्रुती और समीर को सपोर्ट किया जबकि पार्वती ने गायत्री को सपोर्ट किया, यह ऐसा ही चलता रहा. फिर गायत्री ने एक बच्चे को जन्म दिया और उसे पार्वती के हाथ में दे कर हमेशा के लिए अमेरिका चली गई और उसके बेटे जिसका नाम ईशान था जो श्रुती और समीर के साथ रहने लगा.

यह कहानी बढ़ती रही, इस बीच इसमें बहुत से मोड़ आते रहे. किन्तु हर बार पार्वती अपने परिवार को सारी परेशानियों से बचाती रही और आखिर में इसकी कहानी ख़ुशी से खत्म हो गया.

कहानी घर घर की सीरियल के किरदार और उनके नाम  (Kahani Ghar Ghar ki Serial Cast and Crew) –

KGGK सीरियल में बहुत से किरदार आये और गए जोकि इस प्रकार है-

  • ओम अगरवाल ओम अगरवाल का किरदार किरण करमार्कर ने निभाया था वे पार्वती के पति थे, और अगरवाल परिवार के बड़े और आदर्श बेटे थे. वे अपने परिवार और अपनी पत्नी से बहुत प्यार करते थे.
  • पार्वती अगरवाल यह किरदार साक्षी तनवर ने निभाया था. पार्वती अगरवाल एक बहुत ही आदर्श, सभ्य और संस्कारी बहु थी जोकि अपने परिवार को हमेशा जोड़े रखती और साथ में उनको हर परेशानी से बचाती थी. ओम और पार्वती अगरवाल ऐसे किरदार थे मानो कि वे कलयुग के राम और सीता है. यह किरदार इस सीरियल का मुख्य किरदार था जिसे साक्षी ने बखूबी निभाया और लोगों ने उसे पसंद भी किया.
  • विश्वनाथ अगरवाल (बाबूजी) – ये इस परिवार के सबसे बड़े सदस्य थे. यह किरदार दीपक काज़ीर केजरीवाल ने निभाया. वे अपने परिवार से बहुत प्यार करते थे और साथ ही उनको हर खुशी देने की कोशिश करते थे.
  • दादी/ रुकमणि केदारनाथ अगरवाल यह किरदार लिली पटेल ने निभाया. ये इस परिवार की सबसे बड़ी और सबसे समझदार थी इन्हें सब दादी कहते थे.
  • कमल अगरवाल यह किरदार अली असगर ने निभाया. यह किरदार अगरवाल परिवार के चौथे सबसे छोटे बेटे का था. उसकी शादी पल्लवी से होती है किन्तु कमल इस रिश्ते से खुश नहीं रहता था वह हमेशा अपनी भाभी पार्वती का साथ देता था, और साथ ही परिवार को हर मुश्किल से बचाने में उसकी मदद भी करता था.
  • छाया यह किरदार रिंकू करमार्कर ने निभाया था जोकि असल में किरण करमार्कर की पत्नी है. वे इस सीरियल में ओम की बहन का रोल कर रहीं थीं. इनका इस सीरियल में नकारात्मक किरदार था.
  • पल्लवी यह किरदार पहले श्वेता क्वात्रा ने निभाया था उसके बाद यह किरदार अचिंत कौर ने निभाया. पल्लवी कमल की पत्नी थी पहले उनकी शादी अजय के साथ होनी थी किन्तु फिर कमल के साथ हो गई. वह पार्वती को हमेशा हराना चाहती थी. पल्लवी अपने बेटे कृष्णा से बहुत प्यार करती थी.
  • श्रुती यह किरदार टीना पारेख ने निभाया था. ये ओम और पार्वती अगरवाल की बेटी थी. किन्तु यह बाद में पता चला था की ये उनकी रियल बेटी नहीं है. उसकी शादी पहले आर्यन दोषी से होती है उसके बाद समीर कौल से होती है और उसकी एक बेटी तन्नु भी होती है जिसे वह अपनी ननद गुण को दे देती है. लीप के बाद श्रुती अपनी बहन के बेटे प्रणय की माँ बन जाती है.
  • मोनालिका यह किरदार मानसी वर्मा ने निभाया था. ये अजय और उसकी पत्नी की बेटी थी इसे पल्लवी ने अपनी ओर करके अगरवाल परिवार से उसके पिता की हत्या का बदला लेने के लिए उकसाया. उसने श्रुती को आर्यन से अलग करने के लिए बहुत कोशिश की किन्तु बाद में जब सच सामने आया तब वह सकारात्मक किरदार में आ गई थी. कुछ समय बाद इस किरदार को सीरियल से हटा दिया गया.
  • समीर यह किरदार पहले मजहर खान ने निभाया उसके बाद आमीर अली मालिक ने इस किरदार को निभाया. यह किरदार पहले पार्वती की बेटी गायत्री के पति का था, उसके बाद उनका तलाक होने के बाद उसने श्रुती के साथ शादी की.
  • गायत्री यह किरदार रुपाली गांगुली ने निभाया. ये ओम और पार्वती की रियल बेटी थी, जोकि बचपन में श्रुती के साथ बदल गई थी. इसकी शादी समीर के साथ होती है और उनका एक बेटा छोटू भी होता है.
  • आर्यन यह किरदार अली हसन ने निभाया जोकि श्रुती का पति का किरदार था.
  • गून यह किरदार पल्लवी पुरोहित ने निभाया. यह श्रुती की ननद का किरदार था.
  • तृषा यह किरदार मीता वशिष्ट ने निभाया. यह किरदार नकारात्मक था और वे पार्वती के लिए हमेशा परेशानी खड़ी करती रहती थी.
  • सुयेश मेहरा यह किरदार मोहनीश बहल ने निभाया. पार्वती सुयेश मेहरा से शादी करती है 60 % प्रॉपर्टी के लिए किन्तु बाद में यह बताया गया कि यह शादी नकली है.
  • आशुतोष मेहरा यह किरदार राज सिंह अरोरा ने निभाया. ये सुयेश मेहरा के बेटे थे जोकि पार्वती पर जान छिड़कते थे. ये पेशे से सीबीआई ऑफिसर थे.
  • मलिका यह किरदार टिस्का चोपरा ने निभाया.
  • कृष्णा यह किरदार सचिन शर्मा ने निभाया. ये कमल और पल्लवी का बेटा था. उसकी शादी गुन से होती है, कृष्णा, शाशा के साथ एक खेल खेलता है जिसमें वह अपनी पत्नी गुन को हार जाता है.
  • शाशा यह किरदार चेतन हंसराज ने निभाया था. ये अपने भाई और बहन के साथ अगरवाल परिवार में रहने आते है जिससे वे अपने पिता की सम्पत्ति को पा सकें. और उसे गुन से प्यार हो जाता है जोकि कृष्णा की पत्नी रहती है.
  • नारायणी देवी यह किरदार अरुणा ईरानी ने निभाया. जोकि पार्वती को जेल से छुड़ाती है और गलत के खिलाफ उसकी लड़ाई में उसका साथ देतीं हैं.

इसके अलावा भी इस सीरियल में बहुत से किरदार जुड़े थे, जिन्होंने इस सीरियल की TRP को आगे बढ़ाने में बहुत मदद की. लोगों ने इसे बहुत पसंद भी किया. इसके लिए इस सीरियल को बहुत से अवार्ड्स भी मिले, जोकि इस प्रकार है-

क्र.. साल अवार्ड   वर्ग किरदार प्राप्तकर्ता
1. 2002 इंडियन टैली अवार्ड सबसे अच्छे अभिनेता मुख्य किरदार में
सबसे अच्छी अभिनेत्री मुख्य किरदार में
सबसे अच्छी अभिनेत्री नकारात्मक किरदार में
सबसे अच्छी ड्रामा सीरीज
ओम अगरवाल
पार्वती अगरवाल
पल्लवी अगरवाल
किरण करमार्कर
साक्षी तनवर
श्वेता क्वात्रा
एकता कपूर
2. 2003 कलाकार अवार्ड सबसे अच्छा अभिनेता
सबसे अच्छा प्लेबैक गायक (फीमेल)
कमल अगरवाल
अली असगर
प्रिय भट्टाचार्य
3. 2004 कलाकार अवार्ड सबसे अच्छा अभिनेता
पसंदीदा अभिनेत्री
ओम अगरवाल
पार्वती अगरवाल
किरण करमार्कर
साक्षी तनवर
4. 2005 स्टार परिवार अवार्ड पसंदीदा दादी
पसंदीदा ससुर
पसंदीदा बेटी
पसंदीदा देवर
रुकमणि अगरवाल
ओम अगरवाल
श्रुती अगरवाल
कमल अगरवाल
लिली पटेल
किरण करमार्कर
टीना पारेख
अली असगर
5. 2006 स्टार परिवार
अवार्ड
ITA अवार्ड
पसंदीदा दादी
पसंदीदा भाभी
सबसे अच्छा अभिनेता सहायक किरदार में
रुकमणि अगरवाल
पार्वती अगरवाल
कमल अगरवाल
लिली पटेल
साक्षी तनवर
अली असगर
6. 2007 स्टार परिवार अवार्ड पसंदीदा दादी
पसंदीदा भाभी
पसंदीदा देवर
रुकमणि अगरवाल
पार्वती अगरवाल
कमल अगरवाल
लिली पटेल
साक्षी तनवर
अली असगर
7. 2008 स्टार परिवार अवार्ड
ITA अवार्ड
पसंदीदा माँ
पसंदीदा भाभी
पसंदीदा देवर
सबसे अच्छा अभिनेता सहायक किरदार में
पार्वती अगरवाल
पार्वती अगरवाल
कमल अगरवाल
कमल अगरवाल
साक्षी तनवर
साक्षी तनवर
अली असगर
अली असगर
8. 2010 ITA अवार्ड ITA माइलस्टोन अवार्ड विश्वनाथ अगरवाल
ओम अगरवाल
पार्वती अगरवाल
कमल अगरवाल
शाशा
दीपक काज़ीर केजरीवाल
किरण करमार्कर
साक्षी तनवर
अली असगर
चेतन हंसराज

इस सीरियल की कहानी में यह बताने की कोशिश की गई है कि एक बहु है जो अपने परिवार को जोड़े रखती है और हर परेशानी से अपने परिवार को बचाती है. ऐसी बहु को लोगों ने बहुत पसंद किया साथ में अपने लिये ऐसी ही बहु पाने की इच्छा जताई.

अन्य सीरियल के बारे में पढ़े:

Ankita

Ankita

अंकिता दीपावली की डिजाईन, डेवलपमेंट और आर्टिकल के सर्च इंजन की विशेषग्य है| ये इस साईट की एडमिन है| इनको वेबसाइट ऑप्टिमाइज़ और कभी कभी आर्टिकल लिखना पसंद है|
Ankita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *